रेलवे में जॉब कैसे पाए?

रेलवे में जॉब पाना लगभग सभी विद्यार्थियों की सपना होती है क्योंकि रेलवे जॉब एक सरकारी नौकरी है और आज के जनरेशन में सरकारी नौकरी को पाना सभी विद्यार्थियों की सपना होती है. इसीलिए आज की इस पोस्ट में हम आपको बतायंगे की रेलवे में जॉब कैसे पाएं?

आज के इस कंपटीशन युग में रेलवे में जॉब पाना बहुत ही मुश्किल है इसलिए विद्यार्थियों को रेलवे में जॉब पाने के लिए अत्यधिक कठिन परिश्रम करने की आवश्यकता है.

विषय दिखाएँ

रेलवे जॉब क्या है? 

रेलवे जॉब एक सरकारी नौकरी है और आजकल के कंपटीशन युग में सरकारी नौकरी के डिमांड बहुत ही ज्यादा है इसलिए हर क्षेत्र के विद्यार्थी सरकारी नौकरी को पाने के उद्देश्य से कठिन परिश्रम के साथ-साथ इमानदारी पूर्वक से अपनी पढ़ाई कर रहे हैं. 

सभी सरकारी नौकरियों के जैसा रेलवे में जॉब करना भी एक सरकारी नौकरी है इसलिए लगभग विद्यार्थी रेलवे में जॉब करने के लिए रेलवे की परीक्षा की तैयारी बहुत ही कठिन परिश्रम के साथ-साथ अपनी पढ़ाई में अत्यधिक मेहनत कर रहे हैं.

रेलवे संचालन हमारे देश के प्रधानमंत्री द्वारा संचालित किया जाता है और इस रेलवे के संचालन की प्रक्रिया को पूरी करने के लिए बहुत संख्या में कर्मचारी की आवश्यकता होती है. 

इसलिए हमारे देश में रेलवे  द्वारा अत्यधिक संख्या में रोजगार प्रदान किया जाता है. 

आजकल के सभी विद्यार्थियों का सपना रेलवे में जॉब करना होता है और वह इस जॉब को पाने के लिए रेलवे की परीक्षा की तैयारी बहुत ही इमानदारी और सादगी पूर्वक करते हैं.

रेलवे में नौकरी प्राप्त करने की प्रक्रिया

रेलवे द्वारा रिक्त पदों के लिए अधिसूचना जारी करना 

रेल मंत्रालय को रेल मंत्रालय समीक्षा समिति के द्वारा रिक्त पदों की सूचना दी जाती है तत्पश्चात मंत्रालय के द्वारा भर्ती के लिए कैबिनेट से अनुमति मांगी जाती है कैबिनेट के द्वारा अनुमति देने के दौरान रेलवे भर्ती बोर्ड के द्वारा इन पदों की भर्ती के लिए सूचना जारी कर दिया जाता है.

उम्मीदवारों के द्वारा आवेदन

रेलवे भर्ती बोर्ड के द्वारा जब इन पदों के लिए सूचना जारी की जाती है उसके द्वारा उम्मीदवारों के द्वारा निश्चित समय के अंतराल में आवेदन करना होता है.

आवेदन ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों तरीकों से किया जाता है लेकिन आज के जनरेशन में लगभग सभी विद्यार्थी रेलवे जॉब के लिए आवेदन ऑनलाइन तरीकों से करते हैं.

रेलवे भर्ती बोर्ड के द्वारा परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी करना 

जब उम्मीदवारों के द्वारा रेलवे परीक्षा के लिए आवेदन किया जाता है उसके कुछ समय पश्चात रेलवे भर्ती बोर्ड के द्वारा उम्मीदवारों के लिए  प्रवेश पत्र यानी कि एडमिट कार्ड जारी की जाती है.

उम्मीदवार ऑनलाइन के द्वारा अपना रजिस्ट्रेशन नंबर और जन्मतिथि डालकर एडमिट कार्ड प्राप्त कर सकता है.

रेलवे भर्ती बोर्ड के द्वारा परीक्षा का आयोजन 

परीक्षा केंद्रों में रेलवे भर्ती बोर्ड के द्वारा तय किए गए समय में परीक्षा आयोजित की जाती है जिसमें सभी उम्मीदवार प्रवेश पत्र यानी कि एडमिट कार्ड को लेकर परीक्षा देने के लिए आते हैं और अपनी परीक्षाओं को इमानदारी पूर्वक देते हैं.

लेकिन अभी वर्तमान में रेलवे की परीक्षा ऑनलाइन ली जा रही है.

परिणाम घोषणा

उम्मीदवारों द्वारा दी गई रेलवे की परीक्षा के कुछ समय पश्चात उनका रिजल्ट घोषित किया जाता है और उनके रिजल्ट के अनुसार मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है. इन सभी प्रक्रियाओं के दौरान पास किए गए उम्मीदवारों को आगे की प्रक्रिया करवाई जाती है.

योग्यता 

रेलवे में नौकरी के लिए मुख्यता 4 भागों में ग्रुप को विभाजित किया गया है, जो क्रमशः ग्रुप A, ग्रुप B, ग्रुप C तथा ग्रुप D है. हर एक ग्रुप में अलग-अलग जॉब दी जाती है जिसकी योग्यताएं भी भिन्न होती है. 

हर ग्रुप के लिए अलग योग्यता होती है यदि कोई उम्मीदवार रेलवे की जॉब निकालना चाहते हैं तो उसके लिए उन्हें जिस ग्रुप में जाना होता है उनके अनुसार उनकी योग्यता होनी चाहिए तभी जाकर उनका चयन रेलवे जॉब में हो सकेगा.

रेलवे परीक्षा का आवेदन वही उम्मीदवार भर सकते हैं जो 10वीं या 12वीं पास है. रेलवे की परीक्षा का आवेदन भर रहे उम्मीदवार किसी मान्यता प्राप्त स्कूल से दसवीं पास होनी चाहिए और मान्यता प्राप्त कॉलेज से 12 वीं पास होना चाहिए तभी वह रेलवे से संबंधित जॉब के लिए आवेदन कर सकते हैं.

जो विद्यार्थी ट्वेल्थ पास है रेलवे की नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं. परीक्षा के दौरान जमीन का चयन होता है तो इन्हें ग्रुप सी या ग्रुप डी में  नौकरी लग जाती है. 

ग्रुप C में सुपरवाइजर का पोस्ट दिया जाता है.जिस भी उम्मीदवार का चयन ग्रुप सी में होता है वह सुपरवाइजर बनते हैं.

ग्रुप A में रेलवे जॉब के लिए डायरेक्ट भर्ती की जाती है लेकिन ग्रुप डी में प्रत्यक्ष रूप से भर्ती नहीं की जाती. ग्रुप सी के ऑफिसर्स का जब प्रमोशन किया जाता है तो उन्हें ग्रुप बी में भेज दिया जाता है.

वहीं दूसरी ओर जब ग्रुप सी के ऑफिसर्स को प्रमोट किया जाता है तो उसके द्वारा उन्हें ग्रुप डी में भेजा जाता है इसलिए ग्रुप सी और ग्रुप डी में प्रत्यक्ष रूप से भर्ती नहीं ली जाती.

आयुसीमा 

जो भी उम्मीदवार रेलवे में जॉब करना चाहते हैं और उनके लिए ऑनलाइन फॉर्म भरना चाहते हैं तो इसके लिए उनकी आयु सीमा 18 वर्ष से लेकर 30 वर्ष के मध्य होनी चाहिए तभी वे रेलवे जॉब के लिए आवेदन कर सकते हैं अन्यथा नहीं. 

आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को 5 साल की छूट दी जाती है जिससे वे निश्चित आयु सीमा के पश्चात 5 साल और इस जॉब के लिए आवेदन कर सकते हैं.

रेलवे जॉब के लिए तैयारी कैसे करें? 

सिलेबस की जानकारी 

हर एक उम्मीदवार को उनकी परीक्षा से संबंधित सिलेबस की जानकारी होना अनिवार्य है क्योंकि जब आपको अपनी परीक्षा से संबंधित सिलेबस की जानकारी होगी.

तभी आपको पता चलेगा कि आपको कौन-कौन से विषय में कौन कौन से टॉपिक को कवर करना है और आपके पास इस परीक्षा के लिए कितने विषय हैं? 

सिलेबस की जानकारी होने से विद्यार्थियों को परीक्षा की तैयारी करने में बहुत ही सहायता मिलती है क्योंकि उन्हें अपने परीक्षा से संबंधित विषयों की जानकारी सिलेबस से ही प्राप्त होती है.

इसलिए यदि आप भी रेलवे जॉब की तैयारी करना चाहते हैं और आपने आवेदन कर दिया है तो आपको भी अपने परीक्षा से संबंधित सिलेबस की जानकारी होना अनिवार्य है. 

यदि आप रेलवे परीक्षा की सिलेबस को देखते हैं तो आपको पता चलेगा कि आपको कौन-कौन से विषय की पढ़ाई करनी है और उन विषयों में प्रश्न कितने नंबर के पूछे जाते हैं? 

जब आपको इन सभी चीजों की जानकारी होगी तब आप इस परीक्षा की तैयारी बहुत ही आसानी पूर्वक कर सकेंगे.

योग्यता की जानकारी लें 

यदि आप रेलवे में जॉब करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको सिलेबस की जानकारी के साथ-साथ इस जॉब के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए.

इसकी जानकारी भी हासिल करना बहुत जरूरी है तभी आपको पता चलेगा कि रेलवे में जॉब करने के लिए योग्यता क्या क्या होनी चाहिए और तभी आप इसके हिसाब से रेलवे जॉब की तैयारी कर सकते हैं.

टाइम टेबल 

हर एक परीक्षा की तैयारी के लिए विद्यार्थियों को टाइम मैनेजमेंट करना बहुत ही आवश्यक है क्योंकि टाइम मिले तभी होगा जब आप टाइम टेबल बनाओगे इसलिए हाय एक परीक्षा की तैयारी के लिए विद्यार्थियों को टाइम टेबल बनानी चाहिए और टाइम टेबल के अनुसार ही हर विषय का पढ़ाई इमानदारी पूर्वक करनी चाहिए.

यदि आप भी रेलवे में नौकरी करना चाहते हैं और इसके लिए आप परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो आपको भी अपने परीक्षा की तैयारी टाइम टेबल के अनुसार करनी चाहिए क्योंकि हर एक सफल विद्यार्थी टाइम टेबल के अनुसार ही पढ़ते हैं. यदि आपको भी अपनी परीक्षा में सफल होनी है तो आप भी टाइम टेबल के अनुसार अपने स्टडी को करें.

टाइम टेबल बनाने से हर एक विद्यार्थी अपना हर एक विषय में निश्चित समय देकर उस विषय को अध्ययन करने में सक्षम हो पाते हैं जिससे उनका सिलेबस बहुत जल्द कबर हो पाता है.

इसलिए हर एक उम्मीदवार को अपने सभी विषयों की पढ़ाई टाइमटेबल के अनुसार करनी चाहिए जिससे उनका हर विषय में पकड़ अच्छा बना रहे.

कमजोर विषयों में ज्यादा ध्यान दें

बहुत से ऐसे विद्यार्थी होते हैं जो अपने कमजोर विषय को नजरअंदाज कर जिस विषय में उन्हें ज्यादा इंटरेस्ट लगती है उन्हीं विषयों को ज्यादा पढ़ाई करते हैं जिस कारण अक्सर विद्यार्थी परीक्षा में सफल नहीं हो पाते.

इसलिए उम्मीदवारों को जिस विषय में रुचि है उन विषयों की पढ़ाई करने के साथ-साथ कमजोर विषयों में ज्यादा ध्यान देना चाहिए तभी उन विद्यार्थियों का कमजोर विश्व में कमांड बढ़ेगा जिससे वे परीक्षा में सफल हो पाएंगे.

सभी विषयों के साथ-साथ कमजोर विषय में ध्यान देने वाले विद्यार्थी सफल हो पाते हैं इसलिए इंटरेस्टेड विषय की अपेक्षा कमजोर विषय में ज्यादा ध्यान देना आवश्यक है.

रेलवे की परीक्षा के लिए विषयों की तैयारी कैसे करें?

जो भी उम्मीदवार रेलवे की परीक्षा के लिए आवेदन किए हैं वे इस परीक्षा की तैयारी जाने-माने इंस्टिट्यूट के जरिए कर सकते हैं..

इस परीक्षा की अच्छी तैयारी करवाने वाले इंस्टिट्यूट में जाकर एडमिशन ले तथा इंस्टिट्यूट में पढ़ाई गए हर विषय की पढ़ाई को ईमानदार पूर्वक ध्यान दें क्योंकि विद्यार्थी की आधी पढ़ाई तो क्लास नहीं हो जाती है.

जब शिक्षक क्लास में किसी विषय के टॉपिक को बताते हैं और जो विद्यार्थी उस टॉपिक को क्लास में ध्यान से सुनता है उस विद्यार्थी की उस टॉपिक में पकड़ 70 परसेंट से ज्यादा हो जाती है और घर आकर जब वह विद्यार्थी उसी टॉपिक को रिवीजन करते हैं तो उस टॉपिक में उनका कमांड बहुत ही बेहतर हो जाता है. 

इसलिए विद्यार्थियों को क्लास में पढ़ाई गए टॉपिक ओं को ध्यान से समझकर इमानदारी पूर्वक पढ़नी चाहिए.

इस परीक्षा के लिए इंस्टिट्यूट के साथ-साथ आप इंटरनेट की मदद से भी इसकी तैयारी कर सकते हैं.

फोन की मदद से आप रेलवे की परीक्षा की तैयारी कर सकते हैं क्योंकि यूट्यूब में बहुत से ऐसे ऑनलाइन स्टडी करवाई जाती है जिससे हर एक सब्जेक्ट में अप का सिलेबस कंप्लीट हो सकता है.

सेल्फ स्टडी करें 

हर एक विद्यार्थी को सेल्फ स्टडी करनी चाहिए क्योंकि जब आप घर में खुद सेल्फ स्टडी करते हो तो आपको इंस्टिट्यूट में पढ़ाए गए टॉपिक में पकड़ अच्छी बनेगी और आप उस टॉपिक को बहुत ही अच्छी तरीके से डील कर सकते हो.

इसलिए हर एक स्टूडेंट को सेल्फ स्टडी करनी चाहिए जिससे उनका हर सब्जेक्ट में कमांड अच्छा बना रहे हैं.

शॉर्ट नोट्स बनाएं 

यदि आप भी रेलवे की तैयारी कर रहे हैं और आप इंस्टिट्यूट में इस परीक्षा के लिए पढ़ाई कर रहे हैं तो आपको अपने हर विषय में शॉर्ट नोट्स बनाना चाहिए क्योंकि जब आप परीक्षा के कुछ दिन पहले रिवीजन करना स्टार्ट करोगे तो उस समय आपका यह शॉर्ट नोट्स आपको रिवीजन करने में बहुत ही मदद करेगा

जिससे आपकी रिवीजन बहुत ही अच्छी तरीके से हो जाएगी और इस प्रकार आपकी सिलेबस समय से पहले कंप्लीट होगी और आप अच्छे से एग्जाम में सफल भी हो पाएंगे.

एग्जाम के 1 दिन पहले 

यदि आप भी रेलवे के एग्जाम की तैयारी कर रहे हैं और आपका एग्जाम परसों है तो आप एग्जाम के 1 दिन पहले अच्छी नींद ले और जो टॉपिक में आपको कंफ्यूजन है उस टॉपिक को भूल कर भी ना पढ़े यदि आप उस टॉपिक को खोलकर पढ़ने जाते हैं तो आपका दिमाग एनी टॉपिक की तरफ जाएगी जिससे आपका कॉन्फिडेंस कम होता जाएगा इसलिए एग्जाम के 1 दिन पहले उम्मीदवारों को अच्छी नींद लेनी चाहिए और जहां तक संभव हो कोई टॉपिक को ना देखें.

एग्जाम के दिन 

एग्जाम के दिन उम्मीदवारों को सकारात्मक सोच रखनी चाहिए और फुल कॉन्फिडेंस के साथ एग्जाम सेंटर पहुंचना चाहिए एक बात का ध्यान रखें कि आप कोई टॉपिक के बारे में उस दिन ना सोचे नहीं तो आपका कॉन्फिडेंस कम होता चला जाएगा. 

एग्जाम का पहला दिन फुल कॉन्फिडेंस रखकर अपने एग्जाम को दे. जब आपके पास क्वेश्चन पेपर आएंगे उस समय आप 15 मिनट के लिए बस क्वेश्चन को देखें उसके दौरान ज्यादा मार्क्स वाले क्वेश्चन को पहले बनाएं.

फिर कम मार्क्स वाले क्वेश्चन को बाद में बनाएं ताकि निर्धारित समय में आपकी परीक्षा अच्छी पूर्वक पूर्ण हो सके.

रेलवे जॉब में सैलरी कितनी मिलती है? 

रेलवे में जॉब ग्रुप ए बी सी तथा डी के अंतर्गत मिलती है और हर ग्रुप में अलग-अलग सैलरी दी जाती है जैसे :- 

  • ग्रुप A में काम कर रहे ऑफिसर्स की सैलरी 87000 से 1 लाख की होती है.
  • ग्रुप B के ऑफिसर्स की सैलरी 48000 से 76000 तक की होती है.
  • ग्रुप C में काम कर रहे ऑफिसर्स की वेतन 20,000 से 46000 होती है.
  • ग्रुप D के अंतर्गत काम कर रहे हैं ऑफिसर्स की वेतन 18000 से 19000 दी जाती है.

निष्कर्ष

रेलवे जॉब को पाना लगभग सभी विद्यार्थियों का सपना होता है क्योंकि यह नौकरी भी एक सरकारी नौकरी है. 

इस तरह के जॉब को प्राप्त करना ही बहुत बड़ी उपलब्धि है. यही वजह है की हमने आपको यहाँ बताया की रेलवे  पाएं?

इसके अलावा हमने आपको ये भी बताया की रेलवे में  की स्लरी कितनी होती है, योग्यता, आयुसीमा क्या होनी चाहिए. यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो आप अपने दोस्तों में जरुर शेयर करें.

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment