EWS Full Form – EWS का पूरा नाम क्या है?

आपको जरूर मालूम होगा कि भारत में जो आर्थिक रूप से कमजोर है उनके लिए सुविधाएं दी जाती हैं. लोगों को मालूम होता है कि EWS का फुल फॉर्म क्या है (EWS Full Form).

तो अभी भी अगर आप इस शब्द का हिंदी में पूरा नाम क्या होता है इसका अर्थ क्या है तो इस पोस्ट को जरूर पढ़ें.

जिनके पास इसका सर्टिफिकेट होता है उन्हें सरकारी संस्थानों में शिक्षा के लिए और सरकारी नौकरियों के लिए 10 परसेंट का आरक्षण प्रदान किया जाता है.

EWS का फुल फॉर्म क्या है – What is the full form of EWS in Hindi?

EWS का फुल फॉर्म Economically Weaker Section है.

इसे हिंदी में इकोनॉमिकली वीकर सेक्शन भी कहते हैं जिसका अर्थ होता है आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग.

भारत में रहने वाले वैसे लोग जिनकी वार्षिक जिनके पूरे परिवार की वार्षिक आय ₹800000 से कम होती है और जो एससी/एसटी और ओबीसी की श्रेणी में नहीं आते तो इस प्रकार के श्रेणी में रहने वाले लोगों को ही इकोनॉमिकली वीकर सेक्शन यानी कि आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग में रखा जाता है.

आर्थिक रूप से कमजोर लोग सामान्य वर्ग से नाता रखते हैं.

ऐसे लोगों के पास खेती करने के लिए 5 एकड़ से कम जमीन होती है और जो रहने योग्य क्षेत्र होता है उसमें जिनके पास भी सो 1000 स्क्वायर फीट जमीन नहीं होती उन्हें इस श्रेणी में माना जाता है.

सर्टिफिकेट प्राप्त करने के लिए योग्यता

  • इस सर्टिफिकेट को प्राप्त करने के लिए आपके परिवार की वार्षिक आय 800000 चाहिए.
  • एससी एसटी और ओबीसी वर्ग के नहीं होनी चाहिए.
  • खेती करने योग्य 5 एकड़ से कम जमीन हो.
  • रहने का घर 100 बटा 200 स्क्वायर यार्ड से भी छोटी जगह हो.
  • फ्लैट रेजिडेंशियल एरिया 1000 स्क्वायर फीट से कम हो.
  • तो आप इसके लिए अप्लाई कर सकते हैं.

ईडब्ल्यूएस की सर्टिफिकेट प्राप्त करने के लिए जरूरी दस्तावेज

  • जमीन और जायदाद के दस्तावेज
  • आवासीय प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • आईडी प्रूफ
  • स्वघोषणा पत्र
  • फोटो

EWS Reservation के लिए कैसे अप्लाई करे?

अगर आप अपने लिए EWS certificate प्रपात करना चाहते हैं तो आप इसके लिए आप लोकल सरकारी तहसील से संपर्क कर सकते हैं.

सर्टिफिकेट को आय और संपत्ति प्रमाणपत्र भी कहा जाता है, और यही वह प्रमाण है जो ईडब्ल्यूएस से जुड़े आरक्षण का लाभ उठाने के लिए आवश्यक है.

अगर आप EWS certificate के लिए अप्लाई करना चाहते हैं तो आपको ये जरूर पता होना चाहिए की इसके लिए सरकार ने किसी प्रकार का कोई ऑनलाइन तरीका निर्धारित नहीं किया है. इसके आवेदन के लिए आपको लोकल तहसील या किसी दूसरे स्थानीय सरकारी ऑथरिटी से संपर्क करना पड़ेगा.

आपको आय और संपत्ति प्रमाण पत्र के साथ आधार कार्ड, पैन कार्ड, बैंक स्टेटमेंट, पासपोर्ट साइज फोटो आदि जैसे दूसरे दस्तावेजों की भी जरुरत पड़ेगी. प्रमाणपत्र नीचे इस तरह दिखता है:

Designated सरकारी ऑफिसर आपके दस्तावेज़ों को सत्यापित करेगा और आपका ईडब्ल्यूएस प्रमाणपत्र जारी करेगा.

निष्कर्ष

हर किसी के लिए तो नहीं लेकिन जो आर्थिक रूप से कमजोर होते हैं और जिनके पास खेती करने योग्य जमीन भी बहुत कम होती है उन्हीं के लिए इस प्रकार का आरक्षण दिया जाता है.

इस आरक्षण को प्राप्त करने के लिए एक डिफिकेट प्रदान किया जाता है और आपको उसके लिए सारी जरूरतें पूरी करनी होती हैं.

सर्टिफिकेट प्राप्त कर लेने के बाद में ऐसे लोगों को. सरकारी नौकरियों एवं उच्च शिक्षा के लिए भी 10 परसेंट तक कर आरक्षण मिलता है जो इन के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है.

इसीलिए इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको बताया कि EWS का फुल फॉर्म क्या है (What is the full form of EWS in Hindi)?

अगर आपको अच्छी लगी हो तो इसे दोस्तों के साथ शेयर करें.

Leave a Comment