बिजनेसमैन कैसे बने?

सफलता पाने की इच्छा हर किसी को होती है और इसीलिए सभी बचपन से पढ़ाई करते हैं. कई तो जॉब करना पसंद करते हैं वहीं कुछ लोग बिजनेस करने की ख्वाहिश रखते हैं इसलिए आज की इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि बिजनेसमैन कैसे बने?

बिजनेसमैन की क्वालिटी कैसी होनी चाहिए यह तो जानेंगे ही साथ में यह भी जारी है कि एक बिजनेसमैन की सोच उद्योजक कैसे बने? शुरुआती चरण में शिक्षा दोनों के लिए ही बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि बिना शिक्षा के हमारे अंदर जो क्वालिटी होती है वह निखरती नहीं. शिक्षा की वजह से ही हम दुनिया के दूसरे देशों से भी आईडिया लेते हैं.

बिजनेस करने के लिए एक इंसान के पास अच्छी खासी पूंजी का होना काफी जरूरी है. बिना पूंजी के कोई भी एक बिजनेस की शुरुआत नहीं कर सकता है. यही वजह है कि बिजनेस का ख्वाब देखने वाले कई ऐसे लोग भी होते हैं जिनके पास पैसे ना होने की वजह से वह इसमें अपने कदम नहीं रख पाते.

मजबूरन उन्हें किसी नौकरी की तलाश करनी पड़ जाती है. बिजनेसमैन का मतलब होता है कि ₹1 को ₹1000 में बदलना, जो इंसान इसको कर पाने में समर्थ नहीं है तो फिर बिजनेस में कभी नुकसान होने पर वापसी नहीं सकता.

नौकरी करने वाले की जिंदगी नौकरी तक ही सीमित होती हैं और उनकी लाइफ में बस यही सिक्योरिटी होती है कि वह जिंदगी भर एक निश्चित सैलरी के साथ अपनी जिंदगी बिता सकेंगे.

लेकिन एक बिजनेसमैन का काम रिस्क से भरा होता है. नुकसान होने का खतरा हमेशा रहता है लेकिन फिर भी एक सफल बिजनेसमैन की यही पहचान है कि वह प्लानिंग के साथ कैलकुलेटेड रिस्क लेकर काम को करता है.

एक सफल बिजनेसमैन बनने के बेहतरीन टिप्स

businessman kaise bane - बिजनेसमैन कैसे बने?

सफल बिजनेसमैन का मतलब यही है कि एक ऐसा व्यापारी जो अपनी इन्वेस्टमेंट करने के बाद अच्छा मुनाफा कमा लेता है और दिन प्रतिदिन तरक्की करता जाता है. बाजार में जब मंदी आती है तब भी वह उस मंदी से उबर कर बाहर निकलता है और अपने बिजनेस को हमेशा आगे बढ़ता जाता है.

किसी भी प्रकार के बिजनेस को करने के लिए सबसे पहले तो प्लानिंग करने की जरूरत पड़ती है. बिना प्लानिंग के बिजनेस करना जोखिम से भरा हुआ काम है. एक गलती आपकी पूरी पूंजी भी खत्म कर सकती है.

इसीलिए इस लेख में हम आपको सफल बिजनेसमैन बनने के ऐसी बेहतरीन टिप्स देंगे जो जिंदगी भर आपके व्यापर करने में आपकी मदद करेंगे.

1. सही व्यापार का चुनाव

कभी भी दूसरे के बिजनेस को देखकर खुद की बिजनेस की शुरुआत ना करें. बिजनेस की शुरुआत अपने रूचि के अनुसार करें. कोई जरूरी नहीं कि आप भी बिजनेस को देखकर शुरू कर रहे हैं वह आपके लिए भी सफल हो जाए.

आपको अपने बिजनेस का चुनाव अपने इंटरेस्ट के आधार पर करना चाहिए इसके अलावा कई और पहलू हैं जो आपके सही बिजनेस का चुनाव करने में मदद कर सकते हैं.

आप जो भी व्यापार शुरू करने जा रहे हैं उसके बारे में पहले रिसर्च कर ले कि क्या वह व्यापार आपके क्षेत्र से जुड़ा हुआ है. क्या आप जिस क्षेत्र में रहते हैं वहां पर आपके प्रोडक्ट या फिर सेवाएं ग्राहकों को चाहिए. यह भी देखना होगा कि आपके कंपीटीटर्स कौन हैं.

आप जिस जगह अपना बिजनेस शुरू कर रहे हैं क्या वहां पर लोग आसानी से पहुंच सकते हैं. देखा तो यह जाता है कि जो मार्केट का एरिया होता है वहां पर अगर आप अपने व्यापार की शुरुआत करते हैं तो उन लोगों की भीड़ पहले ही होती है तो इससे ग्राहकों तक पहुंचना आसान हो जाता है.

अगर किसी खास क्षेत्र में कंपीटीटर्स कम है और प्रोडक्ट की मांग अच्छी है तो आप वहां पर उस उत्पाद से जुड़े व्यापार की शुरुआत कर सकते हैं.

2. मार्केटिंग स्ट्रेटजी

एक सफल व्यापारी बनने के लिए दूसरी सबसे बड़ी और अहम चीज जो होती है वह होती है मार्केटिंग स्ट्रेटजी. एक नया व्यापार लोगों तक तभी पहुंच सकता है जब आप उसकी मार्केटिंग अच्छे तरीके से करते हैं. आज मार्केटिंग करने के कई कारगर तरीके हैं. इनमें से सबसे बेहतरीन और सटीक तरीका ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों में मौजूद है.

वैसे तो आमतौर पर बैनर और पोस्टर का उपयोग सबसे अधिक किया जाता है. जो क्षेत्र के हर इलाके में लगाए जाते हैं लेकिन आज विज्ञापन के दूसरे माध्यम भी काफी तेजी से इसमें इस्तेमाल किए जा रहे हैं. समाचार पत्रों में अपने व्यापार के बारे में जानकारी देकर लोगों को आकर्षित किया जाता है. केबल टीवी में भी अपने बिजनेस के बारे में विज्ञापन चलाए जाते हैं.

आज जो तरीका सबसे अधिक कारगर और सुविधाजनक है वह है इंटरनेट के माध्यम से विज्ञापन देना. इसमें गूगल और फेसबुक का उपयोग करके आप अपने व्यापार को ऑनलाइन के माध्यम से आसानी से लाखों लोगों तक पहुंचा सकते हैं.

ऑनलाइन में भी आप किसी खास एरिया को टारगेट करके वहां के कस्टमर को अपने दुकान तक ला सकते हैं. इन सभी चीजों के बारे में अच्छी जानकारी होना काफी जरूरी है. अगर आपकी मार्केटिंग स्ट्रेटजी बहुत मजबूत है तो फिर आपको बिजनेस में सफलता पाने से कोई नहीं रोक सकेगा.

3. प्रोडक्ट क्वालिटी

एक सफल बिजनेसमैन अपने बिजनेस को तभी सफलता के दिशा में ले जाता है जब उसका प्रोडक्ट उत्तम क्वालिटी का होता है. खराब क्वालिटी के साथ आप मार्केट में ज्यादा दिनों तक टिक नहीं सकते. जो आपकी कस्टमर होते हैं उन्हें रेगुलरली अपना कस्टमर बनाने के लिए अच्छा क्वालिटी देना काफी जरूरी है.

क्वालिटी से समझौता करने वाले लोग कभी भी व्यापार में सफल नहीं हो पाते. कुछ लोग ऐसा करते हैं कि शुरुआती दौर में कस्टमर बनाने के लिए अच्छी क्वालिटी देते हैं लेकिन बाद में अधिक मुनाफा कमाने के लिए क्वालिटी को गिरा देते हैं जिससे वह अपने कस्टमर को भी धीरे-धीरे खो देते हैं.

प्रोडक्ट की क्वालिटी इसीलिए मायने रखती है क्योंकि जो आपके प्रोडक्ट को खरीदते हैं उन्हें अपना प्रोडक्ट सही हालत में और सही स्थिति में चाहिए. अगर वह आपके उत्पाद का इस्तेमाल करते हैं और उन्हें पसंद नहीं आता तो दोबारा आपके पास कभी नहीं आएंगे.

4. ग्राहक की संतुष्टि

एक व्यापारी का सबसे बड़ा लक्ष्य यही होना चाहिए की उसका ग्राहक उसके प्रोडक्ट से संतुष्ट हो. चाहे किसी भी प्रकार का हो या फिर कोई सेवा हो ग्राहक की संतुष्टि दोनों में ही मायने रखती है.

कोई भी इंसान पैसे लगाकर खराब क्वालिटी की चीज खरीदना पसंद नहीं करेगा गलती से एक बार अगर खरीद भी लिया तो दोबारा वह आपके प्रोडक्ट को लेने के लिए सोचेगा भी नहीं. इसीलिए हर संगठन, कंपनी या फिर सेवा देने वाला संस्थान कस्टमर सेटिस्फेक्शन को सबसे ऊपर रखते हैं.

5. रिस्क लेने की क्षमता

हर इंसान की जिंदगी में जिसको होता है चाहे वह रोड पर चल रहे हो तो भी रिस्क है और घर में हो तो भी रिस्क है उसी प्रकार किसी भी प्रकार के बिजनेस में रिस्क होता है.

लेकिन आपको एक सफल व्यापारी बनने के लिए रिस्क जरूर लेना पड़ेगा अगर आप रिस्क लेने से डरते हैं तो फिर आपकी तरक्की नामुमकिन है.

मार्केट में पैसे लगाने की हिम्मत हर किसी को नहीं होती और जो यह हिम्मत दिखा पाते हैं वही आज बड़े और सक्सेसफुल बिजनेसमैन बने हुए हैं

6. खुद पर विश्वास रखें

अगर आप किसी व्यापार की शुरुआत करने जा रहे हैं तो सबसे पहले तो आपको खुद पर भरोसा करना सीखना पड़ेगा. जब आपको खुद पर विश्वास होगा तभी आप अपने काम पर भी भरोसा कर सकेंगे.

इस प्रकार आप किसमें प्रकार के निर्णय को मजबूती के साथ लेने में समर्थ हो सकेंगे. कई बार आपको कड़ी चुनौतियों का सामना करना पड़ता है और ऐसी स्थिति में आप हार मान सकते हैं लेकिन मजबूत इरादों के साथ आप चुनौतियों को भी टक्कर दे कर उसे बाहर निकल सकते हैं.

7. अपने लक्ष्य को दिमाग में रखे

जब आप व्यापार का प्लान करते हैं तो एक लक्ष्य बनाकर रखते हैं और उसी लक्ष्य के अनुसार काम की शुरुआत करते हैं. हमेशा अपने दिमाग में यह जरूर बैठा कर रखें कि आपको पहले क्या करना है और फिर बाद में क्या करना है.

हमेशा अपनी सफलता को अपने दिमाग में ऐसे बनाकर रखें की आपको उसके बारे में सोच कर ही हमेशा प्रेरणा मिलती रहे. क्योंकि जब तक आप अपने लक्ष्य की प्राप्ति की खुशी को महसूस नहीं करेंगे तब तक आप उस पर पूरी तरह से मेहनत भी नहीं कर सकेंगे.

8. काम के प्रति पैशन रखें

अपने काम के प्रति पैशन रखना एक सफल व्यापारी की सबसे बड़ी खूबी होती है. अपने काम को इस प्रकार से रुचि बनाकर करें कि आपके लिए कोई काम उससे ज्यादा महत्वपूर्ण ना हो.

काम ऐसी होनी चाहिए कि आप वो काम की बिना चैन ना आए. पैशन तो यही होता है कि जिसे लोग ठान लेते हैं उसे पूरा किए बिना नहीं छोड़ते.

मैं ब्लॉगिंग का काम करता हूं और यही मेरा पैशन है. मेरे दिमाग में दिनभर यही चलता है कि मैं अपने ब्लॉगिंग में और कैसे आगे बढ़ो. हर दिन मुझे इसमें नए चैलेंज मिलते हैं और मुझे उन चैलेंज को चुनौती देना काफी पसंद है.

9. अपने आप से चैलेंज करें

जिंदगी एक ऐसे देश है जहां हमें हर दिन नई चीजें सीखने को मिलती है और नई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है. वही लोग पीछे रह जाते हैं जो दूसरों से खुद को तुलना करते हैं और अपने आप को कम समझते हैं.

सफल होने का सबसे बड़ा कि आप दूसरों को चुनौती ना समझ कर खुद को अपनी चुनौती समझे. आज अगर आपने टास्क पूरा किया है तो अपने दिमाग में बैठा ले कि आपको कल दो टास्क पूरे करने हैं.

सफलता की कुंजी इसी पर निर्भर करती है कि आप खुद कितना अपने आप में इंप्रूव करते हैं. दूसरों से तुलना करें ना बंद कर दें और खुद की तुलना खुद से करें और आने वाले दिनों में और बेहतर बनने की कोशिश करें.

10. हर सफलता को सेलिब्रेट करें

अपने आप को प्रेरित रखने के लिए हर छोटी कामयाबी सीआईडी ऑफिसर कैसे बने?को मनाना और उसके लिए खुद को शाबाशी देना जरूरी है. कभी भी ऐसा ना सोचे कि जब आप कोई बड़ी सफलता हासिल कर लेंगे सभी खुशियां मनाएंगे. छोटी-छोटी ना कामयाबी हमसे आप निराश भी हो सकते हैं.

इस निराशा को हटाने के लिए एक ही तरीका यह है कि आप हर छोटी कामयाबी को सेलिब्रेट करें उसकी खुशी मनाएं और अपने आपको इसके लिए प्रोत्साहित करें.

निष्कर्ष

जिंदगी में इंसान दो रास्ते पर चलता है या तो जॉब नौकरी करता है या फिर खुद का कोई बिजनेस करता है. मैं तो असल में देखा जाए तो हर का एक बिजनेस है और उसके अंतर्गत जो लोग काम करते हैं वह नौकरी होती है.

बिजनेस करने के लिए एक पूंजी की आवश्यकता पड़ती है लेकिन हर किसी के पास पूंजी ना होने के कारण उन्हें नौकरी भी करनी पड़ती है. लोगों को सरकारी नौकरी करने की चाहत होती है तो वह उसके लिए तैयारी करके एग्जाम की तैयारी करके उसे प्राप्त करते हैं.

लेकिन कई ऐसे लोग भी होते हैं जिन्हें जॉब करने की बिल्कुल ख्वाहिश नहीं होती और वह अपना खुद का बिजनेस स्थापित करके अपना नाम कमाना चाहते हैं.

इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको बताया कि बिजनेसमैन कैसे बने और एक सफल बिजनेसमैन की क्वालिटी क्या होनी चाहिए? इसके अलावा हमने यह भी बताया कि बिजनेसमैन बनने के टिप्स क्या है .

हम उम्मीद करते हैं कि इस आर्टिकल के माध्यम से आप समझ ही गए होंगे कि एक बिजनेसमैन की सोच उद्योजक कैसे बने. अगर हम आपको हमारी लेखन सामग्री अच्छी लगी हो तो इसे दोस्तों को जरूर शेयर करें.

About Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है. लोगों को उनके जीवन में कैरियर बनाने में सही निर्देश देना और हर प्रकार के नौकरी के बारे में जानकारी देना काफी पसंद है ताकि उनका भविष्य बन सके.

2 thoughts on “बिजनेसमैन कैसे बने?”

Leave a Comment