IVR Full Form – IVR का पूरा नाम क्या है?

जब आप किसी भी सेवा के कस्टमर केयर में बात करते होंगे तो उसके पहले आपको कुछ बताये हुए निर्देशों का पालन करना होता होगा जैसे भाषा का चुनाव, सेवा का चनाव इत्यादि। ये निर्देश पहले से रिकॉर्ड कर के कंप्यूटर में रखे होते हैं.

आप अक्सर इस तरह की सेवा का जरूर उपयोग करते हैं लेकिन क्या आपने कभी इसके बारे में जानने की IVR का फुल फॉर्म क्या है (IVR Full Form). इसके अलावा इसका हिंदी में पूरा नाम क्या है एवं इसका अर्थ क्या है?

इस अतिक्ले क माध्यम से हम इसी विषय पर बात करने जा रहे हैं जहाँ हम समझेंगे की कंप्यूटर द्वारा आने वाले निर्देशों को क्या कहते हैं एवं किस प्रकार इस तरह की तकनीक लोगों को अपने प्रे रिकार्डेड निर्देश के जरिये मदद करती है. तो चलिए जानते हैं इसके बारे में.

IVR का फुल फॉर्म क्या है – What is the full form of IVR in Hindi?

ivr full form

IVR का फुल फॉर्म Interactive Voice Response है.

इसे हिंदी में इंटरैक्टिव वौइस् रिस्पांस कहते हैं जिसका अर्थ है इंटरएक्टिव आवाज की प्रतिक्रिया.

यह कंप्यूटर-टेलीफोन के इंटीग्रेशन (computer-telephone integration) यानि दोनों को को एक साथ मिलकर काम कराने का एक उदाहरण है. एक फोन के लिए कंप्यूटर के साथ बातचीत करने का सबसे आम तरीका टेलीफोन कीपैड पर प्रत्येक बटन द्वारा उत्पन्न  tones के माध्यम से है. इन्हें dual-tone multi-frequency (DTMF) सिग्नल के रूप में जाना जाता है.

एक कंप्यूटर को एक फोन द्वारा उत्पादित DTMF संकेतों को समझने के लिए एक टेलीफोनी बोर्ड या टेलीफोनी कार्ड नामक ख़ास हार्डवेयर की जरुरत पड़ती है.

एक सरल आईवीआर प्रणाली के लिए केवल टेलीफोनी बोर्ड और कुछ सॉफ्टवेयर के माध्यम से फोन लाइन में कंप्यूटर को जोड़ने की आवश्यकता होती है.

सॉफ्टवेयर ग्रीटिंग्स और मेनू ऑप्शन की प्री-रिकॉर्डिंग की परमिशन देता है जो एक कॉलर अपने टेलीफोन कीपैड का उपयोग करके अपने पसंद का ऑप्शन चुन सकता है.

अधिक विकसित सिस्टम में speech-recognition सॉफ्टवेयर शामिल है जो एक कॉलर को simple voice commands का उपयोग करके कंप्यूटर के साथ बातचीत करने की अनुमति देता है.

Speech recognition software नाम और संख्या के लंबे स्ट्रिंग को समझने के लिए काफी है.

Mobile governance के context में इस सिस्टम के एप्लिकेशन का purpose ई-गवर्नेंस डोमेन के भीतर C2G और G2C सेवाओं की सेवा करना है.

इस सेवाओं के माध्यम से बड़ी संख्या में सेवाओं के लिए स्टेटस पूछताछ automated हो सकती है और ई-गवर्नेंस इन्फ्रास्ट्रक्चर पर बिना एक्स्ट्रा बोझ दिए हुए सेवा चाहने वालों को आवश्यक जानकारी प्रदान की जा सकती है.

निष्कर्ष

इस आर्टिकल के माध्यम हमने आपको बताया की किस आजकल सरे काम आटोमेटिक हो सकते हैं. इन में से एक बेहतर उदाहरण इस सीटें का है जो हमने यहाँ पर चर्चा की है.

जहाँ आपने जाना की IVR का फुल फॉर्म क्या है (What is the full form of IVR in Hindi)? यहाँ आपने ये बह जाना की इसका हिंदी में पूरा नाम क्या है और इसका अर्थ क्या है.

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लग हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here