दसवीं में टॉपर कैसे बने?

पढ़ लिखकर अच्छा आदमी बनने की हर किसी की ख्वाहिश होती है लेकिन पढ़ने के दौरान हर बच्चा यही चाहता है कि वह भी टॉपर बनता है लेकिन जब वह दसवीं और बारहवीं में पढ़ता है तो फिर 10th में टॉपर कैसे बने उसके मन में हमेशा यही सवाल आता है?

इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको इसकी जानकारी देने जा रहे हैं कि टॉपर बनने के लिए क्या-क्या करें और इसके लिए कौन सी बुक जरूरी है? कई बच्चे तो ऐसे होते हैं जो बहुत कम पढ़ाई करते हैं लेकिन उनका रैंक हमेशा नंबर वन लेकिन बिना पढ़े टॉपर कैसे बने ऐसा भी कई बच्चे दूसरों को देखकर सोचते हैं.

अगर आप भी दसवीं क्लास में पढ़ाई कर रहे हैं और चाहते हैं कि कम से कम समय में अच्छी तैयारी करके टॉपर कैसे बने तो इस आर्टिकल को शुरू से अंत तक जरूर पढ़ें.

टॉपर बनने के लिए क्या-क्या करना चाहिए?

10th me topper kaise bane

सबसे पहली बात तो यह है कि अगर आप सच में टॉपर बनना चाहते हैं तो फिर आपको पढ़ाई कैसे करें यह अच्छे से मालूम होना चाहिए. जब आप अच्छे ढंग से एग्जाम की तैयारी करके लिखते हैं तो आप हंड्रेड परसेंट नंबर सवालों का जवाब लिख पाते हैं.

तो एग्जाम की तैयारी कैसे करें पहले आपको यह समझना पड़ेगा उसके बाद ही आप बढ़िया ढंग से एग्जाम भी लिख सकेंगे. हमने पहले ही पढ़ाई करने के बेहतरीन तरीके को आर्टिकल मैं बताया है जिसे आप जाकर पहले पढ़ ले तो ज्यादा बेहतर होगा. उसके बाद यहां पर आप को समझने में ज्यादा आसानी होगी.

किसी भी क्लास में आप पढ़ रहे हो चाहे दसवीं हो या फिर 12वीं हो टॉपर बनना कोई बहुत बड़ा चमत्कार नहीं होता. आपको थोड़ी सी मेहनत करनी पड़ती है लेकिन यूं कहें कि स्मार्ट वर्क करना पड़ता है तो गलत नहीं होगा.

आज पढ़ाई में भी अगर आप हार्ड वर्क करते हैं तो आपको अच्छा रिजल्ट मुश्किल से ही मिलता है. इसीलिए तो मैंने पहले ही आपको बोला कि इस स्मार्ट वर्क कीजिए हार्ड वर्क नहीं.

10th टॉपर बनने के लिए बेहतरीन टिप्स

दसवीं क्लास एक महत्वपूर्ण लेवल होता है जो बच्चा पहली बार पहुंचता है और इस वर्ग में टॉपर बनना एक सम्मान की बात होती है. जो भी बच्चे इस क्लास में टॉपर बनता है अगर वह सीबीएसई बोर्ड का होता है तो उसे पूरे भारत में जानते हैं या फिर अगर वह राज्य स्तरीय बोर्ड से 10th के टॉपर को पूरे स्टेट में जानते हैं.

जो बच्चे सामान्य रैंक लाते हैं उनके दिमाग में भी कहीं न कहीं टॉपर बनने की इच्छा होती है. इसलिए तो हमने यही सोच कर तैयार किया है ताकि एक सामान्य बच्चा भी अपने सपने को साकार कर सकें.

1. वर्ग में पढ़ाए जाने वाले हर विषय को ध्यान से पढ़ें

अगर आप दसवीं में टॉपर बनना चाहते हैं तो सबसे पहली शर्त तो यह है कि आपको हर दिन स्कूल जाना चाहिए और अपने पद की एक विषय को ध्यान से पढ़ना चाहिए.

हमारे टीचर हर विषय को पढ़ाने में काफी मेहनत करते हैं तो हमें भी चाहिए कि हम प्रत्येक विषय में उपस्थित रहे और उनके द्वारा दी जाने वाली शिक्षा को ग्रहण करें. अगर आप चाहते हैं कि आपको घर में पढ़ाई करने में कम मेहनत करनी पड़े तो आप अपने क्लास में पढ़ाया जा रहे हैं विषय को ध्यान से सुने और उससे जुड़े हुए सवालों को भी पूछे.

किसी भी टॉपिक को समझने के लिए सबसे अच्छा तरीका यही है कि आप उसमें ढेर सारे सवालों को पूछे. इससे हो गई है कि आपको कुछ टॉपिक से जुड़े हुए कई सवालों की वजह से टॉपिक के बारे में समझ तो आ ही जाएगा और यह आपको लंबे समय तक याद भी रहेगा जब आप रिवीजन करने के लिए जाएंगे तो यह विषय अब तो तुरंत याद भी हो जाएगा.

2. पढ़ाई करने का टाइम टेबल बनाएं

टॉपर बनने का एकमात्र सबसे सटीक सूत्र यह है कि आप अपनी पढ़ाई को टाइम टेबल के अनुसार ही करें अगर आप अनुशासन में रहकर पढ़ाई करेंगे और अपने विषयों को एक समान रूप से समय दे सकेंगे या फिर जरूरत के अनुसार विषयों को समय देंगे तो इसकी तैयारी इतनी जबरदस्त होगी आपको टॉपर बनने से कोई नहीं रोक सकेगा.

अगर आप हर दिन अपनी क्षमता के अनुसार कुछ घंटे टाइम टेबल के अनुसार पढ़ाई करते हैं तो आपको हर दिन यह तो समझ में आता है कि आपने कितनी पढ़ाई की और आपकी तैयारी कैसी चल रही है साथ ही यह भी पता चलता है कि आप इस टॉपिक को अच्छी तरीके से समझ चुके हैं और किस में आपको मेहनत करनी है. इसके अलावा आपको यह भी पता चलता है कि कौन से विषय में आपको तैयारी करने में कितना समय लगेगा

एक बेहतरीन टाइम टेबल कैसे बनाते हैं यह आर्टिकल हमने पहले ही लिख रखा है तो अगर आपको इससे जुड़ी हुई संपूर्ण जानकारी चाहिए तो वह आर्टिकल भी एक बार जरूर पढ़ ले.

3. साल की शुरुआत से ही पढ़ाई भी शुरू करें

टॉपर की खास बात यह होती है कि वह अपनी पढ़ाई की जो शुरुआत होती है वह साल की शुरू से ही करते हैं ना कि आगे साल से या फिर अंत में.

आप ही सोच लीजिए कि अगर आप की 10वीं की बोर्ड की परीक्षा देनी है और आपने 1 महीने पहले अपनी तैयारी शुरू की है तो 1 महीने में आप 1 साल की पढ़ाई कैसे कर सकते हैं एक विषय तो होता नहीं है कि 1 महीने में किसी तरह से पढ़ कर और तैयार कर ली है बल्कि यहां पर काफी विषयों को पढ़ना पड़ता है और परीक्षा लिखी जाती है.

अगर आप गंभीर हैं और टॉपर बनना चाहते हैं तो निश्चित रूप से आप अपनी पढ़ाई साल की शुरुआत से ही करेंगे ताकि आपके दिमाग पर ज्यादा बोझ ना पड़े. उदाहरण के लिए समझ लीजिए कि आप खाना हर दिन थोड़ा थोड़ा करके तीन समय में खाते हैं कोई अगर आपको कहा जाए कि एक हफ्ते का था ना एक 20 दिन में एक ही समय में खा लीजिए तो क्या खा सकते हैं.

1 साल की पढ़ाई को 1 महीने में खत्म करना चाहे तो हमारा दिमाग से झेल सकेगा एक बार सोच कर देखिए सारांश मैं कहे तो थोड़ा-थोड़ा पढ़िए लेकिन हर दिन पढ़िए यही आपकी सफलता की कुंजी है.

4. अपनी हैंडराइटिंग को सुधारें

आपने यह तो जरूर सुना होगा कि हम परेशान इज द लास्ट इंप्रेशन जिसका मतलब होता है कि पहला इंप्रेशन ही आखरी इंप्रेशन है. अगर आप पढ़ाई बहुत अच्छी कर रहे हैं लेकिन आपकी हैंडराइटिंग पढ़ने लायक नहीं है तो फिर यह आपके लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है.

जो भी कॉपी चेक करने वाला होता है उसे नहीं मालूम होता है कि जिसकी मैं कॉपी चेक कर रहा हूं वह पढ़ाई में कैसा है हर दिन कितनी पढ़ाई करता है वह कितनी मेहनत करता यह भी उसे नहीं मालूम होता है लेकिन जब वह टॉपर की कॉपी देखता है तो एक नजर में समझ जाता है कि यह लड़का पढ़ने वाला है.

यहां मेरा कहने का बिल्कुल यह मतलब नहीं है कि आपकी हैंडराइटिंग बहुत ही ज्यादा सुंदर हो गई आपकी हैंडराइटिंग इतनी अच्छी होनी चाहिए कि कोई भी आसानी से सारे अक्षरों को पढ़कर समझ जाए और कहीं आप लिखने में गलती ना करें बस.

अगर आप की तैयारी बहुत बढ़िया है और आप ने वैसा ही किया जैसा हमने इस पोस्ट के माध्यम से आपको बताया है निश्चित रूप से आप अपनी कॉपी में सारे सवालों के जवाब अच्छे ढंग से लिखेंगे.

लेकिन जब तक इसे साफ सुथरी हैंडराइटिंग के साथ नहीं लिखेंगे तो परीक्षा की जांच करने वाले शिक्षक को भी नहीं पता चलेगा. अंततः आपको अपने आंसर शीट के माध्यम से ही बताना होता है कि आपने कितना अच्छा लिखा है.

5. खुद का शॉर्ट नोट तैयार करें

जब आप साल के शुरुआत से ही पढ़ाई करना शुरु कर देते हैं तो आपके लिए यह जरूरी है कि आप हर दिन जो भी पढ़े उसको एक डायरी में शार्ट नोट के रूप में लिखते जाएं.

किसी टॉपिक को पढ़ते हैं तो लाइन बाय लाइन याद करने की जरूरत नहीं है अगर आप एक बार उसको भी तो समझ लेते हैं तो फिर से रिलेटेड 1 पॉइंट निकले अपने शॉर्ट नोट बुक का इस्तेमाल करें और यह तो पिक अप हमेशा याद रहेगी.

चलिए अब इसे भी मैं एक उदाहरण के द्वारा समझा देता हूं.

यह जो आर्टिकल अभी आप पढ़ रहे हैं जिस पर मैंने दसवीं में टॉपर कैसे बने इसके बारे में लिखना है तब ध्यान से देखें इसमें डालें टॉपर बनने के लिए बेहतरीन टिप्स उन्हें मैंने पॉइंट के आधार पर पहले लिखा है फिर उसकी व्याख्या की है.

तो जब मैं इसे शॉर्ट नोट में लिखूंगा तो पूरा आर्टिकल लिखने की वजह मैं बस जो पॉइंट मैंने लिखे हैं बस उसे ही लिखूं हर दिन रिवीजन करें.

7. वीक सब्जेक्ट पर विशेष ध्यान दें

हर छात्र का हर विषय बढ़िया हो जरूरी नहीं है कोई छात्र मैथ में अच्छा होता है तो इंग्लिश में कमजोर होता है या फिर कोई इंग्लिश में अच्छा होता है तो मैथ में कमजोर होता है.

टॉपर बनने का तरीका है कि आपको हर विषय को मजबूत बनाना पड़ेगा. ध्यान रखना है कि आप इस विषय में बहुत अच्छे हैं उसे समय दें उससे ज्यादा समय आप जिस विषय में कमजोर है.

अगर आप किसी विषय है कि आपको उस में रुचि नहीं है सबसे बड़ी प्रॉब्लम यही है. आप जिस विषय में कमजोर हैं उसको टाइम टेबल में थोड़ा ज्यादा समय दें.

8. ऑनलाइन वीडियोस के द्वारा टॉपिक को समझें

इंटरनेट के उपयोग से हम अच्छे से अच्छे टीचर का लेक्चर घर बैठे यूट्यूब में ही देख सकते हैं. अगर आप किसी विषय में बहुत कमजोर है तो आप उसके ट्यूटोरियल को यूट्यूब में देखें और इसमें आप बार-बार रिपीट करके देख के समझ सकते हैं.

9. पिछले सालों के क्वेश्चन पेपर को भी सॉल्व करें

टॉपर की आदत होती है कि वह परीक्षा पहले से ही लिखना शुरु कर देता है यानी कि वह अपनी तैयारी करता है उसी वक्त खुद टेस्ट दे देकर अपनी जांच करता है. इसके लिए आपको पुराने साल के जो क्वेश्चन पूछे गए हैं उनको जमा करना है और उनके जवाब लिखने.

आप कोशिश करें कि आप को पिछले 5 सालों का सवाल मिल जाए जिससे आप हर विषय को सॉल्व करके समझ सकते हैं.

10. मेमोरी पावर बढ़ाए

एक टॉपर बनने वाले इंसान की मेमोरी काफी अच्छी होनी चाहिए. घबराइए मत अगर आप याद नहीं रख पाते हैं तो भी मैं आपको एक तरीका बता देता हूं जिससे आप किसी भी टॉपिक को पढ़ने के बाद हमेशा के लिए याद रख सकते हैं. सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप हर दिन रिवीजन में कुछ समय जरूर दें.

इसके अलावा आप अपनी यात्रा के लिए हर रोज बादाम खाएं. अगर आपकी याददाश्त अच्छी नहीं है तो याद कैसे करें ये लेख जरूर पढ़ें.

निष्कर्ष

छात्र-छात्राओं के बीच में इस बात की होड़ लगी रहती है कि क्लास में टॉपर कौन बनेगा. लेकिन कुछ ही बच्चे होते हैं जिनके बीच में खड़ा कंपटीशन होता है और बाकी के बच्चे सामान्य रूप से पढ़ाई करते हैं और उसी प्रकार से उनका परिणाम भी आता है.

ऐसा नहीं है कि एक सामान्य बच्चे टॉपर नहीं बन सकता है वह भी बन सकता है लेकिन उसे अच्छे ढंग से पढ़ाई करनी होगी. पोस्ट के माध्यम से आपको बताया कि दसवीं में टॉपर कैसे बने अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे जरूर शेयर करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here