समय के महत्व पर निबंध – Essay on Importance of time in Hindi

हम सभी समय के महत्व को भलीभांति समझते हैं पर इसीलिए आज की पोस्ट में हम आपके लिए समय के महत्व पर निबंध (Essay on Importance of time in Hindi) तैयार करके लाए हैं जिससे स्कूल में पढ़ने वाले वर्ग 5, 6, 7, 8, 9, 10 अपने पढ़ाई के उद्देश्य के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं.

हर वक्त समय लगातार बीता रहता है और हमें इसका एहसास होता है लेकिन उस पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं देते. समय का हमारे जीवन में काफी अहम भूमिका होती है और यह कभी भी किसी का इंतजार नहीं करती.

इसीलिए इस बीते वक्त को और इसके महत्व को समझने के लिए इस पोस्ट में हमने कहीं निबंध तैयार किए हैं जो अलग-अलग वर्ग के बच्चों के लिए लिए बड़े ही काम के हैं

समय के महत्व पर छोटे एवं बड़े निबंध – Long and Short Essay on Importance of time in Hindi For Class 5, 6, 7, 8

समय के महत्व पर निबंध - Essay on Importance of time in Hindi
समय के महत्व पर निबंध

निबंध – 1 (250 शब्द)

समय ही धन है और जो इसके महत्व को समझता है वही जीवन में सफलता भी हासिल करता है. जब हम किसी कार्य को करने में अपना कीमती समय बिताते हैं तो उसी के बदले में हमें उसका मीठा फल भी प्राप्त होता है.

समय निरंतर चलता रहता है और यह किसी के लिए इंतजार नहीं करता. पृथ्वी पर जितने भी जीव जंतु है वह समय के साथ पैदा होते हैं और अपने जीवन काल को बिताने के पश्चात एक निश्चित अवधि के बाद में समाप्त हो जाते हैं.

जब इंसान अपने आखिरी समय में चला जाता है तो उसे इस बात का अफसोस होता है कि काश मैं जवान होता तो फिर से यह सारे काम करता है. या फिर कोई इंसान जब जवान होता है तो सोचता है कि अभी मैं अनपढ़ हूं खास फिर से मुझे बचपन मिलता तो मैं अच्छे से पढ़ाई करता और सफल इंसान बनता.

अक्सर हमने लोगों को कहते हुए सुना है कि यह इंसान काफी बलवान है और इसके आगे तुम कुछ भी नहीं और कुछ नहीं कर सकते लेकिन वास्तविकता तो यह है कि इस समय सबसे बलवान होता है. इंसान का वक़्त कब बदल जाए और कब बलवान से कमजोर हो जाए और कब कमजोर से बलवान हो जाए यह कोई नहीं जानता.

दुनिया में अनेक ऐसे इंसान हुए जो वक्त का सही इस्तेमाल करके सफलता हासिल किए. ऐसे लोगों के जीवन के वक्त के अलग-अलग पहलुओं को समझकर हम उनके जीवन से उदाहरण ले सकते हैं और अपने जीवन में उसका पालन कर सकते हैं.

निबंध – 2 (350 शब्द)

परिचय

बहुत ही पुरानी और मशहूर कहावत है कि वक्त किसी के लिए नहीं रुकता और जो वक्त हो मूल्यवान समझता है वही जीवन में सफलता भी हासिल करता है. जिसने वक्त के महत्व को समझा है उस उसी को वक्त ने अहमियत देख कर बड़ा इंसान बनाया है और जिसने इसका दुरुपयोग किया उसने अपनी तबाही की.

यह एक ऐसी प्रक्रिया है जो एक बार भी जाने के बाद इसको दोबारा नहीं किया जा सकता यानी कि जो वक्त बीत गया उस वक्त में जाना असंभव है.

इस निबंध पढ़ने के साथ-साथ वी बीत रहा है और एक तरह से आप समय का सदुपयोग करके अपनी ज्ञान की वृद्धि कर रहे हैं. इसको धन से भी मूल्यवान समझा जाता है क्योंकि उनको हम अपनी सहूलियत के अनुसार खर्च करते हैं लेकिन समय एक ऐसा धन है जो अपने आप खर्च होता रहता है.

समय की शक्ति

समय की शक्ति को जो पहचानता है वही जीवन में अपने लक्ष्य की प्राप्ति करता है और जो इस को महत्व नहीं देते जिंदगी में ऐसा वक्त भी आता है जब लोग उस इंसान को महत्व नहीं देते.

इंसान की जिंदगी एक निश्चित समय के लिए होती है यानी कि पैदा होने के बाद उसका मृत्यु होना जरूरी है लेकिन इस बीच जीवन को सही ढंग से जीने के लिए उसे अन्य कर्तव्यों का पालन करना होता है जो वक़्त साथ उसे पूरा करना होता है.

समय का महत्व

हर बीतने वाला समय बहुत कीमती है और जो इस लगातार बीत रहे पल के महत्व को समझता है उसे सफलता हासिल जरूर होती है.

हर पल मनुष्य जीवन में कई अवसर प्राप्त होते हैं और इन अवसरों को सही समय पर समझना और इनका सदुपयोग करना इंसान को आगे बढ़ाता है.

निष्कर्ष

इंसान को अपने जीवन में कई अवसर प्राप्त होते हैं लेकिन हर अवसर को इंसान समझ नहीं आता और उस समय को व्यर्थ की चीजों में बिता देता है लेकिन जब से समय की कीमत समझ में आती है तो वह आने वाले हर अवसर को अपने लिए एक महत्वपूर्ण मौका समझता है और उसके लिए कड़ी मेहनत करता है और यही उसके सफलता की कुंजी बनती है.

निबंध – 3 (450 शब्द)

परिचय

जिस प्रकार नदी के दो किनारे होते हैं ठीक उसी प्रकार मनुष्य के जीवन में भी सुख और दुख नदी के दो किनारों के समान होते हैं. जैसे-जैसे नदी की धारा आगे बढ़ती है उसे अनेक प्रकार के पत्थरों, पहाड़ों, चट्टानों, झरना, जंगलों इत्यादि से होकर गुजरना पड़ता है. ठीक उसी प्रकार इंसान की जिंदगी में भी वक्त जैसे जैसे दिखता है वैसे वैसे उसे भिन्न भिन्न प्रकार सुख और दुख की प्राप्ति होती है.

वक्त को सबसे अधिक बलवान कहा जाता है क्योंकि हमने जो कर्म अपने भूतकाल में किए उसका फल हमें अपने वर्तमान और भविष्य में देखने को मिलता है. यह वक्त हमेशा हमसे परीक्षा लेता है. हमारी जिंदगी अनेक परीक्षाओं से होकर गुजरती है. जो इस परीक्षा को सफलतापूर्वक पास कर लेते हैं वह अपनी जिंदगी में सफल कहलाते हैं.

समय का सदुपयोग

इंसानों की फितरत होती है कि वह अपना कीमती समय ज्यादातर बर्बाद करते हैं लेकिन उन्हें वक्त का बीतने का और इसके व्यर्थ जाने का पता तब चलता है जब यह पूरी तरह से खत्म हो जाता है. यानी कि भविष्य में वह रोता है कि मैंने समय का सही प्रयोग नहीं किया.

लेकिन उस इंसान का जो वर्तमान चल रहा होता है वह उसे उस वक्त भी बर्बाद करता है. इसी बात को समझने की जरूरत है यानी कि हमने जो समय अपने भूतकाल में बर्बाद कर दिया और अपनी वर्तमान में जो हम जी रहे हैं इसे कम से कम सही उपयोग करके अपने भविष्य को बेहतर बना सकते हैं.

जो व्यक्ति अपने जीवन में उन्नति प्राप्त करने की इच्छा रखते हैं वही अपने जीवन में एक बलवान विद्वान और धनवान इंसान के रूप में उभरते हैं.

समय की व्याख्या

हम जिस समय के महत्व की बात कर रहे हैं क्या हमें सच में मालूम है कि आप सीरियस समय क्या है. यह एक रहस्य की तरह है जिसका विवरण धार्मिक ग्रंथों में पढ़ने को मिलता है. समय पर जीत हासिल करना किसी के बस की बात नहीं है. क्योंकि समय पर कोई जीत नहीं सकता लेकिन समय सब पर भारी पड़ता है.

जिसने इस सृष्टि की रचना की है उसी ने समय की भी रचना की है और उसे ही पता है कि पीछे क्या हुआ है अभी क्या हो रहा है और आगे क्या होने वाला है.

वैसे इंसानों को इसके अपने जीवन में प्रभाव को समझकर इसके सदुपयोग पर ही ध्यान देना चाहिए.

निष्कर्ष

इस समय में ही जीवन का सार है. इसके बारे में अनेक विद्वानों ने अपने लिखे हुए ग्रंथों और किताबों में इसकी व्याख्या की है समय सबसे ज्यादा शक्तिशाली होता है और यह किसी का इंतजार नहीं करता और ना ही किसी के लिए रुकता है यह अंतहीन है और चलता रहता है.

निबंध – 4 (500 शब्द)

परिचय

इंसान का जीवन एक बहती हुई नदी के समान होती है जिसमें सुख और दुख दो किनारे होते हैं और समय के साथ साथ इन किनारों का प्रभाव कभी ज्यादा कभी कम ही होता है. इस नदी की धारा को कभी पत्थरों, पहाड़ों, रेत, जंगलों से होकर गुजरना पड़ता है. ठीक उसी प्रकार इंसान की जिंदगी भी बहुत सारे उतार-चढ़ाव से होकर गुजरती है.

यह बदलाव आते हैं यह समय ही लाता है. अजब इंसान बुरे वक्त में होता है तो उसे यही दिलासा दिया जाता है कि समय बीतने दो क्योंकि वक्त को ही सबसे बड़ा मरहम भी कहते हैं जो इंसान के दुखों से मिले जख्मों को भी खत्म कर देता है.

समय का मूल्य

समय एक ऐसी चीज है जो अमूल्य है और जो वक्त बीत जाता है वह दोबारा लौटकर नहीं आता. समय की कीमत धन से भी कई गुना अधिक होती है. धन तो हम गम आने के बाद पुनः कमा सकते हैं लेकिन वक्त को गंवाने के बाद दोबारा उस वक्त में नहीं जा सकते.

हर एक बीते हुए तक सेकंड को अगर हम सही तरीके से इस्तेमाल करें तो यह हमारे लिए वरदान साबित होगा और अगर इसका गलत उपयोग करें तो यह अभिशाप भी बन सकता है.

ऐसा करना संभव नहीं है कि हमने जो अपने भूतकाल में कर लिया उसे जाकर हम बदल ले. इंसान की जिंदगी में वक्त अलग-अलग पर तरीके से अपने प्रभाव को दिखाता है.

मनुष्य के जीवन में बचपन का समय शिक्षा हासिल करने के लिए उत्तम माना जाता है और इस वक्त ही सही समय होता है कि एक अच्छे इंसान बनाने के रास्ते में अमल किया जाए. बच्चे को अच्छे स्कूल में पढ़ाया जाता है ताकि वह शिष्टाचार को सीखें साथ ही शिक्षा भी ग्रहण करें.

जब पढ़ लिखकर बच्चा एक नौकरी या फिर व्यवस्थाएं शुरू कर देता है तो वह धन कमाना शुरू करता है और इस वक्त उसके समय में विवाह करने का वक्त आता है जिससे वह एक नया परिवार एक नए जीवन की शुरुआत करता है.

इसके बाद वही इंसान बूढ़ा हो जाता है जो खुद से सारे काम नहीं कर पाता और उसके बाल बच्चे उसकी काफी मदद करते हैं. मनुष्य के एक सामान्य जीवन का उदाहरण है.

इसके विपरीत अगर बचपन में शिक्षा नहीं ग्रहण करता और उसी वक्त से काम करना शुरू कर देता है तो उसका भविष्य मुश्किलों भरा हो जाता है.

समय का महत्व

वक्त बलवान होता है और इंसान की जिंदगी में इसका काफी महत्व है.
अगर वक्त पर सही प्रकार से सदुपयोग किया जाए तो यह जीवन को एक वरदान बना देता है वहीं अगर इसका दुरुपयोग हो तो यह एक अभिशाप बनकर उभरता है.

हर इंसान एक बेहतर जिंदगी की इच्छा रखता है अपने जीवन में ऐसो आराम की हर चीज चाहता है और एक भरा पूरा परिवार और सुखी जीवन की कामना करता है. इंसानों की यही मूलभूत आवश्यकताएं होती हैं.

निष्कर्ष

अगर आप समय के महत्व को समझ कर इसको सही मायने में उपयोग करते हैं तो आपको सफलता मिलने बहुत ही आसान है एक इंसान का यह कर्तव्य होना चाहिए कि जिस प्रकार उनके माता-पिता जिंदगी को बनाने के लिए अपने समय का सदुपयोग किया ठीक उसी प्रकार हमें भी अपने बच्चों को एक बेहतर शिष्टाचार के साथ-साथ एक से चलकर सफलता के दिशा में पढ़ना चाहिए.

Leave a Comment