महिला पुलिस इंस्पेक्टर कैसे बने?

पुलिस भारत की एक महत्वपूर्ण फोर्स है। प्रत्येक राज्य की अपनी – अपनी, अलग – अलग पुलिस फ़ोर्स होती है। आज हर कोई पुलिस बनने के ख़्वाब देखता है। हर वर्ष प्रत्येक राज्य द्वारा पुलिस की भर्तियाँ निकाली जाती है जिनमे लाखों विद्यार्थी आवेदन करते है पर संपूर्ण जानकारी ना होने कारण अनेक ग़लतियाँ कर देते है।

जैसा कि आज लगभग सभी क्षेत्र में महिलाएं अपना अहम योगदान कर रही है। मतलब की आजकल तो महिलाएं भी किसी भी कार्य में पीछे नहीं है। वह हर क्षेत्र में बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रही है तो बह पुलिस फोर्स में पीछे कैसे रह सकती है। अब तो महिलाओं ने ऐसा लोहा मनवा लिया कि वह पुरुषों से आगे रहती है चाहे वह शिक्षा का क्षेत्र हो या राजनीति का या किसी अन्य का तो आज की पोस्ट में हम बताएँगे कि महिला इंस्पेक्टर कैसे बने?

उसके लिए क्या योग्यता होनी चाहिए? आदि जिससे उन्हें अपने लक्ष्य को हासिल करने में किसी प्रकार की कोई समस्या का सामना ना करना पड़े।

तो ये पोस्ट उन महिलाओं के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण साबित होने वाली है जो पुलिस इंस्पेक्टर बनने का ख़्वाब देख रही है या तैयारी कर रही है। क्योंकि आज हम आपको इस जॉब से जुड़ी तमाम जानकारी को इस लेख के माध्यम से शेयर करने जा रहे है, सो लेख को ध्यानपूर्वक अंत तक पढ़े –

महिला पुलिस इंस्पेक्टर क्या है ?

सबसे पहले हम बात करते है कि पुलिस क्या हैं? इसका क्या कार्य होता है? यह कैसे काम करती है? पुलिस एक सुरक्षा बल होता है। यह देश की अंदरूनी सुरक्षा करती है जिस प्रकार सेना देश की सीमा की बाहरी गतिविधियों से सुरक्षा करती है।

इसका कार्य देश व राज्य के नागरिकों को संविधान के अनुरूप रहने व कार्य करने के लिए बाध्य करना होता है। अब बात करते है कि महिला पुलिस इंस्पेक्टर क्या होता है ? पुलिस में कई तरह के पद होते है जैसे – कमिश्नर, डीएसपी, डी आइजी ,आइजी एसएसपी, एसपी आदि इन्हीं में इंस्पेक्टर का भी एक पद होता है। अगर इस पद को कोई महिला सुशोभित करती है या इस पर आसीन होती है तो उसे महिला इंस्पेक्टर कहते है।

इस पद को पाना हर किसी भी महिला के लिए सपने भरा होता है, और बैसे भी पुलिस ऐसा विभाग होता है जिसमे समाज के द्वारा काफी काफी रेस्पेक्ट मिलती है साथ ही देश की सेवा करने का मौका मिलता है।

महिला पुलिस इंस्पेक्टर की देख रेख में थाने में कार्यरत पुलिस कर्मियों को काम करने की नई दिशा दी जाती है और अपने एरिया के लोगो के क्राइम आदि को रोकने की पूरी जिम्मेदारी इस पद पर तैनात महिला को दी जाती है।

काफी महिलाएं है जो पुलिस विभाग के इस पद के लिए तैयायरी करती है लेकिन अक्सर उनके पास उचित जानकारी न होने के कारण यह समस्या का विषय बन जाता है बस इसी बात को ध्यान में रखते हुए आज हम आपके साथ इस महत्वपूर्ण जानकारी को शेयर करने जा रहे है।

महिला पुलिस इंस्पेक्टर कैसे बने?

सरकारी नौकरी पाना आज लगभग हर युवा, युवती का का अपना सपना होता है वही अगर सरकारी नौकरी की बात करे तो पुलिस ऐय ऐसा डिपार्टमेंट जिसके लिए आज युवाओं और युवतियों में काफी जोश देखने को मिलता है।

वही महिला पुलिस इंस्पेटर बनने के लिए शुरू से ही अपनी तैयारी शुरू कर देती है बैसे अब इस जॉब को पांना तो आज हर महिला का सपना हो सकता है लेकिन इस जॉब को पांना इतना आसान काम भी नही होता है।

इसके लिए काफी मेहनत करनी होती है साथ इस सरकारी नौकरी के लिये सबसे बड़ी चीज वो यह कि इसमे शारीरिक परीक्षण,दौड़ आदि को सबसे ज्यादा महत्व दिया जाता है इसलिए इसको पाना थोड़ा मुश्किल होता है।

लेकिन अगर आपको पहले से इसकी पूरी जानकारी मिल जाती है तो आप आसानी से इसकी तैयारी पहले से कर सकते है और फिर जॉब को पाना काफी हद तक आसान हो सकता है। 

क्योंकि अब आपको महिला पुलिस इंस्पेटर बनना है तो इसकी आसानी के लिए आपको इसके लिए योग्यता, दौड़ वजन आदि की क्या पात्रता होती है उसके बारे में जान लेना बहुत जरूरी है। तो चलिय जानते है –

योग्यता

जैसा कि मै आपको पहले ही बता चुका हूं कि पुलिस फोर्स में कई तरह के पद होते है। उनकी अपनी – अपनी अलग – अलग योग्यताएं होती है। उसी के आधार पर उसकी परीक्षाएं भी होती है।

उस पद को पाने के लिए उन योग्यताओं को पूरा करना पड़ता है तब जाकर हम लोग उस पद को प्राप्त कर पाते है । इसी तरह महिला पुलिस इंस्पेक्टर के पद की भी अपनी अलग योग्यताएं होती है जिन्हे पूरा करने पर ही कोई महिला पुलिस इंस्पेक्टर बन सकती है जिन्हे नीचे हम विस्तार से बता रहे है –

आवश्यक पात्रता

अगर किसी महिला को पुलिस इंस्पेक्टर बनना है तो उसे नीचे दी गई योग्यताओं को पूरा करना पड़ेगा

  • सर्वप्रथम वह महिला भारत की नागरिक होनी चाहिए।
  • वह किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन पास होनी चाहिए।
  • उसकी आयु 21 वर्ष से 30 बर्ष के बीच होनी चाहिए।

शारीरिक दक्षता

पुलिस में भर्ती होने के लिए जिस तरह पुरुष को फिजिकल रिक्योरमेंट पूरी करनी पड़ती इसी तरह महिलाओं को भी कुछ फिजिकल रेक्योरमेंट को पूरा करना पड़ता है। ये सामान्य वर्ग के लिए अलग तथा आरक्षित वर्ग के लिए अलग होती है। जो निम्न है –

सामान्य वर्ग के लिए

  • इस वर्ग की महिलाओं की पुलिस इंस्पेक्टर बनने के लिए हाइट 150 cm होनी चाहिए।
  • महिलाओं को 2.5 किलोमीटर दौड़ 14 मिनट में पूरी करनी होती है।
    पुरुष की तरह महिलाओं की छाती की कोई रेक्योरमेंट नहीं होती है।

आरक्षित वर्ग के लिए

  • आरक्षित वर्ग की महिलाओं की पुलिस इंस्पेक्टर बनने के लिए हाइट 149 सेंटीमीटर होनी चाहिए ।
    इनकी दौड़ भी सामान्य वर्ग के समान होती है।’
  • इस वर्ग की महिलाओं की भी छाती की कोई रेक्योरमेंट नहीं होती है।

सैलरी

जैसा कि हम सभी जानते है कि कुछ पाने के लिए हर व्यक्ति कोई काम करता है उसके बदले में उसे कुछ मिल जाए ऐसी आशा रखता है। जैसे कोई मजदूर कोई काम करता है उसके बदले में उसे मजदूरी के रूप में उसे कुछ पैसे मिलते है जिससे वह अपना और अपने परिवार का भरण पोषण करता है।

इसी तरह सरकार भी पुलिस इंस्पेक्टर को उसकी सेवा के बदले हर महीने कुछ रुपए देती है जिसे सैलरी य वेतन कहते है जिससे उसका व उसके परिवार का भरण पोषण होता है। अगर इंस्पेक्टर की सैलरी य वेतन की बात करे तो सातवें वेतन आयोग के अनुसार इनकी सैलरी 29700 से 104300 तथा ग्रेड पे 13800 प्रति माह है।

कैसे तैयारी करे?

अधिकांश अभ्यर्थी पुलिस बनने की इच्छा तो रखते है साथ ही पुलिस इंस्पेक्टर बनने के लिए मेहनत भी करते हैं पर सफल नहीं हो पाते हैं इसका मुख्य कारण है कि वह मेहनत तो करते है पर सही तरीके ,सही दिशा में नहीं करते है और असफल हो जाते है।

सबसे पहले जो अभ्यर्थी पुलिस इंस्पेक्टर बनना चाहता हैं तो उसे उसकी पात्रता को पूरा करना चाहिए जैसे कि मै पहले ही बता चुका हूं कि उसे किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन पूरी करनी चाहिए। फिर इसकी तैयारी करनी चाहिए। इसके लिए अभ्यर्थियों को लिखित परीक्षा, शारीरिक परीक्षा व साक्षात्कार से गुजरना पड़ता है।

अधिकांश अभ्यर्थी लिखित परीक्षा तो उत्तीर्ण कर लेते पर शारीरिक परीक्षा पास नहीं कर पाते है इसीलिए इस परीक्षा की प्रतिदिन समय सारणी के अनुसार करनी चाहिए।

बैसे भी सभी जानते है कि हर साल इस वविभाग में हर साल अलग – अलग राज्य में अनेक पदों के लिए भर्ती निकाली जाती है जिसमे काफी महिलाएं आवेदन करती है। अब क्योकि पदों से ज्यादा संख्या में आवेदन किये जाते है इसलिए उस परीक्षा को पास करने के लिए कॉम्पटीशन काफी बढ़ जाता है।

तो ऐसे में इसके एक्सआम को पास करने के लिए बेहतर मेहनत करने की आवश्यकता होती है तभी आप इस परीक्षा में अच्छे अंक लेकर इसे क्रॉस कर सकती है और इस जॉब को पाकर अपना सपना सच कर सकती है।

नीचे हमने महिला पुलिस इंस्पेक्टर की तैयारी कैसे करे या इसके लिए किस रूटीन के साथ तयारी करनी चाहिए इसके कुछ पॉइंट को बताया है जिन्हें फॉलो करके आप काफी हद तक आप इसकी परीक्षा को आसान बना सकते है।

  • इसकी परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए आपको कम से कम 6 महीने पहले से क्रमबद्ध तरीके से तैयारी प्रारंभ कर देनी चाहिए
  • इसकी तैयारी के लिए मॉडल पेपर तथा प्रतियोगी परीक्षाओं की किताबों आदि प्रयोग करना चाहिए
  • तैयारी से पहले परीक्षा पैटर्न का ज्ञान होना चाहिए।
  • परीक्षा की तैयारी के लिए किसी इंस्टीट्यूट या कोचिंग संस्थान की सहायता अवश्य लेनी चाहिए।
  • लिखित परीक्षा की तैयारी के साथ साथ फिजिकल की भी तैयारी भी नियमित रूप से करनी चाहिए जैसे – दौड़ आदि।
  • परीक्षा की तैयारी पूरे आत्मविश्वास के साथ करनी चाहिए तथा हमेशा स्टडी पर फोकस बनाए रखना चाहिए। साथ ही साथ एक्सपर्ट से सलाह लेते रहना चाहिए।

सिलेबस

हर एक परीक्षा का अपना एक सिलेबस निर्धारित होता है इस परीक्षा का भी अपना सिलेबस हैं। इसकी लिखित परीक्षा में 100 प्रशन पूछे जाते है प्रत्येक प्रश्न के 0.60 निर्धारित किए गए है।

गलत उत्तर देने पर 0.15 अंक की कटौती की जाती। परीक्षा के लिए 90 मिनट का समय निर्धारित है। इसमें जनरल नॉलेज , जनरल अवेयरनेस , मैथ तथा रीजनिंग से क्वेशचन पूछे जाते है। हर एक प्रश्न के चार विकल्प दिए होते है जिसमें से एक सही होता तथा शेष गलत होते है।

चयन प्रक्रिया

इस परीक्षा में चयन अंकों के आधार पर होता है। जो अभ्यर्थी लिखित परीक्षा में सफल हो जाते है उन्हें फिजिकल परीक्षा के लिए बुलाया जाता है।

फिर जो अभ्यर्थी फिजिकल परीक्षा में भी सफल हो जाते है उन्हें डाक्यूमेंट्स वेरिफिकेशन व साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है फिर जो इसमें भी सफल हो जाते है, उन्हें नियुक्ति पत्र देकर ट्रेनिंग के लिए भेज दिया जाता है।

महिला पुलिस इंस्पेक्टर के कार्य

इस पद पर कार्यकर्त महिला की काफी जिम्मेदारियां होती है।

  • मुख्य रूप से महिला पुलिस इंस्पेक्टर की देख रेख में थाने में मौजूद कर्मचारियों को काम करने के दिशा निर्देश देने का कार्य किया जाता है।
  • अपने एरिया में हो रहे क्राइम को रोकना इनका मुख्य उद्देश्य होता है।
  • अपराधियों को दंडित करना।
  • आदि

संक्षेप

पुलिस विभाग में नौकरी पांना परिवार और अव्यर्थी दोनों के लिए गौरव की बात होती है। वही महिलाओं के लिए पुलिस इंस्पेक्टर बनना उनके लिए किसी सपने से कम नही होता है।

लेकिन यह इटना आसान भी नही होता है क्योंकि पुलिस देश का काफी बड़ा डिपार्टमेंट जिसमे हर साल काफी पदों के लिए भर्ती निकाली जाती है जिसमे महिला इंस्पेक्टर काफी अहम पड़ होता है।

जिसे पाने के लिए कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता होती है। क्योकि पुलिस में अधिक संख्या में पदों के लिए आवेदन करने के बजह से इसमे कॉम्पटीशन दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है।

ऐसे में इस परीक्षा को वही पास कर पाता है जो पहले से इसकी अपनी अच्छी तैयारी करते हुए चलती है। सो अब अगर आप इस नौकरी को पांना चाहती है और इस परीक्षा को पास करना चाहती है तो हमारे इस लेख में शेयर की गई जानकारी आपके लिए बेहद उपयोगी है आप इसके हिसाब से सम्पूर्ण जानकारी हासिल करके इस पद को काफी आसानी से हासिल करके अपने सपने को पूरा कर सकती है।

आपको हमारा आज का यह लेख कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताये साथ ओस लेख को अपने साथी महिला जो पुलिस महिला इंस्पेक्टर की तैयारी कर रही है उनके साथ अवश्य शेयर करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here