कैल्शियम क्लोराइड का रासायनिक सूत्र क्या है? इसके उपयोग तथा गुण

कैल्शियम क्लोराइड एक ऐसा योगिक है जिसका उपयोग विभिन्न प्रकार के दवाइयों में किया जाता है.आज आप  हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे की कैल्शियम क्लोराइड का रासायनिक सूत्र क्या है?

कैल्शियम क्लोराइड एक अकार्बनिक योगिक है, इस टॉपिक को केमिस्ट्री विषय के अंतर्गत पढ़ा जाता है, यह टॉपिक शिक्षक के द्वारा नाइंथ या टेंथ क्लास में विस्तार पूर्वक बताई जाती है. 

कैल्शियम क्लोराइड से संबंधित प्रश्न अक्सर एग्जाम में पूछे जाते हैं.

विषय दिखाएँ

कैल्शियम क्लोराइड किसे कहते हैं?

कैल्शियम क्लोराइड अकार्बनिक योगिक को कहते हैं जो कैल्शियम का एक परमाणु और क्लोरीन के दो परमाणु से मिलकर बना होता है.

कैल्शियम क्लोराइड का रासायनिक सूत्र 

कैल्शियम क्लोराइड का रासायनिक सूत्र cacl2 होता है, इसकी जानकारी लगभग सभी विद्यार्थियों को होनी चाहिए.

बहुत से बच्चे को कैल्शियम क्लोराइड का रासायनिक सूत्र नहीं पता होता, शिक्षक जब क्लास में इस टॉपिक के बारे में विस्तार से बताते हैं उस समय क्लास के कुछ बच्चे ध्यान देकर नहीं समझते जिस कारण उन्हें यह टॉपिक अच्छे से समझ नहीं आती. 

लेकिन कैल्शियम क्लोराइड से संबंधित जानकारी विद्यार्थियों को जानना आवश्यक है क्योंकि इस टॉपिक से संबंधित प्रश्न बोर्ड एग्जाम में भी पूछे जाते हैं.

कैल्शियम क्लोराइड का गुण

  • कैल्शियम क्लोराइड जल को अवशोषित करता है.
  • यह योगिक सफेद ठोस पदार्थ होता है.
  • कैल्शियम क्लोराइड रंगहीन पाए जाते हैं.

कैल्शियम क्लोराइड का उपयोग 

  • इसका उपयोग सड़कों के धूल कन को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है.
  • कैल्शियम क्लोराइड जल को अवशोषित करता है इसलिए चारों और के हवा के छोटे-छोटे कण को सोखने  के लिए डिसेकैंट के रूप में इसका उपयोग किया जाता है.
  • उर्जा प्रदान किए जाने वाले खाद्य पदार्थों में कैल्शियम क्लोराइड का उपयोग किया जाता है.

कैल्शियम क्लोराइड के लाभ

कैल्शियम हमारे शरीर के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण तत्व है जिसका हमारे शरीर में होना बहुत ही जरूरी है क्योंकि कैल्शियम की कमी होने से हमारा शरीर धीरे-धीरे कमजोर हो जाता है 

इसलिए जहां तक संभव हो हम लोगों को अपने शरीर में कैल्शियम की मात्रा प्राप्त रखनी चाहिए.

कैल्शियम हमारे दांतो और हड्डियों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण तत्व है क्योंकि हमारे दांतो और हड्डियों में 99% से अधिक कैल्शियम तत्व पाया जाता है. 

कैल्शियम तत्वों का हमारे दांतो और हड्डियों में होने से हमारी दाते मजबूत होती है और वहीं दूसरी और हड्डियां स्ट्रांग रहती है किसी भी प्रकार की कार्यों को फुर्तीला ढंग से कर पाने में सक्षम होते हैं. 

यदि हमारे शरीर में कैल्शियम का पर्याप्त मात्रा उपलब्ध है तभी हमारा शरीर स्वस्थ रह पाता है.

तंत्रिका तंत्र और हमारा हृदय तभी अच्छे से कार्य करेगा जब हमारे शरीर में कैल्शियम की मात्रा उपस्थित रहेगी क्योंकि शरीर के अंग बिना कैल्शियम का काम नहीं करता इसलिए कैल्शियम रहने से हमारा हृदय और तंत्रिका तंत्र सुव्यवस्थित ढंग से कार्य करता है.

कैल्शियम की कमी के कारण क्या होता है?

कैल्शियम की कमी हमारे शरीर के लिए हानिकारक है इसलिए हम लोगों को उन सभी पदार्थों को भोजन के द्वारा ग्रहण करना चाहिए जिसमें कैल्शियम उपस्थित रहता है.

कैल्शियम से होने वाले विभिन्न लक्षण निम्नलिखित है :-

  • कैल्शियम की कमी से हमारा शरीर कमजोर हो जाता है.
  • यदि बच्चों को कैल्शियम की कमी होती है तो उनकी लंबाई रुक जाती है वह ज्यादा लंबे नहीं हो पाते जिस कारण वे छोटे रह जाते हैं.
  • कैल्शियम की कमी से हमारे शरीर के अंगों में दर्द शुरू हो जाता है.

यदि हमारे शरीर में कैल्शियम की कमी होती है तो हमारा तंत्रिका तंत्र अच्छे से काम नहीं करता जिससे हमारा दिमाग कमजोर हो जाता है क्योंकि तंत्रिका तंत्र हमारे मस्तिष्क से जुड़ा हुआ रहता है जो हमें हर तरह की जानकारी को हमारे मस्तिष्क तक पहुंचाता है. 

यदि कैल्शियम की कमी होती है तो सबसे पहले हमारा तंत्रिका तंत्र काम करना बंद कर देता है जिससे हमारा दिमाग अच्छे तरीके से काम नहीं करता.

जैसे कि आप को बताए हैं की दांतो और हड्डियों के लिए कैल्शियम बहुत ही आवश्यक तत्व है यदि कैल्शियम की कमी होती है तो हमारे दांतों में दर्द होना और दातों का सालाना शुरू हो जाता है अर्थात इसे दंत क्षय भी कहा जाता है, इसके साथ साथ हमारे शरीर में कमजोरी जैसे पैरों का झनझनाना शुरू हो जाता है.

कैल्शियम की कमी होने से डॉक्टर की सलाह 

जब कैल्शियम की कमी होती है तो हमारा शरीर बहुत ही कमजोर हो जाता है जिससे हमें अनेक प्रकार की बीमारियां धीरे-धीरे अपने चपेट में लेने लगती है, डॉक्टर के पास जाते हैं डॉक्टर सबसे पहले ब्लड टेस्ट करवाने बोलता है क्योंकि ब्लड टेस्ट के द्वारा नहीं पता करते हैं इनके शरीर में कितना मात्रा कैल्शियम उपस्थित है.

यदि हमारे शरीर में कैल्शियम की कमी होती है तो डॉक्टर हमें खाद्य पदार्थों का सेवन करने के लिए बोलते हैं जिनसे हमारे शरीर में कैल्शियम बने इसके साथ-साथ के कई प्रकार के दवा के रूप में देते हैं. 

विटामिंस की जो दवा मिलती है उसमें भी कैल्शियम की मात्रा उपलब्ध रहती है जिसे खाने के बाद  हमारे शरीर में धीरे-धीरे कैल्शिय की कमी दूर होती  है.

कैल्शियम क्लोराइड का दुष्प्रभाव

मुंह सूखना

जिसके शरीर में कैल्शियम का साइड इफेक्ट होता है उनका मुंह अक्सर सूखने लगता है.

जब लोगों के शरीर में किसी दवा का साइड इफेक्ट पड़ता है तो उस समय उनकी लाल ग्रंथि से लाल बन्ना कम हो जाता है जिस कारण से उनका मुंह सूखने लगता है और सेकंड सेकंड में पानी पीते हैं.

जब लोगों का मुंह सूखने लगता है तो उस दौरान उनके दातों में भी प्रभाव पड़ता जिससे उनके दांत का रंग चेंज हो जाता है. अर्थात पीलेपन दातों में आ जाता है.

कैल्शियम के इस दुष्प्रभाव के साथ-साथ कुछ और भी दुष्प्रभाव हमारे शरीर में होते हैं जैसे रक्तचाप कम होना, उत्तक परिगलन, हमारे खून में कैल्शियम की वृद्धि इत्यादि.

कैल्शियम क्लोराइड के सेवन से लीवर में परेशानी होना

जब लोग कैल्शियम क्लोराइड का सेवन करते हैं तो उनके लीवर में कुछ परेशानी होने लगती है इसलिए लोगों को पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम क्लोराइड का सेवन करना चाहिए.

हृदय में दुष्प्रभाव

कैल्शियम क्लोराइड के कारण हमारा हृदय प्रभावित होता है, ज्यादा कैल्शियम क्लोराइड का सेवन से हमारे हृदय में इस दवा का असर होने लगता है इसलिए जहां तक संभव हो कैल्शियम क्लोराइड को कम  मात्रा में  ही सेवन  करे.

गर्भवती महिलाओं के लिए दुष्प्रभाव

कैल्शियम क्लोराइड से संबंधित दवा खाने के पहले गर्भवती महिलाओं को डॉक्टर से सलाह ले लेनी चाहिए क्योंकि कैलशियम क्लोराइड का साइड इफेक्ट इनके शरीर में होता है.

किन बीमारियों में कैल्शियम क्लोराइड का सेवन नहीं करना चाहिए?

यदि आप लिवर, गुर्दे तथा ह्रदय जैसी बीमारी से ग्रसित हैं तो आपको कैल्शियम क्लोराइड से संबंधित दवा नहीं लेनी चाहिए, क्योंकि इसका दुष्प्रभाव आपके शरीर में काफी ज्यादा होगा जिससे आपकी तबीयत और भी बिगड़ सकती है.

किस प्रकार की दवाइयों के साथ कैल्शियम क्लोराइड का सेवन करने से हमारे शरीर में हानिकारक प्रभाव पड़ता है:-

  • Gamecef injection
  • Monocef 500gm injection
  • Monocef 250 injection
  • Angizem CD 90 mg capsule capsule
  • Dilcontic XL 90 tablet
  • Dilzem CD 90 capsule ER
  • Dilzem 30 tablet CR

इस प्रकार के इंजेक्शन और टेबलेट के साथ कैल्शियम क्लोराइड का सेवन करना हमारे शरीर के लिए हानिकारक है, और भी बहुत प्रकार की ऐसी दवाइयां है जिसके साथ इस यौगिक का सेवन करना हमारे शरीर के लिए दुष्प्रभाव हो सकता है.

कैल्शियम क्लोराइड का सेवन खाद्य पदार्थों के साथ लेने से क्या होता है?

यदि लोग अपने खाद्य पदार्थों के साथ-साथ कैलशियम क्लोराइड का दवा लेते हैं तो इससे दवा का असर कुछ देर बाद होना शुरू होता है.

क्या कैल्शियम क्लोराइड का सेवन मस्तिष्क के विकास के लिए करना उचित है ?

कैल्शियम क्लोराइड का सेवन से मस्तिष्क में कोई प्रभाव नहीं पड़ता इसलिए मस्तिष्क का विकास के लिए कैल्शियम क्लोराइड का सेवन ना करें हालांकि तंत्रिका तंत्र में कैल्शियम क्लोराइड तत्व का होना आवश्यक है.

क्योंकि यही तंत्रिका तंत्र मस्तिक से जुड़ी होती है जो हमें सारी प्रकार की जानकारी देता है इसलिए तंत्रिका तंत्र को बेहतर ढंग से कार्य करवाने के लिए हमें कैल्शियम क्लोराइड का सेवन करना चाहिए. 

हमारे शरीर में ऐसे कई अंग हैं जिसके लिए कैल्शियम क्लोराइड को दवा के रूप में लेना आवश्यक है, जब हमारे शरीर में दर्द होता है तो उसके लिए डॉक्टर हमें कैल्शियम की टेबलेट देती है जिससे हमारा हड्डी मजबूत हो क्योंकि हड्डी में कैल्शियम की मात्रा बहुत ज्यादा रहती है.

लेकिन जब हड्डियों में कैल्शियम की कमी हो जाती है उस वक्त हमारा शरीर दर्द होने लगता है. 

इन सभी के साथ-साथ हमारे मांसपेशियों का सिकुड़ना तथा हमारे हृदय का सही ढंग से कार्य करना इन सभी के लिए हमारे शरीर में कैल्शियम के तत्व का होना आवश्यक है तभी हमारा शरीर का हर एक अंग अच्छे तरीके से काम कर पाएगा.

निष्कर्ष

कैल्शियम क्लोराइड हमारे लिए लाभदायक के साथ-साथ हानिकारक भी सिद्ध होता है इसलिए इसका उपयोग करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेना आवश्यक है. 

आज आप इस आर्टिकल के माध्यम से जाने की कैल्शियम क्लोराइड का रासायनिक सूत्र क्या होता है? तथा इसका लाभ और दुष्प्रभाव भी आप जाने .

आशा है आपको कैल्शियम क्लोराइड से संबंधित आवश्यक बातें अच्छे पूर्वक समझ में आई होगी.

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment

×