दरोगा कैसे बने और इसके लिए योग्यता?

हम सभी जानते है कि पुलिस विभाग काफी बड़ा विभाग होता है जिसमे विभाग के अनुसार कई लोग अपने पद पर कार्यकर्ता होते है जिनके अपने-अपने अलग काम होते है। पुलिस विभाग में आज नौकरी करने का सपना लगभग सभी का होता है। कुछ लोग पुलिस कांस्टेबल बनाना चाहता है, तो कोई इंस्पेक्टर बनाना चाहता है। यही वजह है की आज के पोस्ट में हम आपको  बताएँगे की एक दरोगा कैसे बने?

लेकिन पुलिस विभाग में एक काफी अहम पद दरोगा का होता है, इसको इंग्लिश में सब-इंस्पेक्टर भी कहते है. जब भी कोई पुलिस में भर्ती होता है तो वो एक बार दरोगा ज़रुर बनना चाहता है. क्योंकि इस पद की वैल्यू काफी होती है लोग काफी सम्मान भी करते है।

लेकिन कई बार देखा जाता है कि लोग पुलिस विभाग में नौकरी करना तो चाहते है लेकिन उनके पास पर्याप्त जानकारी नही होती है।

जिनमे से एक है दरोगा का पद बेशक अगर आप इस पोस्ट को पढ़ रहे है तो आप भी इसकी अधिक जानाकरी से अंजान होंगे लेकिन अगर आप भी जानना चाहते है कि दरोगा कैसे बने तो आज का हमारा यह लेख आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण होने वाला है।

क्योकी आज हम आपको बतायेगे की आप दरोगा कैसे बन सकते है। इसके लिए क्या योग्यता, आयु सीमा क्या होनी चाहिए, और इस पद पर कितनी सैलरी मिलती है आदि के बारे में डिटेल में जानने वाले है।

दरोगा कैसे बने?

daroga kaise bane hindi

ये तो आप जानते ही है की कोई भी सरकारी नौकरी पाने के लिए आपको कोई ना कोई एग्जाम तो पास करना ही पड़ता है. और पुलिस या फिर आर्मी या फिर कोई भी फ़ोर्स की नौकरी पाने के लिए आपकी शारीरिक योग्यता की जाँच भी होती है. उसी तरह पुलिस विभाग के इस पद के लिए कुछ योग्यताये निर्धारित होती है।

तो अगर आप में निर्धारित की गयी सभी योग्यता है तो निश्चित ही एक पुलिस सब-इंस्पेक्टर या फिर दरोगा बन सकते है। दरोगा बनने के लिए मिनिमम क्वालिफिकेशन स्नातक है अगर आप भी ग्रेजुएट है तो आप इसके लिए फॉर्म भर सकते है अगर आपकी ग्रेजुएशन कम्पलीट नही है तो आपको अपनी ग्रेजुएशन पूरी करनी होगी इसके बाद ही आप दरोगा का फॉर्म भर सकते है

अगर आप एग्जाम में सफल होते है तो आपको शारीरिक टेस्ट के लिए बुलाया जायेगा जहाँ आपको तय किये गये नियम के अनुसार आपको अपनी शारीरक योग्यता का परिक्षण देना होगा अगर आप इसमें भी सफल हो जाते है फिर आपको मेडिकल परिक्षण के लिए बुलाया जाता है अगर आप मेडिकल परिक्षण भी पास कर जाते है तो आपको दरोगा का पद मिल जाता है. बाकी इसके बारे में अधिक जानने के लिए हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े-

दरोगा या सब-इंस्पेक्टर क्या होता है?

एक दरोगा एक पुलिस चौकी का अधिकारी होता है जो हेड कांस्टेबल से ऊँची पोस्ट का होता है, एक दरोगा सबसे कम रैंक का पुलिस अधिकारी होता है जो पुलिस नियमों के अनुसार अदालत में चार्जशीट दाखिल कर सकता है पहला जाँच अधिकारी होता है.
आप दरोगा बनने के लिए तीन तरह के विभाग में अपना फॉर्म अप्लाई कर सकते है जो दूसरे तरह के पुलिस विभाग ही होते है.

  • सिविल पुलिस सब-इंस्पेक्टर
  • उत्तर प्रदेश प्रोविंशियल आर्म्ड कांस्टेबुलरी
  • फायर सर्विस ऑफिसर

दरोगा बनने के लिए योग्यता

दरोगा बनने के लिए सरकार द्वारा कई तरह के मानक मापदंड तय किये गये है जिनको आपको पास करना ही पड़ेगा, अगर आप इनमे से कोई भी मापदंड पास नही कर पाते हो तो आपको बाहर कर दिया जायेगा. तय किये गये मापदंड निचे दिए गये है जिन मापदंड को पास करने के बाद ही कोई भी उम्मीदवार दरोगा बन सकता है.

शैक्षिक योग्यता

सब-इंस्पेक्टर के लिए मिनिमम शैक्षिक योग्यता किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री होनी अनिवार्य है. अगर आप फायर सर्विस ऑफिसर के लिए फॉर्म अप्लाई कर रहे है तो आपको ध्यान रहे की आपके पास मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से विज्ञान में स्नातक की डिग्री होना अनिवार्य है.

नागरिकता योग्यता

पुलिस में सब-इंस्पेक्टर बनने के लिए आपको भारत का नागरिक होना अनिवार्य है अगर आप भारत के नागरिक नही है और भारत में सब-इंस्पेक्टर बनने के लिए फॉर्म अप्लाई कर रहे है तो उसके लिए तय किये गये नीचे दिये गए है.

  1. अगर आप तिव्वती शरणार्थी है जो 1 जनवरी 1962 से पहले भारत में स्थायी रूप से रहने आयें है तो आप इस पोस्ट के लिए फॉर्म अप्लाई कर सकते है
  2. अगर आप भारतीय मूल के पाकिस्तान/ वर्मा/ श्रीलंका/तंजानिया/जाम्बिया/ युगांडा/ मालवी/ और वियतनाम से भारत में बसने के लिए आये हुए शरणार्थी भी इस पोस्ट के लिए आवेदन कर सकते है.

आयु सीमा

  • इस आवेदन के लिए आवेदक की आयु 21 वर्ष से कम ना हो और 28 वर्ष से अधिक ना हो. लेकिन इसमें कुछ जाति वर्गों के उम्मीदवारों के लिए आयु में छूट दी जाती है अगर कोई आवेदक पिछड़ा वर्ग या फिर अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति के वर्ग से आता है तो उसको 5 वर्ष की छूट प्रदान की जाती है.

शारीरिक योग्यता

इस सब-इंस्पेक्टर की शारीरिक योग्यता के लिए सरकार द्वारा कुछ मापदंड तय किये गये है साथ ही कुछ वर्गों के लिए छूट भी दी जाति है जो नीचे दी गयी है.

सामान्य वर्ग, पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जातियों के लिए शारीरिक योग्यता

इस वर्ग के आवेदकों की न्यूनतम ऊँचाई 168 सेमी होनी चाहिए. और सीना बिना फुलाए 79 सेमी और फुला कर 84 सेमी होनी चाहिए. पुरुष आवेदक के लिए 5 सेमी छाती फुलाना अनिवार्य है अगर कोई भी आवेदक अपनी छाती नही फुला पता है तो उसे अयोग्य कर दिया जायेगा. और महिला आवेदको के लिए तय की गई उसकी न्यूनतम ऊँचाई 152 सेमी होनी चाहिए।

अनुसूचित जनजाति के वर्गों के आवेदको के लिए शारीरिक योग्यता

इस पद के लिए केटेगरी में हिसाब से अलग – अलग आयु निर्धारित की गई है जिसके बारे में आप नीचे पढ़ सकते है-

इस वर्ग के आवेदक की न्यूनतम ऊँचाई 160 सेमी होनी चाहिए. और सीना बिना फुलाए 77 सेमी और फुला कर 82 सेमी होनी चाहिए. पुरुष आवेदक के लिए 5 सेमी छाती फुलाना अनिवार्य है अगर कोई भी आवेदक अपनी छाती नही फुला पता है तो उसे अयोग्य कर दिया जायेगा और महिला आवेदको के लिए तय की गई उसकी न्यूनतम ऊँचाई 147 सेमी होनी चाहिए.

दौड़

इस सब-इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा में दौड़ के लिए सभी वर्गों के पुरुष आवेदको को 28 मिनट में 4.8 किलोमीटर की दौड़ पूरी करनी होगी और सभी महिला आवेदको को 16 मिनट में 2.4 किलोमीटर की दौड़ पूरी करनी अनिवार्य है.

वजन
ये वजन की प्रक्रिया सिर्फ महिला आवेदको के लिए ही रखी गयी है और इस प्रक्रिया में महिला आवेदको का वजन कम से कम 40 किलोग्राम होना अनिवार्य है.

मेडिकल परिक्षण

जब आप इस पद के लिए सभी लेवल पर कर लेते तो अंत मे आपका मेडिकल परीक्षण किया जाएगा। तो अगर आप यहां शारीरिक रूप से स्वास्थ्य होते है तभी आपको इसके लिए चयनित किया जाएगा। मेडिकल परीक्षण में आपको कहाँ- कहाँ से गुजरना होगा उसके लिए आप नीचे पड़ सकते है-

  1. आपकी आंख 6/6 की होनी चाहिए.
  2. आपको रंगों में पहचान करनी आनी चाहिए जैसे जी आपको कलर ब्लाइंडनेस जैसी बीमारी नही होनी चाहिए.
  3. लसिक सर्जरी नही होनी चाहिए.
  4. अगर उम्मीदवार knock knee, flat foot, varicose vein या squint in eyes अदि से परेशान है तो आपको मेडिकल में पास नही किया जायेगा.
  5. अगर उम्मीदवार को कान में कोई भी समस्या है जैसे की सुनने में परेशानी होना या फिर कोई और परेशानी नही होनी चाहिए.
  6. आपका वजन आपकी ऊंचाई और आपकी उम्र के हिसाब से होना चाहिए अगर ऐसा नही होता है तब भी आपको मेडिकल में अनफिट घोषित कर दिया जायेगा.

दरोगा बनने के लिए क्या करे?

सरकारी नौकरी को पाना एक सपने जैसा होता है क्योंकि आज नौकरी के लिए काफी लोग मेहनत करते है उसकी तैयारी करते है। जिसके चलते कॉम्पटीशन काफी ज्यादा बढ़ता जा रहा है। बाकी ये तो सभी जानते है कि पुलिस एक ऐसा विभाग है जहां नौकरीं करने के लिए लाखों युवा तैयार रहते है, और जैसे ही किसी पद के लिए वेकैंसी निकलती है बैसे ही हजारो फॉर्म पड़ जाते है। इसलिए अगर आप दरोगा बनाना चाहते है तो इसके लिए आपको काफी मेहनत करनी होगी बाकी इस पद के लिए आपको क्या – क्या करना होगा इसके बारे में आप नीचे डिटेल में पढ़ सकते है-

  • सबसे पहले आपको अपनी स्कूल की पढ़ाई पूरी करनी होगी मतलब आपको 12th तक की पढाई पूरी करने के बाद आपको अपनी ग्रेजुएशन की पढाई में एडमिशन लेना होगा जहाँ से आपको अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री मिलेगी याद रहे की अगर आप फायर सर्विस में दरोगा बनना चाहते हो तो आपको अपनी ग्रेजुएशन विज्ञान से करनी होगी, बाकि के लिए आप कोई भी सब्जेक्ट चुन कर अपनी ग्रेजुएशन कम्पलीट कर सकते है.
  • जब आपकी ग्रेजुएशन कम्पलीट हो जाये तो आप UP Police SI Exam में अपना फॉर्म अप्लाई कर सकते हो. फॉर्म को आपली करने के बाद आपको मेहनत से अपने एग्जाम की तैयारी करनी होगी अगर आप चाहे तो किसी कोचिंग की मदद ले सकते है. एग्जाम में पास होने के लिए पिछले कुछ सालों के पेपर्स को ज़रुर पढ़े और सब-इंस्पेक्टर के सिलेबस को जररू ध्यान में रखे और अपनी पढाई जारी रखे, और एग्जाम दे.
  • अगर आप एग्जाम में पास हो जाते है तो उनको Physical Standards Test के लिए बुलाया जाता है जहाँ आपके सभी डाक्यूमेंट्स की जाँच की जाति है आपको याद रहे की यहां आपको अपने सभी ओरिजिनल डाक्यूमेंट्स अपने साथ ले जाये.
  • इसके बाद आपको फिजिकल टेस्ट के लिए बुलाया जाता है जहाँ आपको दौड़ कराई जाति है और आपका सीना नापा जाता है और बाकि सभी टेस्ट किये जाते है अगर आप इन सभी में पास हो जाते है तो आपको अगले चरण के लिए बुलाया जाता है.
  • अगर चरण में लिखित एग्जाम में और शारीरिक परीक्षा में पास हुए सभी उम्मीदवारों की उनको मिलने वाले अंको हिसाब से एक मेरिट बनाई जाती है और उस मेरिट के हिसाब से अगले चरण के लिए बुलाया जाता है और अगर वो मेडिकल परिक्षण में पास हो जाते है तो उनको ट्रेनिंग पर भेज दिया जाता है और ट्रेनिंग के बाद उनकी पोस्टिंग कर दी जाती है.

दरोगा का वेतन

आपको पता होना चाहिए की एक दरोगा का वेतन कई बातो पर निर्भर करता है जिनमे की उसकी पोस्टिंग कहाँ है, किस शहर में है आदि कई बातो पर निर्भर करता है इसीलिए एक दरोगा का वेतन 28,000 से लेकर 1,00,000 तक हो सकता है और इसके अलावा एक दरोगा को 42,00 रुपये हर माह ग्रेड पे दिया जाता है जो उसके वेतन से अलग होता है. वेतन के अलावा भी और कई सुविधाएं है जो सरकार की तरफ से ईद पद पर तैनात व्यक्ति को फ्री में प्रदान की जाती है. 

निष्कर्ष

पुलिस विभाग में कोई भी पद हो सबका रुतवा अलग देखने को मिलता है इसलिए आज लोग पुलिस विभाग में नौकरीं करना ज्यादा पसन्द करते है। और युवाओ में तो पुलिस भर्ती के लिए अलग रंग देखने को मिलता है। लेकिन कई बार देखा जाता है कि पुलिस विभाग में अनेक पद होने के कारण उनके बारे में जानकारी हासिल करना मुश्किल हो जाता है।

क्योकि सभी पदों के किये अलग-अलग योग्यताये निर्धारित की गई है जिस कारण कई बार लोग आसंजन में आ जाते है, और आवेदन नही कर पाते है। इसी बात कक ध्यान में रखते हुए आज हमने पुलिस विभाग के काफी अहम पद दरोगा कैसे बने? इसके बारे में विस्तार से जाना है। ताकि जो लोग इसके लिए तैयारी कर रहे है उनको इस पद के लिए नौकरीं आसान हो सके।

मुझे आशा है कि आपको हमारे आज के इस लेख में दी गयी जानकारी समझ आ गयी होगी। अगर इस लेख से जुड़ा कुछ पूछना चाहते है तो हमे कमेंट करके पूछ सकते है हम जल्द आपके साथ जुड़कर आपकी पूरी सहायता करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here