PCS की तैयारी कैसे करे?

किसी भी राज्य में राज्य प्रशासनिक सेवा का काफी महत्वपूर्ण रोल होता है. किसी भी राज्य में इस प्रकार की नौकरी लेने के लिए आपको राज्य की pcs की परीक्षा को पास करना अनिवार्य होता है. इसीलिए आज की इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे की PCS की तयारी कैसे करें?

अगर आप भी इस परीक्षा में हिस्सा लेने की सोच रहे है तो आपको इसके संदर्भ में राज्य के लोक सेवा आयोग द्वारा जारी एक परीक्षा को पास करना होता है जिसे State PCS Exam कहा जाता है. 

PCS एग्जाम क्या होता है?

किसी भी राज्य के सबसे बड़े पद जैसे SDM और अतिरिक्त जिला कलेक्टर पर जाने के लिए आपको उस राज्य के PCS का एग्जाम पास करना होता है.

राज्य में यह एग्जाम हर साल आयोजित करवाया जाता है जो लोक सेवा आयोग द्वारा करवाया जाता है. इस एग्जाम को हर साल राज्य के लोक सेवा आयोग द्वारा कराया जाता है जो कि राज्य का सबसे उच्च स्तर का एग्जाम होता है. 

PCS का एग्जाम कौन आयोजित करवाता है

यह एग्जाम हर राज्य के लिए सबसे महत्वपूर्ण एक्सान होता है. इस एग्जाम को राज्य के लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित करवाया जाता है.

अगर आप राजस्थान में इस एग्जाम को दे रहे है तो राजस्थान में यह राजस्थान लोक सेवा आयोग दुवारा आयोजित करवाया जाता है वही अगर आप उत्तर प्रदेश से है तो उत्तर प्रदेश में यह एग्जाम उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित करवाया जाता है. 

PCS एग्जाम का पूरा नाम 

राज्य अपने स्तर पर यह एग्जाम करवाते है और इस एग्जाम का पूरा नाम Provincial Civil Service है. हिंदी में इसका पूरा नाम प्रांतीय / राज्य सिविल सेवा है. 

PCS एग्जाम की प्रकृति

किसी की राज्य के PCS एग्जाम की प्रकृति की बात करे तो यह एग्जाम 3 स्तर पर होता है जिसका पहला होता है प्री, दूसरा मैंन, तीसरा इंटरव्यू. 

इस परीक्षा का पहला पॉइंट प्री एग्जाम, इस एक प्रकार से ऑब्जेक्टिव प्रकार का होता है. इस परीक्षा में आवेदक को पासिंग मार्क्स लाने होते है.

यह इस इस परीक्षा का सबसे पहला कदम होता है. इस परीक्षा में जो अभी अभ्यर्थी पासिंग मार्क्स लाता है तो वह अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा में बैठने के लिए Appear हो जाता है. 

इस परीक्षा के दुसरे चरण में आवेदक को मुख्य परीक्षा से गुजरना पड़ता है. यह परीक्षा सब्जेक्टिव होती है जिसमे पेपर में सवालो के जवाब लिखने होते है.

इस परीक्षा में आवेदक जो प्री परीक्षा पास करते है, वे बैठ सकते है. इस परीक्षा में एक से ज्यादा पेपर होते है तो हर राज्य के आयोग के नियमों के अनुसार होते है. इस परीक्षा को पास करने वाले अभ्यर्थी इंटरव्यू के लिए जाते है. 

इस परीक्षा का तीसरा चरण इंटरव्यू का होता है. इस परीक्षा में आवेदक का इंटरव्यू होता है. परीक्षा के इस तीसरे चरण में वे ही अभ्यर्थी appear होते है जो मुख्य परीक्षा में पास होते है.

जो भी अभ्यर्थी इस परीक्षा को पास करता है वो फाइनल सूची के लिए चयनित हो जाता है. फाइनल सूची का चयन में आवेदक के मुख्य परीक्षा के नंबर और इंटरव्यू के नंबर दोनों की एक साथ गणना की जाती है और उस में जो भी अभ्यर्थी मेरिट सूची में आते है उनका फाइनल चुनाव किया जाता है और आगे के प्रोसेस या ट्रेनिंग के लिए बुलाया जाता है. 

PCS की तैयारी कैसे करे ? 

किसी भी राज्य के pcs एग्जाम की तेयारी करने के लिए 2 चीज़े काफी अहम् होती है पहली तो, फोकस और टारगेट और दूसरी किसी भी कार्य को करने के प्रर्ति लगन और मेहनत.

Pcs ही नही किसी भी एग्जाम की तैयारी के लिए  प्रार्थी को निम्न चीजों का ख़ास ख्याल रखना चाहिए जो नीचे बताई गई है. 

  • किसी भी एग्जाम को पास करने के लिए सबसे पहले उस एग्जाम की आवश्यकता और उसकी मांग को समझना चाहिए. 
  • पूछे जाने वाले विषय के बारे में सभी जरूरी चीजों को जैसे जरुरी किताब या स्टडी मटेरियल इत्यादि को इकट्ठा करना और उनको सिलेबस के हिसाब से पढना. 
  • किसी भी परीक्षा की तैयारी करने के लिए एक निश्चित समय सारणी का होना आवश्यक है. 
  • Pcs ले सिलेबस के बारे में बात करे तो इस एग्जाम का सिलेबस काफी बड़ा होता है इसलिए आपको इसको पढने के लिए स्मार्ट तरीका अपनाना चाहिए ना ही हार्ड तरीका. 
  • Pcs की तेयारी के लिए आपको आगे कुछ किताबो के बारे में आगे बताया जा रहा है जिन्हें आप पढ़ सकते है और उनसे अपनी pcs की तेयारी कर सकते है. 
  • अगर कोई भी अभ्यर्थी pcs की तैयारी करता है तो उसे कम से कम 6 माह से 12 माह इस एग्जाम की तैयारी को देने चाहिए ताकि वे एक बेहतर ढंग से तैयारी कर सकें.

PCS की तैयारी के लिए क्या पढ़ें?

किसी भी राज्य की pcs की तैयारी करने के लिए अभ्यर्थियों को उस राज्य के आयोग द्वारा जारी सिलेबस के अनुसार पढाई करनी होती है.

Pcs के एग्जाम में कुछ विषय होते है जो राज्य के आयोग द्वारा निर्धारित होते है. इस विषयों के बारे में आगे बताया जा रहा है साथ की उस विषय के लिए किस बुक को पढ़ना चाहिए ताकि आप pcs के लिए एक बेहतर प्लेटफार्म तैयार कर सके. 

  • भारतीय संविधान – यह किसी भी एग्जाम का एक मुख्य भाग होता है, इसके लिए आप लक्ष्मीकांत दुवारा लिखित पुस्तक “ भारत की राजव्यवस्था ” पढ़ सकते है. इसके अलावा आप कक्षा 9 से कक्षा 12 तक की ncert की किताबे पढ़ सकते है. 
  • भारत की अर्थव्यवस्था – इस विषय के लिए आपको कुछ ख़ास विषय या कुछ ख़ास किताब पढने की आवश्यकता नही होती है. यह एक डायनामिक सब्जेक्ट होता है इसमें आप रोजाना के करंट अफेयर पढ़े और साथ में रमेश सिंह की पुस्तक भारत की अर्थव्यवस्था पढ़े तो आपका यह विषय भी पूरा हो जाएगा. 
  • भारत और विश्व का भूगोल – भूगोल को पढ़ने के लिए आपके लिए जरुरी होता है की कक्षा 6 से कक्षा 12 तक की ncert की भूगोल की किताबे पढ़े साथ ही आप माजिद हुसैन या महेश वर्णवाल की भूगोल की किताब पढ़ सकते है. 
  • विज्ञान और तकनीकी – इसके लिए आप कक्षा 8 से कक्षा 10 तक की ncert की बुक पढ़ सकते है और इसके साथ आप स्पेक्टुर्म की पुस्तक पढ़ सकते है. 
  • इतिहास – इतिहास पढने के लिए आपको ncert को कक्षा 6 से कक्षा 12 तक की किताबो को पढना पड़ेगा ताकि आपका एक बेस क्लियर हो सके. इसके साथ आप मोड़ें इंडियन हिस्ट्री के लिए स्पेक्ट्रम की पुस्तक पढ़ सकते है. 
  • राज्य का gk – अगर आप किसी राज्य के pcs एग्जाम की तैयारी कर रहे है तो आपको उसके लिए उस राज्य का gk पढ़ना भी जरुरी होता है. इसके लिए आप उस राज्य की स्कूल की किताबो को पढ़ सकते है. इसके अलावा आप बाज़ार से कोई भी अच्छी गाइड ले सकते है. 

इस सेक्शन में आपको जो भी किताबों के बारे में बताया गया है वो हमने अपने स्तर पर रिसर्च कर के बताया है.

आप अपने हिसाब से कोई भी अच्छी किताबे पढ़ सकते है, हालाँकि यह किताबे भी अच्छी है और सही है जो आपको pcs अधिकारी बनने में मदद कर सकती है.

Youtube से करे pcs की तैयारी

आज के समय में पढाई के तरीका एकदम बदल चुका है. आज का समय डिजिटल वीडियो का है.

आप youtube की मदद से आसानी से pcs ही नहीं बल्कि और भी किसी एग्जाम की तैयारी आसानी से कर सकते है.

इसके लिए youtube पर ऐसे कई चैनल है जो आपको मुफ्त में इस तरह की तैयारी कराते है. ऐसे ही कुछ youtube चैनल की सूची आप यह देख सकते है. 

  • दृष्टि आईएएस 
  • विज़न आईएएस 
  • अनअकादमी
  • उत्कर्ष क्लासेज
  • Wifi स्टडी इत्यादि  

इन सब के अलावा अगर आप चाहे तो pcs की तैयारी के लिए इस एप्लीकेशन का paid प्लान भी ले सकते है जहा आपको टाइम के अनुसार पढ़ते है और साथ ही आपका समय समय पर टेस्ट भी लिए जाता है. ताकि आपकी पढाई को एक बूस्ट मिल सके. हालांकि हम आपको किसी भी तरह के प्लान को खरीदने को नही कहते है.

निष्कर्ष 

इस लेख में आपको pcs की तैयारी के बारे में बताया गया है. इस लेख के माध्यम से बताई गई जानकारी आपको अच्छी लगी होगी.

उम्मीद करते है आपको यह लेख पसंद आया होगा. इस लेख के बारे में कोई भी सुझाव हो तो आप निचे कमेंट कर के बता सकते है. 

संबंधित सवाल जवाब – FAQ

PCS की परीक्षा कौनसा आयोग करवाता है. 

Ans. pcs की परीक्षा राज्य का लोक सेवा आयोग करवाता है. 

PCS का पूरा नाम क्या है ? 

Ans. राज्य अपने स्तर पर यह एग्जाम करवाते है और इस एग्जाम का पूरा नामProvincial Civil Serviceहै. हिंदी में इसका पूरा नामप्रांतीय / राज्य सिविल सेवाहै.

PCS परीक्षा में कितने चरण होते है ? 

Ans. किसी भी राज्य द्वारा आयोजित इस pcs परीक्षा में 3 चरण होते है, जिसमे प्री परीक्षा, मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू होता है. 

क्या एक PCS अधिकारी जिला कलेक्टर बन सकता है ? 

Ans. जी हां, एक pcs अधिकारी निर्धारित सेवा अवधि पूरी करने के बाद एक आईएएस ऑफिसर बन सकता है. 

PCS अधिकारी की सबसे छोटी पोस्ट कौनसी होती है ? 

Ans. यह हर राज्य में अलग अलग होता है, राजस्थान में सबसे छोटी पदवी sdm की होती है हु किसी एनी राज्य में सबसे छोटी पदवी bdoया ब्लॉक विकास अधिकारी की होती है. 

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment

×