NEET Full form – NEET का पूरा नाम क्या है?

क्या आप डॉक्टर बनना चाहते हैं तो फिर आपके लिए ये जानना बहुत ही महत्वपूर्ण है की NEET का पूरा नाम क्या है (NEET Full Form)?

डॉक्टर की पढाई करने के लिए भारत में सबसे मुख्य एग्जाम इसी को माना जाता है. इसीलिये अगर आप ने इसका लक्ष्य बनाया है तो फिर कॉम्पिटिटिव परीक्षा की अटैयारी कैसे करे ये समझे और तयारी शुरू कर दें.

तो चलिए अब जान लेते हैं की इस शब्द का हिंदी में पुरा नाम क्या है और इसका क्या अर्थ है.

NEET का फुल फॉर्म क्या है – What is the full form of NEET in Hindi?

Neet का फुल फॉर्म “National Eligibility Cum Entrance Test” होता है.

इसे हिंदी में “नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट” कहते हैं.

इसका अर्थ “राष्ट्रीय पात्रता व प्रवेश परीक्षा” होता है.

Neet NTA द्वारा आयोजित की जाने वाली एकमात्र राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा होती है.

इस एग्जाम को उत्तीर्ण  करने पर ही छात्र को मेडिकल कॉलेज में MBBS (Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery), BDS (Bachelor  of Dental Surgery ), Ayush जैसे कई अन्य कोर्सो में प्रवेश मिलता है. 

इस परीक्षा को भारत में चिकित्सा के क्षेत्र में जाने के लिए उत्तीर्ण करना अनिवार्य होता है.

यही एक ऐसा माध्यम होता है जिसके द्वारा इन सभी कोर्सों को करने के लिए आसानी से सरकारी या गैर-सरकारी कॉलेजों में एडमिशन मिल जाता है.

इस एग्जाम में बैठने वाले विद्यार्थी को 12वीं में कम से कम 50% अंकों से उत्तीर्ण  होना पड़ता है एवं उनकी आयु 17 से 25 वर्ष के बीच होनी चाहिए.

परीक्षा में आवेदन करने वाले छात्र के पास आधार कार्ड का होना भी बहुत जरूरी होता है. यह परीक्षा साल में मात्र एक बार मई महीने में आयोजित की जाती है.

इसे उत्तीर्ण करने वाले  छात्रों को केंद्र सरकार द्वारा संचालित मेडिकल संस्थानों में आसानी से दाखिला मिल जाता है.

जो छात्र इसे उत्तीर्ण नहीं कर पाते हैं उन्हें 1 साल  इंतजार करने के बाद पुनः  इस परीक्षा को देने का मौका मिलता है. इसमें physics, chemistry and biology जैसे विषयों से प्रश्न पूछे जाते हैं.

प्रश्नों की कुल संख्या 180 होती है. प्रत्येक विषयों से 45 प्रश्न पूछे जाते हैं. कुल मिलाकर यह पेपर 720 अंको का होता है.

इसमें ऑब्जेक्टिव प्रश्न पूछे जाते हैं प्रत्येक प्रश्न का सही उत्तर देने पर 4 अंक दिए जाते हैं एवं गलत उत्तर देने पर एक नंबर माइनस कर दिए जाते हैं.

इस परीक्षा में समय की अवधि 3 घंटे होती है. पहले इसे “एआईपीएमटी” (ऑल इंडिया प्री – मेडिकल टेस्ट) के नाम से जानते थे.

संपूर्ण भारत देश में इस परीक्षा का आयोजन एक-साथ एक ही समय पर किया जाता है.

परीक्षा के बाद प्राप्त अंकों की मेरिट लिस्ट जारी कर दी जाती है एवं काउंसलिंग में संस्थान का आवंटन इन्हीं प्राप्त अंकों के आधार पर किया जाता है.

निष्कर्ष

अगर आप भी ज़िन्दगी में सफलता हासिल करना चाहते हैं और डॉक्टर बनकर समाज की सेवा करना चाहते हैं तो ये जानना जरुरी है की NEET का फुल फॉर्म क्या है (What is the full form of NEET in Hindi)?

लेकिन इसके लिए आपको परीक्षा की तयारी करनी पड़ेगी और मन लगाकर पढाई करनी होगी.

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे दोस्तों के बाद भी शेयर करें.

Leave a Comment