Ration Card Portability: गरीबों के लिए पूरे देश में ये योजना लागू, अंत में जुड़ा यह राज्य

सूत्रों के मुताबिक राशन कार्ड धारकों के लिए अभी-अभी एक और खबर सामने आ चुकी है। जिसके अंतर्गत सरकार ने अवलोकन करक निष्कर्ष निकाला है कि देश में बहुत सारे ऐसे आदमी हैं जो इस योजना के लिए अयोग्य है और मुफ्त राशन कार्ड का फायदा उठा रहे हैं।

वही हमारे देश के गरीब और पैसों की तंगी से जूझते हुए लोगों को मुफ्त राशन का किसी भी प्रकार से कोई लाभ नहीं हो रहा है। इसी को देखते हुए सरकार ने राशन कार्ड धारकों के लिए नया नियम लागू किया है जिस के अनुरूप जो व्यक्ति इस योजना के लिए अयोग्य है उनका राशन कार्ड कानूनी रूप से रद्द कर दिया जाएगा।

राशन कार्ड धारकों को इस महीने के 30 तारीख तक करा लेना होगा यह काम नहीं तो बंद हो जाएगा मिलना राशन:- 

यदि आप एक राशन कार्ड धारक है और इसका लाभ उठा रहे हैं, तो या खबर आपके लिए जानना मूल रूप से अनिवार्य है।

खबरों के मुताबिक यह पता चला है कि राशन कार्ड धारकों को अपने कार्ड को आधार से लिंक कराने की तिथि निकट आ चुकी है। इसलिए आप राशन कार्ड धारक अंतिम तिथि से पूर्व आधार लिंक कर ले।

तो आइए जानें राशन कार्ड को अपने आधार कार्ड से कैसे लिंक:-

राशन कार्ड को अपने आधार कार्ड से लिंक कराने के मुख्यतः दो रास्ते हैं पहला ऑनलाइन और दूसरा ऑफलाइन तो आइए इसे विस्तार से जाने:-

ऑनलाइन तरीका:-

  1. इसमें पहला स्टेप है कि आप आधार कार्ड के ऑफिशियल वेबसाइट uidai.gov.in को ओपन करें।
  2. फिर” स्टार्ट नाउ”पर प्रेस करें।
  3. इसके बाद आप अपना सही सही पता भरें जिला एवं राज्य सहित।
  4. फिर वहां पर ration card benefit का विकल्प होगा उस पर दबाए।
  5. फिर आप अपना राशन और आधार कार्ड का नंबर और ईमेल आईडी और फोन नंबर इत्यादि सही-सही भर है।
  6. इसके बाद आप के आधार कार्ड में लिंग किया गया फोन नंबर पर एक ओटीपी आएगा तत्पश्चात उसे भरे और भरते ही आपकी प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

अतः इस प्रकार से आप अपना राशन कार्ड को आधार से लिंक करने में सफल हो जाएंगे।

ऑफलाइन तरीका:-

यदि आप अपने राशन कार्ड को ऑनलाइन आधार कार्ड से लिंक कराने में सक्षम नहीं हो रहे हैं तो घबराइए मत आप इसे ऑफलाइन तरीके से भी लिंक करवा सकते हैं तो चलिए विस्तार से जानते हैं।

आधार को अपने राशन कार्ड से ऑफलाइन लिंक कराने के लिए सबसे पहले राशन केंद्र पर जाकर अपने सभी आवश्यक दस्तावेज आधार की कॉपी तथा राशन कार्ड की कॉपी जमा कर दें इसे यह प्रक्रिया सफल हो जाएगी अंततः इस बात का ध्यान रखना होगा कि यह अंतिम तिथि यानी 30 तारीख से पहले करा लें।

आइए जानते हैं कौन कौन नहीं हो सकते हैं राशन कार्ड के लाभुक

बताया जा रहा है कि सरकार ने इस बात की पुष्टि की है कि वैसे लोग राशन कार्ड का लाभ नहीं उठा पाएंगे जिनके पास एक जमीन का टुकड़ा हो जो 100 वर्ग मीटर से अधिक है तथा उसके परिवार में एक चार पहिया वाली गाड़ी है। इसे दो छेत्र में भी बांटा गया है ग्रामीण तथा शहरी।

ग्रामीण क्षेत्र:-

ग्रामीण क्षेत्रों के अनुसार सरकार ने इस बात की पुष्टि की है कि क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले राशन कार्ड धारकों के पारिवारिक आय सालाना दो लाख से ज्यादा है तो वह इस राशन कार्ड का लाभ नहीं उठा पाएंगे।

शहरी क्षेत्र:-

शहरी क्षेत्र के अंतर्गत सरकार ने यह कहा है कि शहर में रहने वाले लोग जिनका पारिवारिक वार्षिक आय 300000 से अधिक हो गए वह भी इस कार्ड का लाभ उठाने में सक्षम ना होंगे।

हाल में ही दिल्ली सरकार ने की घोषणा– वृद्ध और बीमार लोगों को मिलेगी राशन कार्ड में खास सुविधाएं तो आइए जानते हैं क्या है यह।।

हमारी देश की राजधानी दिल्ली में वहां की सरकार नया घोषणा की है कि दिल्ली में उचित कीमत दुकानों में हमारे देश के अधिक उम्र दराज तथा कोई भी शारीरिक समस्या से पीड़ित लोगों राशन लेने हेतु नहीं पहुंच पाते हैं। जिसके कारण उन्हें कष्ट होती है। इसी को देखते हुए वहां की सरकार ने कहा है कि उन बीमार अथवा पीड़ित व्यक्तियों की जगह पर राशन कार्ड में और जिन व्यक्ति का नाम जुड़ा है वह राशन उठा सकता है।

यहां तक कि अभी आदेश जारी किया गया है कि हमारे देश की राजधानी दिल्ली में एपीओएस नियम लागू की गई है जिसके अंतर्गत राशन कार्ड धारको को उसके अंगूठे अथवा आंख की रेटिना के तहत सब चीज सत्यापन करने पर ही राशन का लाभ मिल सकेगा इतना ही नहीं दिल्ली सरकार की इस घोषणा के अंतर्गत यह भी कहा गया है कि जिस व्यक्ति का नाम जोड़ना है वह केवल राशन कार्ड धारकों के द्वारा ही किया जा सकता है जिनके घरों में 4 या उससे कम लोग हैं।

क्या आप राशन कार्ड के लाभार्थी हैं? तो जाने की क्या सितंबर माह से लेना पड़ सकता है बाजार से आटा ?

 खबरों के मुताबिक क्या पता चला है कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के मुताबिक  अब राशन कार्ड धारको को सप्लाई नहीं की जाएगी, क्योंकि इस बार सरकारी अनाज भंडारों में गेहूं की आयत ना होने का असर स्पष्ट रूप से दिखाई पड़ने लगा है।

इसलिए केंद्र सरकार का आदेश दिया गया है कि अब 4 मार्च तक सिर्फ चावल का वितरण हो सकेगा और यहां तक कि या भी कहा गया है कि पहले चक्र में प्रति यूनिट 1000 ग्राम यानी एक केजी गेहूं काट ली जाएगी ।इससे लगता है गरीब और आर्थिक रूप से पिछड़ा वर्ग के परिवार में रोटी का काफी समस्याएं खड़ी हो सकती है।

दूसरे लाभदायक पोस्ट पढ़ें

Important Links

WTechni HomeClick Here
Other postsClick Here
Join Telegram ChannelClick Here

निष्कर्ष

हमने सभी राशन कार्ड लागू व्यक्तियों के लिए हमेशा नई अपडेट लेकर आते हैं और आए हैं तो जैसा कि आपने जाना इस आर्टिकल के अंतर्गत राशन कार्ड धारकों के लिए नई अपडेट ,राशन कार्ड को आधार से लिंक करना ऑनलाइन या ऑफलाइन , राशन कार्ड योजना में  कौन-कौन लाभ उठा सकते हैं,  दिल्ली में राशन कार्ड की नई नियम तथा क्या सितंबर माह से लेनी पड़ जा सकती है.

बाजार चार्ट  जिसके तहत गरीबों पर क्या प्रभाव पड़ा  हमने यहां ऊपर दिए गए सभी विषयों पर पूरी जानकारी विस्तार पूर्वक बताया है  और क्यों राशन कार्ड धारकों को गेहूं कोटा में  काटकर चावल बढ़ा दी गई है  इन सभी प्रश्नों का उत्तर आपको  जाना है तो ऊपर दिए आर्टिकल में तो कृपया करके जरूर पढ़ें ।

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment

×