सीआईडी ऑफिसर कैसे बने?

हर स्टूडेंट का अपनी पढ़ाई करने का एक लक्ष्य होता है कि वह पढ़ लिख कर एक सफल व्यक्ति बने इसके लिए स्टूडेंट काफी मेहनत भी करते है। आज जब हम स्टूडेंट में पढ़ाई को लेकर बात करते है तो ज्यादातर युवा छात्र डॉक्टर, इंजीनियर की तरफ रुख करते है क्योंकि इस फील्ड में आसानी से नौकरी मिल जाती है।

लेकिन आज काफी स्टूडेंट ऐसे है जो सीआईडी ऑफिसर बनकर देश की सेवा करना चाहते है और इस फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते है लेकिन अक्सर देखा जाता है कि छात्रों को इसके बारे में उचित जानकारी न होने की वजह से वह अपने इस सपने को पूरा नही कर पाते है।

बैसे भी आप सभी जानते है कि आज किसी भी सरकारी नौकरी को पाने के लिए उसकी काफी तैयारी करनी होती है साथ ही नौकरी के लिए किस प्रकार की पढ़ाई करनी चाहिये, उसके लिए क्या योग्यता होनी चाहिए आदि के बारे में पता होना बहुत जरूरी होता है तभी छात्र उस नौकरी से जुड़े एग्जाम को आसानी पास कर सकता है।

बस इन्ही कुछ बातों को ध्यान में रखते हुए आज हम अपने इस आर्टिकल में सीआईडी ऑफिसर कैसे बने?, इसके लिए क्या योग्यता होनी चाहिए, और इसकी तैयारी कैसे करें? आदि से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी साझा करने जा रहे है जो उन स्टूडेंट के लिए बहुत जरूरी है जो इस फ़ील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते है। अगर आप भी उन स्टूडेंट में से है जो इस फील्ड में जाकर देश कि सेवा करना चाहते और अपना करियर बनाना चाहते है तो हमारे इस आर्टिकल को नीचे तक ध्यानपूर्वक पढ़े –

सीआईडी ऑफिसर क्या होता है?

CID जिसकी फूल फॉर्म CRIMINAL INVESTIGATION DEPARTMENT होती है जिसे हिंदी में अपराधशील खोज विभाग कहते है। यह एक प्रकार की खुपियाँ एजेंसी होती है जो पुलिस बल के साथ मिलकर राज्य के आपराधिक मामलों की जांच करके पुलिस की मदद करती है।

इस फील्ड में कार्यकर्त व्यक्ति को डीजीपी (पुलिस महानिदेशक) के द्वारा कुछ आपराधिक मामलों जैसे कि हत्या केस, डकैती, धोखाधड़ी, यौन संबंधित, बैंक आपराधिक मामले, वैज्ञानिक अनुसंधान केंद्र आपराधिक मामले, लापता व्यक्ति ब्यौरों आदि की जांच की जिम्मेदारी दी जाती है।

इन आपराधिक मामलों से जुड़े तथ्यों को इकट्ठा करके और अपराधी को पकड़ कर अदालत में पेश करना इस विभाग में कार्यरत व्यक्ति का मुख्य कार्य होता है। इस विभाग में अनेक लोगो को अलग – अलग पद के लिए चयन किया जाता है बस कुछ योग्यता और पात्रत के अनुसार पद अलग – अलग होते है लेकिन इन सभी पदों पर चयनित व्यक्ति को सीआईडी ऑफिसर कहते है।


इस विभाग में जाना किसी भी व्यक्ति के लिए बड़े सम्मान की बात होती है क्योकि इस विभाग में जाने वाले व्यक्ति को देश से जुड़े आपराधिक मामलों की जांच कर अपराधी को सजा दिलाना होता है जो कि सीधे देश हित से जुड़ा होता है।

इस पद को विभाग में नौकरीं पाने के लिए अभ्यर्थी को कुछ जरूरी पत्रताओ और कुछ योग्यताय से गुजना होता है साथ इस पद से जुड़ी परीक्षा को पास करना होता है जिसका आयोजन यूपीएसी (संघ लोक सेवा आयोग) के द्वारा कराई जाती है जिसके बारे में आप नीचे डिटेल में पढ़ेंगे –

सीआईडी ऑफिसर कैसे बने?

इस पद से जुड़े एग्जाम को यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग) के द्वारा एग्जाम कराया जाता है जिसमे रैंकिंग के अनुसार अभ्यर्थी का चयन किया जाता है। अब ये तो हम सभी जानते है कि यूपीएसी मतलब की सिविल सेवा परीक्षा को पास करना इतना आसान काम नही होता है।

साथ ही सीआईडी एक तरह से पुलिस संगठन होता है जो गुप्त तरीके से आपराधिक मामलों की छानबीन करके अपराधी को सजा दिलाता है। क्योंकि इस फील्ड में गुप्त तरीके से आपराधिक मामलों का पता लगाया जाता हैं जिसके लिए इस फील्ड में जाने वाले व्यक्ति के पास तेज़ दिमाग के साथ – साथ मजबूत शारीरिक योग्यता का होना काफी जरूरी होता है।

बाकी इस फील्ड में कैरियर बनाने के लिए छात्र को किन – किन योग्यताओं से गुजरना होगा इसके बारेमें नीचे आप डिटेल में पढ़ सकते है –

नागरिकता

यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग) के अंतर्गत इस पद से जुड़ी परीक्षा में शामिल होने के लिए अभ्यर्थी के पास भारत की नागरिकता होना अनिवार्य है।

आयु सीमा

इस परीक्षा में शामिल होने के लिए कैडिटेड की आयु 20 साल से 27 साल के बीच होनी चाहिए। लेकिन अगर आप अनुसूचित जाति/ अनुसूचित जन जाति में आते है तो 20 से 32 बर्ष तक की आयु में इस परीक्षा में शामिल हो सकते है।

शैक्षिक योग्यता

इस में शामिल होने और इसमे कैरियर बनाने के लिए आपको 12th पास करना अनिवार्य है। लेकिन अगर आप इस फ़ील्ड में अच्छी पोस्ट पाना चाहते है तो आप ग्रेजुएशन करके इस परीक्षा में शामिल हो सकते है।

शारीरिक योग्यता

अगर इस फ़ील्ड में चयनित होने वाले व्यक्ति की शारीरिक योग्यता को बात करे तो पुरुषों के लिए 165 सेमी लंबाई और 75 सेंटीमीटर छाती को निर्धारित किया गया है। और महिलाओं में 150 सेमी लंबाई को निर्धारित किया गया है।

सीआईडी की परीक्षा को कितनी बार दे सकते है?

यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग) के अंतर्गत होने वाली इस परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थी के लिए कुछ नियम बनाने गए है जिनके बारे में आप नीचे यहाँ पढ़ सकते है –

  • सामान्य श्रेणी के युवा छात्र इस परीक्षा को 4 बार दे सकते है।
  • एससी/एसटी के छात्र इस परीक्षा में कितनी बार शामिल हो सकते है इसके लिए कोई समय निर्धारित नही किया गया है।
  • ओबीसी कैडिटेड इस परीक्षा में 7 बार शामिल हो सकते है।

सीआईडी ऑफिसर की चयन प्रक्रिया

यह एक पुलिस से जुड़ा विभाग होता है जिसमे चयनित व्यक्ति को काफी चालाकी से काम करना होता है इसलिए इस पद में चयनित होने के लिए व्यक्ति को यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग) के द्वारा आयोजित की जाने वाली विभिन्न परीक्षाओं को पास करना होता है जिनके बारे में आप नीचे डिटेल में पढ़ सकते है –

  1. लिखित परीक्षा
  2. शैरीरिक परीक्षा
  3. साक्षात्कार

लिखित परीक्षा

इस पद के लिए यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग) के द्वारा सबसे पहले लिखित परीक्षा का आयोजन किया जाता है जिसमे मुख्य रूप से 2 परीक्षाओं को पास करना होता है।

भाग -1

लिखित परीक्षा के पहले पेपर में अभ्यर्थी को 2 घण्टे में 200 अंक के पेपर को सॉल्व करना होता है जिसमे नेगेटिव मार्किंग भी शामिल होते है मतलब की अगर आप एक प्रश्न गलत होता है तो आपका 0.25 अंक काट लिया जाएगा। इस पहले पेपर में सामान्य जागरूकता, मात्रात्मक योग्यता, अंग्रेजी की समझ आदि से जुड़े प्रश्नों को पूछा जाता है।

भाग – 2

इस दूसरे पेपर में 4 घंटे में कैडिटेट को 400 अंक का पेपर सॉल्व करने के लिये दिया जाता है इसमे एक प्रश्न गलत होने पर कैडिटेड का 0.50 अंक काट लिया जाता है।

शारीरिक परीक्षण

लिखित परीक्षा को पास करने के बाद एक निर्धारित दिनांक के आधार पर शारीरिक परीक्षण के लिए बुलाया जाएगा जिसमे लाभार्थी की लंबाई, छाती आदि का नापा जाता है।

साक्षात्कार

लिखित परीक्षा एयर शारीरिक परीक्षण होने के बाद आपको इस पद से जुड़े अंतिम परीक्षा इंटरव्यू के लिए बुलाया जाएगा जिसमे आपसे तर्कशक्ति, बुद्धि, सामान्य ज्ञान आदि से जुड़े 100 नंबर के प्रश्नों को पूछा जाएगा अगर कप इस इंटरव्यू के एग्जाम को पास कर लेते है तो फाइनली आपको सीआईडी ऑफिसर बना दिया जाएगा।

सैलरी

इस विभाग में काफ़ी लोगो का अलग – अलग पद पर उनकी योग्यता के अनुसार वेतन दिया जाता है। बैसे बेसिकली इस विभाग में चयनित व्यक्ति को 8000 से 25000 तक को सैलरी प्रतिमाह दी जाती है। साथ ही कुछ सरकारी सेवाओं का भी लाभ प्रदान किया जाता है।

सीआईडी ऑफिसर के कार्य

यह अधिकारी लेवल का पद होता है जिसमे चयनित व्यक्ति को अपना तेज़ दिमाग चलाकर और चालाकी के साथ आपराधिक मामलों पता लगाना होता है। हमने नीचे इस पद पर कार्यरत व्यक्ति के कुछ कार्यो के बारे में बताया है –

  • इस पद पर कार्यकर्त व्यक्ति को सरकार के अधीन काम करते हुए आपराधिक मामलों को सुलझाना होता है।
  • इस पद पर चयनित व्यक्ति को गुप्त तरीके से आपराधिक मामलों की जांच करने की जिम्मेदारी।दी जाती है।
  • पुलिस विभाग की सहायता करना इस विभाग का सबसे महत्वपूर्ण कार्य होता है।

सीआईडी ऑफिसर की तैयारी कैसे करें?

सभी छात्र जानते है की आज कॉम्पटीशन का युग है क्योकि हर युवा छात्र आज सरकारी नौकरीं पाने की होड़ में लगा हुआ है इसलिय आज सभी परीक्षाओं में कॉम्पटीशन काफी बढ़ता जा रहा है जिसे पास करना काफी मुश्किल हो जाता है।

और आज हम सीआईडी पद के लिए होने वाले एग्जाम की बात कर रहे है तो इस एग्जाम को पास करना किसी भी स्टूडेंट के लिए इतना आसान नही होता है क्योकि इसका एग्जाम इस यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग) के द्वारा कराया जाता है।

किसी कॉम्पटीशन परीक्षा की तैयारी कर रहे है तो आप जानते ही होंगे कि इस यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग) के अंतर्गत होने वाले एग्जाम बिल्कुल भी आसान नही होते है इन्हें पास करने के लिए काफी मेहनत करनी होती है।

अब अगर आप भी सीआईडी ऑफिसर बनना चाहते है तो आपको इसके लिए शुरू से काफी मेहनत करनी होगी तभी आप इसमे सफलता पा सकते है बाकी हम आपको ऊपर इसके परीक्षा पैटर्न के बारे।में बता ही।चुके है जिसके अनुसार आप इस परीक्षा की तैयारी करके इस परीक्षा को आसान बना सकते है। साथ ही नीचे दिए कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं को पढ़कर आप इस यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग) के अंतर्गत होने वाले एग्जाम को आसान बना सकते है और इस विभाग में अपना कैरियर बना सकते है।

  • यह एक जासूसी खुपियाँ एजेंसी के अंतर्गत विभाग आता है जिसमे आपको अपना दिमाग एक चतुराई के साथ चलाकर अपराधियों को पकड़ना होता है जिसके लिए आप टीवी पर आने वाले सीरियल की मदद ले सकते है यह आपको इस काम मे माहिर करने में काफी मदद करेंगे।
  • यह परीक्षा यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग)
  • के अंतर्गत कराई जाती है जिसकी तैयारी के लिए आप किसी कोचिंग संस्थान का सहारा ले सकते है।
  • इस परीक्षा की तैयारी के साथ – साथ आपको अपने शारीरिक बॉडी पर विशेष ध्यान देना होगा क्योकि इस पद के लिए शारीरिक परीक्षण से गुजरना होता है।
  • आप इंटरनेट की मदद से इस परीक्षा की तैयारी कर सकते है।

CID परीक्षा का सिलेबस

इस यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग) के द्वारा आयोजित परीक्षा के लिए आपको किस सिलेबस को पढ़ना होगा वह कुछ इस प्रकार है –

  • सामान्य जागरूकता
  • सामान्य ज्ञान
  • सामान्य योग्यता
  • संख्यात्मक क्षमता
  • विचार
  • अंग्रेजी भाषा

सक्षेप में

सरकारी नौकरी पाना आज हर छात्र के साथ – साथ उसके माता – पिता का भी अपना सपना होता है की हमारा बच्चा पढ़ लिख कर एक अच्छी नौकरी पा पहुंचे और जब हम सरकारी नौकरी या देश सेवा की बात करते है तो सीआईडी ऑफिसर जो की एक अधिकारी होता है जिसका रुतवा अलग होता है, जिसे पाने के लिए हर साल लाखों छात्र तैयारी करते है लेकिन कुछ ही ऐसे छात्र होते है जो इसमें सफल हो पाते है। क्योकि इसका इस पद से जुड़े एग्जाम का आयोजन संघ लोक सेवा आयोग के द्वारा किया जाता है जिसके पेपर काफी कठिन होता है।

इस परीक्षा में वही छात्र सफलता पा सकता है जिसको इस पेपर के एग्जाम  की अधिक जानकारी होती है और वह इसकी अच्छी तैयारी करते है। अब जो युवा इस फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते है उनके लिए आज हमने इस आर्टिकल की मदद से इस परीक्षा से जुड़ी तमाम जानकारियों को साझा की ताकि।इस फील्ड में कैरियर बनाने वाले अभ्यर्थी को आसानी हो सके

सो फ्रेंड्स अगर आप भी इस पद को पाना चाहते है या फिर इसकी तैयारी कार रहे है तो लेख में दी गयी जानकारी को अच्छे से समझ ले ताकि आपको इसमें आवेदन करने और इसकी  परीक्षा की तैयारी करने में कोई परेशानी ना हो। बाकी अगर आपको इसके बारे में अन्य किसी जानकारी के बारे में पूछना है या फिर आपका कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here