Goat Farming Business : इस नस्ल की बकरी का करें पालन कम खर्च में होगी बढ़िया कमाई। 

पशुपालन एक ऐसा व्यवसाय है जिसमें लाभ होना पूर्णता निश्चित है। आप भी पशुपालन के विषय में सोच रहे हैं तो सब में सर्वश्रेष्ठ होगा बकरी पालन। अब जाहिर सी बात है किसी भी सलाह को आप तब तक नहीं मानेंगे जब तक कि उसका सभी विवरण आपके समक्ष ना रख दिया जाए।

goat farming business 2022

किंतु आप को चिंतित होने की आवश्यकता कदापि नहीं हैं हम आज के इस आर्टिकल में आपको बताएंगे की बकरी पालन किस प्रकार से करके अच्छी खासी कमाई कर सकते। बिना समय गवाएं हुए चलिए प्रारंभ करते हैं और जानते हैं बकरी पालन किस प्रकार से हितकारी सिद्ध हो सकता है। 

बकरी पालन व्यापार: एक साइड इनकम:-

हमेशा सभी को ऐसा लगता है कि उनके पास जो पैसा आता है वह अपर्याप्त है। जिस वजह से उनके मस्तिष्क में एक बात होती है कि काश कहीं से साइड इनकम भी हो सके। इस वजह से बहुत से लोग मुख्य रूप से ग्रामीण क्षेत्रों में शाईड इनकम के लिए पशुपालन किया करते हैं। पशुपालन में लोग गाय  भैंस, बकरी, भेड़, ऊंट इत्यादि जानवरों को प्राथमिकता प्रदान करते हैं।  

आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें कि छोटे किसानों के वास्ते बकरी पालन उनके आय का मुख्य स्रोत है। बरबरी नस्ल की बकरियों का पालन पोषण करना अन्य नस्ल की बकरियों की तुलना में अधिक लाभकारी सिद्ध होता है क्योंकि यह बकरियां महज 11 महीने में ही बच्चों को जन्म देती है। 

बकरी पालन हेतु क्या कहीं से सहायता प्राप्त होगी:-

जैसा कि हमारे अन्य आर्टिकल में आपको यह बात स्पष्ट कर देते हैं कि किस व्यवसाय में कहां से सहायता प्राप्त होगी। इसी प्रकार से यदि आप सोच रहे होंगे कि बकरी पालन हेतु क्या इसमे सहायता प्राप्त हो सकती है तो इसका उत्तर हां में है। 

यदि आप बकरी पालन करने के इच्छुक है तो इसके लिए सरकार की ओर से आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी इसके अलावा लोन की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी और तो और लोन लेने के ऊपर भी सब्सिडी भी मिलेगी। 

आपको बता दें कि इन दिनों बकरी पालन कम खर्च में अधिक मुनाफा देने वाला व्यवसाय बन चुका है इस वजह से ना केवल आर्थिक रूप से पिछड़े लोग अपितु आर्थिक रुप से संपन्न लोग भी बकरी पालन की तरफ आकर्षित है। 

किस नस्ल की बकरी को पाले:- 

जैसा कि हमने पूरी तरह से स्पष्ट कर दिया है कि बरबरी नस्ल की बकरियां होती है वह सर्वोत्तम नस्ल की बकरियों में से एक है। क्योंकि बकरी पालन हेतु किसी के अधीन नहीं रहना पड़ता है। इस वजह से देश को स्वरोजगार कहा जाए तो यह अनुचित नहीं होगा।

किंतु यदि आप बकरी पालन व्यवसाय से जुड़ने हेतु इच्छुक हैं तो आपका यह जानना बहुत जरूरी है कि आप किस नस्ल की बकरी को पाले जिससे कि आपको मुनाफा हो ना की हानि। 

बरबरी नस्ल की बकरियों की विषय में आने वाले कुछ जानकारियां:-

इस नस्ल की बकरियों का पालन मुख्य रूप से एटा अलीगढ़ तथा आगरा जैसे जिलों में किया जाता है। 

बरबरी नस्ल की बकरियों का पालन मुख्य रूप से इन से प्राप्त मास के लिए किया जाता है। आप को इस बात से अवगत करा दें कि इस नस्ल की बकरियों को गर्मियों तथा सर्दी दोनों जलवायु में पाला जा सकता है। क्योंकि बरबरी नस्ल की बकरियां बहुत ही हड्डी कटी होती है।

आपको बता दें कि इस नस्ल के मादा बकरी में कुल 38 से लेकर 40 किलो तक का वजन होता है।वही सामान्य नस्लें की बात की जाए तो उनका वजन 23 से लेकर 25 किलो तक होता है। इसके अलावा नर बकरों की लंबाई 65 से मी वही मादा बकरी की लंबाई 75 सेमी तक की हो सकती है। 

इन दोनों में ही अर्थात नर तथा मादा बकरों में बड़ी मोटी दाढ़ी होती है।  

जाने प्रजनन दर:-

आपको बता दें कि बरबरी नस्ल की बकरी यह एक साल में दो बार 2 से 5 बच्चों को देने की क्षमता रखती है। यह बकरियां मध्यम कद की होती है। 

इनके शरीर में जलवायु के अनुसार घर जाने की क्षमता होती है जिस वजह से इन्हें गरम जगहों के साथ-साथ अन्य जगहों में भी आसानी से पाला जा सकता है।  यदि आप फिर से इस व्यवसाय को प्रारंभ करने के विषय में सोचा तो इसके लिए आपको अधिक खर्च करने की आवश्यकता नहीं होगी। 

प्रजनन क्षमता अच्छी होने के कारण बरबरी नस्ल की बकरियां अपनी जनसंख्या को तीव्रता से बड़ा लेती है। बच्चों के जन्म हो जाने के पश्चात 11 महीने के बाद वह भी बच्चे दे सकते हैं। 

जाने कितने की होगी कमाई:-

बरबरी नस्ल की बकरियों को पाना बेहद लाभकारी सिद्ध हो सकता है क्योंकि इसमें दोहरा लाभ प्राप्त किया जा सकता है। आप इनका दूध और मांस दोनों से घर बैठे लाभ कमा सकते हैं। 

वहीं दूसरी और हमारे देश भारत जहां पर देश के हर कोने में मौसम में इतनी विभिनता पाई जाती है , वहां यह बरबरी बकरी आसानी से रह सकती है। 

ईद के समय में इन बरबरी बकरियों की मांग बहुत अधिक होती है। उस समय इन्हें बेच कर आप बेहिसाब  अच्छा खासा पैसे कमा सकते हैं। 

आपको एक साल में एक बरबरी बकरी को तैयार करने हेतु ₹3000 की आवश्यकता होगी वहीं से बेचते समय आपको ₹10000 प्राप्त होंगे। अब इसमें मुनाफे का हिसाब लगा सकते हैं। 

क्या खिलाए इन्हें:-

यदि यह पशु पालन करने के विषय में सोचते हैं तो आपको उन्हें चारे देने के बारे में भी सोचना पड़ेगा। क्योंकि जैसा आप उन्हें आहार प्रदान करेंगे वैसा ही उनके शरीर में इसका प्रभाव पड़ेगा। 

आपको बता दें कि बरबरी बकरी या विभिन्न प्रकार के भोजन को ग्रहण कर सकती है जिसमें कड़वे मीठी नमकीन तथा स्वाद में भोजन भी शामिल है। 

इसके अलावे यह लहसुन इत्यादि खा सकती है। इसके अतिरिक्त आप इन्हें चारा बरसीम लहसुन फलिया मटर आम अशोका नीम बेदी और बरगद के वृक्ष के तो गोखरू खेजरी करौंदा बेरी इत्यादि पौधों और झाड़ियों के साथ-साथ हर्बल और ऊपर चढ़ने वाले पौधे और जड़ वाले पौधे शलगम आलू मूली गाजर चुकंदर फूल गोभी और पत्ता गोभी नेपियर घास घास दूब घास घास घास खिला सकते हैं। 

एक साधारण बकरी को आपको दिन में कम से कम चार या पांच सौ ग्राम हरा चारा खिलाना पड़ेगा। उस चारे में आपको 1 किलो सुखा चारा एवं साथ में जैसे कि हमने ऊपर बताया है उनमें से आप कूछ भी मिला सकते हैं। 

निष्कर्ष:-

इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको बकरी पालन: इस नस्ल की बकरी का करें पालन कम खर्च में होगी बढ़िया कमाई। के विषय में विस्तार पूर्वक बताया है। आशा है आपको आर्टिकल पसंद आया होगा। तो दोस्तों इससे संबंधित आपको किसी भी प्रकार का प्रश्न है तो कृपया कमेंट बॉक्स में जरूर पूछे।

दूसरे लाभदायक पोस्ट पढ़ें

Important Links

WTechni HomeClick Here
Other postsClick Here
Join Telegram ChannelClick Here

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

4 thoughts on “Goat Farming Business : इस नस्ल की बकरी का करें पालन कम खर्च में होगी बढ़िया कमाई। ”

Leave a Comment

×