House Materials Cost : लोहा, गिट्टी और सीमेंट सहित सारे मटेरियल हुए सस्ते जल्दी ख़रीदे

आपको जानकर अत्यंत प्रसन्नता होगी कि अब सीमेंट सरिया के भाव में गिरावट आई है। आपकी जानकारी के लिए हम आपको यह भी बता दें कि गिट्टी एवं सीमेंट सहित बहुत सारे मटेरियल भी सस्ते हो गए हैं जिससे कि सभी लोगों को सुनहरा अवसर प्रदान किया जा रहा है जिनका भी स्वप्न में स्वयं का घर बनाना। 

आपको हम यह भी बता दे कि लोहा गिट्टी सीमेंट के साथ-साथ सारे घर बनाने के मैटेरियल्स सस्ते हो चुके हैं। इसका फायदा अब हर एक आम व्यक्ति उठा सकता है। चले प्रारंभ करते हैं आज के हमारे इस आर्टिकल को और जानने का प्रयास करते हैं कि उनके मूल्यों में इतनी परिवर्तन किस प्रकार से आई। 

न केवल इनके मूल्य गिरे हैं अपितु घर बनाने में प्रयोग किए जाने वाले अन्य आवश्यक मटेरियल जैसे ईट, चिप्स, रेट इत्यादि के भी नाम घटे हैं। इस वजह से पूरी तरह से अनुकूल समय बन चुका है जब आम नागरिक अपने घर बनाने के सपनों को पूर्ण कर सके। किंतु आपको शीघ्र ही करना होगा क्योंकि इनके दाम अभी घटे हैं किंतु बरसात खत्म होने के पश्चात संभवत इंतजाम फिर से बढ़ा दिए जाएं और आपके हाथों से यह सुनहरा अवसर चला जाए। 

जल्द प्रारंभ कर ले :-

आप स्वयं का घर बनाने के इच्छुक है किंतु इस महंगाई भरे दौर में असंभव प्रतीत हो रहा है कि आपके लिए सुनहरा अवसर आ चुका है उसका फायदा आप समय रहते उठा ले वरना आप से अत्यंत दूर चला जाएगा। अभी सभी आवश्यक मटेरियल के दामों में गिरावट आई है ऐसा मौका दोबारा मिलने वाले नहीं हैं। 

इसके साथ ही केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत लोगों को धनराशि का सहायता भी प्रदान करना प्रारंभ कर दिया है किंतु उन्हें एक सीमित ही धनराशि प्रदान की गई है। किंतु यदि इन सभी आवश्यक सामग्रियों का मूल्य बढ़ जाता है तो उन्हें दिक्कत आ सकती है। 

कितने बचत भवन निर्माण में निर्धारित की जाएगी :-

जिस प्रकार से सरिया तथा सीमेंट के दामों में तेजी से बढ़ोतरी की जा रही थी उसी प्रकार से फिलहाल में भवन निर्माण की सामग्रियों में कमी देखने को मिल रही है।

सरिया की बात करें तो प्रत्येक किलो ₹15 से ₹20 की गिरावट देखने को मिली है वहीं दूसरी तरफ सीमेंट में प्रति किलो लगभग ₹35 से लेकर के ₹45 तक गिरावट देखने को मिली है। किंतु स्मरण रहे कि ब्रांडो के अनुरूप ही दामों में गिरावट हुई है। 

इसके बारे में सभी जानते हैं कि मकान को बनाने में सीमेंट लगभग 30% और सरिया का 15% तक का योगदान होता है। इसी तरह से 45% निर्माण सीधे-सीधे सस्ता हो जा रहा है।

यदि आप यह मान के चले कि मकान बनाने में आपको पहले 2500000 रुपए लग रहे थे किंतु वही जब सामग्रियों की कीमतों में गिरावट देखने को मिली है तब आप 22.30 लाख रुपय मे अपने घर का निर्माण कर सकते हैं। कहने का तात्पर्य है कि आप लगभग ₹90000 केवल सरिया से ही बचा लेंगे वहीं ₹180000 सीमेंट से बचा सकते हैं।

 ये भी अवश्य पढ़ें:

जानिए 5 महीने का रिकॉर्ड सरिया सीमेंट के दामों में :-

आपकी जानकारी के लिए हम आप को इस बात से अवगत करवा दे सीमेंट के दामों में अभी बहुत लचीलापन देखने को मिल रहा है। पिछले 5 महीनों से सरिया के दामों में ₹15 से लेकर के ₹20 प्रति किलोग्राम के मूल्य से अर्थात प्रति क्विंटल लगभग ₹1500 से लेकर के ₹2000 तक की कमी देखने को मिली है।

आपको बता दें कि पहले सरिया का दाम लगभग ₹50 से लेकर के 55 रुपए प्रति किलो तक का था। सरिया प्रति क्विंटल के ऊपर ₹5000 से लेकर ₹5200 पढ़ता था। 

अभी बात करे सीमेंट की तो पहले ₹350 से लेकर ₹410 तक की एक बोरी आती थी। किंतु अब इसमें ₹40 से लेकर के ₹50 तक की गिरावट देखने को मिल रही है। अभी आपको सीमेंट के भाव प्रति बोरी ₹280 से लेकर के ₹320 तक देखने को मिल सकता है। 

जो कि पिछले कई वर्षों से बहुत ही ज्यादा कम है। यदि आप सत्य में मकान बनाने के इच्छुक हैं तो आपको शीघ्र ही भवन निर्माण के कार्य को प्रारंभ कर देना चाहिए क्योंकि अभी इन सभी के मूल्यों में बहुत बड़ी गिरावट देखने को मिल रही है जो संभवत अधिक समय तक नहीं रहेगी। 

सीमेंट दुकानों से नहीं कंपनियों से होगा फायदा:-

सीमेंट के जितने भी बड़े खरीददार है उनका यही कहना है कि अगर बड़े-बड़े मकानों के निर्माण हेतु यदि उन लोग को की डिमांड को देखें तो घर बनाने के वास्ते कांट्रेक्टर सीधे कंपनी से ही सीमेंट खरीदने को प्राथमिकता देते हैं। यदि इसके कारण की बात की जाए तो इसका कारण यह है कि इसमें ज्यादा मार्जिन मिलता है। यदि बात करें 5 महीने पहले की तो कंपनी से ₹250 से लेकर के ₹260 प्रति कट्टा मिल रहा था किंतु वर्तमान में सीमेंट के दामों में यदि कंपनी से कोई व्यक्ति सीधा खरीदता है जो उसे ₹160 से लेकर के ₹170 तक प्रति कट्ठा चुकाना पड़ेगा। 

ईटों के भाव भी गिरे :-

यदि ईटों की कीमतों की बात की जाए तो इसके भी बिक्री में लगभग 1 से लेकर 2000 प्रति हजार यूनिट की कमी देखने को मिल रही है। ईटों के व्यापारियों के अनुसार पता चला है कि अभी जो रेट चल रहा है वही तो का ही एक नंबर ईटों लगभग एक हजार के लगभग ₹5500 में मिल रहे हैं। उसी प्रकार से दो नंबर की यदि बात करें तो इसके 1000 का मूल्य ₹4500 है।  तीसरे नंबर की ईंटों की बात करें तो इसके 1000 ईटों की कीमत एक ₹3500 है। 

यदि आपका भी सपने स्वयं का मकान बनाना है तो आपके लिए यह बेहद ही सुनहरा अवसर है लोहा गिट्टी तथा सीमेंट सहित सारे आवश्यक मैटेरियल्स के नाम जमीन पर मानो बिखरे पड़े हैं।

निष्कर्ष :-

हम सब पाठक के साथ हमने इस आर्टिकल के माध्यम से कुछ आवश्यक जानकारियां साझा की है हम आपको बता दे आर्टिकल के सहायता से हमने आप सब पाठकों के साथ सीमेंट सरिया के भाव में आए परिवर्तन के विषय में संक्षिप्त विवरण प्रदान किया है। अभी आप हमसे कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं तो हमें कोई सुझाव देना चाहते हैं तो यह कार्य आप कमेंट के जरिए आसानी से कर सकते हैं। 

लाभदायक पोस्ट पढ़ें  


Important Links

WTechni HomeClick Here
Other postsClick Here
Join Telegram ChannelClick Here

Post navigation

Ahmed Ruhul Amin

हिंदी भाषा के माध्यम से सरकारी योजना, परीक्षा, नौकरी, तकनीक और ट्रेंडिंग जानकारी लिखना मुझे बहुत पसंद है.

Leave a Comment