Ration Mitra: सरकार की नई पहल, ‘राशन मित्र’ से झटपट बनवाएं राशन कार्ड, 1.58 करोड़़ लोग कतार में

राशन कार्ड योजना के बारे में तो सभी जानते हैं। राशन कार्ड योजना के तहत हमारे देश में राशन कार्ड का वितरण किया जाता है। राशन कार्ड सरकार के तहत हमारे देश के पिछड़े वर्ग तथा मध्यवर्गीय लोगों को राशन कार्ड प्रदान किया जाता है। राशन कार्ड योजना का नियंत्रण केंद्र सरकार के हाथों में होता है। यदि आप भी एक राशन कार्ड धारक अथवा राशन कार्ड धारक बनने की पात्रता रखते हैं तो आप बिल्कुल उचित स्थान पर आए हैं। 

कहने का तात्पर्य यह है कि राशन कार्ड धारक बनने के इच्छुक है तो उसके लिए आपको इससे जुड़ी सभी महत्वपूर्ण बातों के विषय में जानना आवश्यक है। जिसकी पूर्ण जानकारी हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से विस्तार पूर्वक प्रदान करेंगे। हम आशा करते हैं कि हमारे आर्टिकल आपके लिए बेहद लाभकारी सिद्ध होगा। 

राशन कार्ड योजना क्या है :-

राशन कार्ड योजना के तहत हमारे देश में पिछड़े वर्गो तथा मध्यम वर्गीय परिवारों को राशन कार्ड उपलब्ध कराया जाता है। राशन कार्ड दस्तावेज बहुत ही आवश्यक दस्तावेजों की सूची में शामिल है। 

हमारे देश में राशन कार्ड का बहुत ही अधिक महत्व है। यदि आप एक राशन कार्ड धारक है तो आप इस बात से भलीभांति परिचित होंगे कि राशन कार्ड दस्तावेज की सहायता से कार्डधारक बाजार में उपस्थित मूल्य दरों की तुलना में बेहद कम मूल्य दरो मैं हर महीने राशन प्राप्त कर सकते हैं। 

आपको बता दें कि राशन कार्ड धारकों को हर महीने राशन बहुत ही कम मूल्य दरो पर प्राप्त हो जाता है। उन्हें 1 किलो चावल एक रुपए में तथा 1 किलो गेहूं ₹2 में प्राप्त होता है। 

प्रत्येक व्यक्ति को राशन कार्ड योजना के तहत 2 किलो चावल 3 किलो गेहूं प्रदान किया जाता है अर्थात एक सामान्य व्यक्तियों को इस योजना के तहत 5 किलो तक के आनाज को बेहद कम मूल्य पर उपलब्ध कराया जाता है। 

राशन कार्ड होने के लाभ:-

हमारे देश में उपस्थित सभी राशन कार्ड धारकों को निम्न सुविधाएं उपलब्ध कराई जाती है। 

  • सभी राशन कार्ड धारक बेहद कम मूल्य दर पर हर महीने राशन प्राप्त कर सकते हैं। 
  • राशन कार्ड धारकों तक सरकार की ओर से सभी लाभकारी योजनाएं  सर्वप्रथम पहुंचती है। 
  • राशन कार्ड धारकों अपने राशन कार्ड का प्रयोग न केवल हर महीने बेहद कम मूल्य दरों पर राशन प्राप्ति हेतु करते हैं अपितु वे इसका प्रयोग विद्यालयों तथा अस्पतालों में भी सरलता पूर्वक कर सकते हैं। 

समय-समय पर होने वाला वेरिफिकेशन:-

हमारे देश में , या फिर यह कहे कि संपूर्ण संसार में कुछ भी चीज स्थाई नहीं होती है। कहने का तात्पर्य यह है कि हमारी दुनिया में उपस्थित प्रत्येक जीव को किसी ना किसी दिन अपना जीवन त्यागना पड़ता है। तथा मृत्यु को गले लगाना पड़ता है। 

वहीं जहां पर मृत्यु के पश्चात लोग इस दुनिया से चले जाते हैं वहीं हर रोज हमारे देश में नन्हे नन्हे बच्चों का जन्म होता है। 

इन सब की वजह से राशनकार्ड लाभार्थी सूची में आए दिन परिवर्तन करना पड़ता है। जिसमें कि सभी अपात्र लोगों को जो कि मृत हो चुके हैं अथवा योजना के पात्र नहीं है उनके नाम को हटा दिया जाता है। 

वहीं नए नए सदस्यों के नाम को लाभार्थी सूची में जोड़ा जाता है। इन नए सदस्य में ज्यादातर विवाहिता तथा छोटे बच्चे होते हैं। 

राशन कार्ड के प्रकार:-

यदि आप एक राशन कार्ड धारक है तो आप के लिए इस बात का ध्यान रखना बहुत ही ज्यादा आवश्यक है कि आपके पास जो राशन कार्ड उपलब्ध है वह किस कैटेगरी का है। 

यदि आप अपने पास मौजूद राशन कार्ड के विषय में नहीं जानते हैं तो आप को चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है। हम आपको नीचे में इसका संक्षिप्त विवरण प्रदान करेंगे। 

  • एपीएल राशन कार्ड :- हमारे देश में एपीएल राशन कार्ड उन्हें प्रदान किया जाता है जो अपना जीवन गरीबी रेखा के ऊपर जीते हैं और उनकी वार्षिक आय ₹10000 से अधिक है। यदि आप इन परिस्थितियों से मेल खाते हैं तो आपके पास एपीएल राशन कार्ड है। 
  • बीपीएल राशन कार्ड:-हमारे देश में बीपीएल राशन कार्ड उनका राशन कार्ड धारकों को प्रधानकिया जाता है जो अपना जीवन गरीबी रेखा के नीचे जीते हैं और उनकी वार्षिक आय ₹1000 से अधिक नहीं है। 
  • अंत्योदय राशन कार्ड:-अंतोदय राशन कार्ड हमारे देश में प्रदान किए जाने वाला सबसे ज्यादा दुर्लभ राशन कार्ड है। यह राशन कार्ड हमारे देश में उन लोगों को प्रदान किया जाता है जिनके पास आय का कोई स्रोत ही नहीं है। आपको बता दें कि इस राशन  कार्ड के जरिए लाभार्थी 35 किलो तक के अनाज को बेहद कम मूल्य दरो में उठा सकता है। 

जाने क्या है राशन मित्र:-

राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र के माध्यम से विकसित किया जा चुका सॉफ्टवेयर का नाम है राशन मित्र। इसका प्रयोग हमारे देश में विद्यमान सभी लोग देश में कहीं से भी कर सकते हैं तथा राशन कार्ड बनवा सकते है। इसका उपयोग देश में कहीं से भी लोग राशन कार्ड बनवाने के लिए कर सकते हैं।

खाद्य सचिव सुधांशु पांडे के मुताबिक पिछले 7 से 8 सालों में लगभग लगभग 18 से 19 करोड लाभार्थियों के लगभग 4.7 करोड़ राशन कार्ड विभिन्न कारणों से रद्द कर दिए गए थे। 

राशन कार्ड को लेकर सरकार ने एक नई पहल को जारी किया है जिसके तहत सरकार देश के कुल 11 राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों में राशन कार्ड के नामांकन के वास्ते कॉमन रजिस्ट्रेशन सुविधा को प्रारंभ करेगी। 

अभी फिलहाल इसे पायलट प्रोजेक्ट के नाम से लांच किया जा चुका है। हमारे देश के खाद्य सचिव सुधांशु पांडे इस बात की स्पष्टीकरण प्रदान कर दी है कि यह सुविधा राज्यों की राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत कवरेज के लिए पात्र लाभार्थियों की पहचान प्रूफ करने में सहायक सिद्ध होगी। 

निष्कर्ष:-

इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको Ration Mitra: सरकार की नई पहल, ‘राशन मित्र’ से झटपट बनवाएं राशन कार्ड, 1.58 करोड़़ लोग कतार में से संबंधित जानकारी प्रदान की है। हम आशा करते हैं कि हमारे आर्टिकल आपके लिए लाभकारी सिद्ध होगा। यदि आप हमसे कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं अथवा कुछ सुझाव देना चाहते हैं तो यह काम आप कमेंट के जरिए आसानी से कर सकते हैं। इस आर्टिकल को अधिक से अधिक लोगों तक जरूर शेयर करें। 

लाभदायक पोस्ट पढ़ें


Important Links

WTechni HomeClick Here
Other postsClick Here
Join Telegram ChannelClick Here

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

1 thought on “Ration Mitra: सरकार की नई पहल, ‘राशन मित्र’ से झटपट बनवाएं राशन कार्ड, 1.58 करोड़़ लोग कतार में”

  1. Aap ye bhi kam jaldi kare jo log apl layak hai. Unhe apl digiye Aur jo bpl ke layak hai unhe bpl digiye lekin ye esa nahi hai. Jo byakti apl ke layak hai unhe bpl mill raha hai. Aur jo byakti bpl ke layak hai unhe apl mil raha hai ye thik nhi hai. Thanks🙏🌹❤

    Reply

Leave a Comment

×