Painting Selling Business Idea : घर के कमरे से ही शुरू किया बिजनेस, एक महीने में कमा डाले 38 लाख

जहां सफल होने की बात आती है वहां पर सफल होना कौन नहीं चाहता। किंतु सफलता प्राप्ति हेतु मनुष्य में जज्बा होना चाहिए , कुछ कर गुजर जाने का जुनून होना चाहिए। उसके पश्चात ही कहीं जाकर सफलता हाथ आती है। सफलता, जितना सरल इस शब्द को बोलना है उतना ही कठिन इसको प्राप्त करना है। सफलता संघर्ष , समय , सहनशीलता , कड़ी मेहनत , लगन , तथा लक्ष्य के प्रति पागलपन मांगती है। 

यदि कोई व्यक्ति इन सभी में अव्वल है तो वह बिना किसी परेशानी के सफलता को प्राप्त कर सकता है। आज का हमारा इस आर्टिकल का मुद्दा यही है। आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से आप सभी पाठकों को एक ऐसी जिंदादिल महिला से मिलाएंगे जिसने सब कुछ खो कर भी हार नहीं मानी। 

जाने कौन है माईकेला मॉर्गन:-

माईकेला मॉर्गन एक महिला का नाम है। जोकि वेल्स की निवासी है। इनके जीवन के विषय में यदि हम जाने तो हमें यह महसूस होगा कि इनका जीवन अत्यंत रोचक है। किंतु इसमें दुख भी भरपूर मात्रा में भरा पड़ा है। 

माईकेला मॉर्गन की शादी टूट चुकी थी। जिससे उन्हें बहुत से ज्यादा मानसिक पीड़ा हुई थी इसके अलावा भी उसी समय अवधि में उनके प्रिय पालतू कुत्ते की भी मृत्यु हो गई। जो उनके बहुत ही ज्यादा करीब था। इन सब से माइकेला मॉर्गन को मानसिक रूप से बहुत ही गहरा आघात पड़ा था। 

इतना कि वह इतनी बीमार हो गई कि 3 सप्ताह तक बिस्तर से उठ तक नहीं सकी। किंतु उनके जज्बे ने अभी तक हार नहीं मानी थी। उनके दिल में जुनून था कि वह कुछ कर सकती है। इसी बात को उन्होंने अपनी शक्ति बनाई और सफलता की राह पर चल पड़ी। 

उन्हें बचपन से ही था इसका शौक:-

यदि शौक की बात की जाए तो सभी लोगों में एक जैसे नहीं होते हैं। कुछ लोगों को गाने सुनने का शौक होता है तो वहीं कुछ लोगों को किताबें पढ़ने का शौक होता है। वही हम माईकेला मॉर्गन के शौक के विषय में यदि बात करें तो उन्हें पेंटिंग करने का बड़ा शौक था। 

उन्होंने यह कार्य अपने बालपन से ही प्रारंभ कर दिया था और बड़े ही रुचि के साथ इसे निरंतर करती रही। उनकी इसी निरंतरता तथा नियमितता के परिणाम स्वरुप उनके आर्ट वर्क में एक अनोखी चमक आ गई। जिस चमक के लिए लोग हजारों रुपए तक लुटाने को तैयार थे। 

समय के साथ साथ माईकेला मॉर्गन कोई यह समझ में आ गया कि उनके आर्ट वर्क को कॉपी कर पाना बहुत कठिन है। यह बात उन्हें अन्य कलाकारों से बहुत ही अधिक जुदा बनाता था। 

प्रारंभ में नहीं दिया किसी को:-

शुरुआत में माईकेला मॉर्गन ने अपने द्वारा बनाए गए आर्ट वर्क को बेचने के उद्देश्य से नहीं बनाया था। प्रारंभ में वे केवल अपने लिए तथा अपने करीबियों के लिए पेंटिंग किया करती थी। 

किंतु समय के साथ-साथ उन्होंने इसे बिजनेस के शक्ल में परिवर्तित करने के विषय में भी सोचा। यह संभवत उनके जीवन का सबसे लाभकारी तथा प्रशंसा योग्य निर्णय रहा होगा। 

जब करोना काल स्टार्ट हुआ था, तब न जाने कितने लोगों ने अपने जॉब से हाथ धो दिया। इसके पश्चात भी जब करोना काल समाप्त हो गया बहुत सारा समय सभी को संभालने में लग गया था। 

किंतु इसे समयावधि में माईकेला मॉर्गन ने अपने बिजनेस के विषय में सोचा था। 

माईकेला मॉर्गन के विषय में अन्य बातें जान ले:-

माईकेला मॉर्गन ने आई एस आई के दौरान किताबों की ओर अपना आकर्षण बढ़ता हुआ देखा तथा उन्होंने बिजनेस हेल्थ तथा डिजिटल आर्ट के बारे में भी आवश्यक जानकारियां तथा ज्ञान को प्राप्त किया। 

इसके पश्चात उन्होंने कंप्यूटर के जरिए से आर्ट वर्क को जीवन में लाने की आकर्षक प्रक्रिया को खोज निकाला था। माईकेला मॉर्गन प्रारंभ से ही क्रिएटिव रही है। उनकी हर एक आर्ट अपने आप में ही एक मास्टर पीस है। 

उन्होंने कभी भी अपने आठ का एक टुकड़ा भी नहीं बेचा था किंतु अब वे अपने आर्ट , ऑयल पेंटिंग , पोस्टर तथा अन्य स्वयं के द्वारा बनाई गई चीजों को बेचने के लिए इच्छुक है। 

जानिए कितने की करती है कमाई:-

आप में से अधिकतर पाठकों को संभवत यह बहुत ही बचकानी सी बात लग रही होगी लेकिन आपको हम बता दें कि केवल अपने द्वारा बनाई गई पेंटिंग को बेचकर ही माईकेला मॉर्गन यह महीने के लाखों कमा लेती है। 

आपको बता दें कि कोरोना काल के समय माईकेला मॉर्गन ने अपने बेडरूम से ही पेंटिंग करके उसे जमा करना शुरू कर दिया। उनकी यह मेहनत अंततः रंग लाई और अब हर महीने ₹3800000 घर बैठे बैठे कामा लेती है। 

शुरुआत की थी इन चीजों से:-

जाहिर सी बात है किसी भी बिजनेस को शुरू करने के लिए पूंजी की आवश्यकता पड़ती ही है भले ही वह स्टार्टअप बिजनेस हो या किसी भी प्रकार का कोई हो उसी प्रकार से Michaela Morgan के द्वारा शुरू किए जाने वाले इस बिजनेस में उन्होंने शुरुआत में iPad Pro जैसे डिवाइस तथा इसके लिए कुछ हजार पाउंड्स को खर्च किया था। 

क्योंकि उन्होंने डिजिटल आर्ट के विषय में पढ़ रखा था इसी वजह से उन्होंने इस और अपने रुख को किया और अपने बिजनेस को आगे बढ़ाती चली गई। 

क्या आप में भी है यह जज्बा:-

समानता लोग अपने दैनिक जीवन तथा दैनिक दिनचर्या से तंग आकर कुछ ऐसे क्रियाकलापों में अपना समय व्यतीत करते हैं जिनमें समय व्यतीत करना उन्हें बहुत ही ज्यादा भाता है। 

इन्हें हमारे द्वारा शौक का नाम दिया गया है। यदि बात की जाए कुछ विशेष लोगों की तो वह अपने जीवन में कुछ ऐसे शौक रखते हैं तथा उन सबको में वे इतनी निपुणता हासिल कर लेते हैं जो उन्हें सफलता के राह पर अग्रसर करने में सहायक सिद्ध होता है। 

यदि आप में ऐसा ही कोई शौक मौजूद है जो आपके सिवा कोई अन्य आप से बेहतर कर ही नहीं सकता है तो आपको इस पर गर्व होना चाहिए। इसके अतिरिक्त आपको यह भी सोचना चाहिए कि आप किस प्रकार से अपने इस शौक को बिजनेस में परिवर्तित कर सकते हैं। 

जिस प्रकार से मैडम Michaela Morgan ने किया था। 

निष्कर्ष:-

इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको Business Idea: घर के कमरे से ही शुरू किया बिजनेस, एक महीने में कमा डाले 38 लाख के विषय में विस्तार पूर्वक बताया है हम आशा करते हैं कि हमारे आर्टिकल आपके लिए लाभकारी सिद्ध होगा। इस आर्टिकल को अधिक से अधिक लोगों तक जरूर शेयर करें। 

दूसरे लाभदायक पोस्ट पढ़ें

Important Links

WTechni HomeClick Here
Other postsClick Here
Join Telegram ChannelClick Here

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment

×