एक खिलाड़ी नहीं पूरी टीम को मिला मैन ऑफ द मैच क्रिकेट जगत रह गया हैरान

Team Won Man of the Match: मैन ऑफ द मैच (Man of the Match) का अवॉर्ड मैच में सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी को दिया जाता है. क्रिकेट के खेल में भी हर मैच में ये अवॉर्ड दिया जाता है.

 लेकिन क्या आपने कभी ऐसा देखा है कि एक खिलाड़ी को नहीं बल्कि पूरी ही टीम को मैन ऑफ द मैच (Man of the Match) का अवॉर्ड दिया गया हो. जी हां क्रिकेट के मैदान पर ऐसा एक बार नहीं तीन बार हुआ है, जब पूरी टीम को इस अवॉर्ड से नवाजा गया.

पहली बार इस टीम को मिला मैन ऑफ द मैच मैन ऑफ द मैच (Man of the Match) को प्लेयर ऑफ द मैच (Player of the Match) भी कहा जाता है. क्रिकेट में पहली बार पूरी टीम को मैन ऑफ दी मैच का अवॉर्ड 1996 में जॉर्जटाउन में खेले गए रोमांचक मुकाबले में न्यूजीलैंड के सभी खिलाड़ियों को प्लेयर ऑफ द मैच के खिताब से नवाजा गया था.

इस रोमांचक मुकाबले में न्यूजीलैंड ने वेस्टइंडीज को 4 रन से हरा दिया था. कम स्कोर वाले मैच में 4 बल्लेबाजों ने रन बनाए थे और 6 गेंदबाजों ने विकेट लिए थे. उन दिनों न्यूजीलैंड का मैच जीतना वर्ल्ड क्रिकेट में बड़ी बात मानी जाती थी.

इन टीमों ने भी जीता ये अवॉर्ड साल 1996 में इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच खेले गए एक वनडे मैच में भी ऐसा हुआ था. इस मैच में पाकिस्तान ने 2 विकेट से जीत हासिल की थी,

 मैच में पाकिस्तान के हर बल्लेबाज ने रन बनाए वहीं सभी गेंदबाजों ने भी बढ़िया गेंदबाजी करते हुए विकेट झटके थे. शानदार टीम वर्क को देखते हुए पाकिस्तान की पूरी टीम को मैन ऑफ द मैच दिया गया था. वहीं, साल 1999 में टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में पहली बार किसी टीम को मैन ऑफ द मैच (Man of the Match) दिया गया था.

ये मैच वेस्टइंडीज और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेला गया था. इस मैच में अफ्रीका ने वेस्टइंडीज को  351 रनों से हराया था और पूरी टीम ने मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड जीता था.

ऐसे होता है मैन ऑफ द मैच का फैसला क्रिकेट में जब कोई खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करता है तो उसे मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड दिया जाता है. जबकि पूरी सीरीज में अच्छा प्रदर्शन करने वाले को मैन ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड से सम्मानित किया जाता है. 

अवॉर्ड डिसाइड करने वाले एक्सपर्ट पैनल में मैच के कमेंटेटर्स, पूर्व क्रिकेटर्स और मैच रेफ्री शामिल होते हैं. ये सब मिलकर डिसाइड करते हैं कि कौन सा खिलाड़ी 'मैन ऑफ द मैच' और 'मैन ऑफ द सीरीज' बनेगा. कमेंटेटर्स पूरे मैच के दौरान हर खिलाड़ी के प्रदर्शन पर नजर रखते हैं इसलिए उनकी राय काफी अहम होती है.