कैप्टन कूल की  पत्नी का चढ़ा पारा, सीएम हेमंत  के छूटे पसीने

झारखंड में बिजली की समस्या राष्ट्रीय मुद्दा बन गया। सीएम हेमंत सोरेन ने स्पेशल अरेंजमेंट कर 1690 करोड़ की भुगतान के लिए कैबिनेट से मंजूरी ली। दरअसल,

 इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की पत्नी साक्षी धोनी ने सोमवार की देर शाम में बिजली की समस्या को लेकर ट्विटर पर अपनी भड़ास निकाली थी। इसके बाद तो सरकार एक्शन में आ गई। 

रांची : बिजली भले ही सबको एक समान रोशनी देती है, मगर हर आदमी के लिए सरकारी वैल्यू (Jharkhand Power Crisis) अलग है। नहीं तो,

महेंद्र सिंह धोनी की पत्नी साक्षी धोनी (Mahendra Singh Dhoni Wife Sakshi Dhoni) की एक ट्वीट पर हेमंत सोरेन सरकार 1 हजार 690 करोड़ रुपए खर्च नहीं करती।

नागरिक..नागरिक में सरकार फर्क करती है। कायदे से तो ये नौबत ही नहीं आनी चाहिए कि बिजली, पानी और सड़क के लिए ट्विटर का सहारा लेना पड़े।

 क्योंकि किसी भी प्रदेश का नागरिक उसके लिए टैक्स भरता है, तब सुविधाएं हासिल करता है। जिस राज्य के कोयले से देशभर में बिजली पहुंचती है, वहीं पर बिजली कटौती इतनी की साक्षी धोनी का धैर्य जवाब दे गया। 

साक्षी धोनी के बहाने सियासत को लगा 'करंट' महेंद्र सिंह धोनी की पत्नी साक्षी धोनी अगर ट्वीट करके पूरी दुनिया को ये बात नहीं बताई होतीं तो पता ही नहीं चलता की झारखंड में बिजली की स्थिति क्या है। 

आम तौर पर झारखंड की राजधानी रांची में रोजाना 5-6 घंटे की लोड शेडिंग है। ऐसे में जिला मुख्यालयों की क्या हालत होगी अंदाजा लगा सकते हैं। भीषण गर्मी में इनवर्टर भी जवाब दे रहा है।