Money Back Tips : दोस्‍तों को दिए गए पैसे फंस गए, तो इस टिप्‍स को अपनायें, वसूल होगा पूरा पेमेंट

Money Back Tips : नमस्कार, आज के आर्टिकल में हम आप सभी प्यारे मित्रों का तहे दिल से स्वागत करते हैं हम आशा करते हैं कि आप सभी सकुशल और प्रसन्न होंगे और अपने लक्ष्य की प्राप्ति हेतु निरंतर प्रयास किए जा रहे होंगे.

आप सभी लोगों के साथ एक बहुत ही ज्यादा रोचक विषय से अवगत करवाने वाले हैं जो शायद आपके जिंदगी में बहुत ही ज्यादा उपयोगी तथा काम की सिद्ध हो सकती है. अगर आप भी इस उपयोगी टिप्स को समझना तथा इसके बारे में जानकारी एकत्रित करना चाहते हैं. तो इसके लिए बहुत ही ज्यादा जरूरी है कि आप हमारे आर्टिकल के साथ आखिर तक जुड़े रहे.

इसके साथ ही हमें आप कमेंट के जरिए इस बात की भी जानकारी अवश्य ही प्रदान कर दें कि क्या कभी आपके पास आपका कोई मित्र पैसे मांगने आया लेकिन आपके पास होते हुए भी आप ने मना कर दिया है.

रिश्तेदारों से किस प्रकार से पैसे वापस ले सकते हैं :-

मेरे साथ कई बार ऐसा देखने को मिलता है कि अपने मित्रों या फिर रिश्तेदारों को मदद के स्वरूप में प्रदान किए गए पैसे दोबारा से वापस नहीं मिलते हैं. इस प्रकार से पैसे वापस नहीं मिला कोई अच्छी बात नहीं होती है, अब ज्यादातर लोग या अवश्य ही सोचते होंगे कि भला इन पैसों को किस प्रकार से वसूला जाए.

पैसों की वसूली करने के वास्ते कुछ टिप्स और ट्रिक्स हम ने इस आर्टिकल में बताए हैं. अगर आप चाहे तो आप इनका प्रयोग करके अपने फंसे हुए पैसों को दोबारा से प्राप्त कर सकते हैं लेकिन इसके लिए आपको संपूर्ण जानकारी से अवगत होना पड़ेगा जो आप केवल और केवल हमारी इस आर्टिकल को पढ़ने के पश्चात ही हो सकते हैं.

लगभग सभी में होती है यह प्रवृत्ति :-

कई बार ऐसा देखने को मिलता है कि ज्यादातर लोग अपने करीबियों की सहायता जिस भाव से अक्सर किया करते हैं जरूरतमंदों की मदद करना उनके व्यवहार में शामिल होता है, निसंदेह रूप से आप में से ज्यादातर लोगों का स्वभाव भी ऐसा ही होगा. शायद कभी ऐसा होता होगा कि जब आप अपने करीबियों को पैसे देने से मना कर दे.

कई बार ऐसा भी देखने को मिलता है कि अच्छी नियत से दिए गए पैसे भी लौट कर नहीं आते हैं, अगर साफ साफ कहा जाए तो वह पैसे उलझ जाते हैं. आपने भी किसी को पैसे दिए हैं और यदि वह अब पैसे लौटाने में आनाकानी कर रहा है तो इसके लिए आपको जिस तरह से और सबसे से पैसे वसूले हैं इसकी जानकारी होनी चाहिए.

ये भी अवश्य पढ़ें:

सादे कागज का साइन होता है सबूत :-

सादा कागज या फिर इस टाइम पेपर पर यदि आप कर्जदार से साइन करा लिए तो फिर उससे काम आसानी से बन सकता है. वरिष्ठ अधिवक्ता ने इस बात की जानकारी प्रदान की है कि इस प्रकार से आपको अपने पैसे इतनी आसानी से नहीं प्राप्त हो पाएंगे किंतु कानूनी तौर पर वसूल ना सरल नहीं होता है. इन पैसों को वसूल करने में आपको बहुत सारे दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है.

वैसे तो यदि आपने कर्जदार से सिग्नेचर करवा कर सबूत बना लिया है तो इसका अर्थ यह होता है कि दोनों अर्थात कर्जदार और देवदार के मध्य में लिखित समझौता हुआ हुआ है. ऐसे में यह एक प्रकार से आपके वास्ते दिए गए पैसों की रसीद साबित हो सकती है जिसे आप पुनः से प्राप्त कर सकते हैं.

क्या बिना कागज के दिया जा सकता है कर्ज :-

ज्यादातर मामलों में देखने को मिलता है कि अधिकतर लोग किसी अपने के कहने पर भरोसा करते हुए कर्ज आसानी से दे देते हैं अर्थात समझ लीजिए कि आपने कागज पर सिग्नेचर तक भी नहीं करवा कर रखा है और कर प्रदान कर दिया है.

अब आपके समक्ष वाला पैसा नहीं दे रहा है, तो ऐसे में आप क्या कर सकते हैं. इस सिचुएशन में आप लेनदेन के समय में मौजूद रहे दो गवाह को पेश कर सकते हैं. इसके बाद आप अपने नजदीकी थाने पर जाएं तथा वहां शिकायत करें कि कर्ज लेने के पश्चात भी कर्जदार आपके पैसे को लौटा नहीं रहा है. आपके पास कोई विकल्प नहीं होगा ऐसे में यह मामला अपराध माना जाएगा और इसमें कानूनी कार्यवाही भी की जा सकती है.

थाने में क्रिमिनल केस या फिर कोर्ट केस में सिविल केस :-

पुलिस थाने में आपके रिपोर्ट पर गौर किया जाएगा धोखाधड़ी का केस दर्ज किया जा सकता है. इसके अतिरिक्त फिर क्रिमिनल केस के अंतर्गत जांच पड़ताल चार्ट शीट तथा उसके पश्चात कोर्ट में केस भी चलेगा. इसके साथ कोर्ट के द्वारा फैसला भी लिया जाएगा आपको बता दें कि इस केस की सीधे कोर्ट में कंप्लेन भी दर्ज करवा जा सकती है.

एक बार कानूनी कार्यवाही प्रारंभ होने के पश्चात इस बात की पूरी संभावना है कि आपका अपने पैसे वापस मिल ही जाएंगे लेकिन अगर ऐसा नहीं होता है तो आपको सब कुछ कानून पर छोड़ देना होगा.

किस प्रकार से प्राप्त हो सकते हैं पैसे :-

आपको हम इस बात से अवगत करवा दे कि कोर्ट में चल रहे क्रिमिनल केस में कर्जदार की गिरफ्तारी तक हो सकती है. इसके साथ ही यदि कोर्ट में जुर्म साबित हो जाता है तो उसे सजा भी दी जाएगी यदि कोर्ट ने आप के पक्ष में फैसला सुनाया है तो आपको पैसा भी मिलेगा.

इसके साथ ही उसे सजा भी दी जाएगी ऐसे तो कई बार फैसला आने से पहले ही कर्ज़दार के मन में जेल जाने का भय उत्पन्न होने लगता है इसके परिणाम स्वरुप वह अपना पैसा जल्द से जल्द लौटा देता है.

निष्कर्ष :-

आज के इस आर्टिकल में हमने आप सभी लोगों के साथ एक बहुत ही ज्यादा जरूरी विषय पर विचार विमर्श किया है. हमने बताया कि आप किस प्रकार से अपने सगे संबंधी, अच्छा दोस्त, रिश्तेदार से पैसे वापस ले सकते हैं जो आप दे चुके हैं. हम आशा करते हैं कि हमारे प्रयास आपको बहुत ज्यादा पसंद आया होगा. हमारे आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ जरूर शेयर करें.

लाभदायक पोस्ट पढ़ें


Important Links

WTechni HomeClick Here
Other postsClick Here
Join Telegram ChannelClick Here

Ahmed Ruhul Amin

हिंदी भाषा के माध्यम से सरकारी योजना, परीक्षा, नौकरी, तकनीक और ट्रेंडिंग जानकारी लिखना मुझे बहुत पसंद है.

Leave a Comment