Bunny CDN क्या है और इसके कीमत, उपयोग और फायदे

आपने Cloudflare के बारे में तो जरूर सुना ही होगा और लगभग हर ब्लॉगर इसका इस्तेमाल अपने ब्लॉगिंग के क्षेत्र में आने के कुछ समय बाद कर ने हीं लगता है.

लेकिन इससे भी बेहतरीन और सस्ते Content Delivery Network बारे में हम आपको जानकारी देने जा रहे हैं और इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको Bunny CDN क्या है इसके बारे में बताएंगे जो आज के समय में सबसे बेहतरीन CDN माना जाता है.

सबसे खास बात यह है कि यह काफी सस्ता है और इसे एक साधारण ब्लॉगर भी आसानी से इस्तेमाल कर सकता है.

जहां तक बात है इसके सेटअप की तो इसके लिए भी हम आपको यहां पर एक ऐसा तरीका बताएंगे जिसके जरिए आप कुछ क्लिक की मदद से ही इसकी सेटअप आसानी से कर सकेंगे और यह पूरी तरह से काम भी करेगा.

Bunny CDN क्या है – What is BunnyCDN in Hindi?

BunnyCDN एक lightning-fast CDN है जो कि बहुत ही किफायती है और किसी भी वेबसाइट की परफॉर्मेंस को इंप्रूव करती है.

जिससे कि उस वेबसाइट की सर्च इंजन रैंकिंग, यूजर एक्सपीरियंस, कन्वर्जन और सुरक्षा इत्यादि बढ़ जाता है.

जब कोई वेबसाइट लोड होता है तो 90% जो वक्त होता है वह सिर्फ CSS, Images, Fonts, JS, इत्यादि को लोड करने में लेता है.

तो आप समझ सकते हैं कि अगर इन फाइल को हम किसी कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क के जरिए लोड कराएं तो हमारी साइट कितनी तेजी से खुल सकती हैं.

कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क एक ज्योग्राफिकली डिस्ट्रीब्यूटर नेटवर्क होता है जो दुनिया के किसी भी हिस्से में उसके विजिटर को सबसे नजदीकी डाटा सेंटर से डाटा लोड करके दिखाता है.

Bunny CDN आपकी वेबसाइट को 3x faster बनाता है.

वेबसाइट के मालिक की सभी चिंताओं का एक ऐसा निवारण हैं जो बहुत ही आसानी से सेटअप भी हो जाता है और आसानी से अपना काम करता है.

लेकिन इसके पहले आपको यह समझना जरूरी है कि आखिर यह CDN होता क्या है?

CDN का फुल फॉर्म होता है Content Delivery Network एक इन्नोवेटिव तरीका है जो वेबसाइट के वेब पेज के लोड टाइम को कम करता है पेज स्पीड को बढ़ा देता है.

ऐसा करने के लिए यह वेब कंटेंट को जो विजिटर होता है उसे सबसे नजदीक की लोकेशन से सर्व करता है.

साधारण तौर पर एक CDN प्रोवाइडर जो होता है वह वेबसाइट के कंटेंट के cached copies जिसमें Images, Videos, CSS, Javascript फाइल्स शामिल है, उन्हें दुनिया भर के अपने कई डाटा सेंटर में स्टोर करके रखते हैं और विजिटर को उनके सबसे नजदीकी डाटा सेंटर से वेब कंटेंट को सर्व करते हैं.

उदाहरण के लिए मान लीजिए कि आप भारत से ब्लॉगिंग कर रहे हैं लेकिन आपके जो विजिटर हैं वह दुनिया भर में है जैसे कि आपकी टारगेट ऑडियंस अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया है.

आपने अपनी होस्टिंग को अमेरिका पर रखा हुआ है लेकिन आप यह चाहते हैं कि आपका जो कंटेंट है वह इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के विजिटर भी उसी स्पीड में देखें जिस स्पीड में अमेरिका के विजिटर देखते हैं.

क्योंकि यहां पर होगा यह कि आपकी वेबसाइट जहां पर होस्ट होगी वही के विजिटर को लोड टाइम कम मिलेगा और स्पीड अच्छी रहेगी और दूसरे लोकेशन के विजिटर के लिए वेबसाइट लोड होने में काफी समय लगेगा.

अब यहां आप समझ सकते हैं कि आप तो डाटा सेंटर यानी की वेबसाइट को एक ही जगह के होस्टिंग पर रख सकते हैं लेकिन डाटा सर्व करने के लिए इसका कोई तो उपाय ढूंढना पड़ेगा.

तो इसका सबसे अच्छा उपाय यही है कि आपको CDN का इस्तेमाल करना है. इनका डाटा सेंटर सभी देशों में होता है तो आपकी जो वेब कंटेंट होंगे वह ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन के डाटा सेंटर में भी स्टोर रहेंगे और वहां के विजिटर को उन्हीं डाटा सेंटर से कंटेंट को सर्व किया जाएगा.

BunnyCDN एक स्लोवेनिया आधारित CDN सेवा प्रोवाइडर है जिसकी स्थापना अक्टूबर 2015 में Dejan Grofelnik Pelzel द्वारा किया गया था.

इसे बनाने के पीछे काफी कुशल डेवलपर की टीम ने काम किया है. जिन्होंने काफी कड़ी मेहनत के बाद से बनाया है.

10 वर्षों से ज्यादा समय के अनुभव ने उन्हें एक मजबूत सीडीएन नेटवर्क बनाने में मदद की, जो आपके लिए काफी सस्ती है.

इसकी शुरुआत 2012 मे की गई थी. जैसा की आज होस्टिंग का इस्तेमाल कर के दुनिया भर में एक सामान लोड टाइम नहीं प्राप्त की जा सकती.

Bunny CDN ही हल बनकर आया. जिसने काफी कम खर्च में ऐसी सुविधा दी की दुनिया भर में वेबसाइट की स्पीड एक प्रकार से रख सकते हैं.

Bunny CDN के बेहतरीन फीचर्स

  • Instant cache purging
  • 53 global data centers across 6 continents
  • HTTP/2, IPv6, Brotli, GZip
  • 99.99% uptime
  • Free one-click Let’s Encrypt SSL
  • Edge rules
  • Raw logs
  • Custom CNAME hostnames
  • Override expire headers
  • Video delivery
  • Cloud storage
  • Wildcard domains
  • One-click CORS headers
  • Hotlinking protection
  • IP blacklisting
  • Block users by country
  • Origin shield
  • Intelligent routing
  • 95%+ cache HIT rate
  • Anycast DNS
  • Tier 1 networks
  • < 40ms global latency
  • Realtime statistics

Bunny CDN Datacenters

यह दुनिया की सबसे एडवांस सीडीएन में से एक है जिसको इस साल तक 53 PoPs तक डिस्ट्रीब्यूट किया जा चुका है. यही वजह है कि इससे हमें 30ms से भी कम लेटेंसी प्राप्त होती है.

Bunny CDN Support

BunnyCDN की एक और खास बात यह है कि इसका सपोर्ट सिस्टम काफी ज्यादा सक्रिय है जिनसे 5 मिनट से भी कम समय में आपको रिस्पांस प्राप्त हो जाता है. आपको इसके लिए बस एक टिकट ओपन करना पड़ेगा और अपनी समस्या को भी उसमें बताना होगा.

उनके वादे के मुताबिक वे 24 घंटे से कम समय में भी आपको रिस्पांस दते हैं और इसकी भी गारंटी लेते हैं. लेकिन विश्वास कीजिए वह तो 5 मिनट से कम समय में भी रिस्पांस दे सकते हैं.

वह आपको पूरी तरह से सपोर्ट करेंगे और आपके समस्या का समाधान करके ही रखेंगे.

BunnyCDN Pricing

Bunny CDN Pricing की बात करें तो इसमें आप अपने उपयोग के अनुसार पैसे चुकाते हैं जिसके लिए प्लेटफार्म ‘pay as you go’ की सुविधा देते हैं.

इसमें कोई फिक्स प्लान नहीं है बल्कि आप जितना इस्तेमाल करेंगे उतना ही बिल आपको चुकाना पड़ेगा. इसके अलावा इसमें मिनिमम जो बिलिंग होती है वह कम से कम $1 की बिल आपको जरूर आएगी.

RegionBunnyCDN Pricing
Asia & Oceania$0.03 /GB
Europe & North America$0.01 /GB
South America$0.045/GB
Middle East & Africa$0.06 /GB

जो कि मेरे ख्याल से काफी सस्ता है और कम से कम ट्रैफिक वाले ब्लॉग के लिए बेहतरीन फीचर है.

इसमें जो टॉपअप करने का अमाउंट है वह कम से कम $10 का होता है जो आपको एक बार में करना होता है और यह क्रेडिट आपका 12 महीने होता है.

अगर आप 1 साल में एक बार में रिचार्ज करा लेते हैं तो आपका पिछला क्रेडिट एक्सपायर नहीं होगा और अगले साल वाले क्रेडिट से जुड़ जाएगा.

Bunny Optimizer

इसके अंतर्गत एक ऑप्टिमाइजर का फीचर है जो काफी बेहतरीन है और जो dynamically इमेजेस को WebP format मैं कन्वर्ट कर देता है.

इसके अलावा CSS and JavaScript files को मिनिफाई भी करता है जिससे आपकी वेबसाइट का जीटी मैट्रिक्स स्कोर भी बेहतरीन हो जाता है लेकिन इस ऑप्टिमाइजर का उपयोग करने के लिए आपको $9.5/month चुकाना पड़ता है.

Bunny CDN Storage

यह प्लेटफार्म आपको अपने वेबसाइट के कंटेंट को डिलीवर करने के लिए काफी अच्छी सुविधा देती है. यह क्लाउड पर आधारित प्लेटफार्म है जिसके जरिए यह अपनी सुविधा देती है.

इसीलिए आपको चिंता करने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है अगर आपकी साइट कीसी भी वेब होस्टिंग में होस्टेड है (जैसे की ये वेबसाइट अभी digital ocean पर होस्ट है) तो आप उन्हें अपने होस्टिंग में ही स्टोर करके यहां से सिर्फ CDN का इस्तेमाल कर सकते हैं. इस प्लेटफार्म के स्टोरेज का चार्ज $0.01/GB per month है.

Bunny CDN की तुलना अन्य CDN नेटवर्क से

अगर देखा जाए तो अभी CDNperf के अनुसार Bunny CDN दुनिया के 11वें नंबर के सीडीएन प्रोवाइडर के रूप में आती है.

जिसकी लेटेंसी 36ms है. इस लिस्ट में जो टॉप कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क है उनकी पोस्ट काफी ज्यादा है जो एक भारतीय ब्लॉगर के लिए काफी महंगी है.

cdnperf.com

Source – cdnperf.com

चलिए बात कर लेते हैं इसके कंपीटीटर के बारे में जिन्हें सभी लोग अच्छी तरह से जानते हैं.

KeyCDN

इस लिस्ट में जो पहले नंबर पर है वह है KeyCDN.

यह प्लेटफार्म 1 महीने के लिए फ्री ट्रायल देती है जिसके बाद आपको कम से कम $50 इसके लिए डिपाजिट करना पड़ता है जो 1 साल तक वैलिड होता है.

इसका परफॉर्मेंस भी काफी बेहतरीन है लेकिन इसकी आप प्राइसिंग देख सकते हैं कि अगर हम भारत में हिंदी ब्लॉग पर इसका इस्तेमाल करें तो ब्लॉगर को काफी महंगा पड़ेगा

Region
First 10 TB
per month
Next 40 TB
per month
Next 50 TB
per month
Over 100 TB
per month
North America & Europe$0.04/GB$0.03/GB$0.02/GB$0.01/GB
Asia & Oceania$0.09/GB$0.06/GB$0.04/GB$0.02/GB
Africa & South America$0.11/GB$0.08/GB$0.06/GB$0.04/GB

Cloudflare

इसके बाद जो सबसे अधिक फेमस है वह है cloudflare.

इसका रेपुटेशन काफी ज्यादा है लेकिन इसका प्लान बाकी सभी प्लेटफार्म से बिल्कुल अलग है क्योंकि इसमें अगर आप सी डी एन का प्रयोग करना चाहते हैं तो फ्री प्लान में कुछ भी नहीं मिलता है.

इसके लिए आपको Pro, Business और Enterprise plan में से कोई एक प्लान लेना पड़ेगा. इसके Pro प्लान की शुरुआत ही $20 प्रति माह से शुरू होती है.

तब आपको इसके अच्छे फीचर्स का उपयोग करने का मौका मिलता है.

Bunny CDN का सेटअप कैसे करें?

वैसे तो बनी सीडीएन खुद की एक प्लगइन देता है जिससे आप इसकी सेटअप आसान तरीके से कर सकते हैं लेकिन फिर भी आपको इसमें काफी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है अगर आप इस में माहिर नहीं है तो.

हम आपके लिए एक और बेहतरीन एवं आसान तरीका लेकर आए हैं जिसकी मदद से आप को बस एक प्लगइन का इंस्टॉलेशन करना है जिसे gulshankumar.net के फाउंडर एवं डेवलपर Gulshan Kumar जी ने बनाया है.

इन्होंने हमारी समस्याओं का समाधान करने के लिए सिर्फ एक प्लगइन का ही निर्माण कर दिया जिससे Bunny CDN से जुड़े हुए सारे सेट आप ऑटोमेटिक हो जाते हैं

यह वेबसाइट के TTFB (Time to first byte) को काफी कम कर देता है जिससे हमारी वेबसाइट काफी तेजी से खुल जाती है.

आप बिल्कुल फ्री में 14 दिनों के लिए इस प्लेटफार्म का इस्तेमॉल कर सकते हैं और इसके लिए आपको अपने क्रेडिट कार्ड की भी जरुरत नहीं पड़ेगी.

चलिए जानते हैं की ये प्लगइन कैसे सेटअप करें.

स्टेप 1.

सबसे पहले तो आप BunnyCDN में जाकर अपना अकाउंट Signup करें. 14 दिनों का Free Trial पाने के लिए आप यहाँ से अकाउंट बना सकते हैं.

स्टेप -2

उसके बाद आप Edge Caching & Firewall with BunnyCDN प्लगइन इनस्टॉल कर के एक्टिवेट कर लें. प्लगइन डाउनलोड करने के लिए आप निचे के बटन पर क्लिक कर सकते हैं.

स्टेप – 3

प्लगइन एक्टिवट करने के बाद आपको अपने Bunny.net के डैशबोर्ड में जाना है वहां पर Account के अंदर जाकर API Key कॉपी करें और फिर वर्डप्रेस के अंदर इसे जाकर स्क्रीनशॉट के अनुसार पेस्ट करें.

अब आप Setup Pullzone बटन पर क्लिक करें. इससे होगा ये की जितनी भी जरुरी सेटअप Bunny.net के अंदर करनी होती हैं वो आटोमेटिक यहीं से हो जाएगी.

स्टेप – 4

अब ये प्रोसेस पूरा होते ही आपको प्लगइन कुछ record type change करने बोलेगा जैसा की इस स्क्रीनशॉट में भी देख सकते हैं.

आपको अपने डोमेन प्रोवाइडर में जाना है और दिए गए Record Type को सेटअप कर लेना है. मेरा डोमेन cloudflare से कनेक्ट है तो आप यहाँ देख सकते हैं की मैंने प्लगइन द्वारा दिए गए record type के अनुसार ही सेटअप किया है.

यहां आपको A Record delete कर के CNAME इस्तेमाल करना है.

स्टेप – 5

जैसे ही ये स्टेप पूरा हो जाये तो उसके बाद Install SSL बटन पर क्लिक करें. या फिर आप Bunny.net के पैनल में नए create हुए Pull Zone के अंदर जाकर manually SSLinstall कर सकते हैं.

ये सफलतापूर्वक होने के बाद आपको एक मैसेज दिखाई देगा. यानि की अब आपके वेबसाइट BunnyCDN द्वारा serve किया जा रहा है.

इसके बाद भी आप चाहे तो कुछ एक्स्ट्रा सेटअप कर सकते हैं. जैसे की अगर आप WebP इमेजेज सर्व करना चाहते हैं तो आपको एक और प्लगइन इनस्टॉल करना होगा जैसे Webp Express या फिर EWWW इत्यादि.

स्टेप – 6

प्लगइन इनस्टॉल करने के बाद आपको इसके अंदर फिर से आकर Vary Cache का ऑप्शन सेलेक्ट करना होगा.

स्टेप – 7

यहाँ पर एक और ख़ास ऑप्शन ये है की आप अपने ओरिजिन सर्वर को सुरक्षित रख सकते हैं जिससे की आप DDos अटैक से बचे रहेंगे क्यूंकि आपका origin server पूरी तरह से secure होगा.

इसके लिए आपको यहाँ पर Origin Access Token को enable कर लेना है.

इस प्रकार जब आप अपने Bunny.net का अकाउंट खोलेंगे तो आपको Pull Zone बना हुआ दिखाई देगा जहाँ से आप सरे statistics देख सकेंगे.

Bunny CDN के फायदे

गूगल के अनुसार एक स्लो वेबसाइट यूजर एक्सपीरियंस के लिए अच्छी नहीं है और यही वजह है कि अब स्पीड को भी गूगल ने एक रैंकिंग फैक्टर करार दे दिया है यानी कि अब से इस पैमाने पर भी वेबसाइट को चेक करके देखेगा और उसी के अनुसार फिर रैंकिंग देगा.

अगर आपकी वेबसाइट की स्पीड कम है तो यह जान लीजिए कि इस वेबसाइट के साथ आपकी वेबसाइट और आपके पोस्ट रैंक हासिल नहीं करने वाले हैं. इसके लिए आपको कुछ ना कुछ उपाय तो जरूर करना पड़ेगा.

इस पोस्ट में हम इसी प्रकार के उपाय की बात कर रहे हैं जिससे आप अपनी वेबसाइट को सुपरफास्ट रॉकेट की तरह बना सकते हैं जी हां किसके लिए आपको Bunny cdn का सेटअप जरूर करना पड़ेगा.

चलिए जान लेते हैं कि इस प्लेटफार्म का उपयोग करने से हमें क्या-क्या फायदा है.

Protection From DDoS attack

अगर आपको इसके बारे में नहीं मालूम तो जान लीजिये की आपके वेबसाइट पर जब अटैक किया जाता है तो कैपेसिटी से ज्यादा रिक्वेस्ट सेंड किये जाते हैं जिससे सर्वर का लोड बढ़ जाता है और साइट डाउन हो जाती है.

ये प्लेटफार्म आपको DDoS attack से हमेशा बचाएगा और वर्ल्डवाइड आपकी साइट सुरक्षित रहेगी.

WebP Images Support

इमेज को आज के समय WebP फॉर्मेट सर्वे करके साइट के लोड टाइम को काम किया जाता है. इस प्लगइन के जरिये आप Bunny.net के WebP सर्व कर सकते हैं.

Autoptimize supported

यह प्लगइन autoptimize के साथ भी बेहतर ढंग से काम करती है जो साइट की परफॉरमेंस को बढ़ा देती है.

Improve Search Rankings

गूगल को फ़ास्ट वेबसाइट बहुत पसंद हैं. कम लोड टाइम और अच्छी स्पीड के साथ आप गूगल के पहले पेज पर रैंकिंग हासिल कर सकते हैं क्योंकि दूसरी वेबसाइट ए स्लो होंगी तो वही वेबसाइट आगे बढ़ेंगे जिन की स्पीड बहुत अच्छी है.

Decrease Bounce Rate

अगर आपके वेबसाइट की स्पीड अच्छी होगी तो user1 आर्टिकल के साथ दूसरा आर्टिकल भी पड़ेगा तो इससे आपकी बाउंस रेट भी कम हो जाएगी.

Minimize Load Time

जितना कम लौट टाइम होगा इतनी अधिक आपकी स्पीड ज्यादा रहेगी और विजिटर को आपकी वेबसाइट के एक पेज से दूसरे पेज पर जाने में भी उतना ही मजा आएगा

Maximize Revenue

जब आपकी सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन अच्छी होगी अब की स्पीड अच्छी होगी तो आपके विजिटर भी ज्यादा होंगे और आपकी रेवेन्यू भी बढ़ेगी

Increase Conversion Rates

अच्छी स्पीड की वजह से आपके विजिटर तो बढ़ेंगे और आपके अपन वर्जन रेट भी काफी अच्छे हो जाएंगे.

निष्कर्ष

आज के समय में एक स्लो वेबसाइट का गूगल के पहले पेज पर जाना काफी मुश्किल होता जा रहा है.

सिर्फ अच्छे कंटेंट रखना काफी नहीं है बल्कि इसके साथ ही वेबसाइट की अच्छी स्पीड भी जरुरी है. जो एक अच्छे वेब होस्टिंग के साथ अच्छे कैशिंग प्लगइन और CDN प्रोवाइडर की जरुरत पड़ती है.

वैसे तो इस सेवा को देने के लिए बहुत अच्छी कम्पनिया हैं लेकिन महंगी सेवाओं का इस्तेमाल हर कोई नहीं कर सकता है. इसीलिए इस आर्टिकल के माध्यम से हमने BunnyCDN से जुडी जानकारी दी है.

मैं खुद इसका उपयोग पिछले 20 दिनों से कर रहा हूँ. मेरा अनुभव इसके साथ काफी बढ़िया रहा है.

पैसे कम खर्च हो रहे हैं और परफॉरमेंस की तो बात ही क्या करूँ गज़ब है ये.

उम्मीद करता हूँ की ये आर्टिकल आपको पसंद आया होगा.

About Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है. लोगों को उनके जीवन में कैरियर बनाने में सही निर्देश देना और हर प्रकार के नौकरी के बारे में जानकारी देना काफी पसंद है ताकि उनका भविष्य बन सके.

Leave a Comment