Ration Card Latest Update : ऐसे जोड़ें नए सदस्य का नाम, देखें ऑनलाइन प्रॉसेस

राशन कार्ड योजना के तहत आने वाले सभी लाभार्थियों को सरकार की ओर से बाजारों में उपस्थित मूल्य दरों की तुलना में बेहद ही कम मूल्य दर में हर महीने राशन प्रदान किया जाता है। इस योजना की यदि सफलता की बात करें तो बहुत ही ज्यादा सफल तथा लाभकारी योजना है।

जब से राशन कार्ड योजना की शुरुआत की गई है तब उससे ही इस योजना को लोगों के द्वारा सराहा जा रहा है। प्रत्येक व्यक्ति इस योजना की प्रशंसा कर रहा है क्योंकि इस योजना के जरिए ही लोगों को केवल इतना कम मूल्य दरों में अनाज उपलब्ध होता है।

राशन कार्ड योजना के अलावे हमारे देश में ऐसी अन्य योजनाएं भी है जिसके तहत राशन बेहद कम मूल्य गैरों पर या फिर मुफ्त में सहायता बांटा जाता है। किंतु उनमें कुछ विशेष परिवारों को ही शामिल किया जाता है किंतु राशन कार्ड योजना के तहत आने वाले लाभार्थियों की यदि बात की जाए तो वह हमारे देश के निम्न वर्गीय परिवारों के साथ साथ मध्यवर्गीय परिवार भी है। 

राशनकार्ड लाभार्थी सूची में होने वाला वेरिफिकेशन:-

राशनकार्ड लाभार्थी सूची में होने वाले यदि वेरिफिकेशन कि हम बात करें तो यह समय समय पर किया जाता है। जिससे कि सभी अपात्र सदस्यों को इस योजना से बेदखल कर दिया जाता है तथा नए सदस्यों को इस योजना के तहत लाभार्थी सूची में जोड़ दिया जाता है। 

जैसे ही नए सदस्यों का नाम लाभार्थी सूची में जुड़ जाता है वैसे ही अगले महीने से उनके नाम पर भी राशन प्रदान किया जाना प्रारंभ हो जाता है। इन नए सदस्यों में ज्यादातर नवविवाहिता तथा छोटे बच्चे होते हैं जो सामान्यतः जन्म दिए जाते हैं अथवा गोद लिए जाते हैं। 

राशन कार्ड योजना के तहत प्रदान की जाने वाली सुविधाएं:-

  • जैसा कि हमने बताया है कि राशन कार्ड योजना किस तरह प्रदान की जाने वाली सुविधाएं में सर्वप्रथम बेहद ही सस्ते मूल्य दरों पर उपलब्ध कराई जाने वाले मासिक राशन है। 
  • इस राशन में चावल गेहूं इत्यादि शामिल होते हैं। प्रत्येक व्यक्ति को 5 किलो अनाज दिया जाता है जिसमें 2 किलो चावल तथा 3 किलो गेहूं होते हैं। उसमें से चावल एक रुपे में 1 किलो वही की हूं ₹2 में 1 किलो प्रदान किया जाता है। 
  • राशन कार्ड धारकों को सरकार के द्वारा लाए गए सभी योजनाओं का लाभ उठाने का अवसर प्रदान किया जाता है। 
  • राशन कार्ड धारक अपने राशन कार्ड दस्तावेज को केवल हर महीने राशन उठाने हेतु प्रयोग में नहीं लाते हैं बल्कि वे इसका प्रयोग विद्यालयों में नाम लिखाने अथवा अस्पतालों में भी कर सकते हैं। 

किस प्रकार से नए सदस्यों के नाम जोड़े:-

राशनकार्ड लाभार्थी सूची में नए सदस्यों के नाम को चढ़ाने की विधि हम इस आर्टिकल के माध्यम से आपके साथ साझा करने वाले हैं तो आपको चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है। राशनकार्ड लाभार्थी सूची में यदि किसी बच्चे का नाम चढ़ाना होता है तब उसका बर्थ सर्टिफिकेट तथा माता पिता के आधार कार्ड तथा घर के मुखिया के आधार कार्ड की आवश्यकता होती है। 

बच्चे के नाम को उनके माता-पिता के नाम के साथ ही कवर कर लिया जाता है। नवविवाहिता के नाम को लाभार्थी सूची में चढ़ाने की बात की जाए तो उसके लिए नए सदस्य अर्थात नवविवाहिता का आधार कार्ड उसके माता पिता का राशन कार्ड तथा विवाह प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है। 

इस प्रकार से ऑनलाइन नाम जोड़ ले:-

  • सर्वप्रथम आवेदक को राज्य के खाद्य आपूर्ति के अधिकारिक वेबसाइट में जाने की आवश्यकता होगी। 
  • यदि आवेदक उत्तर प्रदेश राज्य से है तो वह fcs.up.gov.in/ FoodPortal.aspx के जरिए साइड में विजिट कर सकता है। 
  • जैसे ही आवेदक विजिट करेगा उसे अपनी लॉगिन आईडी बनाने की आवश्यकता होगी। यदि आवेदक के पास पहले से ही लॉगिन आईडी है तो वह उससे लॉगिन कर सकता है। 
  • होम पेज पर आवेदक को नए सदस्य जोड़ने का ऑप्शन दिखाई देने लगेगा। 
  • जैसे ही आवेदन उस विकल्प को सेलेक्ट करेगा वैसे ही उसके सामने एक नया form खुल जाएगा। 
  • इस फॉर्म में आवेदक को अपने परिवार के नए सदस्य की सारी जानकारियां भर देनी पड़ेगी। 
  • फॉर्म के साथ साथ सभी आवश्यक दस्तावेजों की सॉफ्ट कॉपी को भी अपलोड करना पड़ेगा। 
  • जैसे यह form सबमिट हो जाएगा उसके पश्चात रजिस्ट्रेशन नंबर प्रदान किया जाएगा। 
  • इससे आवेदन इस पोर्टल पर अपने from को ट्रेस कर सकने हेतु सक्षम हो जाएगा। 

स्वीकृत होने के पश्चात:-

यदि सब कुछ ठीक रहा तो आवेदक का फॉर्म स्वीकृत कर लिया जाएगा। वही राशन कार्ड के माध्यम से घर तक पहुंचा दिया जाएगा।  

जैसे ही आपका आवेदन स्वीकृत कर लिया जाएगा वैसे ही उस सदस्य के वास्ते अगले महीने से राशन प्रदान किया जाना प्रारंभ हो जाएगा। इस प्रकार से आप आसानी से नए सदस्यों का नाम राशन कार्ड लाभार्थी सूची में चढ़ा सकते हैं। 

राशन कार्ड के वास्ते आवेदन राज्य सरकार के माध्यम से राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत सार्वजनिक वितरण प्रणाली अर्थात पीडीएस से सब्सिडी वाले खदानों के वास्ते पात्र परिवारों को जारी किए जाने वाली एक आधिकारिक दस्तावेज है। 

हमारे देश की सरकार के द्वारा राशन कार्ड दस्तावेज केवल पात्र परिवारों को ही प्रदान किए जाते हैं। इन परिवारों में मुख्य रूप से मध्यवर्गीय परिवार तथा निम्न वर्गीय परिवार आते हैं। जो अपना जीवन यापन गरीबी रेखा के ऊपर अथवा नीचे करते हैं। 

लोगों को उनके आय के अनुसार मिलता है राशन कार्ड:-

क्योंकि राशन कार्ड योजना के तहत मध्यवर्गीय परिवारों तथा निम्न वर्गीय परिवारों दोनों को शामिल किया गया है इस वजह से भी दोनों को विभिन्न राशन कार्ड प्रदान किया जाता है। 

आपको बता दें कि जो लोग अपना जीवन यापन गरीबी रेखा के ऊपर करते हैं उन्हें एपीएल राशन कार्ड प्रदान किया जाता है और वही जो लोग अपना जीवन यापन गरीबी रेखा के नीचे करते हैं उन्हें बीपीएल राशन कार्ड प्रदान किया जाता है। 

निष्कर्ष:-

आप सभी पाठकों ने हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ा उसके लिए हम आप सभी पाठकों का तहे दिल से धन्यवाद करते हैं। हम आशा करते हैं कि हमारे द्वारा बताई गई सभी जानकारियां आपको बेहद ही पसंद आई होगी। इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको राशन कार्ड योजना से जुड़ी बहुत सी मूलभूत जानकारियां प्रदान की है। यदि इस आर्टिकल को पढ़ने के पश्चात आप हमसे कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं या फिर हमें कोई सुझाव देना चाहते हैं तो वह कार्य आप कमेंट केसरी आसानी से कर सकते हैं। 

इसके साथ ही हमारे इस आर्टिकल को अधिक से अधिक लोगों के साथ अवश्य शेयर करें। 

धन्यवाद। 

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment

×