Kuldeep नहीं, इस प्लेयर को मौका देंगे राहुल! कातिलाना बॉलिंग में माहिर

India vs south africa: साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारतीय टीम को 9 जून से 5 टी20 मैचों की सीरीज खेलनी है. इसके लिए टीम इंडिया की घोषणा पहले ही कर दी गई है.

टीम की कमान केएल राहुल के हाथों में है. टीम इंडिया में कई मैच विनर्स प्लेयर्स शामिल हैं. टीम इंडिया में एक ऐसा खिलाड़ी है, जिसे पहले टी20 मैच में कुलदीप यादव की जगह मौका मिल सकता है. 

इस खिलाड़ी को मिलेगा मौका! भारतीय पिचें हमेशा से ही स्पिनर्स की मददगार होती है. इन पिचों पर कहर बरपाने के लिए कप्तान केएल राहुल रवि बिश्नोई को मौका दे सकते हैं. रवि बिश्नोई की गेंदों को पढ़ पाना आसान नहीं है.

वह बहुत ही किफायती गेंदबाजी करते हैं. रवि बिश्नोई को आईपीएल की खोज कहा जा सकता है. रवि ने आईपीएल के 37 मैचों में 37 विकेट हासिल किए हैं. रवि बिश्नोई बहुत ही जल्दी अपना ओवर पूरा कर लेते हैं.

विकेट चटकाने में माहिर रवि बिश्नोई (Ravi Bishnoi) गेंद को हवा में बहुत ही जल्दी से फेंकते हैं, जिससे बल्लेबाज गेंद को समझ नहीं पाता और वह जल्दी आउट हो जाता है. रवि बिश्नोई गुगली फेकने में माहिर प्लेयर हैं.

रवि बिश्नोई ने अंडर 19 वर्ल्ड कप में धमाकेदार गेंदबाजी की थी. हालांकि रवि टीम को फाइनल में जीत नहीं दिला पाए और टीम इंडिया बांग्लादेश के खिलाफ हार गई. रवि बिश्नोई ने रोहित शर्मा की कप्तानी में टीम इंडिया के लिए डेब्यू किया था. उन्होंने भारत के लिए चार टी20 मैचों में 4 विकेट चटकाए हैं. 

कुलदीप की जगह मिल सकता है मौका आईपीएल में रवि बिश्नोई लखनऊ सुपर जायंट्स की तरफ से खेलते हैं, जिसके कप्तान केएल राहुल हैं. बिश्नोई की गिनती राहुल के फेवरेट खिलाड़ियों में होती है.

इसी वजह से केएल राहुल पहले मैच में कुलदीप यादव की जगह रवि बिश्नोई को जगह दे सकते हैं. साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज में रवि बिश्नोई अच्छा प्रदर्शन टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की करना चाहेंगे. 

साउथ अफ्रीका के खिलाफ नहीं जीती सीरीज भारतीय टीम ने अपने घर में साउथ अफ्रीका के खिलाफ एक भी सीरीज नहीं जीती है. राहुल की अगुवाई में टीम इंडिया इतिहास बदलने के लिए उतरेगी.

टीम इंडिया में चार स्पिनर्स गेंदबाज शामिल हैं. इनमें कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल और रवि बिश्नोई शामिल हैं. भारतीय स्पिनर्स घर में बहुत ही कामयाब रहे हैं.  सपाट पिच पर ये खिलाड़ियों ने विदेशी टीमों के लिए हमेशा से ही परेशानी का सबब रहे हैं.