MS Word क्या है और इसमें ऑफिस वर्क कैसे करें – What is MS Word in Hindi?

डाक्यूमेंट्स तैयार करने के लिए एमएस वर्ड उपयोग होने वाला सबसे पॉपुलर कंप्यूटर प्रोग्राम है. हो सकता है आप स्कूल कॉलेज या फिर कंप्यूटर इंस्टिट्यूट में पढ़ते हो तो आपको वहां पढाई के दौरान फर्स्ट टाइम इसके बारे में जानकारी मिली होगी. इसीलिए आज हम जानेंगे की MS Word क्या है (What is MS Word in Hindi) और इसकी विशेषता क्या है?  अक्सर लोग साइबर कैफ़े जाकर अपने डाक्यूमेंट्स एडिट करवाते हैं, तो  मैं आपको यहाँ ये बताना चाहता हूँ की आप इसके नॉलेज से खुद ही हर तरह के डाक्यूमेंट्स से जुड़े काम कर सकते हैं.

अगर आप नहीं जानते की एमएस वर्ड क्या होता और ये हमारे किस काम आता है तो ये पोस्ट आपके काम का है. इस पोस्ट में हम आपको एमएस वर्ड की जानकारी हिंदी में देंगे. ये एप्लीकेशन ऑफिस के कामो में उपयोग होने वाला बहुत ही महत्वपूर्ण सॉफ्टवेयर है. इससे बहुत सारे काम हम बहुत ही आसानी से कर सकते हैं. चाहे वो नौकरी अप्लाई करने के लिए resume बनाना हो या फिर कोई आर्टिकल लिखना हो. इस से हमे बहुत से फायदे मिलते हैं. इस की विशेषताएं ढेर सारी हैं. इस पोस्ट के माध्यम से आप ये भी जान सकेंगे की microsoft word हमारे लिए कितना इम्पोर्टेन्ट प्रोग्राम है.

अगर आप के पास लैपटॉप कंप्यूटर एंड्राइड स्मार्टफोन है और आप ने इसे इनस्टॉल नहीं किया है तो जल्दी से कर ले. क्यों की आज के बाद से आप इसका इस्तेमाल करना शुरू करने वाले हैं. एमएस वर्ड क्या है (What is MS Word in Hindi) ये सवाल अगर आप से कोई पूछेगा तो इसका जवाब आप बहुत आसानी से दे सकेंगे. साथ ही उसे ये बता पाएंगे की एमएस वर्ड की परिभाषा (MS Word definition in Hindi) क्या होता है.

एमएस वर्ड क्या है – What is MS Word in Hindi?

ms word kya hai hindi

MS Word Definition in Hindi:

माइक्रोसॉफ्ट वर्ड या MS Word एक ग्राफिकल वर्ड प्रोसेसिंग प्रोग्राम है जिसे users टाइप करने के लिए इस्तेमाल करते हैं. ये एक एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर है. इसका उपयोग users नए डॉक्यूमेंट को बनाने पुराने की सुधार करने और स्टोर कर के रखने के लिए करते हैं. 

बाकि वर्ड प्रोसेसिंग प्रोग्राम्स की तरह इसमें बहुत useful tools होते हैं. ये वर्ल्ड की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के द्वारा बनायीं गई है. इसे माइक्रोसॉफ्ट ने 1983 में डेवेलोप किया था. तब से लेकर आज तक इसके बहुत सरे version रिलीज़ किये जा चुके हैं.

ये शुरू से ही पूरी दुनिया में वर्ड प्रोसेसिंग के लिए सबसे टॉप एप्लीकेशन रहा है. और आज भी ये टॉप पर ही चल रहा है. इस के जगह में कोई भी किसी दूसरे एप्लीकेशन का इस्तेमाल नहीं करते हैं.

माइक्रोसॉफ्ट का इस्तेमाल resume, form, letters, papers template, booklet, reports और business card बनाने के लिए किया जाता है. वर्ड माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस प्रोग्राम का एक पार्ट है.

माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस में एमएस एक्सेल, एमएस पॉवरपॉइंट, एमएस एक्सेस इत्यादि प्रोग्राम एमएस  वर्ड के साथ में होते हैं. तो अगर आपको ये उपयोग करना है तो MS ऑफिस इनस्टॉल करना पड़ेगा.

इस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल पहले हम सिर्फ कंप्यूटर और89pppppppp लैपटॉप में ही कर पाते थे. लेकिन इसका एंड्राइड एप्प भी अब उपलब्ध है जिसे आप प्लेस्टोर से डाउनलोड कर के इस्तेमाल कर सकते हैं.

Microsoft Word की परिभाषा तो अब आप समझ ही गए होंगे. अब आपको इसकी विशेषता जानने की जरुरत है. जब आप जान जाओगे की MS Word से हमे क्या क्या एडवांटेज मिलता है तो इसका पूरा उपयोग कर सकेंगे. तो इससे पहले जान लेते हैं की इसके फीचर क्या क्या है

MS Word में ऑफिस वर्क कैसे करें?

चलिए  हैं की इस एप्लीकेशन में कामकरने के लिए आपको किन किन बातों की जानकारी होनी जरुरी है.

MS Word Layout और Option

हम जब किसी डॉक्यूमेंट पर काम करते हैं तो उसमे बहुत सारी एडिटिंग करनी होती है. और अपनी मर्ज़ी के अनुसार भी अपने फाइल में डिज़ाइन और डेकोरेशन करते हैं. 8

फाइल एडिटिंग करने के लिए के लिए हमे ये जानना जरुरी है की MS वर्ड में कौन सा ऑप्शन कहाँ होता है. इसके लिए layout को समझना होगा तो चलिए देखते हैं की MS वर्ड में कौन सा ऑप्शन कहाँ होता है.

Title bar

MS Word एप्लीकेशन के सबसे ऊपरी पार्ट जो हमे दिखाई देता है वही टाइटल बार होता है.  यहाँ पर हम जिस फाइल में काम कर रहे होते हैं उसका नाम दिखाई देता है.

लेकिन जब फाइल पर पहली बार काम कर रहे हैं तो ये default नाम के रूप में ‘Document 1’ शो करता है. जब हम फाइल को store करते हैं तो उस वक़्त अपनी मर्ज़ी से उसका नाम लिखते हैं. अब हम जब कभी उस फाइल को खोलेंगे तो हमारा रखा हुआ नाम इसी टाइटल बार में दिखायेगा.

Close Button

टाइटल बार के दाहिने साइड में 3 छोटे साइज के बटन होते हैं. इसमें जो पहला बटन होता है उसे Minimize दूसरे बटन को maximize और तीसरे बटन को Close बटन बोलते हैं.

Minimize Button

इस बटन से हम प्रोग्राम को बंद किये बिना उसे टास्क बार में रख कर किसी और विंडो में जा सकते हैं. इससे हमे MS Word में काम करने के साथ साथ दूसरे प्रोग्राम को भी run करने मदद मिलती है.

Maximize Button

इस बटन की मदद से हम विंडो साइज को छोटा कर के अपने मन मुताबिक साइज एडजस्ट कर के प्रयोग कर सकते हैं. फिर जब मन करे उसे रिस्टोर कर के फुल स्क्रीन साइज भी कर सकते हैं.

Close button

लास्ट बटन cross मार्क के साथ रेड कलर में होता है उसे क्लिक करने पर MS Word एप्लीकेशन पूरा बंद हो जाता है.

Office button

ये MS Word का एक मुख्य बटन है जो मेनू बार में होता है.  इस में फाइल क्रिएट करने के लिए कुछ useful ऑप्शन दिए जाते हैं.

Quick Access toolbar

ये टूल बार टाइटल बार में होता है. इस में ऐसे टूल्स होते हैं जिसकी हमे सबसे ज्यादा और बार बार जरुरत पड़ती है. यहाँ हम अपनी मर्ज़ी से भी जिस ऑप्शन को अधिक बार इस्तेमाल करते हैं यहाँ जोड़ सकते हैं. इस टूलबार की मदद से हम अपना काफी वक़्त बचा सकते हैं.

Menu bar

मेनू बार टाइटल बार के थोड़ा निचे होते है. इसे अभी के टाइम में tab bar भी बोला जाता है.  इस के अंदर बहुत से tabs होते हैं और हर एक तब का अपना एक ribbon होता है. ये MS Word का ऐसा पार्ट है जिसमे बहुत सारे ऑप्शन दिए जाते हैं. इसके अंदर ढेर सारे उपयोगी फीचर्स होते हैं जिससे फाइल में काम कर सकते हैं.

Ribbon

Menu bar के निचे वाले भाग को Ribbon बोलते हैं. इसमें किसी टास्क के लिए कमांड्स को ब्राउज करने के लिए tab  दिए हुए होते हैं. इसके बाद ये tab जो होते हैं वो इसे ग्रुप में डिवाइड कर देते हैं. जिस भी तब पर हम क्लिक करते हैं उसके सारे ऑप्शन enable हो जाते हैं.

Ruler Bar

Page margin को सेट करने के लिए ruler का इस्तेमाल किया जाता है.  माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में 2 ruler बार होते हैं. पहली रूलर बार जो टेक्स्ट एरिया होता है ठीक उसके ऊपर ही होता है. और दूसरा रूलर टेक्स्ट एरिया के लेफ्ट साइड में होता है.

Text Area

यही वो main एरिया होता है जहाँ हम अपने शब्दों को टाइप करते हैं. ये MS Word एप्लीकेशन का सबसे बड़ा एरिया होता है जो बिलकुल centre पर होता है. अपने कंटेंट को लिखते वक़्त सारि डिज़ाइन modification सब काम इसी पर करते हैं.

Scrollbar

Scroll bar MS Word application के right side में vertical bar होता है. इसकी मदद से हम अपने लिखे गए text area में ज्यादा पेज होने से ऊपर निचे करने के काम आता है. इस की हेल्प से हम किसी भी पेज में Scrol कर के आसानी से जा सकते हैं.

Status Bar

ये text area के निचे होता है. Right side में zoom level tool होता है. इस की हेल्प से पेज को zoom out और zoom in कर सकते हैं. इसके अलावा status bar में और भी टूल होते हैं जैसे Word count, language etc.

दोस्तों अब तो आप अच्छे से समझ गए होंगे की MS Word के फीचर्स क्या क्या है. और साथ ही ये भी जान गए होंगे की इन फीचर्स का क्या एप्लीकेशन है. अब हम जानेंगे की MS Word से हमे क्या क्या एडवांटेज मिलता है.

MS Word features in Hindi – एमएस वर्ड के फीचर्स क्या है?

माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में डाक्यूमेंट्स और दस्तावेज तैयार करने के लिए बहुत सारे टूल्स दिए जाते हैं. इन टूल्स के जरिये हम अपने डॉक्यूमेंट में कुछ भी सुधार कर सकते हैं.

और अपनी मर्ज़ी के अनुसार अपने डॉक्यूमेंट को तैयार कर सकते हैं. तो चलिए जानते हैं की माइक्रोसॉफ्ट वर्ड मे डॉक्यूमेंट में काम करने के लिए क्या क्या फीचर्स देता है और साथ ही हम इसका लेआउट जानेंगे.

Auto Text

वैसे शब्द जिनका उपयोग हम ज्यादा करते हैं उसे ऑटो टेक्स्ट ऑप्शन के डायलाग बॉक्स में जोड़ देते हैं.  उसके बाद जब भी उस शब्द को लिखना शुरू करते हैं तो ऑटो टेक्स्ट जस्ट उस के ऊपर शो होने लगता है. अगर उसे जोड़ने की जरुरत है तो एंटर कर देते हैं.

AutoCorrect

इस के साथ ही जब हम कोई गलत शब्द टाइप कर देते है और space press करते हैं तो Auto correct tool उस शब्द को खुद सही शब्द के साथ replace कर देता है.

Header and footer

Header – Header पेज के सबसे ऊपरी पार्ट को Header बोलते हैं. इसे हम Header पेज के टॉप मार्जिन में जोड़ा जाता है.  इस का उपयोग हम Auto text, date time, page number डालने के लिए करते हैं.

Footer – Footer  पेज के सबसे निचले वाले हिस्से को Footer बोलते हैं. ये पेज के नीचे यानि bottom margin में जोड़ा जाता है.  इसका उसे page number, footnote डालने के लिए किया जाता है.

Page Formatting

माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में डॉक्यूमेंट तैयार करने के बाद उसे प्रिंट करने के पहले उसका पेज सेटअप करना बहुत जरुरी है. पेज सेटअप कर के हम चारो तरफ अपने सुविधा के अनुसार मार्जिन छोड़ देते हैं. इस के साथ ही कंटेंट को बीच में बायीं तरफ या फिर दायीं तरफ एडजस्ट कर सकते हैं.

Bullets and Numbering

बुलेट और नंबरिंग का उपयोग हम अपने फाइल में लिस्ट बनाने के लिए करते हैं. इस का उपयोग कर के हम अपने डॉक्यूमेंट को नंबरिंग और बुलेट्स से आकर्षक बना सकते हैं.

Editing of Text

यहाँ लिखे गए टेक्स्ट में कोई भी बदलाव करना हो तो ये बहुत ही आसान है. माउस के कर्सर को उस वर्ड में ले जाकर Backspace से आसानी से डिलीट कर सकते हैं. और फिर उसकी जगह फिर हम कोई भी बदलाव कर सकते हैं.

Spelling and Grammer check

वर्ड की ये बहुत बड़ी खासियत होता है की उस में एक spelling और Grammer चेक करने वाला टूल होता है. जब भी हम कोई वर्ड टाइप करते हैं तो वो हर वर्ड के स्पेलिंग को चेक करता है.

और फिर उसके लिए सही शब्द भी बताता है  ऊपर में शो दिखा देता है. जिसे हम क्लिक कर के सही शब्द को चुन क्र इस्तेमाल कर सकते हैं.

Use Of Thesaurus

इसके अंदर में शब्दों का जो बहुत बड़ा भंडार होता है जो किसी भी शब्द के अर्थ के साथ साथ उसके synonyms और antonym शब्द भी प्रयोग कर सकते हैं.

Page Numbering

इस ऑप्शन की मदद से डॉक्यूमेंट में पेज नंबर को जोड़ सकते हैं.

Column

Format Menu के इस ऑप्शन का इस्तेमाल कर के पेज में कॉलम जोड़ सकते हैं. पेज सिर्फ एक कॉलम का होता है. इस ऑप्शन के प्रयोग से एक से ज्यादा कॉलम बना सकते हैं.

Mail Merge

MS Word की एक बहुत ही इम्पोर्टेन्ट ऑप्शन है Mail Merge. इसका उपयोग कर के हम एक letter को बहुत सारे लोगो को भेज सकते हैं.

जब भी लेटर ग्रुप में तैयार कर के भेजना होता है तो Mail Merge का उपयोग करते हैं. जैसे Invitation letter, admit card, office letter etc.  Mail Merge का प्रयोग कर के हम डेटाबेस से जोड़ सकते हैं.

Find & Replace

कभी कभी ऐसा होता है की हमने किसी खास शब्द को पुरे डॉक्यूमेंट में लिखा हुआ होता है. और उसे बदलने की जरुरत भी पड़  जाती है. तो ऐसे में पता नहीं चलता की वो शब्द कहाँ कहाँ है और एक एक कर के शब्द को सर्च करना और उसे बदलना मुश्किल काम है. लेकिन Find & Replace की हेल्प से हम उस शब्द को ढूंढ सकते हैं और बदल कर उसकी जगह दूसरे शब्द को डाल सकते हैं.

Styles and Formatting

इस ऑप्शन से formatting के लिए style create कर सकते हैं. और इस के लिए shortcut key को define कर सकते हैं. इसमें paragraph word level की सेटिंग की जाती है. इस के और भी सेटिंग जैसे फॉण्ट तब font, tab, paragraph, border की setting कर सकते हैं.

Macro

Macro ऑप्शन की हेल्प से हम किसी भी काम को रिकॉर्ड कर सकते हैं. जरुरत पड़ने पर पर हम उस Macro को run कर सकते हैं.  Macro एक बहुत ही उपयोगी टूल है.

इस की हेल्प से हम जो भी काम MS Word के अंदर करते हैं उसे रिकॉर्ड कर सकते हैं. ये काम कुछ सेकण्ड्स में हो जाता है.

Create table

अपने डॉक्यूमेंट के लिए हम table menu के प्रयोग से टेबल से जुड़े बहुत सारे ऑप्शन भी इस में दिए जाते हैं. जिससे आसानी से बहुत से काम किये जा सकते हैं.

एमएस वर्ड के फायदे – Advantages of MS Word in Hindi

दोस्तों हम किसी एप्लीकेशन का इस्तेमाल क्यों करते हैं? ताकि उससे हम अपना काम कर सके. लेकिन सिर्फ बेसिक काम के अलावा बहुत सारे ऐसे फीचर्स की जरुरत पड़ती है जो हर एप्लीकेशन में नहीं मिल सकती है.

ठीक उसी तरह से हमारे बहुत सारे काम के लिए MS Word में बहुत सारे ऐसे फायदे हैं जो सिर्फ इसी एप्लीकेशन में हमे मिलते हैं. तो चलिए अब देख लेते हैं की MS Word में हमे क्या क्या फायदा मिलता है.

Storage of text

हम वर्ड प्रोसेसर की हेल्प से अपने लिखे गए डाक्यूमेंट्स की बहुत सारी copies बना कर के रख सकते हैं. और कभी जरुरत पड़े की इस में थोड़ा बदलाव करना है तो इसकी एक कॉपी बना कर उसमे जरुरत के टेक्स्ट को बदल के अलग फाइल बना कर रख सकते हैं.

Quality

माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में हमे error-free documents मिलता है. इसमें inbuilt grammar checker tool होता है जो हमारे डॉक्यूमेंट में किसी भी spelling और grammar mistake को पकड़ के सही भी कर देता है. इस लिए मैंने पहले ही बताया की MS Word एक error-free documents producer है.

Dynamic Exchange of Data

हम वर्ड के डॉक्यूमेंट के डाटा और pictures को दसूरे एप्लीकेशन के साथ एक्सचेंज और शेयर भी कर सकते हैं. अगर आपको इसका कोई आईडिया नहीं है तो मैं बताता हूँ.

आपने powerpoint slideshow तो जरूर देखा होगा. Powerpoint presentation मेंप्रयोग किये जाने वाले बहुत सरे डाटा हम MS Word में बना कर फिर उसे पॉवरपॉइंट में शेयर कर के प्रेजेंटेशन बनाते हैं. और हम डाक्यूमेंट्स के बिच लिंक भी बना सकते हैं.

Time Saver

हम सिर्फ एक डाक्यूमेंट्स की अनलिमिटेड कॉपी बना सकते हैं बिना retyping किये हुए. इस तरह ये हमारा बहुत सारा वक़्त बचता है.

Securities

कभी कभी हम कोई पर्सनल डॉक्यूमेंट बनाते है या फिर ऐसा डॉक्यूमेंट जिसे हम चाहते हैं की कोई दूसरा न पढ़ सके. तो इसके लिए हम उसे पासवर्ड से लॉक भी कर सकते हैं.

एमएस वर्ड की विशेषता क्या है?

  •  इस प्रोग्राम की मदद से किसी भी तरह का डॉक्यूमेंट बहुत ही कम समय में किसी भी भाषा में तैयार कर सकते हैं.
  • एमएस वर्ड में बनाये गए प्रोग्राम को docx फाइल फॉर्मेट में सेव कर के भविष्य के लिए रख सकते हैं. जरुरत पड़ने पर इस में इच्छानुसार बदलाव यानि की edit भी कर सकते हैं.
  • इस में इंग्लिश में कमज़ोर लोगों के लिए spelling mistake ठीक करने के लिए  Automatic correct का ऑप्शन होता है. जो हमे गलत टाइप किये हुए वर्ड का सही spelling दिखाता जो right click करने पर हमे दिखाता है.
  • Heading का उपयोग कर के डॉक्यूमेंट को और आकर्षक बना सकते हैं.
  • Word Art का ऑप्शन इसमें हमे बहुत ही सुन्दर डिज़ाइन वाले font चुनने और और उन्हें अपने डॉक्यूमेंट में इस्तेमाल करने की सुविधा देते हैं.
  • इस में हमे Mail Merge करने की सुविधा भी मिलती है.

संक्षेप में

ये पोस्ट उन लोगो के लिए बहुत ही उपयोगी है जो स्कूल और कॉलेज में पढ़ते हैं. या फिर किसी इंस्टीटूशन से कंप्यूटर कोर्स कर रहे हैं.  आपको ये पोस्ट MS Word क्या है (What is MS Word in Hindi) कैसी लगी? यहाँ MS Word की जानकारी हमने सरल भाषा में देने की कोशिश की है  आपने जाना की इसकी विशेषता क्या हैं . फिर भी अगर आपको इस में कुछ सुधार करने के लिए सुझाव देना चाहते हैं तो आप कमेंट के जरिये बता सकते हैं. हम  पूरी कोशिश करेंगे के आपके लिए हर उपयोगी जानकारी दे सके.

दोस्तों मैं उम्मीद करता हु की आपको ये पोस्ट अच्छी लगी होगी और ये भी समझ में आ गया होगा की MS Word क्या होता है और इसके फीचर्स क्या हैं ? जिनकी मदद से से हम बहुत सारे डॉक्यूमेंट रिलेटेड काम कर सकते हैं. अगर ये पोस्ट आपलोगो को पसंद आयी और अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक, ट्वीटर, गूगल प्लस में जरूर शेयर करे. और इस ब्लॉग को आगे बढ़ने में मदद करे.

25 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here