ब्लॉग को लीगली कैसे रजिस्टर करवाए

आज का समय ऐसा है की पूरी दुनिया digitization की तरफ तेज़ी से बढ़ रहा है और इसी दिशा में नए युवा भी इस क्षेत्र में अपना भविष्य बनाने के लिए म्हणत कर रहे हैं इसी में ब्लॉग्गिंग भी एक करियर के रूप में अपनाया जाने लगा है लेकिन क्या आपको मालूम है की अपने ब्लॉग को कैसे रजिस्टर करवाएं (How to register a blog in hindi)?  अक्सर आप सुनते होंगे की जब  बनती है तो उसके नाम को रजिस्टर करना होता है यहाँ तक की उनके हर प्रोडक्ट का पेटेंट भी कराया जाता है. कानून के तहत अगर आप  बिज़नेस करने के लिए एक शॉप खोलते हैं तो उसका भी रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य होता ही है. ठीक उसी तरह एक ब्लॉग डोमेन  unique होता है यानी की उसी नाम से दूसरा ब्लॉग या वेबसाइट नहीं  क्यूंकि नाम का same to same डोमेन उपलब्ध ही नहीं होगा.

हर ब्लॉग एक दूसरे से अलग होता है. कुछ ब्लॉग को अपने नॉलेज को लोगों तक पहुँचाने के लिए बनाया जाता है. कुछ अपने विचारों को प्रदर्शित करने के लिए अपनी ब्लॉग को बनाते हैं. वहीँ कुछ लोग  बिज़नेस को ऑनलाइन अधिक से अधिक लोगों तक पहुँचाने के लिए बनाते हैं. जिस तरह एक दुकानदार अपने दुकान और बिज़नेस को सुरक्षित रखने के लिए उसका रजिस्ट्रशन करवाते हैं. इसके साथ साथ बीमा करवाते हैं ठीक उसी तरह ही ब्लॉग और उसके कंटेंट को सुरक्षित रखना भी जरुरी है. लेकिन ये कैसे किया जाए ये शायद आपको नहीं मालूम इसीलिए इस पोस्ट के माध्यम से आपको इससे सम्बंधित जानकारी हम आपको देने जा रहे हैं. चलिए जान लेते हैं की एक वेबसाइट या ब्लॉग को कैसे रजिस्टर करते हैं (How to register a blog in internet).

ब्लॉग को कानूनी रूप से कैसे रजिस्टर करवाए?

blog ko kaise register kare hindi

ब्लॉग एक सोशल मीडिया वेबसाइट है जहाँ लोग अपने विचार लिखते हैं या वे ब्लॉग के माध्यम से अपनी भावना व्यक्त करते हैं, जिन्हे किसी विषय ने ज्ञान होता है तो उस ज्ञान को आसान शब्दों में दुसरो तक पहुंचाते हैं, इसके अलावा जो दुनिया में जितने भी टॉपिक है सभी में ब्लॉग बना हुआ है. भले हो सकता है की उनकी भषा अलग हो. लेकिन आजकल कई कंपनियां अपने उत्पादों को अपने ब्लॉग के माध्यम से बेच रही हैं। कई उद्यमियों ने ब्लॉग के माध्यम से अपना काम शुरू किया और बहुत से लोग अपने उत्पादों को ब्लॉग के माध्यम से बेच रहे हैं इसलिए यदि आप ब्लॉग पर व्यवसाय शुरू करने की सोच रहे हैं और भारत में अपने ब्लॉग को कानूनी रूप से पंजीकृत करना चाहते हैं तो यह लेख आपको कानूनी रूप से ब्लॉग पंजीकृत करने में मदद करेगा। यह लेख कानूनी पंजीकरण के बारे में बात करता है, जो आपके ब्लॉग के लिए महत्वपूर्ण है।
कॉपीराइट पंजीकरण (Copyright Registration) , ट्रेडमार्क पंजीकरण (Trademark registration), उद्योग आधार पंजीकरण (Udyog Aadhar Registration), और अन्य महत्वपूर्ण पंजीकरण ताकि आपको कानूनी पंजीकरण के बारे में जानकारी मिलेगी जो आपके ब्लॉग के लिए महत्वपूर्ण है। यहां कुछ महत्वपूर्ण पंजीकरण की सूची दी गई है जिसके माध्यम से आप अपने ब्लॉग को कानूनी रूप से पंजीकृत कर सकते हैं।

Copyright (कॉपीराइट ) and Trademark registration (ट्रेडमार्क पंजीकरण )

आप अपने ब्लॉग को कॉपीराइट कानूनों के तहत पंजीकृत करवा सकते हैं और पंजीकरण के बाद, आपके ब्लॉग को कॉपीराइट कानूनों के तहत संरक्षित किया जाएगा। आपको अपने Logo को ट्रेडमार्क के रूप में भी पंजीकृत करवाना चाहिए ताकि आपको उस पर एक विशेष अधिकार प्राप्त हो। कॉपीराइट और ट्रेडमार्क के बिना कोई भी आपके विचारो और कंपनी के Logo की प्रतिलिपि बना सकता है, आपके प्रिंट हुए कंटेंट को कॉपी कर सकता है और आपके ब्लॉग की कॉपी करके उससे पैसा कमा सकता है , इसलिए आपको अपने ब्लॉग को कॉपीराइट के तहत पंजीकृत जरूर करना चाहिए ताकि आपको इस पर एक विशेष अधिकार प्राप्त हो सके और कॉपीराइट पंजीकरण के बाद कोई भी आपके ब्लॉग को कॉपी नहीं कर सके।
यदि किसी को आपके अधिकार का उल्लंघन करने का दोषी पाया गया तो वह कॉपीराइट अधिनियम के तहत उत्तरदायी होगा। इसलिए कॉपीराइट पंजीकरण और ट्रेडमार्क पंजीकरण महत्वपूर्ण है। आप अपने कॉपीराइट पंजीकरण और ट्रेडमार्क पंजीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन दे सकते हैं, ऑनलाइन प्रक्रिया बहुत आसान और सरल है, आप कॉपीराइट पंजीकरण के लिए कॉपीराइट की आधिकारिक वेबसाइट और ट्रेडमार्क पंजीकरण के लिए ट्रेडमार्क की वेबसाइट पर जा सकते हैं। आप पंजीकरण के लिए अपना फॉर्म ऑनलाइन भर सकते हैं और अपना फॉर्म जमा करने के बाद, आपकी पंजीकरण प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

Udyog Aadhar registration ( उद्योग आधार पंजीकरण )

अगर आप ब्लॉग पर बिजनेस शुरू करने की सोच रहे हैं तो उद्योग आधार पंजीकरण आपकी मदद कर सकता है। udyog aadhar, सरकार के नियमो तहत एक व्यवसाय का पंजीकरण होता है। उद्योग आधार एक 12 अंकों की अनूठी संख्या है जिसे सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय द्वारा आवंटित किया जाता है और उद्योग आधार संख्या प्राप्त करने के बाद आपको विभिन्न सरकारी योजनाओं के तहत लाभान्वित किया जाएगा। इसे प्राप्त करने के बाद आपको इनकम टैक्स में भी फायदा मिलेगा। उद्योग आधार प्राप्त करने के बाद, आपको कम ब्याज दरों पर ऋण मिलेगा और आपको ट्रेडमार्क और पेटेंट पंजीकरण के लिए कम शुल्क देना होगा।
उद्योग आधार होने के कई लाभ हैं और उद्योग आधार बनाना बहुत आसान है। आप उद्योग आधार पंजीकरण के लिए ऑनलाइन मोड के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। आप पंजीकरण के लिए उद्योग आधार की आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं। आप वहां आधार पंजीकरण फॉर्म भर सकते हैं और फॉर्म को सफलतापूर्वक जमा करने के बाद, आपको अपना उद्योग आधार नंबर मिलेगा। उद्योग आधार नंबर प्राप्त करने के बाद, आपके ब्लॉग को कानूनी रूप से मान्यता दी जाएगी।

Business registration (व्यवसाय पंजीकरण )

यदि आप एक ऐसी कंपनी स्थापित करना चाहते हैं जो एक ब्लॉग चलाती है तो आप अपने ब्लॉग को कंपनी अधिनियम के तहत एक कंपनी के रूप में पंजीकृत कर सकते हैं। यदि आप ब्लॉग पर व्यवसाय कर रहे हैं, तो आपको अपने व्यवसाय पंजीकृत करवाना चाहिए ताकि भविष्य में आपको अपने व्यवसाय के पंजीकरण के लिए किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े। यदि आप अपने ब्लॉग के एकल स्वामी हैं तो आप अपना व्यवसाय एक व्यक्ति कंपनी या एकमात्र स्वामित्व फर्म के रूप में शुरू कर सकते हैं। और अगर आपका कोई साथी है तो आप एक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी / लिमटेड लायबिलिटी साझेदारी फर्म / साझेदारी फर्म के रूप में अपना ब्लॉगिंग व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। आप ऑनलाइन मोड के माध्यम से पंजीकरण के लिए आवेदन कर सकते हैं।

निष्कर्ष

जैसा कि आप उपरोक्त लेख में देख सकते हैं, ब्लॉग को कानूनी रूप से पंजीकृत किया जा सकता है और यदि आप ब्लॉग पर व्यवसाय शुरू करने की सोच रहे हैं तो आपको अपने ब्लॉग को पंजीकृत जरूर करवाना चाहिए ताकि भविष्य में आपको किसी भी कानूनी समस्या का सामना न करना पड़े ।

अगर आपको ये पोस्ट उपयोगी लगी हो तो इसे अधिक से अधिक फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम  व्हाट्सएप्प  में शेयर करें.

3 COMMENTS

  1. बढ़िया पोस्ट है पहली बार आपके ब्लॉग पर विजिट किया बहुत पसंद आया
    एक सवाल आपसे है आपने इस ब्लॉग के लिए कौन से theme use किया है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here