E-Shram Card Money Update : कार्ड धारकों की होगी मौज, खाते में आएंगे इतने रुपए, ऐसे करें चेक

जैसा कि हम सभी को पता है कि हमारे देश की अधिकतम जनसंख्या पिछड़ी हुई है। वे न केवल मानसिक रूप से पिछड़े हैं इसके अतिरिक्त बहुत से ऐसे लोग हैं जो आर्थिक रूप से भी बहुत ज्यादा पिछड़ चुके हैं।

तरक्की की इस दौड़ में यह सभी पिछड़े लोग सफलता की और बहुत ही मंद गति से बढ़ रहे हैं। जिससे कि इसका प्रत्यक्ष असर हमारी देश की उन्नति पर दिख रहा है। 

हमारी सरकार आए दिन इन सभी पिछड़े लोगों के हित के लिए कार्य करती है। इसी संबंध में आए दिन योजनाओं को भी जनता के समक्ष लाती है। बहुत सी योजनाएं इस में कार्यरत भी है।इन्हीं योजनाओं में से एक योजना है ई-श्रम कार्ड योजना। इस योजना के तहत सभी असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को आर्थिक सहायता के रूप में कुछ पैसे प्रदान किए जाते हैं।

एक प्रकार से इस योजना में असंगठित क्षेत्रों में रहने वाले सभी मजदूरों का डेटाबेस होता है। अनुमान लगाया जाता है कि आपातकाल की स्थिति में अथवा किसी महामारी की स्थिति में इस डेटाबेस का प्रयोग जनता को सहायता प्रदान करने हेतु किया जा सकता है।

इस आर्टिकल के माध्यम से आज हम आपको ई-श्रमकार्ड से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण तथ्यों के विषय में बताएंगे। यदि आप भी एक ई-श्रमधारक है तो यह आर्टिकल आपके काम की ही है। तो अंत तक हमारे इस आर्टिकल के साथ जुड़े रहे।

क्या है फायदे ई-श्रम कार्ड से:-

  • सभी ई-श्रम कार्ड धारकों को सरकार के द्वारा लाई गई हर एक योजना का लाभ सर्वप्रथम और प्रत्यक्ष रूप से प्राप्त होगा।
  • यदि कोई ई-श्रम कार्ड धारक व्यक्ति अपना स्वयं का घर बनाने का इच्छुक है तो उसे घर बनाने के लिए सरकार के द्वारा बहुत ही कम ब्याज पर लोन उपलब्ध करा दिया जाएगा।
  • ई-श्रम कार्ड होने से केवल धारक को इसका लाभ नहीं प्राप्त होता है अपितु उसकी संतान को भी इसका प्राप्त होता है। कहने का तात्पर्य यह है कि यदि धारक का बेटा अथवा बेटी उच्च शिक्षा प्राप्त करने हेतु आगे की पढ़ाई जारी रखना चाहते हैं तो उन्हें सरकार के द्वारा छात्रवृत्ति की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।
  • ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि सभी ई-श्रम कार्ड धारकों को भविष्य में मासिक रूप से एक निश्चित राशि प्रदान की जाएगी। जिससे कि उनके वृद्धावस्था में उन्हें आर्थिक तंगी का मुख ना देखना पड़े।
  • यदि कोई ई-श्रम कार्ड धारक किसी दुर्घटना में विकलांग हो जाता है तो उसे सरकार के द्वारा ₹100000 की सहायता राशि प्रदान की जाती है।
  • यदि इस दुर्घटना में उसकी मृत्यु हो जाती है तो उस धारक के परिवार को आर्थिक सहायता प्रदान करने हेतु सरकार ₹200000 की धनराशि प्रदान करती है।

जानिए कौन कौन बनवा सकता है यह कार्ड:-

  • जो भी व्यक्ति इस कार्ड को बनाने का इच्छुक है उसके पास भारत की नागरिकता होनी जरूरी है। अर्थात किसी अन्य देश जैसे कि नेपाल पाकिस्तान बांग्लादेश या अन्य देश के शरणार्थी इस योजना के लिए आवेदन नहीं कर सकते हैं।
  • उम्मीदवार की उम्र सीमा निर्धारित की गई है जिसके अनुसार केवल 18 वर्ष से 60 वर्ष के ही नागरिक इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। अर्थात इसे नाबालिक नहीं अप्लाई कर सकते हैं।
  • उम्मीदवार किसी सरकारी योजना से पहले से लाभ प्राप्त ना करने वाला होना चाहिए। यदि पहले से ही किसी सरकारी योजना का लाभ उसे प्राप्त हो रहा है तो वह इस योजना के पात्र नहीं है।
  • असंगठित क्षेत्र से संबंधित होना चाहिए अर्थ अर्थ यदि कोई व्यक्ति असंगठित क्षेत्र का न होकर किसी अच्छे इलाके से संबंधित है तो वह इस योजना के लिए आवेदन नहीं कर सकता है।
  • इस योजना के लिए छात्र अथवा विद्यार्थी अप्लाई नहीं कर सकते हैं क्योंकि यह योजना गरीब असहाय पिछड़े अवध के मजदूरों और कामगारों के लिए है। अर्थात इस योजना से छात्रों का कोई भी लेना देना नहीं है।

जाने क्या है आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • आवासीय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट के आकार का फोटो
  • बैंक डिटेल्स
  • आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर

जाने देश के ऐसे कौन से पेशेवर लोग ही देश के लिए आवेदन कर सकते हैं:-

  • सफाई कर्मचारी
  • गार्ड
  • ब्यूटी पार्लर
  • प्लंबर
  • इलेक्ट्रिशियन
  • वेल्डिंग वर्कर मजदूर
  • ईट की भट्टी में काम करने वाला मजदूर
  • मछुआरा
  • रिक्शा चलाने वाले लोग
  • कुली का काम करने वाले लोग
  • ठेले का दुकान लगाने वाले लोग
  • चाय बेचने वाले लोग
  • नाई का काम करने वाले लोग
  • मोची का काम करने वाले लोग
  • दर्जी का काम करने वाले लोग
  • लकड़ी का काम करने वाले लोग
  • खदान में मजदूरी करने वाले लोग
  • मूर्ति बनाने वाले मूर्तिकार अथवा शिल्पकार लोग
  • पंचर बनाने वाले लोग
  • दुकान में रहने वाले क्लर्क
  • सेल्समैन
  • हेल्पर
  • ऑटो चलाने वाले ड्राइवर
  • अन्य वाहन चलाने वाले ड्राइवर
  • डेयरी फार्म में काम करने वाले लोग
  • पेपर होकर 

जाने खुशखबरी:-

सभी ई-श्रम कार्ड धारकों को सूचित किया जाता है कि सरकार के द्वारा इस योजना के तहत चौथी किस्त भी लागू कर दी गई है। यदि आप भी एक ई-श्रम कार्ड धारक है तो आपको बता दें कि आपके भी बैंक खाते में इस योजना के तहत चौथी किस्त जा चुकी होगी।

यदि आप असमंजस में है कि यह किश्ती आई है या नहीं तो घबराइए मत हम आपको इसके बारे में भी विस्तार पूर्वक बताएंगे कि आप किस प्रकार से अपने बैंक अकाउंट में इस बात की जांच कर सकते हैं कि आपके पैसे आए हैं या नहीं।

आप सभी को यह भी बता दें कि जिन कार्ड धारकों ई-श्रम कार्ड योजना के तहत दूसरी किस्त नहीं मिली है तो उन्हें बता दे कि श्रम विभाग ने यह बात पूर्णता सु स्पष्ट कर दिया है कि उन सभी कार्ड धारकों के बैंक अकाउंट में इस योजना की किश्ती नहीं जाएगी जो इस योजना के पात्र नहीं है और इससे जुड़े हुए हैं।

आपको बता दें कि इस योजना के अंतर्गत असंगठित क्षेत्रों के मजदूरों को ₹500 की किस्त हर महीने सरकार की ओर से आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान की जाती है।

आप श्रम कार्ड के लिए ऑनलाइन अप्लाई भी कर सकते हैं। इसके लिए आपको सर्व प्रथम इसके ऑफिशल वेबसाइट पर जाने की आवश्यकता पड़ेगी जो कि  eshram.gov.in है।

अब इसके पोर्टल में जाकर अपनी ऑनलाइन एप्लीकेशन की प्रक्रिया को पूर्ण कर सकते हैं।

यदि आपको इससे संबंधित कोई समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो इसके लिए सरकार की ओर से रजिस्ट्रेशन के लिए 14434 टोल फ्री नंबर भी बताया गया है। जिस पर आप कॉल कर  अपनी समस्याओं का हल सरलता पूर्वक निकाल सकते हैं।

निष्कर्ष:-

इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको इस श्रम कार्ड के विषय में विस्तार पूर्वक बताया है हम उम्मीद करते हैं कि हमारे आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। यदि आप कोई सुझाव देना चाहते हैं तो आप कमेंट के जरिए सरलता पूर्वक यह कार्य पूर्ण कर सकते हैं।

लाभदायक पोस्ट पढ़ें


Important Links

WTechni HomeClick Here
Other postsClick Here
Join Telegram ChannelClick Here

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment

×