Resume कैसे बनाये – बायो डाटा बनाए सिर्फ 10 मिनट में

कई लोगों को आज भी ये नहीं मालूम होता की रिज्यूमे कैसे बनाये? किसी प्रकार का जॉब क्यों ना हो चाहे टीचर हो, इंजीनियर हो या फिर डॉक्टर सभी को जॉब बदलने की इच्छा जरूर होती है और इसलिए इनके लिए अनुभव के आधार पर रिज्यूमे भी बनाना जरूरी है.

जो लोग प्राइवेट जॉब में होते हैं वो अक्सर अपने जॉब को स्विच करते रहते हैं. ऐसे में एक रिज्यूमे ही एक ऐसा माध्यम होता है जो उनकी क्वालिटी और टैलेंट को डॉक्यूमेंट के रूप में कंपनी को इम्प्रेस करने का काम करती है.

कहते हैं न फर्स्ट इम्प्रैशन इज द लास्ट इम्प्रैशन. हम यहाँ आपको मोबाइल फोन से रिज्यूमे बनाने का तरीका तो बताएँगे साथ ही ये भी बताएँगे की एम एस वर्ड का इस्तेमाल कर के कंप्यूटर में रिज्यूमे कैसे बनाते हैं.

अगर आप रिज्यूमे के बारे में कुछ जानकारी रखते हैं तो ये भी जानते होंगे की कंपनी के अनुसार ही रिज्यूमे तैयार करना चाहिए. जब भी कोई इंसान जॉब के लिए अप्लाई करना चाहता है तो ईमेल में रिज्यूमे मांगा जाता है. यहाँ तक आज ऑनलाइन भी जॉब पाने के लिए कई वेबसाइट हैं जैसे naukri.com, monsterjobs.com.

लेकिन इन वेबसाइट में भी आपको अपने  लिए एक रिज्यूमे अपलोड करना पड़ता है और समय समय पर इस अपडेट भी करते रहना पड़ता है. लेकिन यहाँ सवाल ये उठता है की एक अच्छा रिज्यूमे कैसे बनाते हैं?

आज के बाद अब ज़िन्दगी भर आप को किसी से भी रिज्यूमे बनाने के लिए मदद लेने की जरुरत नहीं पड़ेगी तो चलिए सीखते हैं की कंप्यूटर पर रिज्यूमे कैसे बनायें?

Resume क्या है – What is resume in Hindi?

resume kaise banaye hindi - रिज्यूमे कैसे बनाये?
Resume कैसे बनाये

Resume एक डॉक्यूमेंट होता है जो संक्षिप्त में आपके काम के experience, शिक्षा, skills और achievements को किसी जॉब देने वाली कंपनी को दर्शाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

ये आमतोर पर नौकरी के आवेदन के एक भाग के रूप में जरुरी होता है. ये कंपनी को आपके और आपके योग्यता के बारे में सुनिश्चित करता है की आप उस कंपनी के जॉब को प्राप्त करने के योग्य हैं या नहीं है. 

सबसे पहले तो इस डॉक्यूमेंट के आधार पर देखा जाता है की आप नौकरी के लिए लिए जाने वाले इंटरव्यू में बैठ सकते हैं या नहीं उसके बाद ही इंटरव्यू लिया जाता है.

पहले रिज्यूमे भेजने के लिए स्पीड पोस्ट का इस्तेमाल किया जाता था cover letter में डाल कर resume भेजा जाता था. लेकिन स्थिति अब बिलकुल बदल चूकी है. 

इंटरव्यू होने के पहले जॉब इंटरव्यू के लिए भेजे जाना वाला रिज्यूमे आज कल ईमेल के द्वारा भेजा जाता है. जब एम्प्लायर को लगता है की कैंडिडेट उस कंपनी में जॉब करने के योग्य है तो  फिर वो उसे इंटरव्यू के लिए आमंत्रित करते हैं.

Resume शब्द फ्रेंच शब्द  resume से बना है जिसका मतलब होता है “सारांश” जिसे अंग्रेजी में हम summary शब्द से जानते हैं. Leonardo Da Vinci को पहले resume का श्रेय दिया जाता है.

हालाँकि उनका रिज्यूमे एक चिट्ठी के रूप में भेजा गया था और इसे 1481-1482 में एक बड़े एम्प्लायर Ludovico Sforza को उन्होंने भेजा था.

अगले 450 सालों  इसे सिर्फ इंसान के एक विवरण की तरह इस्तेमाल किया जाने लगा जिसमे उनकी योग्यता और पिछले काम के अनुभव के बारे में लिखा होता था.

लेकिन 19वीं शताब्दी में इसे काफी वैल्यू दिया जाने लगा और लगातार इस्तेमाल किया जाने लगा.

Resume को CV और बायो डाटा के नाम से भी जाना जाता है.

CV का फुल फॉर्म

Curriculum Vitae

Resume कैसे बनाये?

अभी तक हमने जान लिया है की रिज्यूमे क्या है और इसकी शुरुआत कैसे हुई थी. इस शब्द का जन्मस्थान कहाँ है और इसके बाद से ये हम तक कैसे पहुंचा लेकिन यहाँ सबसे जरुरी बात ये है की रिज्यूमे बनाते कैसे हैं.

कुछ लोगों के लिए इसे बनाना एक पहाड़ के सामान लगता है. लेकिन अब से आप ये सोचना बिलकुल भी बंद कर दें क्यों ये बहुत ही आसान है. अब मैं यहाँ पर आपको मोबाइल से रिज्यूमे बनाने के तरीका बताने जा रहा हूँ.

फ़ोन में रिज्यूमे कैसे बनायें?

सभी लोगों के पास कंप्यूटर नहीं उपलब्ध होता और कई लोगों के पास इतना वक़्त भी नहीं होता की इंटरनेट सेंटर में जाकर रिज्यूमे बनवाएं. स्मार्टफोन लगभग अब हर इंसान के पास उपलब्ध होता ही है.

तो सवाल ये उठता है की क्या सिर्फ मोबाइल फोन से रिज्यूमे बना सकते हैं तो इसका जवाब है हाँ. जी आप अपने फोन से इसे बना सकते हैं और वो भी बस कुछ मिनटों में. तो चलिए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से.

आपको इसके लिए एप्लीकेशन इनस्टॉल करना होगा. यूँ तो कई एप्लीकेशन प्ले स्टोर में उपलब्ध है लेकिन सबसे अच्छा एप्लीकेशन मोबाइल और कंप्यूटर दोनों के लिए एम एस वर्ड ही है.

आप एम एस वर्ड की एप्प अपने फ़ोन में इनस्टॉल कर सकते हैं इसके अलावा आप चाहे तो दूसरे रिज्यूमे बनाने वाले एप्प इनस्टॉल कर सकते हैं जिस में आपको बना बनाया टेम्पलेट मिल जायेगा बस  पसंद का टेम्पलेट या डिज़ाइन चुन लेना है और अपने डिटेल्स भर देने हैं आपका बायो डाटा बन कर तैयार हो जाएगा.

अलग-अलग लोगों के सवाल अलग-अलग. प्रकार के होते हैं अगर कोई शिक्षक है तो वह यही चाहता है कि उसके लिए टीचर के लिए जो रिज्यूमे बनता है उस प्रकार का रिज्यूमे बनवाएं.

लेकिन कुल मिलाकर देखा जाए तो हर जॉब करने वाले इंसान को अपने करियर में आगे बढ़ने के लिए जॉब बदलने की जरूरत पड़ते हैं और इसके लिए उन्हें समय-समय पर अपडेटेड रिज्यूमे की जरूरत जरूर होती है.

रिज्यूमे बनाने का तरीका स्टेप बाई स्टेप चलिए जानते हैं.

1. एप्प इनस्टॉल करें

आपको सबसे पहले अपने प्ले स्टोर में चले जाना है और वहां से एमएस वर्ड या ये एप्प Resume /CV builder App इनस्टॉल कर लेना है . इसके बाद इस अप्प को ओपन करें.

हाँ पर सबसे पहला ऑप्शन आपको create resume दिखेगा उस पर क्लिक करें और फिर बारी बारी से नीचे दिए गए डिटेल्स को भरें.

2. Basic Details डालें 

इसके अंतर्गत आपको अपना नाम, पता, ईमेल एड्रेस, फ़ोन नंबर लिखना होता है. इस को लिखने के बाद आप आगे बढ़ जाएँ.

3. Personal Information के बारे में लिखें 

पर्सनल जानकारी भरें जैसे जन्मदिन, आपकी शादी हुई है या नहीं. अगर शादी हुई है तो Married लिखना है अगर शादीशुदा नहीं हैं तो Unmarried रहने दें. आपको जिन जिन भाषाओँ का ज्ञान है उन भाषाओँ का नाम भी जरूर लिखें. आप यहाँ ये भी दर्शाएं की आप किस देश के नागरिक हैं.

4. Career Objectives लिखें 

इस सेक्शन में आपको अपने करियर के लक्ष्य के बारे में बताना है. Career objective हर बार कंपनी देख कर लिखें और ये हमेशा बदलता रहता है.

5. Education की जानकारी दें 

आप अपनी शिक्षा के बारे इस में पूरी जानकारी दें यानि की कोर्स क्या किया है, इंस्टिट्यूट का नाम क्या है, उसमे percentage/CGPA  कितना मिला है. आपने उस कोर्स को कौन से साल में पास किया है.

6. Experience शेयर करें 

अगर आपने कोई जॉब किया है तोउसके बारे में यहाँ पर लिखे जैसे आपके organization का क्या नाम था, उस कंपनी में आप किस डिपार्टमेंट में थे और आपका designation क्या था. आपकी जोइनिंग डेट क्या थी आप का वहां पर roles and responsibility क्या थी.

7. Projects (काम किये प्रोजेक्ट के बार में बताएं)

पढाई के दौरान अगर आपने किसी प्रोजेक्ट पर काम किया था तो उसके बारे में यहाँ पर दर्शाए. आपके प्रोजेक्ट का Title क्या है और इस के बारे में भी बताये की ये किस बारे में है.

8. Technical Skills (अपनी टेक्निकल स्किल लिखें)

आप के पास अगर किसी तरह का टेक्निकल स्किल है तो यहाँ पर आप उसके बारे में भी बताएं इससे आपके जॉब के मिलने के चांस भी बढ़ जाते हैं.

9. Interests (अपनी रूचि के बारे में बताएं)

अपनी शौक के बारे में बताएं जैसे आपको क्या करना अच्छा लगता है जैसे क्रिकेट खेलना, इंटरनेट चलाना, chess खेलना, फुटबॉल देखना, music सुनना इत्यादि.

10. Industrial Exposure (ट्रेनिंग, इंटर्नशिप इत्यादि)

बहुत सारे लोग पढाई के बिच में ही ट्रेनिंग या फिर internship करने के लिए किसी इंडस्ट्री को ज्वाइन कर लेते हैं और उस में एक महीने से लेकर 6 महीने तक का इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग लेते हैं. अगर आपने भी कुछ इस तरह की ट्रेनिंग ली हुई है तो उसे जरूर शेयर करें.

11. Achievements & Awards  

पढाई करने या फिर दूसरी कंपनी में काम करने के वक़्त में अगर आपको किसी अनोखे काम के लिए किसी तरह की उपाधि या फिर अवार्ड दिया गया है तो उसे यहाँ जरूर लिखें. ये आपकी क्वालिटी और योग्यता को और अच्छे से और मज़बूती से दर्शाने का काम करेगा.

12. Activities 

कॉलेज और कई कंपनियों में एक्स्ट्रा करीकुलर एक्टिविटीज कराई जाती है और लोग में उसमे भाग भी लेते हैं.

आपने भी कोई करीकुलर एक्टिविटी में हिस्सा लिया हुआ है तो उसके बारे में लिखे जैसे वृक्षारोपण, किसी कम्पेटेशन में भाग लेकर वहां किसी एक्टिविटी को पूरा करना इत्यादि.

13. Personal Strength 

हर इंसान में कुछ अलग और ख़ास होता है. आप के अलावा कोई नहीं जान सकता है की आपकी स्ट्रांग पॉइंट्स क्या है. अपने मज़बूत पक्ष के बारे में लिखें की आप किस किस चीज़ में बहुत अच्छे हैं और माहिर है.

उदाहरण के लिए जैसे मैं Positive thinking रखता हूँ. मुझे team work बहुत पसंद है और इस में काफी अच्छा हूँ. मैं किसी काम को पूरा किये हुए हार नहीं मानता यानी strong determined.

14. Reference 

अगर आपका reference किसी वयक्ति द्वारा दिया गया है तो उसके बारे में लिखें और उसका ज़िक्र भी यहाँ करें. उसकी जानकारी के रूप में Reference name, reference organization, reference email, reference mobile number भी जरूर दे दें.

15. Declaration 

अब आखिर में आप ये सत्यापन करें की जो कुछ भी आपने ऊपर में लिखा है वो सभी सच है और इस में किसी तरह का कोई गलत नहीं लिखा गया है.

16. Photo and Signature

ये कुछ अतिरिक्त चीज़ें हैं जिसे आप चाहें तो डाल सकते हैं और अगर न रखें तो भी कोई दिक्कत नहीं है.

Resume बनाते वक़्त किन बातों पर ध्यान देना जरुरी है?

  • रिज्यूमे बनाते समय इस बात का ख़ास ख्याल रखें की इसे प्रोफेशनल जैसा ही रखें.
  • इसमें सिर्फ वही बातें लिखें जो सच हैं.
  • भूलकर भी कुछ ऐसी बात न लिखें जिसके बारे में आपको जानकारी ना हो, क्यूंकि इंटरव्यू लेने वाला आपके डॉक्यूमेंट में जो लिखा होता है उसी के आधार पर सवाल करता है.
  • अगर आप अपने अचीवमेंट्स के बारे में लिख रहे हैं तो इसे छोटा सिंपल ही लिखें, ज्यादा बढ़ा चढ़ाकर ना लिखें.
  • जितना सुन्दर और साधारण फॉर्मेट हो उसी का इस्तेमाल करें ज्यादा तड़क भड़क वाले फॉर्मेट का इस्तेमाल ना ही करें तो अच्छा है.
  • कभी भी बहुत लम्बा रिज्यूमे ना बनाये ज्यादा से ज्यादा तीन पेज का ही रखें.
  • एक जरुरी बातये है की इस में किसी प्रकार की स्पेलिंग मिस्टेक ना करें और बॉर्डर और डिज़ाइन हर जगह नियमित रूप से रखें अगर आप खुद से एमएस वर्ड में बनायें तो इन बातों का ख़ास ख्याल रखें.

संक्षेप में

दोस्तों रिज्यूमे आज के वक़्त में हर किसी को जरुरत पद ही जाती है लेकिन हर बार आप किसी के पास जाकर उससे बनवाना बिलकुल पसंद  नहीं करेंगे इसीलिए आज की पोस्ट में हमने जाना की Resume क्या है और मोबाइल फोन से रिज्यूमे कैसे बनायें?

पढाई के बाद और जॉब बदलने के समय में किसी अन्य जॉब के लिए अप्लाई करने के लिए एक नए बायो डाटा की जरुरत पड़ती है. हर बार किसी दूसरे बनवाना कोई पसंद नहीं करता  खुद ही इस काबिल हो जायेंगे तो फिर बहुत अच्छा है.

वैसे तो अगर आपके पास कंप्यूटर की सुविधा है तो भी आप उसमे एमएस वर्ड में जाकर आसानी से रिज्यूमे तैयार कर सकते हैं लेकिन जिनके पास कंप्यूटर नहीं है वो बेचारा क्या करे क्यों की भले ही कंप्यूटर नहीं लेकिन स्मार्टफोन तो सबके ही पास होता है.

यही वजह है की इस पोस्ट में हमने कंप्यूटर पर रिज्यूमे कैसे बनाये बताया है ताकि एक  नागरिक घर बैठे ही रिज्यूमे तैयार कर ले.

ये पोस्ट आपको इसी काबिल बनने में पूरी मदद करेगा. उम्मीद करता हूँ की आपको ये पोस्ट जरूर पसंद आया होगा अगर सच में पसंद आया है तो सीए फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम में अधिक से अधिक शेयर करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here