Java क्या है – What is Java in Hindi?

जावा एक high-level programming language है जो Sun Microsystems कंपनी के द्वारा विकसित की गई थी. यह मुख्य तौर से सेट-टॉप बॉक्स और हाथ में पकडे जाने वाले डिवाइस के लिए developing programs के लिए डिज़ाइन किया गया था.

लेकिन बाद में वेब एप्लिकेशन बनाने के लिए एक लोकप्रिय लैंग्वेज बन गया. जावा सिंटैक्स C ++ के समान ही होता है, लेकिन सच्चाई में object-oriented प्रोग्रामिंग भाषा है.

आज इस आर्टिकल में हम Java programming language के बारे में जानने वाले है जिसका उपयोग आज कंप्यूटर, मोबाइल फ़ोन और कई अन्य जगह पर किया जाता है.

यह एक ऐसी लैंग्वेज जिसका नाम आज इस इंटरनेट की दुनिया मे लगभग सभी ने एक बार तो सुना होगा.

अगर नहीं सुना तो आज जान जायेंगे की Java क्या है जावा कैसे सीखे हिंदी (What is Java in Hindi)?

दुनिया भर में आज जावा programming language की डिमांड बढ़ती जा रही है. इस डिमांड को देखते हुए ही आज स्टूडेंट को इस के लिए स्पेशल क्लास लगाई जाती है.

इसके अलावा इसे सीखने के लिए स्टूडेंट पैसे देकर कोचिंग सेंटर भी जॉइन करते है ताकि उन्हें लैंग्वेज का अच्छा ज्ञान हो सके.

इसकी इस बढ़ती डिमांड को देखते हुए आज यह पोस्ट हमने तैयार की है जिसमे हम जावा लैंग्वेज क्या है, जावा लैंग्वेज कैसे सीखें इसका इतिहास क्या है आदि के बारे में एक-एक करके विस्तार से जानेंगे.

यदि आपको इसके बारे में अधिक जानकारी नही है या फिर आप जावा लैंग्वेज सीखना चाहते है तो इस पोस्ट को पूरा नीचे तक ध्यान पूर्वक पढ़े.

जावा का परिचय – JAVA Programming Language in Hindi

Java एक Open Platform कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है.

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज इसीलिए क्यूंकि जावा कम्पाइलर प्रोग्राम में दिए गए निर्देशों को Bytes Codes में परिवर्तन करता है.

जो कि किसी भी कंप्यूटर मशीन में चलाया जा सकता है और प्रिमिटिव डेटा टाइप्स का आकार मशीन का युक्त ( machin Independent) होता है.

मतलब की इस प्रकार के डेटा के लिए किसी किसी विशेष प्रकार की कंप्यूटर मशीन की जरूरत नही होती है.

यह किसी भी कंप्यूटर मशीन पर प्रयोग किये जा सकते है और प्रोग्रामिंग भाषा मे बनाये गए प्रोग्राम को किसी भी कंप्यूटर पर चलाया जा सकता है.

यह लैंग्वेज अन्य प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की तुलना में काफी पोर्टेबल लैंग्वेज है. इस भाषा में लिखा गया प्रोग्राम किसी भी कंप्यूटर में सरलता से कॉपी हो जाता है.

इसके अलावा इसे चलाने के लिए सिस्टम के हार्डवेयर, माइक्रो प्रोसेसर और सॉफ्टवेयर में परिवर्तन करने की आवश्यकता नही होती है.

इसके माध्यम से हम एक ही कंप्यूटर पर प्रयोग होने वाले प्रोग्राम्स बना सकते है.

जैसे की प्रोग्राम भाषा C और C++ में बनाये जाते है.

यह पूरी तरह से प्रोग्राम भाषा C और C++ पर आधारित है.। लेकिन इसमे कुछ ऐसी विशेषताए है जो C और C++ से बिल्कुल अलग है.

यह दुनिया भर की 3 मिलियन से भी ज्यादा डिवाइस में आपको देखने को मिल जाएगी. जिससे आप अंदाजा लगा सकते है की यह कितनी पॉपुलर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज हो सकती है.

यह एक ऑब्जेक्ट ओरियंटल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसे High level लैंग्वेज के रूप में जाना जाता है.

इसे हाई लेवल लैंग्वेज इसलिए माना जाता क्योंकि इसे आसानी से लिखा और पढ़ा जा सकता है.

आज एक ऐसी भाषा बन चुकी है जिसका महत्व हर जगह काफी बढ़ता जा रहा है. यही कारण है कि आज सभी लोग चाहे वह स्टूडेंट हो या फिर कोई और सभी इस लैंग्वेज भाषा को सीखना चाहते है.

सबसे अच्छी बात स्टूडेंट के लिए यह है कि यदि आप अच्छे से इसे सीख जाते है तो इसके लिए कई जगह नौकरी पाने के अवसर बढ़ जाते है.

साथ ही आप इसकी मदद से कोडिंग सीख कर एप्लीकेशन बना सकते है और भी जगह है जहां आप इसका उपयोग कर सकते है.

इसे सीखना ज्यादा कठिन नही है. यदि आपको C, C++ की अच्छी नॉलेज है तो आप इस लैंग्वेज को भी बड़ी आसानी से सीख सकते है क्योंकि जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज C, C++ का ही base है.

अगर आप जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखना चाहते है और इसके बारे में अधिक जानकारी लेने चाहते है तो इस पोस्ट को पूरा नीचे तक जरूर पढ़ें.

जावा का इतिहास क्या है – History of JAVA in Hindi

यह एक ओरियंटल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसे James Gosling ने 1991 में Sun Microsystem के द्वारा डेवेलोप किया था.

लेकिन इसका पहला वर्जन jdk1.0 को 1995 में सार्वजनिक पब्लिक किया गया था. इसका को शुरुआती नाम oak था.

उस वक़्त इसका क्या नाम रखा जाए इसका कोई विचार नही आ रहा था और फिर गोसलिंग के कार्यकल के बाहर एक ओक नाम का पेड़ था इस ओक पेड़ को देखकर ही इसका नाम ओक रखा क्या गया.

कुछ दिन बाद इसे ग्रीन नाम से भी जाना जाता था.

हालांकि बाद में इसे बदलकर जावा रख दिया गया. जैसा की यह एक तरह से C और C++ पर आधारित भाषा है लेकिन इसके पास C, C++ से कुछ ऑब्जेक्ट मॉडल और कुछ अच्छे फीचर है.

इस भाषा को मुख्य रूप से Set-Top boxes, cable, remote, tv जैसी डिवाइस के लिए डेवेलोप किया गया. लेकिन यह कुछ ही समय मे काफी पॉपुलर हो गयी हो और आज यह प्रोग्रामिंग लैंग्वेज इंटरनेट, एप्लीकेशन डेवलोपमेन्ट, प्रोग्राम आदि कई जगह उपयोग की जाने लगी.

जैसे जैसे टेक्नॉलोग आगे बढ़ी वैसे वैसे इसके कई सारे वर्जन रिलीज़ किये गए जिसे आप नीचे देख सकते है:

  • JDK Alpha and Beta (1995)
  • JDK 1.0 ( 1996)
  • JDK 1.1 ( 1997)
  • J2SE 1.2 ( 1998)
  • J2SE 1.3 ( 2000)
  • J2SE 1.4 ( 2002)
  • J2SE 5.0 ( 2004)
  • Java SE 6 ( 2006)
  • Java SE 7 ( 2011)
  • Java SE 8 ( 2014)
  • Java SE 9 ( 2017)
  • Java SE 10 (2018)

जावा की विशेषता – Features of JAVA in Hindi

आज इस लैंग्वेज को दुनिया भर में कई मशीन प्रयोग में लायी जाती है. इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के आने से कंप्यूटर पर कार्य करने की क्षमता में काफी बदलाव देखने को मिला है.

जिसका मतलब ये है की प्रोग्रामिंग करना या फिर कहें की कोडिंग करना काफी आसान हो चुका है.

इसकी विशेषताओं के कारण आज इस लैंग्वेज का उपयोग 3 मिलियन से भी ज्यादा डिवाइस में किया जाता है.

आप खुद ही समझ सकते है कि जब 3 मिलियन से भी ज्यादा डिवाइस में इसका उपयोग किया जा रहा है.

हमने इस लैंग्वेज की कुछ महत्वपूर्ण विशेषताओं के बारे में बताया है जिन्हें आप नीचे पढ़ सकते है:

  • यह एक हाई लेवल लैंग्वेज है.
  • यह प्रोग्रामिंग लैंग्वेज अन्य लैंग्वेज जैसे C, C++ जैसी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज से ज्यादा सुरक्षित प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है.
  • यह दुनिया भर की सबसे पॉपुलर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है और आज इसका उपयोग सभी कमर्शियल सॉफ्टवेर बनाने के लिए किया जाता है.
  • इसका उपयोग करके डिस्ट्रिब्यूटेड सॉफ्टवेयर बनाया जा सकता है यानि की ऐसा सॉफ्टवेयर जिससे जुड़े अलग अलग कंप्यूटर पर एक साथ काम किया जाता है.

जावा कैसे सीखे – How to learn JAVA in Hindi

यदि आप जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखना चाहते है तो सबसे पहले आपको C, C++ जैसी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का ज्ञान होना बेहद जरूरी है.

यदि आपको C,C++ की अच्छी नॉलेज है तो आप आसानी से जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीख सकते है.

Youtube Videos

यूट्यूब खोलकर देख्नेगे तो इसमें हज़ारों ऐसे चैनल मिलेंगे जो आपको इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को सिखाएंगे.

आप अपनी भाषा के अनुसार किसी भी चैनल से इस लैंग्वेज को सिख सकते हैं.

जैसा की आप जानते की आज ज्यादा से ज्यादा काम ऑनलाइन किये जा रहे है तो आप ऐसे में जावा सीखने के लिए YouTube की मदद ले सकते है.

यूट्यूब पर जावा प्रोग्रामिंग सीखने की सभी वीडियो मिल जाएंगी जहां से आप बड़ी सरलता से जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीख सकते है।

Computer Courses Institution

हर क्षेत्र में कंप्यूटर संसथान होते हैं जो हर तरह के कंप्यूटर कोर्सेज लोगों को कराते हैं.

कंप्यूटर संस्थानों में भी आपको जावा का कोर्स करने की सुविधा दी जाती है और आप इसका लाभ आसानी से उठा सकते हैं.

जो प्रोग्राम का स्ट्रक्चर – java program structure in Hindi

जब हम कोई प्रोग्राम लिखते है तो वह Structure के रूप के स्टेप बाय स्टेप लिखा जाता है.

इसके हर प्रोग्राम में कुछ सेक्शन होते है जिसे हम प्रोग्राम का Structure कह सकते है जिसके बारे में जानना बहुत जरूरी है.

इसीलिए हममें नीचे इसकी मदद से प्रोग्राम कैसे बनाया जाता है और इसमें प्रयोग किये जाने वाले वर्गों का क्या अर्थ होता है इसके बारे में बताया है.

जावा के कुछ बेसिक Structure जो कि निम्लिखित है:

  • Documentation Section
  • Package Statement
  • Import Statements
  • Interface Statement
  • Class Definition
  • Main Method Class

Document Section

यह प्रोग्राम का कमेंट लाइन ग्रुप है। जिसमे प्रोग्राम से जुड़े दस्तावेज़ जैसे कि प्रोग्राम को कब और किसने बनाया है। इसकी जानकरी होती है।

Package Statement

प्रोग्राम में आप किसी भी नाम से पैकेज बना सकते है। पैकेज स्टेटमेंट बनाने के लिए नीचे दिए गए example की तरह use करना होता है। जैसे की

example :- package student;

Important Statement

important Statement का उपयोग C या फिर C++ को जोड़ने के लिए किया जाता है जिसका example आप नीचे देख सकते है।

example :- import calc.add;

Interface Statement

यदि प्रोग्राम में Multiple Inheritance का उपयोग करना होता है तो impletement का उपयोग किया जाता है.

class Definition

जब प्रोग्राम में Multiple Claas का use किया जाता है तब Multiple Class का Definition section में use करते है.

Example

class <class_name>

{

data member ;

member method;

}

Main Class

प्रोग्राम में कई कक्षाएं हो सकती है लेकिन स्टैंड प्रोग्राम में शुरुआत में एक बिंदी होना आवश्यक होती है।

Example

{

    main method statement 

}

संक्षेप में

आज हमने आपको जावा प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के बारे में विस्तार से बताया जो कि आज के इंटरनेट युग के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है.

यदि आप स्टूडेंट है तो यह पोस्ट आपके लिए सबसे ज्यादा उपयोगी हो सकती है.

इसे सीखने के बाद आप जावा कोडिंग का use करके App डेवेलोप कर सकते है और सॉफ्टवेयर भी बना सकते है. इस प्रकार इससे अच्छी कमाई कर सकते है.

दुनिया भर में आज ऐसे डेवलपर की नॉलेज रखने वाले लोगो की डिमांड है.

आज की हमारी पोस्ट जिसमे हमने आपको बताया की जावा क्या है (What is Java in Hindi ) और इसका इतिहास क्या है. इसके अलावा ये भी बताया की की इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को कैसे सीखें?

यदि आपको इस पोस्ट में जावा के बारे में कुछ समझ ना आया हो या फिर जावा।के बारे में आपको कुछ पूछना हो तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते है.

About Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है. लोगों को उनके जीवन में कैरियर बनाने में सही निर्देश देना और हर प्रकार के नौकरी के बारे में जानकारी देना काफी पसंद है ताकि उनका भविष्य बन सके.

1 thought on “Java क्या है – What is Java in Hindi?”

Leave a Comment