होम लोन कैसे ले सकते हैं?

क्या आप अपना सपने का घर बनाना चाहते हैं लेकिन आपके पास इतने पैसे नहीं है की घर बना सके तो इसका मतलब है की आपको घर बनाने के लिए लोन चाहिए लेकिन नहीं जानते की होम लोन कैसे लें और इसकी ब्याज दर कितनी है? चिंता करने की जरुरत नहीं है क्यूंकि यहाँ आपको हर प्रकार की जानकारी मिलेगी जिससे आप जान सकेंगे की होम लोन के लिए डाक्यूमेंट्स कौन से चाहिए और इसकी इंटरेस्ट रेट क्या है?

लोन कई प्रकार के होते हैं लेकिन अगर आप को अच्छी तरह से इसके बारे में जानकारी नहीं है तो इसके पहले हमारा लिखा हुआ पोस्ट जरूर पढ़ें ताकि आप समझ सकें की लोन क्या है यह कितने प्रकार का होता है. इसके बाद ही आप को समझ आ सकेगा की होम लोन क्या होता है और ये दूसरे से कैसे अलग है. यह सुविधा उन लोगो के लिए है जो अपने सपनों का घर बनवाने में असमर्थ है.

घर बनाने के लिए लोन प्राप्त करने के लिए आप हमारे बताये प्रोसेस को फॉलो कर सकते हैं वो इस प्रकार है:

  • अपने प्रॉपर्टी को समझें
  • सही बैंक का चुनाव करें
  • जरुरी दस्तवेज जमा करें
  • वेरिफिकेशन प्रोसेस
  • होम लोन सैंक्शन
  • लोन की अदाएगी

ये पूरा प्रोसेस है जिसे होम लोन लेने के दौरान आपको गुजरना पड़ता है. अगर सब सही से होता है तो आप को राशि प्राप्त हो जाती है. इसे विस्तार से समझने के लिए ये आर्टिकल पूरा पढ़ें जिसमे हमने पूरी जानकारी दी है है की होम लोन क्या है (What is Home Loan in Hindi) और होम लोन कैसे प्राप्त करे?

इसके लिये व्याज दर क्या होता है ये भी यहां बताया है क्यूंकि इंटरेस्ट रेट के बारे में समझना बहुत जरुरी है जिससे आप इसकी अदाएगी में परेशानी न हो.

होम लोन क्या है – What is Home Loan in Hindi?

home loan kaise le - होम लोन कैसे ले सकते हैं?

भारत सरकार ने आम आदमी जो अपना घर बनाने में असमर्थ है या फिर वह घर बनाने के लिए धनराशि नही जुटा पा रहा है तो ऐसे लोगों के लिए भारत सरकार भारत  कई बैंकों के द्वारा लोन होम लोन का संचालन कर रही है.

भारत मे लगभग सभी बैंक के द्वारा ये ऋण दिया जा रहा है और हम से कोई भी आम आदमी अपना खुद का घर बनाने के लिए बैंक से कुछ पैसा होम लोन के तौर पर ले सकता है और अपना खुद का घर बना सकता है.

मतलब की यदि कोई ऐसा व्यक्ति जो अपना घर बनवाने में समर्थ नही तो वह किसी भी बैंक से अपना घर बनवाने के लिए पैसे उधार ले सकता है.

जो बैंक आपको होम लोन के रूप के राशि देती है आप उसका उपयोग सिर्फ घर बनाने के लिए ही कर सकते है. इसके अलावा आप उस इस की राशि का उपयोग कही भी नही कर सकते है. इसकी सबसे अच्छी या फिर कहे यह ख़ासियत है कि यह लोन का ब्याज़ अन्य की अपेक्षा काफी कम ब्याज देना होता है.

अगर आप भी अपने घर बनवाने का विचार कर रहे है तो भारत सरकार द्वारा दी जा रही इस योजना का लाभ ज़रूर उठाये. लेकिन किसी भी बैंक से घर बनाने के लिए पैसे लेना आसान नही होता है क्योंकि बैंक की कई अपनी शर्त होती है जो कि बैंक चेक करती है उसके बाद ही बैंक अप्रूवल देती है.

इसके साथ ही अधिक जानकारी के लिए इस लेख को अंत तक पढते जाए ताकि जब भी आप इसे ले तो आपको किसी तरह की कोई समस्या ना हो.

होम लोन कैसे प्राप्त करें?

जैसा की आज की इस महँगाई में अपने लिए घर बनाना लिए थोड़ा मुश्किल काम हो गया है. इसीलिए भारत सरकार ने इस योजना की शुरुआत की है ताकि भारत का कोई भी व्यक्ति घर बनाने में सक्षम हो सके.

यदि आप भी अपना घर बनाने के लिए पैसे लेने जा रहे है लेकिन आपको इसकी जानकारी नही है. तो आपको इसके लिए बिलकुल भी परेशान होने की जरूरत नहीं है.

आपको आज इस आर्टिकल में सबके बारे में विस्तार से  जानने को मिलेगा बस आपको इस आर्टिकल को फॉलो करना है.

सबसे पहले आपको बता दे घर बनाने के लिए पैसे लेना लेना काफी आसान है, बस इसके लिए आपके पास कुछ जरूरी दस्तावेज़ होने चाहिए आपको जरूरी दस्तावेज़ के साथ आवेदन करना होगा और भी कई प्रोसेस होते है जिनके बारे में हमने नीचे विस्तार से बताया है.

1. अपने प्रॉपर्टी को समझें

लोन के लिए अप्लाई करने के पहले आपको कुछ बातों का ध्यान रखना है:

  • आपको यह साफ़ रखना है की आपको घर बनाने के लिए कितना खर्च आएगा
  • अगर आप कॉस्ट एस्टिमेशन यानि की कुल लागत का अनुमान सही से कर लेते हैं तो आपको ऋण के लिए आवेदन करने में आसानी होती है लेकिन अगर आप ये सही से नहीं करते हैं तो फिर आप मुसीबत में फंस सकते हैं.
  • क्यूंकि जब आपके पास पैसे काम पड़ जाते हैं और आप एक्स्ट्रा लोन लेते हैं तो फिर ये आपके लोन स्ट्रक्चर को पूरी तरह से गड़बड़ कर देता है.
  • ये जानना भी जरुरी है की घर बनाने में बैंक द्वारा आपको 70-80% की राशि प्रदान की जाती है बाकि की राशि आपको खुद लगानी पड़ती है.
  • क्या आप अपना लोन की EMI चुकाने में समर्थ हैं या नहीं. इसे चुकाने की अवधि काम ही रखने की कोशिश करें.

2. सही बैंक का चुनाव करें

बैंक से कर्ज लेने के लिए यह जरूरी है कि आप सही बैंक का चुनाव करें साथी आप यह जरूर देखने की अलग-अलग बैंक घर बनाने के लिए लोन की स्कीम में क्या क्या फर्क है.

इन तथ्यों को जरूर ध्यान में रखें:

  • लोन की अवधि
  • ईएमआई
  • ब्याज दर
  • प्रोसेसिंग चार्ज
  • देरी से पेमेंट करने पर पेनल्टी की राशि
  • लोन अप्रूवल का प्रोसेस
  • नियम एवं शर्तें

3. जरुरी दस्तवेज जमा करें

जब आप ऋण लेने के लिए बैंक जाते हैं तो आपसे बैंक कई प्रकार के दस्तावेज भी मांगती हैं तो घर बनाने के लिए कर्ज लेने के समय आप से मांगे जाने वाले दस्तावेज इस प्रकार के होते हैं:

ऐड्रेस प्रूफ:

  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • वोटर आईडी कार्ड
  • आधार कार्ड
  • रेंटल एग्रीमेंट
  • लीज एग्रीमेंट
  • पानी, बिजली और फोन का बिल

आईडेंटिटी प्रूफ:

  • पासपोर्ट
  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • जन्म प्रमाण पत्र

इनकम प्रूफ:

प्रमाणित करने वाले पिछले 3 साल के इनकम टैक्स रिटर्न की मांग की जा सकती है.

प्रॉपर्टी की जानकारी:

आपसे आपके जायदाद के दस्तावेज को भी मांगती है ताकि वह आश्वस्त कर सके कि अगर आप लोन के पैसे को वापस चुकाने में असमर्थ होते हैं तो फिर वह अपनी राशि को वसूल सके.

बैंक स्टेटमेंट:

अपने बैंक के पासबुक से अपने खाता की जानकारी दे सकते हैं.

नौकरी की जानकारी:

अगर आप सैलरी लेने वाले व्यक्ति हैं तो उससे जुड़ी जानकारी आपको जमा करनी पड़ेगी.

एजुकेशनल क्वालिफिकेशन:

अब अपनी पढ़ाई से जुड़ी हुई सभी प्रकार की शैक्षिक डिग्री इत्यादि जमा कर सकते हैं.

4. वेरिफिकेशन प्रोसेस

अब जो भी दस्तावेज जमा करते हैं उसे बैंक द्वारा पूरी तरह से चेक किया जाता है. अगर बैंक उन दस्तावेजों से संतुष्ट नहीं होती है तो फिर आप को बुलाकर और दूसरे दस्तावेज मांग सकती है. पूरे वेरीफिकेशन प्रोसेस में काफी लंबा वक्त लगता है इसमें 30 दिन भी लग सकते हैं.

जब बैंक पूरी तरह से आश्वस्त हो जाती है और संतुष्ट होने के बाद ही वह एक क्षेत्रीय जांच शुरू कर दी है. फिर के बाद बैंक आपके लोन के भुगतान की क्षमता को भी चेक करती है. जब इन सभी पैमानों पर बातें पास हो जाती हैं तो फिर आपको होम लोन की मंजूरी मिल जाती है.

5. होम लोन सैंक्शन

जब हर प्रकार की जांच पूरी हो जाती है और सभी दस्तावेजों से बैंक संतुष्ट हो जाती है तो आपको बैंक घर बनाने के लिए लोन का अप्रूवल मिल जाता है. जिसे वह कर्ज देते हैं इंसान को एक एग्रीमेंट पेपर दिया जाता है और इस एग्रीमेंट पर आपसे सिग्नेचर भी कराया जाता है.

6. लोन की अदाएगी

जब आप एग्रीमेंट पर सिग्नेचर कर देते हैं तो फिर 1 तारीख दी जाती है जब आपको लोन की राशि मिलती है. कर्ज लेने वाले इंसान को एक लेटर लिखना पड़ता है जिससे वह राशि के लिए अनुरोध करता है.

इसके बाद बैंक पैसे की एक डीडीए फिर चेक जारी करता है और फिर ऋण लेने वाले को राशि प्राप्त हो जाती है.

होम लोन के लिए डाक्यूमेंट्स क्या चाहिए?

  • 2 पासपोर्ट साइज
  • पहचान पत्र के लिए आधार कार्ड,पेन कार्ड,आईडी कार्ड आदि में कोई एक
  • बिज़नेस प्रूफ
  • बैंक खाता
  • पासबुक फ़ोटो स्टेट

नोट:- ऊपर हमने उन दस्तावेज़ के बारे में बताया है जो जनरल सभी बैंक बैंक मांगते है लेकिन नौकरी,बिज़नेस,आदि जैसे लोगो के लिए।कुछ दस्तावेज़ अलग भी हो सकते है।

होम लोन लेने के लिए शर्त

  • जिस बैंक में आपका खाता है उसी बैंक से आप घर बनाने के लिए पैसे ले सकते है.
  • क़र्ज़ लेने वाले व्यक्ति पर पहले से कोई भी लोन की राशि ना हो.
  • बैंक लोन लेने से पहले आपके क्रेडिट कार्ड का स्कोर चेक करती है.

नोट:- जानकारी के लिए बता दे की यह वह शर्त है जो घर बनाने के लिए पैसे लेने से पहले बैंक देखती है लेकिन इन शर्त के अलावा हर बैंक का अपना नियम, नौकरी,बिज़नेस आदि करने वालो लोगो के लिए अलग अलग भी हो सकता है.

घर बनाने के लिए पैसे लेने के लिए आपको जरूरी दस्तावेज़ के साथ के अपनी बैंक जाना है और वहां से एप्लीकेशन ले लेना है। उसमें पूछी गयी सभी जानकारी जैसे नाम,  बैंक खाता, मोबाइल नंबर, पता, अपनी मासिक आय लोन लेने की राशि आदि जैसी सभी जानकारी को भर आपको सीधे बैंक में सम्बन्धित कर्मचारी के पास जमा कर देना है.

आपको कुछ दिन का समय दिया जाएगा फिर बैंक आपको जरूरी दस्तावेज़ के साथ फॉर्म को चेक करेगा यदि आप इस लोन के पात्र होंगे तो आपको बैंक की तरफ से फोन किया जाएगा और राशि सीधे आपके उस बैंक खाते में भेज दी जाएगी जो आपने फॉर्म भरत समय डाला था.

भारत सरकार के द्वारा शुरू की गयी होम लोन योजना काफी अच्छी योजना है. जिसका फायदा कोई भी भारत का नागरिक ले सकता है. जो व्यक्ति अपना घर नहीं बना पा रहे है वह अब कम ब्याज पर पैसे लेकर अपना घर बना सकते है.

लेकिन जब भी कोई बैंक आपको पसे उधार देता है तो वह सबसे पहले देखती है कि क्या आप समय पर क़र्ज़ की राशि चुका पाएंगे या नही.

व्यक्ति की कमाई के आधार पर बैंक उस व्यक्ति को उतना ही उधार देती है जितना की वह समय पर उस लोन की राशि को ब्याज़ सहित वापस कर पाए.

आपको भी ध्यान रखना है कि किसी भी बैंक से होम लो ले तो उसकी किस्तें और ब्याज़ के बारे में अच्छे से जान लें. बाकी किस बैंक का कितना ब्याज़ दर है आप इसकी टेबल नीचे भी देख सकते है.

होम लोन ब्याज दर कितनी है?

भारत में अनेक बैंक के और सब्जी बैंकों की जो लोन इंटरेस्ट है वह एक दूसरे से अलग हो सकती है.

यहां पर हम आपके लिए एक लिस्ट लेकर आए हैं जिसमें सभी बैंक के ब्याज दर के बारे में आपको जानकारी मिल जाएगी. आपको यह समझ में आ जाएगा कि भारत में सस्ते ब्याज दर पर पैसे कौन दे रहा है.

बैंक के नाम ब्याज दर
अल्लाहाबाद बैंक8.40% – 8.45%
एक्सिस बैंक8.90% – 9.15%
बैंक ऑफ़ इंडिया8.50% – 8.55%
बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र8.50% – 9.00%
केनरा बैंक8.50% – 8.75%
सिटीबैंक8.5%
बैंक ऑफ़ बड़ौदा8.45% – 9.45%
आंध्र बैंक8.50% – 8.65%
बजाज फाइनेंस9.05% – 11.15%
कारपोरेशन बैंक8.80% – 9.05%
एचडीएफसी8.40% – 9.05%
आईडबीआई8.60% – 8.95%
आईडफसी8.90% – 9.10%
इंडियाबुल्स8.80% – 12.00%
जम्मू & कश्मीर बैंक8.75% – 9.10%
कर्नाटक बैंक8.60% – 9.00%
कोटक महिंद्रा बैंक8.60% – 9.40%
ओरिएण्टल बैंक8.55% – 9.05%
फ़ेडरल बैंक8.90% – 9.10%
इंडसइंड बैंक8.70% – 9.40%
बंधन बैंक10.11%
आईसीआईसीआई8.65% – 9.20%
एसबीआई8.05% – 9.05%
डीएचएफल होम9.75%
यस बैंक होम9.85% – 12.00%
यूनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया होम लोन8.55%
यूको बैंक8.50% – 8.75%
टाटा कैपिटल9.25%
सिंडिकेट बैंक8.75%
स्टैण्डर्ड चार्टर्ड बैंक9.41%
रबीअल बैंक10.00% – 11.00%
पंजाब & सिंध बैंक8.50% – 8.75%
पनबी हाउसिंग फाइनेंस8.90% – 8.95%
एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस8.40% – 9.05%
लक्ष्मी विलास बैंक10.00%

एसबीआई से होम लोन कैसे लें

अन्य बैंक की तरह एसबीआई से बैंक ले सकते है। यहां भी आपको अपने जरूरी दस्तावेज़ के साथ बैंक से फॉर्म लेकर उसमे अपनी सारी डिटेल जैसे की फ़ोटो,आधार कार्ड, मोबाइल नंबर,बैंक खाता आदि जानकारी भरकर बैंक में जमा कर देना है। फॉर्म भरने के लिए आपको यहां कुछ शुल्क देना हो सकता है। जैसे कि एसबीआई होम लोन अमाउंट पर 0.35 फीसदी ब्याज दर से फीस लेती है।

इसके अलावा लोन स्वीकृति के लिए वकील से उधार पैसे लेने वाले व्यक्ति की सम्पत्ति की खोज कराने के लिए वकील को भी भुगतान करना होता होता है। इसके अलावा कुछ जीएसटी चार्ज भी एसबीआई बैंक लेती है। कहने का मतलब जब भी आप एसबीआई से होम लोन ले तो उससे पहले सभी जानकारी के बारे में जान ले।

नोट:- किसी भी बैंक से होम लोन लेने से पहले उसकी पॉलिसी, ब्याज़ दर, और मासिक किश्तों के बारे में अवश्य जान ले। इसके साथ ही आपने जिन दस्तावेज़,और शर्तों के साथ होने लोन लेने के लिए दस्तावेज़ जमा किये उसकी स्लिप आपने पास ज़रूर रख ले ताकि कोई भी बैंक आपके साथ किसी तरह की धोखाधड़ी ना कर पाये।

संक्षेप में

होम लोन के बारे में लोगो को जानकारी नहीं होती है जिस कारण वह इस को लेने से डरते है. जबकी होम लोन भारत सरकार द्वारा शुरू की गई बहुत ही अच्छी स्कीम है. इस से अब कोई भी आम आदमी अपना घर बना सकता है और अपना जीवन यापन अच्छे से कर सकता है.

इसे में कोई परेशानी ना हो इसलिए आज इस आर्टिकल में हमने इसके बारे में विस्तार से आपको जानकारी दी है. मुझे उम्मीद है कि यदि आप होम लेने लेंगे तो यह पोस्ट आपको बहुत काम आएगी.

आज के आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको बताया की होम लोन कैसे लें और इसके लिए कौन से डाक्यूमेंट्स चाहिए एवं इसकी ब्याज दर कितनी होती है.

अगर आपको समझ नही आया हो या फिर आपको घर बनाने के लिए लोन कैसे प्राप्त करते हैं तो हमे कमेंट के माध्यम से अपना सवाल पूछ सकते हैं. हमारी टीम जल्द आपसे जुड़कर आपकी पूरी सहायता करेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here