House Material Cost: औंधे मुंह गिरे सरिया-सीमेंट के दाम, जल्द घर बनाना  कर दें शुरू,भवन निर्माण सामग्रियों में आई नरमी।

House Material Cost: औंधे मुंह गिरे सरिया-सीमेंट के दाम,जल्द घर बनाना  कर दें शुरू,भवन निर्माण सामग्रियों में आई नरमी।हेलो दोस्तों क्या आप भी अपने सपनों का घर बनाने की सोच रहे हैं। तो आपको बता दें कि आप अभी से अपने सपनों का घर बनाना शुरू कर दे क्योंकि सरिया सीमेंट एवं भवन निर्माण सभी सामग्रियों के दामों में गिरावट आई है।

अगर आप जानना चाहते हैं कि भवन निर्माण के किन-किन सामग्रियों में कितनी गिरावट आई है तो आप हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें क्योंकि यहां आपको पूरी जानकारी मिलने वाली है।

घर बनाना हुआ आसान,भवन निर्माण सामग्रियों में आई गिरावट

जी हां दोस्तों जो भी लो अपने सपनों का घर बनाना चाहते हैं उनके लिए एक बड़ी खुशखबरी है। क्योंकि भवन निर्माण के लिए सभी सामग्रियों के दामों में गिरावट आई है अगर आप अपना घर बनाने की सोच रहे हैं तो आप अभी से  घर बनाना शुरू कर दें। क्योंकि यही सही मौका है।

हर एक इंसान को छत की जरूरत होती है और हर लोगों की यह इच्छा होती है कि वह छत अपना हो इसलिए लोग पाई पाई जोड़ कर अपने घर को बनाने का सपना देखते हैं। दिन रात कड़ी मेहनत करते हैं ताकि वह भी अपने घर में अपनों के साथ सुकून से रहे।

मगर इस महंगाई के दौर में अपने सपनों का घर बनाना बहुत मुश्किल हो गया है। घर बनाने के सारे सामग्रियों के कीमतों में इतनी तेजी से वृद्धि होते चली गई कि अब घर बनाना हर कोई के बस की बात नहीं रही। मध्यमवर्गीय फैमिली या गरीब फैमिली के पास अगर जमीन है तो भी वह बहुत मुश्किल से अपने सपनों का घर बना सकते हैं अन्यथा जमीन खरीद कर घर बनाना बहुत मुश्किल हो गया है।

लेकिन इन मुश्किलों का हल हम यहां इस आर्टिकल में आपके लिए लेकर आए हैं। घर बनाना और भी आसान हो गया है क्यों? क्योंकि सीमेंट, बालू,छड़ और भी जितने सामग्री हैं घर बनाने के सभी के दामों में अच्छी खासी गिरावट आई है अगर आप कब से सोच रहे हैं कि अपना घर बनाना शुरू करें तो आपके लिए यह एक सुनहरा मौका है कम कीमत में आप अपने घर को बनवाकर तैयार कर सकते हैं। तो हम आपको आगे बताने वाले हैं कि किन सामानों में कितनी गिरावट आई है ताकि आपको राहत महसूस हो।

भवन निर्माण के किन किन सामग्रियों में कितनी गिरावट आई है?

जी हां दोस्तों औंधे मुंह गिरे सरिया-सीमेंट के दाम,जल्द घर बनाना  कर दें शुरू हमारा आज का आर्टिकल के इस शीर्ष को पढ़ कर समझ आ ही गया होगा। कि भवन निर्माण के सामानों के कीमत में कमी आई है। ऐसा क्यों हुआ है?  इसका कारण भी हम आगे जानेंगे, पहले यह जान ले कि किन सामानों में कितनी गिरावट आई है।

इस्पात मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार बार की कीमत कुछ महीने पहले ₹75000 प्रति टन चल रहे थे।  जो कि जून के दूसरे हफ्ते में गिरकर ₹65000 प्रति टन पहुंच चुकी थी।

आपको बता दें कि बार की खुदरा कीमतों में और भी गिरावट आई है जो कि अभी लगभग 50000 से ₹55000 प्रति टन तक पहुंच गई है।

सीमेंट के कीमतों में आई गिरावट

घर तो ईटों से बनता है। परंतु सीमेंट की भी अहम भूमिका होती है। सीमेंट के बिना घर नही बनाया जा सकता है। कुछ हफ्तों में सीमेंट के दामों  60 रूपयो की कमी आई है।

कुछ हफ्तों पहले सीमेंट की बोरियों का दाम ₹435 से ऊपर चल रहे थे। परंतु भाव में कमी आने के कारण अभी सीमेंट का दाम ₹380 बोरी तक पहुंच चुका हैं।

ईंटो के कीमतो में आई गिरावट 

भवन निर्माण सामानों के कीमतों के गिरावट मे ईटों के दामों में भी कमी आई है। आपको बता दें कि मिट्टी से बनी ईंटो की कीमत कुछ हफ्ते पहले ₹10 प्रति ईट चल रहे थे।

अगर आप 1000 ईट लेते हैं तो आपको ₹10000 देने होंगे। किन्तु ईंटो के कीमतों में कमी आने के कारण वर्तमान में ईंटो की कीमत 7 से ₹8 प्रति इटा हो चुका है अगर आप 1 टन ईंटे लेते हैं तो आपको इसके लिए ₹7000 से ₹8000 देने होंगे। भवन निर्माण के लिए यह एक अच्छा मौका है कि आप कम पैसों में भी अपना घर तैयार कर सकते हैं।

रेत के दामों में आई कमी

2000 रूपये की कमी रेत मे भी देखी गई है। जहां आपको रेत 1400रूपये प्रत्येक ट्रैक्टर मिलते थे वहीं अब आपको 1200 रुपए प्रत्येक ट्रैक्टर मिल रहे हैं। तो अभी से घर बनाना शुरू कर दें।

इस तरह से बिल्डिंग निर्माण के सभी सामानों में गिरावट आई है तो आप जल्द से जल्द अपने सपनों का घर बनाना शुरू कर दो आपके लिए यह एक सुनहरा मौका है।

ये भी अवश्य पढ़ें:

क्यों? औंधे मुंह गिरे सरिया-सीमेंट के दाम, भवन निर्माण सामग्रियों में गिरावट के क्या है कारण?

आप सभी के मन में सवाल आ रहे होंगे कि अचानक ऐसा क्या हुआ जो भवन निर्माण के सभी सामानों में इतनी गिरावट आ गई। आपको बता दें कि  सीमेंट एवं भवन निर्माण के सभी सामानों के कीमतों में कमी के मुख्य दो कारण है। पहला सरकार के फैसले से बाजार में मंदी आ गई जिस कारण लोगों ने भी ब्रेक लेना समझा।

दूसरा कारण है मौसम मानसून मौसम के कारण घर बनाना मुश्किल हो जाता है जिससे निर्माण गतिविधियों में कमी आने लगती है। अर्थात कंस्ट्रक्शन के काम रोक दिए जाते हैं और इसका असर सीधा बाजार पर पड़ता है जिससे लोगों की मांग बहुत कम हो गई। इस कारण से भी भवन निर्माण सामग्रियों के कीमतों में गिरावट आई।

सरकार ने कौन से फैसले लिए जिससे गिरावट आई?

कुछ महीने पहले सरकार के एक फैसले से बाजार प्रभावित होने लगे। सरकार ने हाल ही में Steel पर export duty बढ़ा दी है। जिस कारण भारतीय बाजारों में स्टील के कीमतों में भरी  गिरावट आई।

इस कारण से भवन निर्माण के सभी सामग्रियों के कीमतों में भी गिरावट होने लगी। सीमेंट रेट बालू इत्यादि की भी भाव कम होने लगी। सभी लोग जो घर बनाना  चाहते थे यह उनके लिए एक सुनहरा अवसर है की कम कीमत में घर बनवा सकते हैं।

अपना घर बनाना क्यों कठिन होता है?

हर व्यक्ति के आंखों में एक सपने सजते हैं उन सपनों में अपने घर होते हैं। हर व्यक्ति की यह इच्छा होती है कि उनका अपना घर अपना जमीन हो। वे अपनी मर्जी से,अपने तरीके से, अपने घर को बनाना चाहते हैं। मगर आजकल के जमाने में ऐसे सपने ज्यादातर अधूरे रह जाते हैं।

इस महंगाई के जमाने मे लोगों के लिए अपना घर बनाना कठिन हो गया है। क्योंकि इतनी तेजी से कीमतें आसमान छू रही है कि मध्यम वर्गीय परिवार एवं गरीब परिवारों के लिए अपना घर बनाना एक सपना ही बन जा रहा है।

निष्कर्ष

House Material Cost: औंधे मुंह गिरे सरिया-सीमेंट के दाम,जल्द घर बनाना  कर दें शुरू,भवन निर्माण सामग्रियों में आई नरमी। इस आर्टिकल हमने आपको पूरी जानकारी देने की कोशिश की है। हमने आपको यह भी बताया है कि House Material Cost के कीमतों में क्यू कमी आई।

सीरिया सीमेंट के साथ साथ भवन निर्माण के और भी समग्रियो के दामो में कमी आई हैं,  तो आप जल्द से जल्द अपना घर बनाना शुरू कर दें। यही सही मौका है।

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment

×