IPS Full form – IPS का पूरा नाम क्या है?

अगर आप जानते हैं कि यूपीएससी की परीक्षा क्या है तो यह जरूर मालूम होगा कि आईपीएस का फुल फॉर्म क्या है (IPS Full form).

अगर आप इस शब्द के बारे में नहीं जानते कि इसका पूरा नाम क्या होता है एवं इसका अर्थ क्या है तो इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें

भारत में कई ऐसे सरकारी पद हैं जिनमें काम करने की चाहत लगभग हर भारतीय नागरिक को होती है.

इसके लिए कड़ी मेहनत भी करते हैं लेकिन इन पदों पर पहुंचना लोहे के चने चबाने के बराबर ही है यानी कि आपको भरपूर मेहनत करनी पड़ेगी.

इस आर्टिकल को अंत पढ़कर आप समझ ही जाएंगे कि इस शब्द का फुल फॉर्म क्या होता है और आप इसके लिए अच्छे ढंग से तैयारी भी करके इस पद को प्राप्त कर सकते हैं.

IPS का फुल फॉर्म क्या है – What is the full form of IPS in Hindi?

IPS का फुल फॉर्म “Indian Police Service” होता है.

इसे हिंदी में “इंडियन पुलिस सर्विस” कहते हैं. इसे “भारतीय पुलिस सेवा” के नाम से जाना जाता है.

आईपीएस ऑफिसर का काम देश में होने वाले क्राइम को पूरी तरह से नियंत्रित करना एवं कानून व्यवस्था को सुचारू रूप से बनाए रखना होता है.

इस पद के के अलावा यूपीएससी विभिन्न प्रकार के सिविल सर्विस एग्जाम देश में आयोजित करती रहती है.

जैसे: IRS,IFS एवं IAS इत्यादि.

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए एवं इसमें नियुक्ति पाने के लिए तीन परीक्षाओं से होकर गुजरना पड़ता है.

जैसे:

  1. Preliminary – प्रारंभिक (1, 2)
  2. Main Examination – मुख्य
  3. Interview – साक्षात्कार

इसे पास करने पर ऑल इंडिया में रैंक दिया जाता है.

हमें हमारी रैंक के आधार पर पोस्ट दी जाती है.

आईपीएस में अप्लाई करने हेतु हमें कुछ मानकों यानी पैरामीटर को पूरा करना बेहद जरूरी होता है.

इसके लिए योग्यता भी जरूरी होती है. जैसे:

पुरुषों की हाइट की बात की जाए तो कम से कम 5.4  फिट एवं महिलाओं की 4.9 फिट होना अनिवार्य है.

आवेदक के पास भारत की नागरिकता होनी चाहिए.

किंतु भारत में आईपीएस बनने के लिए नेपाल और भूटान के नागरिक भी apply कर  सकते हैं.

इसके अलावा वैसे तिब्बती शरणार्थी जो कि 1 जनवरी 1962 से पहले भारत में आए थे.

आवेदक की  उम्र कम से कम 21 वर्ष तथा अधिकतम 30 वर्ष होना चाहिए.

आवेदन करने वाले उम्मीदवार के पास मान्यता प्राप्त इंस्टिट्यूट है या यूनिवर्सिटी से स्नातक की डिग्री होनी चाहिए.

जैसे: B.A, B.Sc आदि.

IPS officer की Salary

एक आईपीएस ऑफिसर की सैलरी की बात की जाए तो अंतर्गत चुने गए अधिकारी जैसे डीजीपी को रु 80000, एडीजीपी या एससीपी का वेतनमान 37,400 से 67000 होता है.

पीएफ, पेंशन, सरकारी क्वार्टर जैसी सुविधाएं भी एक ऑफिसर अधिकारी को दी जाती है. 

निष्कर्ष

सभी प्रतिष्ठित पदों में से एक पद के बारे में हमने इस पोस्ट में आपको जानकारी दी है इन पदों पर जाने के लिए काफी मेहनत करने की जरूरत पड़ती है.

क्योंकि इसके लिए बहुत सारे लोग परीक्षा में बैठते हैं अगर आप इस परीक्षा में पास हो जाते हैं तो एक अफसर बनते हैं जिनका रुतबा काफी ज्यादा होता है.

इसीलिए हमने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बताया कि IPS का फुल फॉर्म क्या है (What is the full form of IPS in Hindi)?

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें.

Leave a Comment