PM Kisan Yojana 12th Installment :  प्रधानमंत्री किसान योजना, जाने किसे मिलेगी बारहवीं किस्त, जाने पूरी खबर 

जैसा कि हम सभी को पता है कि हमारा देश भारत कृषि प्रधान देश है। यहां के मूल जीविका कृषि आधारित है। यह सभी जानते हैं की हमारे देश भारत की आधी से अधिक जनसंख्या गांव में निवास करती है। ना केवल यह गांव में निवास करती है अपितु इनका मूल व्यवसाय भी प्राथमिक क्रियाकलापों से जुड़ा हुआ है। अर्थात कृषि से जुड़ा हुआ है। फिर व कृषि चाहे खेतों में की जाए , पशुपालन की कि जाए , या मछली पालन की कि जाए। 

pension pm kisan yojana 12th installment

किसी भी देश की अर्थव्यवस्था उस देश की रीड की हड्डी होती है। जिस देश की अर्थव्यवस्था जितनी मजबूत होगी वह देश सफलता के पद पर उतना ही अग्रसर होगा। रही बात हमारे देश की तो वर्तमान में हमारे देश की अर्थव्यवस्था भी कुछ कम नहीं है।

PM Kisan Yojana 12th Installment : 

हमारा देश भारत में विकासशील देशों की सूची से हटकर अब विकसित देशों की सूची में शामिल होने को अग्रसर हो चुका है। किंतु स्थिति चाहे जो भी हो हमारे देश में निवास करने वाले सभी लोगों की प्रसन्नता तथा सुविधा का ख्याल रखना भी अति आवश्यक है। क्योंकि जहां अर्थव्यवस्था किस देश की रीड की हड्डी होती है वही देश की जनता  देश का धन कहलाता है।यह हमारे देश के महान किसानों के परिश्रम का ही फल है जो हमें प्रतिदिन भोजन प्राप्त होता है।

आप अनुमान लगा सकते हैं कि यदि किसान खेती करना छोड़ दे तो इसका क्या परिणाम हमारे दैनिक जीवन पर पड़े सकता है। खैर फिर भी संक्षिप्त में हम आपको इस बात से परिचित करा दें। यदि हमारे देश के किसान कृषि करना छोड़ दें तो हमारे देश की अर्थव्यवस्था तहस-नहस होने लगेगी। क्योंकि लोगों को ज्यादा देर तक भूखा नहीं रखा जा सकता। 

किसानों की कृषि ना करने पर हमारे देश में खाद्यान्नों की कमी होने लगेगी जिस वजह से सरकार को अन्य देशों से इसका आयात करना पड़ेगा। जिसमें धन किस हिसाब से लगेगा इसका अनुमान आप चाहे तो लगा ही सकते हैं। हमारे देश में महंगाई बढ़ जाएगी जिस चावल का मूल्य हमारे देश में औसत ₹30 के आसपास है वह न जाने कितना हो जाएगा। 

हमारे देश के किसानों की स्थिति:-

हमने इस उदाहरण के जरिए हमारे देश के किसानों की महत्ता को आपके समक्ष प्रस्तुत कर दिया है। किंतु इसके साथ-साथ आपके सामने उनकी दयनीय स्थिति को भी प्रस्तुत करना उतना ही आवश्यक है जितना कि उनकी महत्ता को। 

हमारे देश के किसान जो हमारे पालनहारे कहलाते हैं। वह स्वयं अपना जीवन बदहाली में जी रहे हैं। गरीबी से तो उनका अटूट नाता बन चुका है। जिसे वह चाह कर भी नहीं तोड़ सकते। 

इसके अलावा आर्थिक तंगी के कारण उन्हें और भी बहुत सी समस्याओं का मुख देखने हेतु विवश होना पड़ता है। 

क्या सरकार हमारे देश के किसानों के हित के लिए कुछ नहीं करती:-

यदि आप यह सोच रहे हैं कि हमारे देश की सरकार हमारे देश के असहाय किसानों के लिए कुछ भी नहीं करती है तो यह पूर्णता असत्य होगा। क्योंकि आए दिन हमारे देश के केंद्र सरकार की ओर से ऐसी बहुत सी कल्याणकारी योजनाओं का शुभारंभ किया जाता है जिनका प्रत्यक्ष लाभ किसानों को मिलता है। 

रही बात किसानों की सहायता की तो यह सहायता केवल सरकार की ओर से नहीं प्रदान किए जाते हैं कई स्थानों पर तो निजी संस्थाएं भी होती है जो किसानों की सहायता हेतु आगे आती है। 

जाने क्या है प्रधानमंत्री किसान योजना:-

आप सभी पाठकों में से अधिकतर ने यह शब्द जरूर सुना रखा होगा कि प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत उस किसान को इतना लाभ हुआ। किंतु आपके मस्तिष्क में यह बात जरूर आई होगी कि भला यह प्रधानमंत्री किसान योजना क्या है तो इससे हम आपको आज अवगत करा देते हैं। 

प्रधानमंत्री किसान योजना हमारे देश के प्रधानमंत्री के द्वारा प्रारंभ की गई एक बहुत ही कल्याणकारी और लाभकारी योजना है। जिसका प्रत्यक्ष लाभ हमारे देश के किसानों को मिलता है। इस योजना के तहत सभी पात्र किसानों को प्रतिवर्ष ₹6000 तक की आर्थिक सहायता सरकार की ओर से प्रदान की जाती है। इस धनराशि का प्रयोग किसान अपने खेतों के काम के साथ-साथ निजी कार्यों मैं भी कर सकते हैं। 

यह ₹6000 की धनराशि लाभार्थी को एक साथ प्रदान नहीं की जाती है। यह धनराशि ₹2000 की 3 सामान किस्तों में सभी लाभार्थियों को प्रदान किए जाते हैं। 

आपको इस बात से भी अवगत करा दे कि यह धनराशि लाभार्थियों को ना कोई अधिकारी देता है और ना ही कोई व्यक्ति। यह सहायक धनराशि धारकों के बैंक खाते में सरकार सीधे ट्रांसफर कर दी जाती है। 

आवश्यक है ईकेवाईसी:-

अभी केंद्र सरकार की ओर से एक बहुत बड़ी घोषणा की गई है जिसके तहत सभी प्रधानमंत्री किसान योजना से जुड़े लाभार्थियों के लिए अपना केवाईसी पूर्ण करना अनिवार्य है। 

यदि वह अपना ई- केवाईसी पूर्ण नहीं करते हैं तो उन्हें भविष्य में मिलने वाली अन्य किस्तों का लाभ संभवतः प्राप्त ना हो। 

इस वजह से सभी लाभार्थियों के लिए ईकेवाईसी को पूर्ण करना सरकार की ओर से अनिवार्य कर दिया गया है। जब से इस योजना का शुभारंभ किया गया है तब से हमारे देश के लाखों किसानों को लाभ प्राप्त हो चुका है। 

और अभी भी बहुत से पात्र किसान इस योजना से जुड़ने के लिए सज्ज है। आपको इस बात से भी परिचित करवा दे कि जब से इस योजना को शुरू किया गया है तब से कुल 11 किस्तों का अनुदान सभी लाभार्थियों के बैंक खातों में कर दिया गया है। 

किंतु अब यदि ईकेवाईसी की प्रक्रिया अपूर्ण रही तो 12वीं किस्त से संभवतः भारतीय वंचित रह जाएंगे। और इस बात की भी पूर्ण संभावना है कि भविष्य में आने वाली सभी किस्तों से उन्हें वंचित रहना पड़ जाए। 

निष्कर्ष:-

इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको PM Kisan Yojana:  प्रधानमंत्री किसान योजना, जाने किसे मिलेगी बारहवीं किस्त , जाने पूरी खबर के विषय में विस्तार पूर्वक बताया है। हम आशा करते हैं कि हमारा यह आर्टिकल आपको बेहद ही पसंद आया होगा। यदि आप हमसे कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं अथवा सुझाव देना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स का निर्माण इसी के लिए हुआ है। हमारे इस आर्टिकल को अधिक से अधिक लोगों तक जरूर शेयर करें। 

लाभदायक पोस्ट पढ़ें


Important Links

WTechni HomeClick Here
Other postsClick Here
Join Telegram ChannelClick Here

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

1 thought on “PM Kisan Yojana 12th Installment :  प्रधानमंत्री किसान योजना, जाने किसे मिलेगी बारहवीं किस्त, जाने पूरी खबर ”

Leave a Comment

×