Nursery Business Idea: शुरू करें यह बिजनेस, जेब के साथ-साथ पर्यावरण के लिए लाभकारी, नर्सरी लगाकर उगाए वाणिज्यिक पौधे 

आज के हमारे article में आप सभी प्रिय पाठकों का स्वागत है। हम आशा करते हैं कि आप सभी सकुशल प्रसन्न स्वस्थ तथा मंगलमय हो। आज का हमारे आर्टिकल बेहद खास होने वाला है। यदि आप भी हमारे आर्टिकल की इस खासियत से परिचित होना चाहते हैं तो हमारे आर्टिकल का आखिरी तक अवश्य पढ़ें। 

इसके साथ ही हमें यह भी कमेंट करके अवश्य बताएं कि आपके घर के आसपास कौन सा पेड़ मौजूद है। इसके साथ ही हमें यह भी बताएं कि क्या उस पेड़ के माध्यम से आपको इसी प्रकार का लाभ प्राप्त होता है। 

तो चले बिना किसी विलम्ब के आज के हमारे article को प्रारंभ करते हैं और जानने का प्रयास करते हैं कि ऐसा कौन सा पेड़ है जिसकी सहायता से आप अच्छी खासी कमाई भी कर लेंगे और इसका शुभ प्रभाव पर्यावरण पर भी पड़ेगा। 

बढ़ता प्रदूषण हैं सबके लिए हानिकारक:-

जैसा कि इस बारे में सभी जानते हैं कि मानव के द्वारा इतना अधिक प्रदूषण फैलाया जा रहा है कि लोगों के लिए खुली हवा में सांस ले पाना भी बहुत प्यारी कठिन हो चुका है। ऐसे में जब प्रकृति का ह्रास होता चला जा रहा है तो लोगों के द्वारा पर्यावरण पर भी ध्यान केंद्रित किया जा रहा है। 

इस भागमभाग बड़े जीवन में लोगों के द्वारा वाहनों के प्रयोग से प्रदूषण की उत्पत्ति होती है इसके साथ-साथ फैक्ट्रियों तथा कारखानों के माध्यम से भी बहुत ही अधिक मात्रा में प्रदूषित तत्व हमारे पर्यावरण में जाकर मिल रही है। 

इसका दुष्प्रभाव ना केवल प्रकृति को पड़ रहा है अपितु इससे प्रभावित हम मानव भी हो रहे हैं और हमारे साथ साथ इस संसार में मौजूद प्रत्येक प्राणी भी प्रभावित हो रहा है। किंतु जैसे जैसे प्रदूषण का प्रकोप बढ़ता चला जा रहा है ठीक वैसे वैसे ही लोगों के मध्य में जागरूकता फैल रही है कि उन्हें पर्यावरण का ख्याल रखना पड़ेगा। 

क्या है उचित उपाय पर्यावरण रक्षा हेतु :-

जहां बात पर्यावरण की आती है वहां पर सर्वप्रथम मनमोहक दृश्य दिल को छू जाने वाली प्रकृति की सुरीली ध्वनि प्रत्येक व्यक्ति की चिंताओं को हर लेती है इसके साथ ही मन में प्रसन्नता के भाव भर देती है। 

किंतु यह पूरी की पूरी हम मान लो कि ही नासमझी है जो हमारी इस प्रकृति मां का हम अपमान कर रहे हैं। इन्हें महत्व नहीं दे रहे हैं तथा इनका हराश लगातार करते ही चले जा रहे हैं। किंतु इससे प्राकृतिक को कुछ होने वाला नहीं है। 

कहने का तात्पर्य है कि हम इस संसार में प्रथम नहीं है जो प्रकृति के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। अपितु यह बहुत बार हुआ है ज्वालामुखी के फटने से न जाने कितनी सारी जहरीली gas उत्पन्न होती है। 

सुनामी से गांव के गांव शहर के शहर सब तबाह हो जाते हैं। इसके साथ ही उल्का पिंड से भी कोई कम क्षति नहीं होती है। किंतु समय के साथ-साथ प्रकृति इसके प्रभाव को कम करती चली जाती है तथा अपने जादू को पुनः से बिखेरने लगती है। 

कहने का तात्पर्य यह है कि हम केवल प्रकृति के एक अंश मात्र ही हैं। यदि हमने समय रहते इस बात को नहीं समझा तो प्रकृति हमारे अस्तित्व को समाप्त करने तक की क्षमता रखती है। इसके नमूने आए दिन प्रकृति के द्वारा दिए जाते हैं। 

पेड़ों से करें प्रेम प्रकृति करेगी आपसे प्रेम :-

जैसा कि हम सभी इस बात को जानते हैं कि पेड़ तथा मनुष्य एक दूसरे के पूरक होते हैं। हमारे द्वारा छोड़ी गई कार्बन डाइऑक्साइड को पेड़ पौधे ग्रहण करते तथा उनके द्वारा छोड़ी जाने वाली ऑक्सीजन का ग्रहण हमारे द्वारा किया जाता है। 

किंतु हम सभी मनुष्य अपने स्वार्थ के चक्कर में पेड़ों को काटकर चले जा रहे हैं परिणाम यह हो रहा है कि इससे हमारे प्रकृति का संतुलन बिगड़ता चला जा रहा है। क्योंकि लोगों की जनसंख्या में वृद्धि आ रही है वही पेड़ों तथा पौधों की संख्या में गिरावट देखने को मिल रही है। इस वजह से वायु प्रदूषण इतना अधिक हो चुका है। 

इस अवसर का उठाया फायदा :-

जैसे-जैसे परिस्थिति बिगड़ते जा रही है लोगों में यह जागरूकता फैलते जा रही है कि उन्हें प्रकृति के और अपना लचीला रुख मोड़ना होगा। इसी के परिणाम स्वरुप कुछ ऐसे जागरूक लोग भी मौजूद है जो पेड़ों को लगाने में प्रोत्साहन प्रदान करते हैं। 

किंतु यह पेड़ सीधे से नहीं लगाए जाते हैं अभी तो इनके पौधों को खरीद कर लाया जाता है तथा किसी विशेष स्थान पर इन्हें लगा दिया जाता है। जिसके परिणाम स्वरूप कुछ ही वर्षों में वह पेड़ बड़ा हो जाता है और प्रकृति के संतुलन में अपना योगदान प्रदान करता है। 

शुरू करें अपना बिजनेस :-

यदि आप चाहें तो आप नर्सरी का बिजनेस बेहद ही  कम निवेश में प्रारंभ कर सकते हैं। इसके लिए आपको कुछ ऐसे पौधों के बीजों की आवश्यकता होगी जिसकी मार्केट में ज्यादा डिमांड है। जैसे कि फल के पौधे फूल के पौधे इत्यादि। 

उन्हें आपको उपजाऊ मिट्टी में छोटे-छोटे मटको या फिर गमलों में बो देना होगा , जैसे ही वह बीज पौधे में परिवर्तित होगा उसके पश्चात आप इसे बेच सकते हैं। आपको अपने द्वारा सर्वोत्तम बीजों का प्रयोग करना होगा जिससे कि उस से उत्पन्न होने वाले पेड़ों में इसका प्रभाव देखने को मिल सके। 

जैसे ही बीज पौधों में परिवर्तित हो जाएंगे आप इन्हें बेच कर मुनाफा प्राप्त कर सकते हैं। आप एक पौधे को ₹100 से लेकर के ₹500 तक के मध्य में भेज सकते हैं। इस प्रकार से यदि आप महीने में 100 पौधों को यदि बेच देते हैं तो। आपको इससे ₹10000 तक का फायदा कम से कम हो सकता है। 

निष्कर्ष :-

आप सभी प्रिय पाठकों ने हमारे article को आपके तक पढ़ा उसके लिए आप सभी प्रिय पाठकों का धन्यवाद। इस आर्टिकल की सहायता से हमने आप सभी पाठकों के साथ नर्सरी बिजनेस आइडिया के विषय में विस्तृत विवरण साझा किया है। हम आशा करते हैं कि हमारे द्वारा प्रदान की गई है सभी जानकारी आपको बिहारी पसंद आई होगी। आप सभी प्रिय पाठकों से हमारा यह सादर अनुरोध है कि हमारे article को ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ जरूर शेयर करें। 

दूसरे लाभदायक पोस्ट पढ़ें

Important Links

WTechni HomeClick Here
Other postsClick Here
Join Telegram ChannelClick Here

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment

×