4,4,4,4,4:आठवें नंबर पर उतरे बल्लेबाज का तहलका स्टार गेंदबाजों कीधुनाई

क्रिकेट का रोमांच ही इसकी सबसे बड़ी खासियत है। कब किसका बल्ला चल जाए और कब स्टार गेंदबाजों की धुनाई हो जाए,

हीं जा सकता। रोमांच का एक ऐसा ही नजारा श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच मैचों की वनडे सीरीज के पहले दिन देखने को मिला।

पहले बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका की ओर से आठवें नंबर पर उतरे वानिंदु हसरंगा ने मैदान पर ऐसी तबाही मचाई कि क्रिकेटप्रेमी दंग रह गए। 

वानिंदु चमिका करुणारत्ने के बाद क्रीज पर आए थे। 47वें और 48वें ओवर में वानिंदु स्ट्राइक रोटेट कर खुद को क्रीज पर सेट करते रहे,

फिर 49वें ओवर में उन्होंने ऐसा तूफान मचाया कि ऑस्ट्रेलिया के स्टार गेंदबाज झे रिचर्डसन के पैरों तले जमीन खिसक गई। 

पहली ही गेंद से मचाया गदर इस ओवर की पहली ही गेंद पर चौका ठोक वानिंदु ने अपने इरादे जता दिए। फिर तो वे रोके नहीं रुके, दूसरी, तीसरी,

चौथी और पांचवीं गेंद पर उन्होंने ताबड़तोड़ अंदाज में करारे चौके कूट डाले। अंतिम गेंद पर उन्होंने 2 रन लेकर इस ओवर को महंगा बना दिया। 

चर्डसन के इस ओवर में कुल 22 रन आए। अंतिम ओवर में उन्होंने जोश हेजलवुड की पांचवीं गेंद पर भी चौका ठोक डाला। हालांकि छठी गेंद पर खुद उनका ही शिकार हो गया।

जलवुड की गेंद पर वानिंदु पैडल स्कूप करना चाह रहे थे, लेकिन शॉर्ट फाइन लेग पर खड़े फील्डर झे रिचर्डसन ने कैच पकड़कर उन्हें चलता कर दिया। 

194 से ज्यादा की स्ट्राइक रेट से ठोके रन वानिंदु हसरंगा ने महज 19 गेंदों में 194 से ज्यादा की स्ट्राइक रेट से 37 रन कूट डाले। उनकी शानदार बल्लेबाजी के चलते श्रीलंका ने 50 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 300 रन बनाए।

हालांकि तीसरे नंबर पर उतरे विकेटकीपर कुसल मेंडिस एक छोर पर वानिंदु की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के चलते सेंचुरी नहीं जमा सके। उन्होंने 87 गेंदों में नाबाद 86 रन बनाए।