ब्लॉग का SEO कैसे करें – वेबसाइट ऑप्टिमाइजेशन करने के 12 महत्वपूर्ण टिप्स

यदि आप ये आर्टिकल पढ़ रहे हों तब में सोचता हूँ की आप जरुर एक ब्लॉगर होंगे और अपने ब्लॉग का एसईओ कैसे ठीक करें इसके विषय में चिंतित होंगे. घबराइये नहीं क्यूंकि आज हम ब्लॉग का SEO कैसे करें (SEO Tutorial in Hindi) के बारे में जानकारी  लेकर आये हैं.

वेबसाइट ऑप्टिमाइजेशन करने के 12 महत्वपूर्ण टिप्स  के अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए ये पोस्ट लिखे हैं. जिसे पूरा पढ़कर आपको ये अंदाजा तो जरुर हो ही जायेगा की आप कहाँ पर चुक रहे हैं और आपको ऐसा क्या करना चाहिए की जिससे आप अपने ब्लॉग को और भी बेहतर बना सकें.

एक बार आपको इन सभी सवालों के जवाब पता चल जाये तब आपको अपने blog के ऊपर काम शुरू कर लेना चाहिए.

तो बिना देरी किये चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं की आखिर वेबसाइट ऑप्टिमाइजेशन करने के 12 महत्वपूर्ण टिप्स क्या हैं और इनका हम अपने  ब्लॉग पर इस्तमाल कैसे करें.

विषय दिखाएँ

ब्लॉग का SEO कैसे करें – SEO Tutorial in Hindi?

seo ke liye 12 important tips

आज हम केवल एक पोस्ट कैसे ऑप्टिमाइज़ करें उसके विषय में नहीं जानेंगे बल्कि अपने पुरे वेबसाइट या ब्लॉग को कैसे ऑप्टिमाइज़ करेंगे उसके विषय में जानेंगे. इसके साथ search engines कैसे काम करता है उसके विषय में भी जानेंगे.

सही keywords का चुनाव और बहुत से कंटेंट्स लिखने के पहले आपको क्या सोचना चाहिए उसके विषय में आज हम चर्चा करेंगे. लेकिन शुरू करने से पहले आपको कुछ विषयों के बारे में जरुर जानना चाहिए :

  • आपकी साइट किस चीज़ के ऊपर होगी या किसके बारे में होगी?
  • इसे बनाने का मुख्य उद्देश्य क्या है?
  • क्या आप सच में इसे बनाना चाहते हो?

अगर आपको सच में अपने ब्लॉग के एसईओ को ठीक करना है तब आपको ये 12 SEO Tips के विषय में जरुर जानना चाहिए. तो फिर शुरू करते हैं.

वेबसाइट ऑप्टिमाइजेशन करने के 12 महत्वपूर्ण टिप्स

1. अपने ब्लॉग को एक ही niche में बनाने की सोचो

अपने ब्लॉग को एक ही category या niche में बनाने के बारे में सोचना चाहिए. इससे आप बेहतर research कर सकते हैं और Search Engines को भी लगेगा की क्यूंकि आप एक ही प्रकार के topics पर आर्टिकल लिख रहे हैं.

इसलिए वो आपको उस टॉपिक का एक्सपर्ट समझने लगेगा और आपके आर्टिकल्स को गूगल के टॉप  search results में show करेगा.

वो कहते हैं न की अगर एक ही जगह में आप बार बार चोट लगायेंगे तब एक न एक बार तो वो टूट ही जायेगा.

ठीक उसी प्रकार अगर आप एक ही topic के बारे में हमेशा लिखेंगे तब कोई न कोई आर्टिकल तो rank कर ही जायेगा जिससे आप बाकि आर्टिकल को भी रैंक करवा सकते हैं.

2. सही कीवर्ड का चयन करें

आप हमेशा अपना ज्यादा समय keyword research में व्यतीत करें. इसके लिए आपको बहुत सारे free और paid tools का इस्तमाल कर सकते हैं.

ये keywords का इस्तमाल आपको अपने site title, domain name, description, tagline, keywords, blog categories, page titles, और page content जैसे जगहों में करना चाहिए.

ऐसा इसलिए क्यूंकि ये keywords ही हैं जो की users search engines में search करके आपके आर्टिकल तक पहुँच पाते हैं. यदि आप इन keywords का सही रूप से और सही जगहों में इस्तमाल करें तब ये आपके website के SEO के लिए अच्छा है.

3. Internal Linking का इस्तमाल करें

ये तो सभी bloggers को पता ही है की SEO के लिए Internal linking का कितना महत्व है. लेकिन फिर भी बहुत इस बेहतरीन seo strategy का इस्तमाल अपने ब्लॉग में नहीं करते हैं.

आपको हमेशा सोचना चाहिए की interlinking न केवल ऑप्टिमाइजेशन के लिए सही है बल्कि visitors को भी आपके site में navigate होने में आसानी होती है.

इसके लिए आप category wise में linking कर सकते हैं और इसके साथ important links को अपने home page में include कर सकते हैं.

4. पर्मालिंक स्ट्रक्चर में कीवर्ड शामिल करें

किसी भी ब्लॉग में अगर permalink structure सही नहीं है तब ये उसके SEO के लिए सही नहीं है. ऊपर ये दिखने में भी सही नहीं लगता है. इसलिए ऐसा करना किसी भी blogger के लिए बहुत खतरनाक साबित हो सकता है.

बल्कि आपको ऐसे URL structure का इस्तमाल का करना चाहिए जिसमें केवल text होना चाहिए, कोशिश करें की इसमें आप keywords का ही इस्तमाल करें.

एक उदहारण का इस्तमाल करते है आपके बेहतर समझ में आने के लिए:

जैसे की पहले URL के जगह आपको दूसरा वाला इस्तमाल में लाना चाहिए .

https://example.com/?565

It should look more like this:

https://yoursite.com/seotip/

5. ब्लॉग की स्पीड तेज़ रखें (लोड टाइम ज्यादा नहीं हो)

कोई भी plugin, music player, बड़ी images, flash graphics या कोई ऐसी element जो आपके ब्लॉग के speed को कम कर रहा हो उसे आपको निकाल देना चाहिए या फिर उसके जगह में उसका alternative का इस्तमाल करना चाहिए.

6. इमेज ऑप्टिमाइजेशन

Keywords का इस्तमाल केवल आप अपने आर्टिकल में ही नहीं बल्कि site के topic में, image title में, description में, और alt attributes में भी करना चाहिए.

इसके लिए आपको File name को re-title करना चाहिए जिससे आप वहां पर अपने main keywords (e.g. er4343.jpg के जगह seo-tips.jpg ) को reflect करा सकते हैं. ये SEO के दृष्टी से बहुत ही जरुरी है.

7. एक्सटर्नल लिंकिंग करें जिनके कंटेंट रिलेवेंट हों.

इस काम को करने के लिए आपको अपने वेबसाइट में कोई blogroll, link list, या resources page को include कर सकते हैं.

यदि आप कोई अच्छा सा आर्टिकल लिखें हैं और आपने देखा की ठीक वैसे ही प्रकार का आर्टिकल कोई दूसरा blogger भी लिखा है तब आपको उनके साथ आपस में link exchange करने के लिए बात करना होगा.

इसके लिए आपको अपने ब्लॉग के जैसे ही दुसरे ब्लॉग को ढूंडना होगा और उन्हें अपने आर्टिकल्स के साथ link करना होगा.

8. अपने ब्लॉग को निरंतर अपडेट करें.

यही तो मुख्य अंतर है Website और ब्लॉग में, जहाँ Website में static content होते हैं वहीँ ब्लॉग में dynamic content होते है.

Google जैसे search engine को हमेशा fresh आर्टिकल की जरुरत होती है. वो ऐसे blogs को ज्यादा preference देते हैं.

इसलिए Wikipedia जैसे directories और ब्लॉग सर्च इंजन में इतना अच्छा प्रदर्शन करते हैं. क्यूंकि इन्हें इनके लेखक हमेशा अपडेट करते रहते हैं जो की लोगों को ज्यादा value प्रदान करता है.

9. आपकी ब्लॉग को सर्च इंजन में जरुर से इंडेक्स करें.

बहुत सारे search engines आपके contents को automatically खोजकर उसके contents को index कर लेते हैं, लेकिन इसपर ज्यादा भरोसा मत करें.

आपको हमेशा ये check करना होगा की आपके सभी आर्टिकल को search engines जैसे की Google, Bing, और Yahoo अपने crawling bots भेजकर are crawl करें.

यदि वो ऐसा नहीं करते हैं तब आपको manually उन्हें indexed करना होगा.

10. हमेशा ये कोशिश करें की कैसे दुसरे ब्लॉग आपसे लिंक करें.

ये बहुत ही जरुरी चीज़ होता है SEO के लिए क्यूंकि यदि आपको दुसरे websites या ब्लॉग link करेंगे तब आपकी google rank अपने आप ही बढेंगी.

इससे आपके website की authority बढ़ेगी.

इसलिए जितना हो सके उतना समय link building पर बितायें. आप दुसरे competitors ब्लॉग के साथ बातचीत करें और उन्हें आपके बढ़िया contents के विषय में बताएं. एक दुसरे की मदद कर आप ये link building कर सकते हैं.

11. एक ही डोमेन के साथ लगातार काम करे.

मैंने ये देखा है की कई bloggers बिच बिच में अपने ब्लॉग का नाम (domain name) बदलते रहते हैं.

ऐसा करना बिलकुल भी ठीक नहीं है क्यूंकि site के ranking के लिए URL का age भी एक बहुत ही महत्वपूर्ण factor है. इसलिए आपको patience रखना होगा और किसी के बहकावे में आकर अपने ब्लॉग का URL बदलना नहीं चाहिए.

इसके साथ आपको एक ही blog में काम करना चाहिए, और बार बार नयी site नहीं बनानी चाहिए. इससे आपको ज्यादा काम करने का अवसर मिलेगा और आप अच्छे से काम भी कर सकते हैं.

12. इंसानों के लिए आर्टिकल लिखें

ऊपर दिए गए सभी Tips आपके काम नहीं आयेंगे अगर आपके contents में इंसानी touch नहीं रहेगा.

इसका मतलब है की आप जितनी भी अच्छी post लिख लें अगर उसे पढने पर लोगों को मज़ा नहीं आएगा, तब वो उसे पढने के लिए पसदं नहीं करेंगे क्यूंकि उन्हें लगेगा की ये कोई software के मदद से लिखा गया है.

इसमें आपके जैसे ब्लॉगर की कोई भी मेहनत नहीं दिखाई पड़ती. अक्सर लोग Robotic text को पसंद नहीं करते, इसलिए आपको इस बात का ख़ास ध्यान देना चाहिए.

Search Engine Optimization जरुरी क्यों है?

अक्सर लोग यही पूछते हैं की SEO क्या है और अच्छे तरीके से इसे कैसे करे तो आपको बता दूँ हिन्दी मे जानकारी ब्लॉग में प्रकाशित एक आर्टिकल है आप इसे पढ़ सकते हैं और जान सकते हैं की SEO कैसे करते हैं?

इस ब्लॉग में सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के बारे में काफी अच्छी जानकारी लिखी गयी है.

सच मानिये आप जरुर सफल होंगे. ऐसा में इसलिए कह पा रहा हूँ क्यूंकि मैंने खुद इन टिप्स को अपने भी ब्लॉग में इस्तमाल किया है..

Search engine optimization (SEO) यह एक प्रकार का practice है जिसमें blogger अपने contents को कुछ इस प्रकार से लिखते हैं जिससे उनके आर्टिकल बड़े ही आसानी से search engines में rank हो जाते हैं और ब्लॉग पर organic traffic आना शुरू हो जाते हैं.

लेकिन इसके लिए आर्टिकल की quality और quantity दोनों सही होनी चाहिए. सब खेल traffic का है और इसी के लिए ही ऑप्टिमाइजेशन का महत्वपूर्ण योगदान होता है.

Blogging एक destination है Milestone नहीं. इसके लिए आपको हर दिन कुछ न कुछ करना होगा. अपने ब्लॉग को पहले से बेहतर करना होगा. ये पूरी process एक सफ़र के तरह है जहाँ आपको उम्मीद न खोकर निरंतर काम करना होगा.

हमेशा अपने readers को सबसे ज्यादा महत्व देना होगा. क्यूंकि आपका ब्लॉग उन्ही के लिए है और अगर वो खुश नहीं तब आपके मेहनत करने का कोई कारण नहीं.

उम्मीद है की आपको यह लेख ब्लॉग का SEO कैसे करें और इसके के लिए 12 बेतरीन तरीके कैसे लगे हमें comment लिखकर जरूर बताएं ताकि हमें भी आपके विचारों से कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिले.

मेरे पोस्ट के प्रति अपनी प्रसन्नता और उत्त्सुकता को दर्शाने के लिए कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Google+ और Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

संक्षेप में

इस पोस्ट में आपने जाना की SEO कैसे करें (SEO Tutorial in Hindi) और इसके करने के 12 महत्वपूर्ण टिप्स. 

मेरा मानना है की अगर आप बताए गए सभी टिप्स को सही तरीके से पालन करें तब आपको ब्लॉग्गिंग में जरुर सफलता मिलेगी.

इसके लिए आपको दो चीज़ों का ख़ास ध्यान देना चाहिए वो हैं Patience और Consistency. आपको एक दिन में या एक महीने में सफलता हाथ नहीं आएगी.

इसके लिए आपको धैर्य के साथ निरंतर काम करना होगा और ऐसे ही अच्छे posts लिखने होंगे.

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.