देखे क्या है नए नियम सरकार ने राशन कार्ड के नियमों में किया बड़ा बदलाव,

राशन कार्ड भारत में राज्य सरकारों द्वारा उन परिवारों को जारी किया गया जो आर्थिक रूप से राशन खरीदने के सक्षम नहीं होते है। यह एक आधिकारिक दस्तावेज है जो राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत सार्वजनिक वितरण प्रणाली से रियायती खाद्यान्न खरीदने के लिए पात्र हैं। राशन कार्ड कई बार एक व्यक्तियों के लिए पहचान पत्र का भी काम करता है। 

आपको बता दे की अगर आप भी फ्री राशन लेने की सुविधा का लाभ उठाते है तो यह खबर आपके लिए काफी बेहतरीन हो सकती है। दरअसल राशन को ले कर सरकार की तरफ से कुछ बदलाव किया जा रहा है जिसमें यह बताया जाएगा की सरकारी राशन की दुकान से कौन राशन लेने के योग्य है और कौन नहीं है। आइये आपको इन नियमो के बारे में बताते है।

दरअसल देश में बहुत सारे ऐसे लोग मौजूद है जो फ्री राशन के अपात्र है और फिर भी राशन ले रहे हैं। अब उन्हें राशन न मिल सके इसके लिए सरकार ने राशन कार्ड के नियमों में बदलाव करने का फैसला किया है। 

यूपी सरकार कुछ लोगों का राशन कार्ड निरस्‍त करने की तैयारी में जुट गई है। ऐसे लोगों का चुनाव किया जा रहा है। जल्‍द ही इनके राशन कार्ड को कैंसिल करने के काम को शुरू किया जाएगव। 

आपको बता दे की प्राथमिक जांच में सामने आया है कि 4 लाख से अधिक लोगों में से 1 प्रतिशत लोग ऐसे पाए गए हैं, जिन्‍होंने पिछले 6 महीने से राशन नहीं लिया है।

सरकार से मिली इस जानकारी के अनुसार, अब 6 महीने से अधिक समय से राशन नहीं लेने वाले लोगों का राशन कार्ड निरस्‍त कर दिया जाएगा। इसके बाद अब उनकी जगह पर ऐसे लोगों का राशन कार्ड जारी किया जाएगा, जो नए आवेदक होंगे। सार्वजनिक वितरण प्रणाली की ओर से कहा गया कि, ऐसे लोगों का कार्ड इस कारण भी निरस्‍त किया जा रहा है कि ज्‍यादा से ज्‍यादा जरूरतमंदों को राशन का लाभ दिया जा सके। 

सरकार ने कहा है की जिन्होंने 6 महीने से राशन नहीं लिया है उनलोगो का राशन कार्ड निरस्‍त कर के नए लोगों का राशन कार्ड जारी किया जाएगा। सरकार की तरफ से मंजूरी मिलने के बाद विभाग की ओर से कार्यवाही को आगे बढ़ाया जाएगा। इस संबंध में बताया जा रहा है कि, जांच जारी है और जल्द हे इसपर फैसला लिया जाएगा।

यूपी में बड़ी फ्री राशन की मात्रा आपको बता दे की यूपी सरकार की ओर से फ्री राशन का लाभ दिया जा रहा है। पहले मार्च तक फ्री राशन की सुविधा देना अनिवार्य किया गया था। लेकिन अब इसे 6 महीने और बढ़ा दिया गया है।