पॉलिटिशियन कैसे बने?

अगर आप राजनीति में अपना करियर बनाना चाहते है तो आज का हमारा यह आर्टिकल आपके लिए अत्यंत महत्वपूर्ण होने वाला है. सबसे पहले बता दी की आज लोगो के दिमाग में जो सवाल चलता है की क्या पॉलिटिशियन बनने की लिए किसी डिग्री की आवश्यकता होती है.

तो ऐसा बिलकुल भी नहीं होता होता है नेता बनने के लिए कोई आपको डिग्री या कोर्स करने की आवश्यकता नहीं होती है। लेकिन हाँ अगर आपके परिवार से कोई भी राजनीति में है। तो आपके लिए राजनीति में कैरियर बनाना बहुत ही सरल हो जाता है।

लेकिन अगर आपका परिवार से कोई भी राजनीतिक पृष्ठ से नहीं है। तो थोड़ा मुश्किल ज़रूर होता है लेकिन कोई ऐसी विशेष बात नहीं होती है अगर परिवार में कोई पॉलिटिशियन नहीं है तब भी आप नेता बन सकते हैं।

बीएस इसके लिए आपको बहुत ही मेहनत और अपने लोगों का सपोर्ट होना बहुत ही जरूरी होता है। और यह बात भी सत्य है कि अगर राजनीतिक पृष्ठभूमि से संबंध रखने वाला व्यक्ति को बहुत ही जल्दी राजनीति में प्रवेश और एक बड़ी पार्टी से अच्छा सहयोग मिल जाता है।

जबकि इसके लिए साधारण व्यक्ति को कठिन मेहनत और प्रबल इच्छाशक्ति की जरूरत होती है। अगर किसी भी देश की सबसे अधिक चर्चा होती है तो वह टॉपिक होता है राजनीतिक।

हर व्यक्ति को देश चलाने की राय अलग-अलग होती है। कभी-कभी हम लोग भी अगर खाली समय में बैठे होते हैं तो हम लोग भी यही सोचते हैं कि देश में ऐसा होना चाहिए वैसा होना चाहिए और दोस्तों रिश्तेदारों के बीच में भी ऐसी बातें करते रहते हैं यह सब यह राजनीति के विषय मे ही आता है। तो चलिए अब आप एक सफल पॉलिटिशियन कैसे बन सकते है इसके बारे में जानने की कोशिश करते है आप लेख को ध्यानपूर्वक अंत तक पड़ते जाये –

पॉलिटिशियन कैसे बने

बहुत से लोगों को यह नहीं पता होता है कि राजनेता कैसे बनते हैं हालांकि अधिकतर व्यक्ति यही सोचता है कि जिसका परिवार पहले से ही राजनीति में तो वह आसानी से नेता बन जाएगा।

हालांकि ऐसे बहुत सारे तरीके हैं जिसके द्वारा आप छोटे छोटे चुनाव जीतकर आप आसानी से काफी बड़े नेता या मंत्री भी बन सकते हैं।

राजनेता बनने के लिए आपके पास क्या-क्या गुण होने चाहिए आज हमें सुलेख में बताएंगे लेकिन उससे पहले आपको यह बताना चाहेंगे कि क्या आम आदमी नेता बन सकता है? ऐसे ही कुछ टॉपिक है, जिसका पालन करके आप एक अच्छे नेता बन सकते है।

1. युवावस्था में ही राजनीति को समझें
2. राजनीतिक पार्टियों के बारे में जाने
3. रैलियों में भाग ले
4. किसी भी राजनीतिक पार्टी की स्टूडेंट विंग को जॉइन करें
5. प्रदर्शनों के लिए तैयार रहना चाहिए
6. आप अपने क्षेत्र में अपना व्यवहार बनाकर लोकप्रिय होने की कोशिश करें
7. कॉलेज या विश्वविद्यालय में संघ का चुनाव लड़े
8. नई चुनौतियों से लड़ने के लिए तैयार रहें

युवावस्था में ही राजनीति को समझें

ऐसे बच्चे जो कि राजनीति में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो उन्हें किशोरावस्था से ही इस बात का समझने का प्रयास करना चाहिए।

यानी कि जब बच्चा आठवीं और दसवीं क्लास में पढ़ाई कर रहा हो तभी से हुए इस विषय पर चर्चा करना सीख ले। सीखने के बहुत सारे तरीके इसके लिए वह समाचार पत्र रेडियो टीवी के माध्यम से इसे सीखने कोशिश करनी होगी।

इस माध्यम से वह व्यक्ति सरकार के कामकाज दूसरी पार्टियों की भूमिका और विदेशों से संबंध कैसे रखने चाहिए। इन सब का बातो का ज्ञान हो जाएगा।

राजनीति में अपना भविष्य बनाने वाले व्यक्ति को सबसे पहले पुराने समय के स्वतंत्रता के समय की राजनीति के बारे में पता होना बहुत ही जरूरी होता है।

राजनेता बनने के लिए आपको ब्रिटिश शैली की हिस्ट्री के बारे में भी पता होना चाहिए। इसके अलावा व्यक्ति को आगामी क़ानूनों और विनियमों के बारे में जानकारी रखनी होगी।

राजनीतिक पार्टियों के बारे में जाने

अगर देखा जाए तो पार्टियां दो हिस्सों में बटी होती है। एक तो राष्ट्रीय स्तर पर और दूसरी क्षेत्रीय स्तर पर होती है। पहले के समय में ज्यादा पार्टीया नहीं होती थी। लेकिन आज के इस दौर में हर तीसरे या पांचवे महीने में एक नई पार्टी खड़ी हो जाती है।

और अपना वर्चस्व स्थापित कर लेती है। आपको हर एक पार्टी के बारे में पता होना चाहिए। कि कौन सी पार्टी अच्छी है। और किस पार्टी का कितना वर्चस्व है।

बहुत सी पार्टियां राजनीति धर्म क्षेत्र और भाषा पर राजनीति करती हैं। आपको यह ध्यान रखना होगा कि आपका किस पार्टी से प्रिया ग्राफ मिलते हैं।

क्योंकि अधिकतर पार्टियों के कार्य भिन्न-भिन्न होते हैं। और उनका एजेंडा भी भिन्न-भिन्न होता है। इसलिए आपको हर एक पार्टी के प्रमुख को और उस पार्टी के सिद्धांतों के बारे में जानकारी होना बहुत ही जरूरी होता है।

आपको अपने समान विचारधारा रखने वाले पार्टी से ही जोड़ना चाहिए। क्योंकि अगर आप दूसरी विचारधारा पार्टी से जुड़ जाएंगे तो आपका हमेशा नुकसान ही रहेगा। और आप इस जग में कभी भी सफल नहीं हो सकते हैं।

रैलियों में भाग ले

राजनेता बनने की चाहत रखने वाले व्यक्ति को शुरुआत से ही रैलियों में भाग लेना चाहिए। आप जब रैली में भाग लेने जा रहे हो तो आपको यह नहीं सोचना होगा, कि आपके अभिभावक उस पार्टी के बारे में क्या सोचते हैं? या आपके परिवार वाले आपके इस कार्य के लिए सपोर्ट करेंगे या नहीं करेंगे।

आपको शुरुआत में हर एक पार्टी की रैली में शामिल होना जरूरी है, चाहे वह पार्टी नई हो या पुरानी हो। यह रैली अधिकतर स्थानीय नेता अपने कार्यकर्ता और पार्टी का उत्साह वर्धन कराने के लिए समय-समय पर कराते रहते हैं।

जिससे उनके पार्टी का समाज में एक अच्छा नाम और आगे जाकर लोग इस पार्टी में वोट करें और उनकी सरकार बने।

आप हर तरह की पार्टी की रैली में शामिल हो। जिससे आपके उस पार्टी के नेता और लोगों की छवि में वह पार्टी कैसी है, इसके बारे में भी आपको जानने को मिलेगा।

इस तरह आप उस पार्टी के नेता और उसके अनुयायियों के बीच अच्छी पैठ बना सकते हैं।

किसी भी राजनीतिक पार्टी की स्टूडेंट विंग को जॉइन करें

अगर आप को राजनीति में आना है। तो सबसे पहले आपको किसी भी बड़ी पार्टी के राजनीतिक पार्टी के स्टेट बैंक को ज्वाइन करना होगा यह सबसे अच्छा माध्यम है। बहुत से देशों में कई पार्टियां स्टूडेंट विंग सदस्यों के लिए नेता बनने का कार्य करती है।

लेकिन आपको यह जान करी किसी भी पार्टी के स्टैंडिंग को ज्वाइन करना कि उस पार्टी का और आपका विचारधारा मिलती है या नहीं। और उसकी योजनाएं क्या-क्या रहती हैं।

इस बारे में भली-भांति जान लेना चाहिए। इस तरह के कार्य को लेकर हर देश मे अलग अलग प्रोसेस है। यह किसी भी माध्यमिक कॉलेज में नही होती है, बल्कि यह यूनिवर्सिटी में होते है। यानी की आपकी उम्र 18 वर्ष होनी चाहिए।

तभी किसी पार्टी के सदस्य बन सकते है। इसलिए राजनेता बनने के लिए व्यक्ति को अपनी उम्र 18 के बाद से ही यह कार्य होना चाहिए। किसी भी साधारण व्यक्ति के लिए इस तरह से शुरुआत करना बहुत ही अच्छा होता है।

प्रदर्शनों के लिए तैयार रहना चाहिए

अगर आपको राजनेता बनना है तो आपको प्रदर्शन करने के लिए भी तैयार रहना चाहिए। स्टूडेंट विंग के सदस्य बन जाते हैं। तो आपको सत्तारूढ़ पार्टी, कानून या कोई ऐसी घटना घट जाती है। जिसको लेकर आम जनता काफी परेशान हो जाती है। तो फिर इसके लिए प्रदर्शन वगैरा किया जाता है।

प्रदर्शनों में कभी-कभी हिंसक झड़पें बाहरी लोगों के आ जाने के कारण भी आंदोलन होते रहते हैं। प्रदर्शन के लिए आपको स्थानीय पुलिस से परामर्श लेना पड़ता है लेकिन कभी-कभी ऐसा नहीं हो पाता है और आपको पुलिस से भी झड़प हो जाती है। और इस प्रदर्शन को लेकर आपके ऊपर मामला भी दर्ज हो जाता है।

अगर आपके ऊपर युवावस्था में अपराध अपराधिक मामला दर्ज हो गया है तो आपको राजनेता का कैरियर बनाने में परेशानी हो सकती है। पता आपको ऐसे प्रदर्शनों से बचना होगा और सही ढंग से विरोध का तरीका अपनाना होगा। इस क्षेत्र में आप धीरे-धीरे ही कुशल नेता बन पाएंगे। बस व्यक्ति को सही समय का इन्जार करना चाहिए।

अपने क्षेत्र में अपना व्यवहार बनाकर लोकप्रिय होने की कोशिश करें

राजनीति में नेता बनने के लिए आपको अपने गृह क्षेत्र से ही लोगों का विश्वास जीतना होगा। आपको अपने क्षेत्र से लोग पूरी होना बहुत जरूरी है क्योंकि व्यक्ति सबसे पहले अपने ही क्षेत्र से विजयी होता है। आपको फेमस होने के लिए अपने क्षेत्र में हर एक छोटे बड़े कार्यक्रमों में शामिल होना जरूरी होता है। और अपनी पार्टी के आयोजनों के बारे में उस क्षेत्र में जोर-शोर से कार्यक्रम करने होंगे।

लोगों में लोकप्रिय होने के लिए सबसे अच्छा तरीका है। कि आप सांस्कृतिक और खेल जैसे कार्यक्रमों को समय-समय पर आयोजित कराते रहना चाहिये। जिससे आपके और आपकी जनता के प्रति आपका व्यवहार बहुत ही अच्छा हो सके। यह भी सत्य है कि आपके स्टूडेंट विंग के कुछ स्टूडेंट जो कि आप से बैर मानते हैं। वह भी लोकप्रिय होना चाहते हैं। तो वह आपको नीचा दिखाने का प्रयास करेंगे। तो आपको उनसे भी अच्छा व्यवहार करना होगा।

क्योंकि अगर आप उनसे अच्छा व्यवहार नहीं करते हैं। तो इससे आपकी लोकप्रियता घट जाएगी। और आपको जनता का पूर्ण समर्थन प्राप्त नहीं हो सकेगा। आपको अच्छा राजनेता बनने के लिए इन सभी चुनौतियों से पार पाना होगा। इसके लिए आप अपनी इच्छा शक्ति को प्रबल बनाए रखे।

कॉलेज या विश्वविद्यालय में संघ का चुनाव लड़े

यद्यपि यह भारत के हर कॉलेज या विद्यालय में अपना प्रतिनिधि खुद चुनते हैं। यानी कि वह व्यक्ति जो कॉलेज और विद्यार्थियों का प्रतिनिधित्व करता है। इसलिए राजनेता बनने वाले व्यक्ति को कॉलेज या विद्यालय के छात्रों के प्रतिनिधि का चुनाव लड़े। क्योंकि प्रतिनिधि ही छात्रों के हितों के लिए सरकार और पार्टी से बात कर सकता है।

कॉलेज प्रतिनिधि चुने जाने पर वह व्यक्ति महत्वपूर्ण व्यक्तियों से मिलता है। जैसे स्थानीय पुलिस और स्थानीय बड़ी पार्टी के नेता से वीर मुलाकात होती है।

इसके अलावा उसको पार्टी के स्थानीय कार्यकर्ताओं से मिलने का भी मौका मिलता है अगर सही मायने में राजनेता बनने की शुरुआत यहीं से होती है।

अगर आप विश्वविद्यालय से प्रतिनिधि का चुनाव जीत जाते हैं तो आप स्थानीय पार्टी की ओर से भी चुनाव लड़ सकते हैं।

इसके बाद व्यक्ति धीरे-धीरे स्थानीय मुद्दों को और विस्तारित करके विधायक और सांसद का चुनाव लड़ सकता है। और पार्टी को हमेशा ऐसे ही व्यक्ति की तलाश होती है, जो कि अपने क्षेत्र में लोग फ्री हो और विश्वसनीय हो। अगर आप की छवि अच्छी होगी तो पार्टी आप को टिकट देगी और वह पार्टी सत्ता में आ जाएगी।

नई चुनौतियों से लड़ने के लिए तैयार रहें

अगर आप राजनीति में कदम रखते हैं। तो आपको एक से एक नई चुनौतियों से भी लड़ना होगा। और इसके साथ ही भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। आपको एक अच्छा वक्ता भी होना चाहिये

क्योंकि अगर आप में बोलने की कला नहीं है। तो आप जनता को आकर्षित नहीं कर पाएंगे। आपको हमेशा अच्छे कार्य करना है। और अधिक समय तक नेता बनने के लिए आपको जनता के बीच में उनकी समस्याओं को सुलझाने का प्रयास करना चाहिए। जिस से आप भविष्य में और ऊँचे पद पर आसीन हो सकें।

निष्कर्ष

भारत में राजनीति का बोल बोला शुरू से काफी रहा है.बोल बाला रहा है। आज नेता ऐस नाम जिसकी हर।जगज काफी इज्जत की जाती है।

इसलिय आज राजनीति का क्षेत्र काफी बढ़ता जा।रहा है सो अगर आप भी इसमे अपना कैरियर बनाना चाहते है तो आपके पास यह अच्छा मौका है।

आप भी इसमे अपना कदम रख सकते है। कैसे आपको इस इस मुकाम तक पहुंचना है इसके बारे।में हम आपको ऊपर विस्तार से बता ही चुके है। जिसे फॉलो करके आप इसमे आगे बढ़ सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here