ISO Full Form – ISO का पूरा नाम क्या है?

हम जो उत्पाद अपने प्रतिदिन के जीवन में करते हैं उनकी पैकेजिंग में एक शब्द लिखा हुआ होता है लेकिन हम उस पर शायद ही ध्यान देते हो.

इसीलिए आज की इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि क्या आपने कभी यह जानने की कोशिश की कि ISO का फुल फॉर्म क्या है (ISO Full Form).

अपने दिनचर्या में अनेकों उत्पादों का उपयोग करने के बावजूद शायद ही कुछ लोगों को मालूम होता है कि इस शब्द का हिंदी में पूरा नाम क्या होता है एवं इसका अर्थ क्या है.

अगर आप इस आर्टिकल को पढ़ रहे तो फिर निश्चित हो जाइए क्योंकि इसमें आप इससे जुड़ी जानकारी भी समझ जाएंगे और इस का फुल फॉर्म क्या होता है यह भी समझ जाएंगे

ISO का फुल फॉर्म क्या है – What is the full form of ISO in Hindi?

ISO का फुल फॉर्म International Organization for Standardization है.

इसे हिंदी में हम इंटरनेशनल आर्गेनाइजेशन ऑफ़ स्टैंडर्डज़ेशन भी कहते हैं जिसका अर्थ है अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण संगठन.

मानकीकरण के लिए अंतर्राष्ट्रीय संगठन विभिन्न अंतरराष्ट्रीय मानक संगठनों के प्रतिनिधियों से बना एक अंतरराष्ट्रीय मानक-सेटिंग बॉडी है.

इसकी स्थापना सन 23 फरवरी 1947 में की गयी थी.

संगठन दुनिया भर में मालिकाना, कमर्शियल और इंडस्ट्रियल मानकों को प्रमोटकरती है.

इसका मुख्यालय स्विट्जरलैंड के जेनेवा शहर में है. यह संगठन 165 देशों में काम करता है.

यह दुनिया के उन पहले संगठनों में से एक था जिन्हें संयुक्त राष्ट्र आर्थिक और सामाजिक परिषद के साथ सामान्य परामर्श का दर्जा दिया गया था.

यह एक स्वतंत्र और गैर-सरकारी संगठन है जिसके सदस्य 165 सदस्य देशों के मानक संगठन हैं.

यह स्वैच्छिक अंतर्राष्ट्रीय मानकों का दुनिया का सबसे बड़ा विकासकर्ता है और यह सामान्य मानकों को प्रदान करके विश्व में होने वाले व्यापार की सुविधा प्रदान करता है.

विभिन्न देशों के बीच बनाये गए उत्पादों और प्रौद्योगिकी से लेकर खाद्य सुरक्षा, कृषि और स्वास्थ्य सेवा तक सभी चीज़ों को कवर करते हुए बीस हज़ार से अधिक मानक तय किए गए हैं.

उत्पादों और सेवाओं को बनाने के लिए मानकों को मद्देनज़रर रखा जाता है.

इसी की वजह से उत्पादों के प्रोडक्शन के दौरान इसे पूरी गुणवत्ता के साथ बनाया जाता है ताकि लोगों तक पहुँचाने के पहले इसे लोगों की नजर में विश्वसनीय बनाया जाये.

EWS का पूरा नाम क्या है?

ISO full form in camera

International Organization for Standardization

in computer

International Organization for Standardization

in electrical

International Organization for Standardization

निष्कर्ष

भले हमें और आपको ना पता हो लेकिन हर प्रोडक्ट को आईएसओ द्वारा प्रमाणित करना जरूरी है अन्यथा उसे बाजार में उतरने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

इस संस्था द्वारा निर्धारित किए गए हुए मानकों पर खरे उतरने के बाद ही उन्हें अपने उत्पादों को बेचने की परमिशन होती है..

इसीलिए आज हमने आपको बताया है कि ISO का फुल फॉर्म क्या है (What is the full form of ISO in Hindi)?

हम उम्मीद करते हैं कि इस आर्टिकल के माध्यम से आप की जानकारी पूरी हो गई है और आपको समझ में आ गया है कि इस शब्द का हिंदी में पूरा नाम क्या होता है.

अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here