JHARKHAND सब्सिडी योजना :लाखो गरीब बाहर, जिलों के राशन कार्ड वाले आगे 

झारखंड सरकार की ओर से शुरू की गयी पेट्रोल सब्सिडी योजना से एक लाख से अधिक गरीब बाहर हो गये हैं. पेट्रोल की बढ़ती कीमतों से राहत दिलाने के लिए झारखंड सरकार ने जनवरी में राशन कार्डधारियों को पेट्रोल पर 25 रुपये प्रति लीटर सब्सिडी देने की योजना शुरू की है.

बावजूद लगातार सब्सिडी लेने वालों की संख्या घटती जा रही है. रांची में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये होने के बावजूद झारखंड में राशनकार्डधारी इस योजना का लाभ नहीं ले रहे हैं. 

जनवरी में जहां पेट्रोल सब्सिडी लेने वालों की संख्या 1.15 लाख थी, जो जून में घट कर 13,894 हो गयी है. सरकार ने पेट्रोल सब्सिडी योजना शुरू करने के बाद री-रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू की है. योजना के लाभ लेनेवालों को हर माह री- रजिस्ट्रेशन कराना है.

इनको प्रत्येक माह विभागीय पोर्टल या ऐप पर जाकर री-रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी करनी है. पेट्रोल सब्सिडी योजना का लाभ लेने वालों में पूर्वी सिंहभूम व रांची के राशनकार्डधारी आगे हैं.

विभाग की ओर से पेट्रोल सब्सिडी का लाभ ले रहे लाभुकों के मोबाइल पर मैसेज भेजकर री-रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू की गयी है, ताकि लोगों को दिक्कत नहीं हो.

विभागीय अधिकारियों के अनुसार मैसेज पर क्लिक करने के बाद लाभुक के मोबाइल पर एक ओटीपी नंबर आता है. इसको भरने से ही री-रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी हो जाती है.

जनवरी में जब योजना शुरू हुई थी, तो 1,45,197 लोगों ने सब्सिडी के लिए आवेदन दिया था. इसमें 1,15,536 आवेदन स्वीकृत करने के बाद इन्हें 10 लीटर तक के पेट्रोल पर 25 रुपये प्रति लीटर की सब्सिडी प्रदान की गयी.

फरवरी में 73,493 लोगों ने आवेदन दिया, जिसमें 55,223 के आवेदन स्वीकृत हुए. वहीं 11,879 लोगों ने री-रजिस्ट्रेशन कराया.