E-SHRAM CARD : श्रम कार्ड जिनका पैसा आना है, वह लिस्ट में अपना नाम चेक करें ऑनलाइन यहां से।

लॉकडाउन ने मध्यवर्गीय लोगों तथा गरीब लोगों को अत्यंत प्रभावित किया है। क्योंकि उस समय कोरोना के डर से नागरिकों को घर से निकलने तक की इजाजत नहीं थी। ऐसे में उनकी रोजी-रोटी में पुर्नविराम लग गया। उनकी जमा पूंजी जाती रही।

हालांकि अमिर वर्गीय लोगों को भी इससे काफी नुकसान हुआ किंतु इस नुकसान की तुलना मध्यवर्गीय और निम्न वर्ग के लोगों से नहीं की जा सकती। ऐसे विकट परिस्थिति में बहुत से लोग मदद करने के लिए सामने आए। साथ ही साथ हमारी सरकार ने भी राहत पहुंचाने की कोशिश की।

इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको ई-श्रम कार्ड से संबंधित कुछ विशेष जानकारियां प्रदान करेंगे। तो अंत तक जुड़े रहिए हमारे साथ ताकि हम आपके जानकारी के दायरे को बढ़ा सके।

क्या है ई-श्रम कार्ड?

ई-श्रम पोर्टल के अंतर्गत रजिस्टर्ड असंगठित इलाकों के कामगारों को 12 अंकों का एक यूनिवर्सल अकाउंट नंबर ( UAN number) दिया जाता है। जो कि संपूर्ण देश के किसी भी कोने में मान्य होता है। इसको ई-श्रम कार्ड (E – shram card) कहा जाता है।

वर्तमान में लगभग 40 करोड असंगठित इलाके के कामगार अथवा मजदूर इस पोर्टल से पंजीकृत है। इस योजना को 26 अगस्त 2021 को शुरू किया गया था।

ई-श्रम कार्ड कौन-कौन बनवा सकते हैं?

जिन नागरिकों की उम्र 16 वर्ष से 59 वर्ष के बीच है वह ई-श्रम कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं। केवल उम्र ही काफी नहीं है इसके साथ-साथ उनका ईपीएफओ(EPFO) या ई एस आई सी(ESIC) का सदस्य ना होना भी अनिवार्य है।

श्रम और रोजगार मंत्रालय के द्वारा ई-श्रम असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के कल्याण के वास्ते बनाया गया है।

ई-श्रम के पोटल में रजिस्टर होने के बाद श्रमिकों को ई-श्रम कार्ड दिया जाता है। इस कार्ड में 12 अंकों का एक यूएएन नंबर होता है।

कोई छात्र ई-श्रम कार्ड के लिए अप्लाई नहीं कर सकता है। क्योंकि यह योजना केवल और केवल असंगठित इलाकों में काम करने वाले मजदूरों के वास्ते बनाया गया है। यह नियमित रूप से रोजगार आसानी से उपलब्ध नहीं हो पाता है।

ई-श्रम कार्ड के विषय में कुछ अन्य बातें:-

पिछले वर्ष केंद्र सरकार ने ई-श्रम पोर्टल को भारतीय जनता के सामने रखा। जो कि असंगठित श्रमिकों का एक केंद्रीकृत डेटाबेस होगा। जिन नागरिकों ने इसमें पंजीकरण किया है उन्हें ₹200000 तक का दुर्घटना बीमा कवर मिलेगा।

फ्यूचर में ऐसा हो सकता है कि असंगठित श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा योजना (social security schemes) के फायदे इस पोर्टल के द्वारा वितरित किए जाएंगे।

आपातकाल अथवा महामारी (कोरोना) जैसी स्थितियों में पात्र असंगठित श्रमिकों को आवश्यक सहायता देने के लिए इस पोर्टल के डेटाबेस का प्रयोग किया जा सकता है।

कैसे करें पंजीकरण की प्रक्रिया

इसका पंजीकरण ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों ही तरीकों से हो सकता है। ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए( eshram.gov.in) का प्रयोग किया जा सकता है। इसके माध्यम से आप आसानी से ई – श्रम कार्य के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या क्या है 

यदि आप ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण हेतु रुचिकर है तो आपका यह जान लेना अत्यंत आवश्यक है कि किन-किन दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ सकती है। तो चले आपको बताते हैं।

  • आधार कार्ड /आधार नंबर
  • आधार से लिंक मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता नंबर
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट के आकार का फोटो

ई-श्रम कार्ड 2022

भारतीय सरकार ने पूरे देश के बेरोजगार मजदूर परिवार के वास्ते ई-श्रम कार्ड योजना का श्रीगणेश किया है। जिसके द्वारा गरीब मजदूर परिवार को ₹1000 महीना भत्ता और ₹200000 दुर्घटना बीमा देने की घोषणा कर दी गई है।

3 जनवरी 2022 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकृत मजदूरों को ई-श्रम कार्ड के माध्यम से धनराशि प्रदान करने का शुभारंभ किया है। ऐसे ही लगभग डेढ़ करोड़ रुपए श्रमिकों के खाते हस्तांतरित किया गया है। 2 महीना का भत्ता एक साथ डाला गया है।

बताया जा रहा है कि श्रमिकों को लगभग डेढ़ करोड़ रुपए की धनराशि प्रदान की गई है।

श्रम कार्ड के अंतर्गत किस प्रकार से और कितनी मिलेगी धनराशि आइए जाने-

उत्तर प्रदेश की सरकार 4 महीनों में ₹500 की चार किश्ती श्रमिकों के बैंकों में डालेगी अर्थात मिलने वाले कुल धनराशि ₹2000 की है। यह धनराशि आपको ₹1000 की दो किश्ती में 2 महीनों में मिलेगी।

e shram card yojana 2nd installment list

ई-श्रम कार्ड से लोन कैसे प्राप्त करें?

हां यह सत्य है कि ई-श्रम कार्ड के माध्यम से लोन मिलता है। इसके लिए आपको सर्वप्रथम

  • यह सुनिश्चित करना होगा कि आपके पास ई-श्रम कार्ड है। यदि आपके पास  ई-श्रम कार्ड नहीं है तो आप लोन नहीं ले सकते हैं।
  • फिर आपको इसके अधिकारिक वेबसाइट
  • pmsvanidhi.mohua.gov.in पर जाना होगा।
  • उसके बाद इसके होम पेज में आप जितना लोन लेना चाहते हैं उसका चयन करें तथा मोबाइल नंबर डालकर ओटीपी के द्वारा वेरीफाई करें।
  • आपका लोन अप्रूव हो जाएगा। और जल्दी आप तक पहुंच जाएगा।

ई-श्रम कार्ड बनाने की योग्यता क्या है?

  • भारत का स्थानीय निवासी होना आवश्यक है।
  • आयु 15 से 60 वर्ष के बीच होना अनिवार्य है
  • असंगठित क्षेत्र में काम करते हो।
  • पहले से किसी सरकारी योजना का लाभ नहीं होता हो।

उत्तर प्रदेश राज्य के सभी नागरिक जिनका ई-श्रम कार्ड है, यदि वे अपना ई-श्रम कार्ड पेमेंट स्टेटमेंट चेक करना चाहते हैं तो निम्नलिखित उपाय इसके लिए कारगर सिद्ध होंगे।

  • ई-श्रम कार्ड के द्वारा भुगतान हुआ है या नहीं इस बात को जानने के लिए पासबुक अपडेट करवाना होगा।
  • यदि आप आधुनिक बैंकिंग सुविधा नेट बैंकिंग का प्रयोग करते हैं तो आप आसानी से यह जांच कर सकते हैं कि ई-श्रम कार्ड योजना के अंतर्गत भुगतान हुआ है या नहीं।
  • इन सबके अतिरिक्त आप अपने बैंक के हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके भी अपने जांच को पूर्ण कर सकते हैं।
  • वे सभी ई-श्रम कार्ड धारक जो एटीएम कार्ड या डेबिट कार्ड का प्रयोग करते हैं आसानी से एटीएम मशीन के द्वारा अपना बैंक बैलेंस चेक कर सकते हैं। और यह बात स्पष्ट कर सकते हैं कि ई-श्रम योजना के अंतर्गत मिलने वाला लाभ उन्हें मिला है या नहीं।
  • आखिर में आप अपने बैंक के बैलेंस इंक्वायरी नंबर पर मैसेज भेजकर भी अपने बैंक बैलेंस को चेक कर सकते हैं।

अतः आप सभी ई-श्रम कार्ड धारक ये ऊपर बताए गए उपायों के द्वारा आसानी से अपने बैंक बैलेंस को चेक कर इस बात का पता लगा सकते हैं कि ई-श्रम कार्ड योजना के द्वारा आप को आर्थिक सहायता प्राप्त हुई है या फिर नहीं।

निष्कर्ष

सरकार द्वारा लाई गई ई-श्रम कार्ड योजना के मुख्य बिंदु ऊपर लिखे आर्टिकल में विस्तार पूर्वक उल्लेखित है।

अतः हम आशा करते हैं कि हमारा यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। यदि हां तो इसे अपने दोस्त के साथ जरूर शेयर करें और साथ ही यदि इस आर्टिकल से जुड़ा कोई सवाल आपके मन में है तो उसे कमेंट के जरिए हम से जरूर पूछें।

अन्य लाभदायक पोस्ट

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment

×