अगला  हिटमैन  22  साल  की  उम्र  में ही इस बल्लेबाज का करियर हुआ तबाह,

भारतीय क्रिकेट टीम इस वक्त टी20 वर्ल्ड कप की तैयारियों में जुटी हुई है. इसी के चलते टीम इंडिया लगातार अलग-अलग देशों के खिलाफ भिड़ रही है. 

इंग्लैंड और वेस्टइंडीज से भिड़ने के बाद अब टीम इंडिया जिम्बाबवे के खिलाफ खेलने वाली है. इसके बाद टीम इंडिया को एशिया कप में भी भाग लेना है. हर दौरे पर कई युवा खिलाड़ियों को मौका दिया जा रहा है, ताकि वर्ल्ड कप की तैयारियों को पुख्ता किया

जा सके. लेकिन एक खिलाड़ी ऐसा है जो घातक बल्लेबाज माना जाता है, लेकिन उसे किसी भी सीरीज में मौका नहीं दिया गया है. 

इंग्लैंड, वेस्टइंडीज, जिम्बाबवे और एशिया कप के लिए भारतीय क्रिकेट टीम में एक ऐसे खिलाड़ी को जगह नहीं मिली है जिसकी बल्लेबाजी बहुत ही घातक है. 

ये खिलाड़ी और कोई नहीं बल्कि युवा ओपनर पृथ्वी शॉ हैं. शॉ लंबे समय से टीम इंडिया में वापसी के लिए तरस गए हैं. शॉ ने घरेलू क्रिकेट और आईपीएल में कमाल का प्रदर्शन किया, लेकिन फिर भी सेलेक्टर्स उन्हें भाव नहीं दे रहे हैं. 

दरअसल देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टीम इंडिया के ऑलराउंडर की तारीफ की है और उन्हें प्रशंसा पत्र भेजा है। खुद जडेजा ने इस बात की जानकारी अपने सोशल मीडिया पर दी है। 

जहां हर दौरे पर युवा खिलाड़ियों को लगातार मौका दिया जा रहा है वहीं शॉ की तरफ कोई देख भी नहीं रहा है.पृथ्वी शॉ मौजूदा समय में दुनिया के सबसे खतरनाक युवा बल्लेबाजों में से एक हैं. उनके जैसा घातक ओपनर दूसरा कोई युवा बल्लेबाज नहीं है. 

आने वाले दिनों में टीम इंडिया को एक नए ओपनिंग बल्लेबाज की जरूरत होगी. शॉ के बल्ले ने घरेलू और आईपीएल में जो सनसनी फैलाई है उसकी गूंज पूरी दुनिया ने सुनी है. 

कप्तान रोहित शर्मा के बाद टीम इंडिया के लिए शॉ सबसे घातक ओपनर बनकर सामने आ सकते हैं, लेकिन सेलेक्टर्स इस टैलेंटेड खिलाड़ी को ज्यादा मौके दे ही नहीं रहे.