CA क्या है और ये कितने साल का कोर्स है

पढ़ाई करने वालों के बीच में सबसे ज्यादा इंटरेस्ट डॉक्टर, इंजीनियर या फिर वैज्ञानिक बनने का होता है लेकिन एक बहुत बड़ा ग्रुप ऐसा भी है जो कि चार्टर्ड अकाउंटेंट बनना चाहते हैं लेकिन क्या आपको पता है की CA क्या है (What is CA in Hindi). जिन बच्चों को शुरुआत से ही Math में बहुत ज्यादा इंटरेस्ट होता है वह इसी तरह के कोर्स करना चाहते हैं जो कि प्रोफेशनल हो और जिसमें की आसानी से और अच्छी पोस्ट में नौकरी मिल सके. लेकिन फिर भी शुरुआत में बच्चों को इस के बारे में जानकारी (CA information in Hindi) नहीं होती है. यही वजह है कि उनके मन में कई तरह के सवाल होते हैं जैसे कि सीए कैसे बने और यह कितने साल का कोर्स है? अच्छे पद पर जॉब करने का सपना तो सभी का होता है क्योंकि इसमें रुतबा तो होता ही है साथ ही सैलरी भी अच्छी होती है. इसीलिए कई लोगों का यह भी सवाल होता है की एक सीए की सैलरी कितनी होती है.

कुछ लोग इस कोर्स को बस CA के नाम से ही जानते हैं उन्हें यह नहीं पता होता है कि सीए का फुल फॉर्म क्या है (CA Full form in Hindi). आप इस पोस्ट को पढ़ रहे हैं क्योंकि आप इसकी पूरी जानकारी चाहते हैं. हमारा भी यही मकसद है कि आपको इसकी पढ़ाई के बारे में तथा इससे बनने वाले भविष्य के बारे में पूरी जानकारी दे सकें. सीए कैसे बने और इसकी पढ़ाई कैसे करें इसके बारे में भी हम आपको आगे सब कुछ बताने वाले हैं.

यह एक ऐसा कोर्स जो भारत में भी काफी पॉपुलर होता है. लेकिन इसके बारे में वही लोग ज्यादा इंटरेस्ट रखते हैं जिन्हें की अकाउंट से जुड़े हुए विषय को पढ़ने और उसके अंतर्गत आने वाले कामों को करने में मजा आता है. बहुत सारे बच्चे जो दसवीं लिखने के बाद में Science नहीं लेते वह कॉमर्स लेकर 10+2 करते हैं और फिर बाद में जाकर उन्हें सीए के बारे में पता चलता है और फिर उनके अंदर भी रुचि जाग जाती है. जब हम दिल्ली जाते हैं और वहां पर लक्ष्मी नगर एरिया जाएंगे तो आपको वहां बहुत भीड़ दिखाई देंगे जो सिर्फ और सिर्फ चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने का सपना लेकर वहां पर पढ़ाई करते हैं. अगर आपके मन में भी इस कोर्स को करने पर इंटरेस्ट है तो आप इस पोस्ट को पढ़े और अपने सवालों का जवाब ले फिर इसके लिए तैयारी करना शुरू कर दें. चलिए अब जान लेते हैं कि आखिर ये CA क्या होता है (What is CA in Hindi) और इसकी तैयारी कैसे करते हैं.

Contents show

सीए क्या है  – What is CA in Hindi

ca kya hai hindi

CA भारत में सबसे अधिक डिमांड वाले कोर्सेज में से एक है. यह बहुत ही ज्यादा रेपुटेड प्रोफेशन माना जाता है जिसमें काम करने वाले लोगों को काफी अच्छी पैकेज भी दी जाती है. एक अकाउंटेंट कई तरह के काम को करता है जैसे टेक्स्ट, अकाउंटेंसी, फाइनेंसियल गाइड, क्रेडिट एनालिसिस, ऑडिटिंग इत्यादि. अच्छी जॉब वह है जो कि रिसेशन प्रूफ है यानी कि कितने भी मंदी हो जाए ऐसे लोगों की डिमांड हमेशा होती है. इसी कैटेगरी में  ये कोर्स भी शामिल है जिसकी वैल्यू लोग बहुत अच्छे तरीके से समझते हैं और जिसका डिमांड मार्केट में कभी खत्म नहीं हो सकता. इस पद पर काम करने वाले इंसान को काफी सम्मान भी मिलता है.

CA का फुल फॉर्म क्या है – CA Full form in Hindi and English

Chartered Accountant

चार्टर्ड अकाउंटेंट 

Chartered Accountant meaning in Hindi

अगर हम साधारण शब्दों में बात करें तो चार्टर्ड अकाउंटेंट का काम होता है हिसाब किताब को देखना. आज के समय में कई बड़ी-बड़ी कंपनियां है जो खुद के लिए एक चार्टर्ड अकाउंटेंट रखते हैं जो उन्हें फाइनेंसियल सलाह देने का काम करते हैं. यह कंपनी के कई महत्वपूर्ण काम जैसे कि इनकम टैक्स से जुड़ी हुई समस्याओं का समाधान करना, इनकम टैक्स रिटर्न के लिए जरूरी कामों को करना, अकाउंट्स की ऑडिट करना, फाइनेंसियल रिकॉर्ड के बारे में भरोसेमंद जानकारी देना, बिजनेस रिकवरी करना इत्यादि यह सभी काम शामिल है.

चार्टर्ड अकाउंटेंट के तौर पर आपके पास काम करने के लिए काफी विकल्प होता है जिसमें इंडस्ट्रीज, फाइनेंशियल सेक्टर, साथ ही साथ सार्वजनिक क्षेत्र भी शामिल है. आपका मुख्य उद्देश्य होता है कि आप अपने क्लाइंट या फिर एंपलॉयर को अधिक से अधिक लाभ पहुंचाएं.

चार्टर्ड अकाउंटेंट द्वारा किए जाने वाले काम – Roles and Responsibility of CA

  • फाइनेंशियल सिस्टम और बजट का मैनेजमेंट करना
  • फाइनेंशियल ऑडिट करना (किसी भी फाइनेंसियल ऑर्गेनाइजेशन का बिना किसी भेदभाव के ऑडिट करना यानी की जांच करना)
  • वित्तीय सलाह प्रदान करना
  • क्लाइंट के साथ संपर्क करें और फाइनेंशियल जानकारी और सलाह प्रदान करें
  • कंपनी के सिस्टम का रिव्यू करें और जोखिम का एनालिसिस भी करें
  • फाइनेंसियल जानकारी और सिस्टम की जांच करने के लिए टेस्ट करें
  • टैक्स प्लैनिंग पर ग्राहकों को सलाह दें (वर्तमान कानून के भीतर उन्हें अपनी टैक्स को कम करने के लिए सक्षम करें)
  • अकाउंटिंग रिकॉर्ड्स को मेंटेन करें और छोटे बिजनेस के लिए अकाउंट मैनेजमेंट इनफार्मेशन तैयार करें
  • फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन पर क्लाइंट को सलाह देना
  • बिजनेस में इम्प्रूवमेंट लाने के लिए क्लाइंट को परामर्श देना और दिवालियापन से निपटने के तरीके बताना
  • धोखाधड़ी का पता लगाना और उससे निपटना फॉरेंसिक अकाउंटिंग कहते हैं.
  • जूनियर colleagues को मैनेज करना
  • इंटरनल और एक्सटर्नल ऑडिटर के साथ संपर्क करें और किसी भी तरह के फाइनेंशियल इरेगुलेरिटीज यानी कि गड़बड़ी से निपटने की योजना बनाएं
  • टैक्स और ट्रेजरी मुद्दों पर सलाह दें
  • मंथली और एनुअली अकाउंट के साथ फाइनेंसियल स्टेटमेंट तैयार करें
  • सप्लायर के साथ बातचीत करें

CA कैसे बने?

सीए चार्टर्ड अकाउंटेंसी दुनिया भर में सबसे रेपुटेड डेजिग्नेशन में से एक है. एक क्वालिफाइड सीए बनने के लिए बहुत ज्यादा फोकस करने की जरूरत होती है. इस पोस्ट में हम आपको अब यह बताने जा रहे हैं कि इस के सिलेबस की मूल बातें कौन सी है साथ ही आप जान सकेंगे कि चार्टर्ड अकाउंटेंट यानी कि सीए कैसे बने.

भारत में चार्टर्ड अकाउंटेंसी कोर्स और प्रोफेशन को द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (ICAI) नई दिल्ली द्वारा विनियमित किया जाता है. हम यहां पर आपको सीए कैसे बनते हैं उसके बारे में स्टेप बाय स्टेप बताने जा रहे हैं.

CA का कोर्स चार महत्वपूर्ण लेवल में होता है.

1. Common Proficiency Test (CPT) – सामान्य प्रवीणता परीक्षा
2. Integrated Professional Competence Course (IPCC)/IPCE) – एकीकृत व्यावसायिक क्षमता पाठ्यक्रम
3. Three years Articleship/ Training under a Practicing Accountant – अकाउंटेंट का काम कर रहे व्यक्ति के अंतर्गत 3 सालों की ट्रेनिंग
4. C. A Final

चार्टर्ड एकाउंटेंट बनने की आवश्यकताएं इस प्रकार हैं:

CPT के लिए रजिस्ट्रेशन करें

क्लास 10 वीं की परीक्षा पास करने के बाद कॉमन प्रोफिशिएंसी टेस्ट (CPT) के लिए इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया  के साथ रजिस्ट्रेशन करें.

CPT की परीक्षा में बैठे और पास करें

10+2 एग्जामिनेशन लिखने के बाद में सीपीटी एग्जामिनेशन में बैठे हैं. सीपीटी की रजिस्ट्रेशन करवाने के कम से कम 60 दिनों के पूरे होने के बाद बोर्ड ऑफ स्टडीज के साथ महीने की पहली दिन परीक्षा आयोजित की जाती  है. जिसमें वैसे विद्यार्थी जिन्होंने 1 अप्रैल या फिर 1 अक्टूबर को रजिस्ट्रेशन किया हो वही जून या फिर दिसंबर के एग्जामिनेशन में बैठने के योग्य हैं.

IPCC रजिस्ट्रेशन करें

रजिस्टर फॉर इंटीग्रेटेड प्रोफेशनल कंप्यूटर कॉम्पिटेंस कोर्स (IPCC) के रजिस्ट्रेशन करने से पहले उम्मीदवार को सीपीटी और 10+2 दोनों पास करने चाहिए. आईपीसीसी के लिए रजिस्ट्रेशन उस महीने के पहले दिन से 9 महीने किया जाना चाहिए जिसमें परीक्षा आयोजित की जाती है.

IPCC के कुल 7 पेपर होते हैं (Group 1+Group 2). जिसमें ग्रुप 1 में 4 पेपर से बना हुआ है और ग्रुप 2 में 3 पेपर होते हैं. आर्टिकलशिप शुरू करने के लिए ग्रुप 1 में पास होना जरूरी है.

ITT और ओरियंटेशन

100 घंटे इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी की ट्रेनिंग सफलतापूर्वक पूरा करना है. ओरियंटेशन और ITT को आर्टिकलशिप के लिए रजिस्टर करने से पहले पूरा किया जाना चाहिए. 1 सप्ताह का पूरा ओरियंटेशन कोर्स 35 घंटे में पूरा करना और विषयों को कवर करना भी जरूरी है जैसे पर्सनालिटी डेवलपमेंट, कम्युनिकेशन स्किल, ऑफिस प्रोसीजर ,बिजनेस एनवायरमेंट, जनरल कमर्शियल नॉलेज इत्यादि.

नोट: आप आर्टिकलशिप के लिए रजिस्ट्रेशन करने से पहले किसी भी समय IT&T पूरा कर सकते हैं.

IPCE ग्रुप 1 एग्जाम में बैठे और पास करें

आप आईपीसीसी के ग्रुप वन या फिर दोनों ग्रुप में बैठकर पास कर सकते हैं.

IPCC ग्रुप 2 एग्जाम में बैठे पास करें

ग्रुप 2 को अगले प्रयास में यानी कि ग्रुप वन के प्रयास के बाद या फिर आर्टिकलशिप के दौरान कर सकते हैं.

नोट: आप आर्टिकलशिप के लिए तभी रजिस्टर कर सकते हैं जब आप ग्रुप 1 में पास हो जाते हैं.

आर्टिकलशिप के लिए रजिस्टर करें

जब आप ग्रुप 1 या फिर दोनों ग्रुप पास कर लेते हैं तो उसके बाद आपको आर्टिकल्ड असिस्टेंट के रूप में रजिस्ट्रेशन कराना होगा और चार्टर्ड अकाउंटेंट के साथ में 3 साल की प्रैक्टिस भी करनी होगी.

 Final Course के लिए रजिस्ट्रेशन करें

IPCC के दोनों ग्रुप में पास हो जाने के बाद में सीए फाइनल कोर्स के लिए रजिस्ट्रेशन करें.

फाइनल एग्जाम में बैठे और पास करें

3 साल के अंतिम 6 वर्षों के दौरान सीए फाइनल परीक्षा में बैठे. इसके लिए ग्रुप 1 के साथ साथ सीए फाइनल एग्जाम की परीक्षा में पास करें.

आर्टिकलशिप पूरा करें

आप अपने आर्टिकल्ड ट्रेनिंग 3 साल के अवधि को पूरा करें.

GMCS

इसके बाद आप 15 दिनों का General Management and Communication Skills कोर्स भी पूरा करें.

Membership

इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया के मेंबर के रूप में enroll कराएं और चार्टर्ड अकाउंटेंट डेजिग्नेशन प्राप्त करें.

चार्टर्ड अकाउंटेंट के अंतर्गत पढ़ाए जाने वाले सब्जेक्ट

चार्टर्ड अकाउंटेंट के अंतर्गत पढ़ाए जाने वाले सब्जेक्ट कौन-कौन से हैं चलिए इसे हम कोर्स के लेवल के अनुसार जानते हैं कि कौन से लेवल में कौन से विषयों की पढ़ाई कराई जाती है.

Foundation course – CPT

  • Quantitative aptitude
  • General English
  • Mercantile Law
  • Fundamentals OF Accounting
  • Business Communication

IPCC (Integrated Professional Competence Course)

Group-1

  • Accounting
  • Business Laws, Ethics and Communication
  • Cost Accounting and Financial Management
  • Taxation

Group-2

  • Advanced Accounting
  • Auditing and Assurance
  • Information Technology and Strategy Management

CA Final Examination

Group-1

  • Advanced Auditing and Professional Ethics
  • Financial Reporting Strategic Financial Management
  • Corporate and Allied Laws

Group-2

  • Information Systems Control and Audit
  • Advanced Management Accounting
  • Direct Tax Laws
  • Indirect Tax Laws

CA की सैलरी कितनी होती है

हमारे देश भारत में एक चार्टर्ड अकाउंटेंट का वेतन उसके स्किल, कैपेबिलिटी और एक्सपीरियंस पर निर्भर करता है. वैसे देखा जाए तो भारत में चार्टर्ड अकाउंटेंट का औसत वेतन 6-7 लाख से 30 लाख तक होता है. अगर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देखा जाए तो भारत के बाहर एक अकाउंटेंट के तौर पर काम करने वाले इंसान को उसकी योग्यता के अनुसार पैकेज के रूप में 75 लाख के आसपास दिया जाता है.

पिछले साल के आंकड़ों के अनुसार भारत में सीए का औसत वेतन लगभग 7.36 लाख रुपए है. ICAI के द्वारा आयोजित कैंपस प्लेसमेंट में रैंक होल्डर्स और सिंगल अटेम्प्ट में पास करने वाले छात्रों को अधिक प्रयास में बात करने वाले छात्रों की तुलना में ज्यादा प्राथमिकता मिलती है.

हालांकि कई उम्मीदवार ऐसे हैं जो प्रतिष्ठित firms में 2-3 साल के नौकरी के बाद अपना अभ्यास शुरू करते हैं. अगर ऐसा उम्मीदवार योग्यता में अच्छे होते हैं तो फिर उन्हें बहुत ही हाई ग्रोथ मिलता है.

CA कितने साल का कोर्स है

सीए का कोर्स आप 12वीं और ग्रेजुएशन दोनों के बाद कर सकते हैं. इसके सिलेबस लिए कितनी अवधि होती है यह भी आगे जानेंगे. चार्टर्ड अकाउंटेंट कॉमर्स स्ट्रीम में सबसे प्रतिष्ठित कोर्स में से एक है लेकिन छात्र की लंबी अवधि को देखते हुए इस तरह का कोर्स करने से डरते हैं. यही सोच कर छात्रों में यह गलतफहमी फैली हुई है कि दूसरे प्रोफेशनल कोर्स की तुलना में इसमें काफी लंबा समय लगता है. जबकि आप प्वाइंट करने वाली बात यह है कि इसमें नंबर आफ अटेम्प्ट्स के साथ ही इसकी अवधि बढ़ती जाती है.

हम आपको यहां पर इसके कोर्ट डेकोरेशन के बारे में बता रहे हैं जो कि एंट्रेंस एग्जाम से लेकर लास्ट परीक्षा तक की है.

12th के बाद CA कोर्स की अवधि

Course (कोर्स)Duration (अवधि)
CA फाउंडेशन4 महीने
सीए फाउंडेशन रिजल्ट की प्रतीक्षा अवधि2 महीने
सीए इंटरमीडिएट8 महीने
सीए इंटरमीडिएट रिजल्ट की प्रतीक्षा अवधि (इसी बीच ITT और OT पूरा करें)2.5 महीने
आर्टिकलशिप ट्रेनिंग (आखिर के 6 महीने में C.A फाइनल का एग्जाम लिखना होता है)3 साल

ऊपर दिए गए डेटा के अनुसार 12वीं के बाद कुल सीए कोर्स की अवधि 4.5 साल तक जा सकता है. यह तभी हो सकता है जब आप पूरा कोर्स यानी कि हर लेवल पहले अटेम्प्ट में ही कंप्लीट कर ले. इस दौरान जब भी आपका अटेम्प बढ़ता है तो समझ ले कि आपकी कोर्स की अवधि 6 महीने और बढ़ जाएगी.

ग्रेजुएशन के बाद CA कोर्स की अवधि

सीए इंट्रेंस लेवल यानी सीए फाउंडेशन को बिना बात किए इंटरमीडिएट के लिए आवेदन कर सकते हैं. उन्हें सीए इंटरमीडिएट की परीक्षा में बैठने के लिए 9 आर्टिकलशिप ट्रेनिंग पूरा करना होगा और इस तरह के प्रैक्टिकल ट्रेनिंग के शुरू होने से पहले ITT OT और प्रोग्राम को पूरा करना होगा.

Course (कोर्स )Duration (अवधि )
ITT और OT प्रोग्राम4 वीक
आर्टिकलशिप ट्रेनिंग ( स्टूडेंट को इस ट्रेनिंग के लास्ट 6 महीनों के बाद 9 मई आर्टिकलशिप ट्रेनिंग और सीए फाइनल पूरा करने के बाद सीए इंटरमीडिएट परीक्षा पास करना पड़ता है)3 साल

CA की कितनी फीस होती है

चलिए अब हम भारत में सीए कोर्स की फीस के बारे में शॉर्ट में में चर्चा कर लेते हैं. चार्टर्ड अकाउंटेंसी भारत में एक सस्ती और सबसे प्रतिष्ठित कोर्स है. जो भी कॉमर्स स्ट्रीम के छात्र होते हैं वह ज्यादातर सफल चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने का सपना देखते हैं और कई तो हासिल भी कर लेते हैं.

चार्टर्ड अकाउंटेंसी को मुख्य रूप से तीन स्टेप में बांटा गया है.

CA Foundation

Foundation Registration Fees: 9800

Exam fees: 1500

CA Intermediate

Intermediate Registration fees: 18000

ICITSS fee: 6500

Exam fees: 2700

CA Final

Final course fees: 22000

ICITSS fee: 6500

Exam fees: 2700

संक्षेप में

जिन बच्चों का सपना होता है कि वह एक चार्टर्ड अकाउंटेंट बने उन्हीं लोगों को ध्यान में रखकर आज हमने यह पोस्ट बनाया की सीए क्या है (What is CA in hindi). ताकि हमारे देश के युवाओं को इस कोर्स के बारे में हम पूरी जानकारी (CA information in hindi) दे सके. इस पोस्ट में आपने यह भी जाना कि सीए कैसे बने इसमें कौन-कौन से विषयों की पढ़ाई कराई जाती है. इसके अलावा हमने इस पोस्ट के माध्यम से आपको यह भी बताया कि यह कितने साल का कोर्स है और इसके फीस कितनी लगती है.

आम बोलचाल की भाषा में तो हम इस कोर्स को बताइए कि नाम से ही जानते हैं लेकिन बहुत कम लोग जानते हैं कि सीए का फुल फॉर्म क्या है. इसलिए हमने इस पोस्ट में यह भी बताया कि CA Full form in Hindi क्या होता है. जब कोई स्टूडेंट एक चार्टर्ड अकाउंटेंट बंद कर निकलता है तो उस CA की सैलरी क्या होती है क्योंकि किसी भी विद्यार्थी के इतने जी तोड़ मेहनत करने की वजह एक अच्छे भविष्य के होती है जिसमें की एक अच्छे सैलरी पैकेज का होना बहुत जरूरी है.

हम उम्मीद करते हैं कि इस पोस्ट के माध्यम से आपको इस विषय के बारे में पूरी जानकारी अच्छे तरीके से समझ में आ गई होगी और आने से आप भी अपने दोस्तों और पढ़ने वाले जूनियर छात्रों को इस कोर्स के लिए गाइड कर सकेंगे. अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो इस पोस्ट को अपने दोस्तों और जान पहचान के लोगों के साथ में फेसबुक टि्वटर, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप में अधिक से अधिक शेयर करें.

16 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here