पुजारा  ने  सात  मैच  में  जड़ा पांचवां शतक, डेब्यू में वॉशिंगटन सुंदर

दिन का खेल समाप्त होने के समय पुजारा के साथ विकेटकीपर ओलिवर कार्टर पांच रन बनाकर नाबाद थे। मिडिलसेक्स की ओर से खेलने वाले भारतीय तेज गेंदबाज उमेश यादव एक भी विकेट पहले दिन नहीं ले पाए। उन्होंने 18 ओवर में 42 रन दिए। 

काउंटी क्रिकेट में कप्तानी करते हुए अपने पहले ही मैच में चेतेश्वर पुजारा ने शतक जड़ दिया। पुजारा को इस मैच में ससेक्स की कप्तानी करने का मौका मिला। 

उन्होंने मंगलवार (19 जुलाई) को मैच के पहले दिन लॉर्ड्स में मिडिलसेक्स के खिलाफ नाबाद 115 रन बनाए। यह सात काउंटी मैचों में उनका पांचवां शतक है। 

दूसरी ओर, काउंटी क्रिकेट में डेब्यू करते हुए वॉशिंगटन सुंदर ने शानदार गेंदबाजी की। उन्होंने लंकाशायर के लिए नार्थम्पटनशायर के खिलाफ 69 रन देकर चार विकेट लिए।

ससेक्स के मैच की बात करें तो मिडिलसेक्स ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। ससेक्स के नियमित कप्तान टॉम हैन्स चोट के कारण लंबे समय के लिए बाहर हो गए।

ससेक्स के ओपनर एलेस्टर ऑर सात और टॉम क्लार्क 33 रन बनाकर आउट हुए। दो विकेट गिरने के बाद पुजारा क्रीज पर आए। उन्होंने टीम की पारी को संभाला।

पुजारा और एल्सोप ने की 200 से ज्यादा रनों की साझेदारी पुजारा और टॉम एल्सोप ने तीसरे विकेट के लिए 219 रनों की साझेदारी की। एल्सोप 277 गेंद पर 135 रन बनाकर आउट हुए।

उन्होंने अपनी पारी में 15 चौके लगाए। 318 के स्कोर पर ससेक्स को तीसरा और चौथा झटका लगा। तीसरे विकेट के रूप में एल्सोप आउट हुए तो चौथे विकेट के तौर पर आर्ची लेनहम पवेलियन लौट गए। लेनहम खाता भी नहीं खोल पाए। 

उमेश यादव को नहीं मिली सफलता दिन का खेल समाप्त होने के समय पुजारा के साथ विकेटकीपर ओलिवर कार्टर पांच रन बनाकर नाबाद थे।

मिडिलसेक्स की ओर से खेलने वाले भारतीय तेज गेंदबाज उमेश यादव एक भी विकेट पहले दिन नहीं ले पाए। उन्होंने 18 ओवर में 42 रन दिए।

सुंदर करीब एक साल बाद प्रथम श्रेणी खेलने उतरे लंकाशायर और नार्थम्पटनशायर मैच की बात करें तो भारतीय ऑफ स्पिनर सुंदर ने विल यंग, 

रॉब कियो, रियान रिकलेटन और टॉम टेलर को आउट किया। सुंदर ने आखिरी प्रथम श्रेणी मैच पिछले साल जुलाई में खेला था। वह तीनों प्रारूपों में भारत के लिए खेल चुके हैं।