IAS Success Story : शादी टूटी, रिश्तेदारों ने सुनाए ताने, पढ़ाई कर बनीं IRS

IAS Success Story : जीवन में चाहे कितनी ही कठिनाइयों क्यों ना हो लेकिन अगर हौसलों में जान होती है तो उड़ान किस्मत में ना लिखी भी हो तब भी मुकद्दर में लिख दी जाती है. आज के हमारे आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको ठीक ऐसा ही महसूस होगा.

क्योंकि आज हमारे इस आर्टिकल  में हम आप सभी लोगों के साथ कुछ एक ऐसे सक्सेस स्टोरी को आपसे साझा करने वाले हैं, जिसे जानने के बाद आप भी यह कहेंगे कि हौसला हो तो ऐसा जो सबको पीछे छोड़ दें और सफलता की राह पर एकाग्र होकर अग्रसर हो जाए.

आज के इस आर्टिकल में हम आप सभी लोगों के साथ आईएस कोमल गणात्रा की कहानी बताने जा रहे हैं जिन्होंने अपने जीवन में बहुत ही अधिक संघर्ष किया है इनकी शादी केवल 18 दिनों में ही टूट गई थी. पति का साथ छूटने दशा रिश्तेदारों के ताने सुन-सुन के भी अपने जीवन में कभी हारी नहीं.

इसके साथ ही आईएस बनकर के आज सभी महिलाओं के वास्ते मिसाल बन चुकी है. आज के इस आर्टिकल में हम इन्हीं की सफलता आप लोगों के समक्ष प्रस्तुत करने वाले हैं.

जानिए कोमल गणात्रा को और करीब से :-

गुजरात के अमरेली जिले की रहने वाली कोमल गणात्रा ने अपने जीवन में कई तरह की परेशानियों का सामना किया. इनकी जिंदगी बहुत ही ज्यादा मुश्किलों से भरी हुई थी. कोमल के पति ने उन्हें शादी के केवल 15 दिनों के बाद ही छोड़ दिया था किंतु इस झटके से भी उन्होंने खुद को संभाल लिया. अपना संपूर्ण फोकस यूपीएससी परीक्षा में लगाकर अपने जीवन को सफल बना लिया.

इस सफलता के साथ-साथ उन्होंने अपने रिश्तेदारों के साथ साथ उन सभी लोगों के भी मुंह बंद कर दिए जो उन्हें परेशान कर रहे थे. गुजरात का बच्चा-बच्चा आई आर एस कोमल गणात्रा तथा उनके स्ट्रगल को जानता है. आपको बता दें कि कोमल गणात्रा का जन्म 1882 में गुजरात के अमरेली जिले के सावरकुंडला गांव में हुआ था.

कोमल बचपन से ही अपनी पढ़ाई लिखाई में बहुत ही ज्यादा होनहार थी उनके जीवन में कुछ बहुत से ऐसे हादसे हुए जिनके वजह से इनके आत्मसम्मान को आघात हुआ. वैसे तो उससे हारने या फिर कमजोर पड़ने के स्थान पर उन्होंने कड़ी मेहनत करे तथा यूपीएससी सीएसई कठिन परीक्षा को पास करके सभी लोगों के लिए मिसाल बन गई.

आईआरएस कोमल गणात्रा की पढ़ाई (IRS Komal Ganatra Education) :-

कोमल गणात्रा ने अपनी पढ़ाई को 3 भाषाओं में पूरी करी है उन्होंने स्कूली पढ़ाई गुजराती मीडियम से की थी इसके साथ ही 12वीं के पश्चात उन्होंने अलग-अलग यूनिवर्सिटी तथा अलग-अलग भाषाओं में ग्रेजुएशन की पढ़ाई भी करी है.

गुजराती लिटरेचर में टॉपर भी बन चुकी है.उन्होंने राजकोट सरकार पॉलिटेक्निक से इंजीनियरिंग में डिप्लोमा भी किया है. डॉक्टर बाबासाहेब अंबेडकर ओपन यूनिवर्सिटी से B.A. डिग्री तथा एक निजी संस्थान से प्राइमरी टीचर ट्रेनिंग सर्टिफिकेट भी प्राप्त किया है.

जानिए आईआरएस कोमल गणात्रा के हस्बैंड (IRS Komal Ganatra Husband) :- 

आपको बता दें कि साल 2008 में 26 साल की उम्र में कोमल जी की शादी न्यूजीलैंड में रहने वाले शैलेष के साथ कर दी गई थी. केवल 15 दिनों में ही उन्हें दहेज के वास्ते प्रताड़ित किया जाने लगा था. इसी बीच शैलेष न्यूजीलैंड वापस लौट गए थे.

इसके साथ ही उन्होंने कोमल से अपने सभी संपर्क को तोड़ दिया था फिर कोमल अपने मायके वापस लौट कर आ गई किंतु मोहल्ले वालों तथा रिश्तेदारों के दानों से दुखी होकर भी वहां से दूर चली गई. तब तक उनकी सरकारी टीचर के तौर पर नौकरी भी लग चुकी थी.

ये भी अवश्य पढ़ें:

जाने कोमल गणात्रा का यूपीएससी के सफर :-

शादी से पहले ही कोमल ने गुजरात लोक सेवा आयोग की मेंस परीक्षा को पास कर लिया था किंतु इंटरव्यू देने नहीं जा पाई थी. इस वजह से सरकारी नौकरी नहीं ले पाई उनके हाथ में आते-आते चला गया, शादी के टूटने के पश्चात वे अपने घर से दूर एक गांव में जाने के लिए चली गई थी.

उस गांव में ना तो इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध थी और ना ही अंग्रेजी का कोई भी अखबार पहुंचा करता था. इसके पश्चात भी उन्होंने अपनी तैयारी को जारी रखा, इसी दौरान वह एक स्कूल में भी पढ़ाने को जाया करती थी.

जाने क्या थी कोमल गणात्रा की रैंक :-

कोमल गणात्रा यूपीएससी परीक्षा के 3 प्रयासों में असफल रही थी. किंतु इससे उन्होंने हार भी नहीं मानी थी. आपको बता दें कि साल 2012 में यूपीएससी परीक्षा में उनका रैंक 591वीं थी. इन्होंने 591वीं रैंक को हासिल करके आई आर एस ऑफिसर की पोस्ट हासिल कर ली थी.

यूपीएससी परीक्षा की तैयारी के दौरान ही इन्होंने 1 दिन की भी छुट्टी नहीं ली थी जिस दिन स्कूल का वीकली ऑफ होता था उस दिन वह एक्स्ट्रा पढ़ाई किया करती थी.

आईआरएस कोमल गणात्रा और मोहित शर्मा :-

सिविल सर्विस की परीक्षा में सफल होने के पश्चात कोमल ने अपने जिंदगी को नए सिरे से शुरू किया और दोबारा से शादी कर लिया आपको बता दें कि उनके पति मोहित शर्मा गुजरात हाईकोर्ट में ज्यूडिशियल ऑफिसर (Judicial Officer) के पद पर कार्यरत है. इन दोनों की ताक्षवी नाम की एक प्यारी सी बेटी भी है. कोमल गणात्रा का जीवन सब लड़कियों के वास्ते एक बहुत बड़ी सीख है.

आईआरएस कोमल गणात्रा से हमें क्या सीख मिलती है :-

वैसे तो ऐसे बहुत सारे लोग मौजूद होते हैं जो छोटी-छोटी बातों को लेकर खुश हो जाते हैं और छोटी-छोटी बातों से दुखी भी हो जाते हैं. लेकिन जब सब कुछ बुरा होता है और कहीं से भी कोई उम्मीद नहीं होती है उस समय जो साहस तथा बहादुरी से काम लेता है वही लोगों के समक्ष मिसाल बनकर उभरता है.

हमें कोमल जी से सीखना चाहिए कि जीवन में परिस्थितियां चाहे जो भी हो लोग चाहे जो भी कह रहे हो सदैव अपने लक्ष्य के प्रति एकाग्र और क्रियाशील रहना चाहिए, क्योंकि एक बार सफलता मिलने के पश्चात वह सभी लोगों के मुंह बंद कर देती है.

निष्कर्ष :-

आज के इस आर्टिकल में हमने आप सभी लोगों के साथ आईआरएस कोमल गणात्रा के संघर्ष में जीवन के विषय में आवश्यक जानकारियां साझा की है. हम आशा करते हैं कि हमारा यह प्रयास आपको बहुत ही ज्यादा पसंद आया होगा.

लाभदायक पोस्ट पढ़ें


Important Links

WTechni HomeClick Here
Other postsClick Here
Join Telegram ChannelClick Here

Post navigation

Ahmed Ruhul Amin

हिंदी भाषा के माध्यम से सरकारी योजना, परीक्षा, नौकरी, तकनीक और ट्रेंडिंग जानकारी लिखना मुझे बहुत पसंद है.

Leave a Comment