SI की तैयारी कैसे करें?

पुलिस का नाम सुनते हैं हमारे मन में एक अलग प्रकार की फीलिंग आती है. पुलिस की नौकरी करने के सपना हर किसी का होता हैं की वो पुलिस की नौकरी करें और अपने क्षेत्र को अपराध मुक्त रखे. लेकिन क्या आप जानते हैं की SI की तयारी कैसे करें?

अगर आप भी पुलिस की नौकरी करना चाहते हैं और खासकर SI बनना चाहते हैं तो आपको इस लेख में इसी के बारे में पूरी जानकारी की दी जाएगी कि आप किस प्रकार से SI की परीक्षा पास कर सकते हैं. 

SI के लिए आपको किन किन चीजों को करने की आवश्यकता होती हैं इसके संदर्भ में आपको इस लेख में पूरी जानकारी दी जायेगी. अंत आप इस लेख को अंत तक पढ़े. 

SI के पद की जानकारी

पुलिस विभाग में यह सबसे अहम पद होता हैं. SI का पूरा नाम sub inspector होता हैं जिसे हिंदी भाषा में उपनिरीक्षक कहते हैं.

एक सब इंस्पेक्टर जो की एक पुलिसकर्मी के तौर पर काम करता हैं और उनकी कुछ मुख्य भूमिका होती है जैसे वे हेड कांस्टेबल, पुलिस चौकी के कमांड आदि होते हैं.

उपनिरीक्षक एक प्रकार से ऐसे पुलिस सेवक होते हैं जो भारतीय पुलिस सेवा में सबसे कम रैंक वाले अधिकारी के तौर पर काम करते हैं जो भारत के पुलिस नियमों और विनियमों के तहत अदालत में किसी भी मुजरिम से खिलाफ चार्जशीट भी दायर कर सकते हैं.

SI कौन बन सकता हैं?

SI बनने के लिए कुछ योग्यता पहले से ही निर्धारित हैं. इन योग्यताओं के साथ ही एक युवक पुलिस के इस पद पर आ सकते है. .

SI बनने के लिए दो प्रकार की योग्यता होनी चाहिए जिसमें एक तो सामान्य योग्यता जो हर अभ्यर्थी के पास होनी चाहिए और दूसरी वह अभ्यर्थी शारीरिक रूप से फिट होना चाहिए. इन दिनों योग्यता के बारे में आगे बताया गया है. 

SI बनने के लिए योग्यता

SI बनने के लिए कुछ निर्धारित योग्यता इस प्रकार हैं. इन योग्यताओं के साथ देश का हर युवा उपनिरीक्षक बन सकते हैं.

इन योग्यता के बारे में आप यहा जान सकते हैं. 

  • आवेदक जो इस पोस्ट के लिए आवेदन करना चाहते हैं उनकी आयु कम  से कम 20 वर्ष की होनी चाहिए और ज्यादा से ज्यादा 25 वर्ष की होनी चाहिए. 
  • आवेदक भारत का मूल निवासी होना चाहिए. 
  • इस पोस्ट में आवेदन करने के लिए अभ्यर्थी स्नातक पास होने चाहिए 
  • आवेदक जो इस पोस्ट के लिए आवेदन करना चाहते हैं वो अभ्यर्थी शारीरिक रूप से फिट होने चाहिए साथ ही वे सभी प्रकार के रोगों से मुक्त होने चाहिए.

SI बनने के लिए इन सब योग्यताओं के साथ आवेदक को एक लिखित परीक्षा पास करनी होती हैं साथ ही आवेदक को एक शारीरिक परीक्षा पास करना होता है.

इस परीक्षा के बारे में आपको आगे बताया गया है. 

SI परीक्षा का पैटर्न

सामान्य तौर पर देखा जाए तो SI का एग्जाम तीन चरण में होता है. इस परीक्षा को 3 भागो में बाँटा गया हैं वो इस प्रकार है

  • लिखित एग्जाम
  • फिजिकल एग्जाम 
  • इंटरव्यू

लिखित परीक्षा

SI एग्जाम का यह सबसे पहला चरण होता हैं. इस चरण में आवेदक को फॉर्म भरने के बाद एग्जाम के लिए बुलाया जाता है.

इस एग्जाम में सामान्य दो पेपर होते हैं जो की ऑब्जेक्टिव प्रकार के होते है. इस पेपर का पहले से ही एक मेथड सेट होता हैं जिसके अनुसार ही एग्जाम लिया जाता है.

इस परीक्षा में आवेदक के जो भी पेपर होते हैं उनके हिसाब से मेरिट सूची तैयार की जाती है. इस चरण में जो भी अभ्यर्थी पास हो जाते हैं उनको फिर अगले चरण के लिए बुलाया जाता है जो की शारीरिक प्रशिक्षण के रूप में होता है. 

शारीरक प्रशिक्षण

प्रार्थियो के लिखित परीक्षा पास करने के बाद आवेदक को शारीरिक प्रशिक्षण के लिए बुलाया जाता है. यह इस परीक्षा का दूसरा चरण होता हैं.

इस परीक्षा में केवल वे ही अभ्यर्थी बैठते हैं जो लिखित परीक्षा पास कर लेते हैं. इस परीक्षा में अभियार्थियो का शारीरिक प्रशिक्षण किया जाता हैं जिसमे दौड़, कूद इत्यादि का टेस्ट किया जाता हैं. इस इस प्रशिक्षण में जो भी पास होता हैं.

इस परीक्षा के नंबर काफी महत्वपूर्ण होते है. लिखित परीक्षा और शारीरक परीक्षा दोनों के नंबर जुड़ कर जो मेरिट बनती हैं उसके आधार पर अभियार्थियो को अगले चरण में बुलाया जाता हैं. 

इंटरव्यू

SI की परीक्षा का अंतिम चरण होता हैं इंटरव्यू. इस में आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है परीक्षा कराने वाली संस्था द्वारा लिया जाता है.

इस इंटरव्यू में आपको अपने टारगेट से सम्बंधित और आपको आपके ज्ञान से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते हैं साथ इस परीक्षा में आपके डॉक्यूमेंट भी वेरीफाई किये जाते हैं. यह इस परीक्षा का आखिरी चरण होता हैं और जो इस अंतिम चरण को पास कर लेता हैं वो अब SI बन जाता है.

SI की तेयारी कैसे करे ?

SI की परीक्षा का प्रोसेस और इसकी पूरी जानकारी लेने के बाद अब आपके मन में यह सवाल आता होगा की आप इसकी तैयारी कैसे कर सकते हैं.

अगर आप भी SI की तैयारी करना चाहते हैं तो आप इन चीजों के जरिए अपनी तैयारी कर सकते और सफल हो सकते हैं.

यही नही किसी भी एग्जाम की तैयारी के लिए प्रार्थी को निम्न चीजों का ख़ास ख्याल रखना चाहिए जो नीचे बताई गई है. 

  • किसी भी एग्जाम को पास करने के लिए सबसे पहले उस एग्जाम की आवश्यकता और उस एग्जाम की मांग को समझना चाहिए, की एग्जाम में आपसे क्या पूछा जा रहा है. 
  • एग्जाम में पूछे जाने वाले विषय के बारे में सभी जरूरी चीजों को जैसे जरुरी किताब या स्टडी मटेरियल इतियादी को इकट्ठा करना और उनको सिलेबस के हिसाब से पढना. 
  • किसी भी परीक्षा की तैयारी करने के लिए एक निश्चित समय सारणी का होना आवश्यक है. 
  • इसके सिलेबस के बारे में बात करे तो इस एग्जाम का सिलेबस काफी बड़ा होता है इसलिए आपको इसको पढने के लिए स्मार्ट तरीका अपनाना चाहिए ना ही हार्ड तरीका. 
  • सब इंस्पेक्टर की तैयारी के लिए आपको आगे कुछ किताबो के बारे में आगे बताया जा रहा है जिन्हें आप पढ़ सकते है और उनसे अपनी इसकी तैयारी कर सकते है. 
  • अगर कोई भी अभ्यर्थी इस परीक्षा की तैयारी करता है तो उसे कम से कम 6 माह से 12 माह इस एग्जाम की तैयारी को देने चाहिए ताकि वे एक बेहतर ढंग से तैयारी कर सकें.

Youtube के माध्यम से SI की करे तेयारी

आज के समय में पढाई के तरीका एकदम बदल चुका है. आज का समय डिजिटल वीडियो का है. आप youtube की मदद से आसानी से SI ही नहीं बल्कि और भी किसी एग्जाम की तैयारी आसानी से कर सकते है.

इसके लिए youtube पर ऐसे कई चैनल है जो आपको मुफ्त में इस तरह की तैयारी करते है. ऐसे ही कुछ youtube चैनल की सूची आप यह देख सकते है. 

  • अनअकादमी
  • उत्कर्ष क्लासेज
  • Wifi स्टडी इत्यादि

अगर आप SI की तेयारी करने के लिए विषय के लिए किस बुक को पढ़ना चाहिए, के बारे में जानना चाहते हैं तो आप इस किताबो की पढ़ सकते हैं. 

  • भारतीय संविधान – यह किसी भी एग्जाम का एक मुख्य भाग होता है, इसके लिए आप लक्ष्मीकांत दुवारा लिखित पुस्तक “भारत की राजव्यवस्था” पढ़ सकते है. इसके अलावा आप कक्षा 9 से कक्षा 12 तक की ncert की किताबे पढ़ सकते है. 
  • भारत और विश्व का भूगोल – भूगोल को पढ़ने के लिए आपके लिए जरुरी होता है की कक्षा 6 से कक्षा 12 तक की ncert की भूगोल की किताबे पढ़े साथ ही आप माजिद हुसैन या महेश वर्णवाल की भूगोल की किताब पढ़ सकते है. 
  • विज्ञान और तकनीकी – इसके लिए आप कक्षा 8 से कक्षा 10 तक की ncert की बुक पढ़ सकते है और इसके साथ आप स्पेक्टुर्म की पुस्तक पढ़ सकते है. 
  • इतिहास – इतिहास पढने के लिए आपको ncert को कक्षा 6 से कक्षा 12 तक की किताबो को पढना पड़ेगा ताकि आपका एक बेस क्लियर हो सके. इसके साथ आप मोड़ें इंडियन हिस्ट्री के लिए स्पेक्ट्रम की पुस्तक पढ़ सकते है. 

इन सब के अलावा अगर आप चाहे तो SI की तैयारी के लिए इस एप्लीकेशन का paid प्लान भी ले सकते है जहां जहां आपको टाइम के अनुसार पढ़ते है और साथ ही आपका समय समय पर टेस्ट भी लिए जाता है ताकि आपकी पढाई को एक बूस्ट मिल सके.

हालांकि हम आपको किसी भी तरह के प्लान को खरीदने को नही कहते है.

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

1. SI का फुल फॉर्म क्या हैं ? 

Ans. SI का पूरा नाम sub inspector हैं जिसे हिंदी में उपनिरीक्षक हैं. 

2. सब इंस्पेक्टर की परीक्षा कौन करवाता हैं ? 

Ans. यह परीक्षा हर राज्य में आयोग अपने अपने स्तर पर यह परीक्षा करवाता हैं. राजस्थान में rpsc इस परीक्षा को करवाता हैं.

3. SI बनने के लिए आयु की सीमा क्या है  ? 

Ans. SI बनने के लिए आयु सीमा 20 से 25 साल की हैं और इसमें आयु में नियमानुसार छूट भी दी जाती हैं. 

4. सब इंस्पेक्टर की सैलरी कितनी होती हैं ? 

Ans. चयनित उम्मीदवारों को वेतन के तौर पर हर माह 4200 ग्रेड पे के तहत 9300 से 34800 रुपयेदिए जाएंगे.

निष्कर्ष

अच्छे पद को प्राप्त कर काम करने की इच्छा हर किसी की होती है जो कुछ ही लोग पूरा कर पाते हैं. जिनको इस बारे में जानकारी होती है वही इस एग्जाम को निकाल पाते हैं.

जिन्हे इसकी जानकारी नहीं उन्ही के लिए यहाँ हमने बताया की SI की तैयारी कैसे करें?

इस लेख को पढने के बाद आपको SI के बारे में समझ में आ गया होगा. 

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment

×