बिटकॉइन क्या है और ये किस देश की करेंसी है?

एक ऐसी करेंसी जो दुनिया भर में काफी तेज़ गति से अपनायी जा रही है लेकिन इसे लेकर कई लोगों के मन में अनेकों सवाल है इसीलिए आज के इस आर्टिकल के माध्यम से बताएँगे बिटकॉइन क्या है (What is Bitcoin in Hindi) और ये किस देश की करेंसी है?

बिटकॉइन एक क्रिप्टोकरेंसी है जिसे इलेक्ट्रॉनिक कैश भी बोलते हैं. ये एक तरह की वर्चुअल या डिजिटल करेंसी होती है. इस करेंसी को हम न देख सकते हैं और न ही छू सकते हैं क्यों की ये फिजिकल रूप (नोट या सिक्के) में नहीं होती.

अमीर कौन बनना नहीं चाहता है? हर कोई चाहता है की वो अच्छे पैसे कमाए कमाए और जमा कर सके. कई लोग तो ऐसे होते हैं चाहते हैं की थोड़ा सा काम कर के दौलतमंद आदमी बन जाएँ.

ऑनलाइन पैसे कमाने के तरीकों में अक्सर हमे कई बार एक करेंसी बिटकॉइन के बारे में सुनने को मिलता है लेकिन इसके बारे में बहुत कम लोगों को ही जानकारी होती है.

इस तरह के कई सवाल उठते हैं जो इससे जुड़े हुए हैं.

अगर इस तरह के सवालों का जवाब जानना चाहते हैं तो आप बिलकुल सही जगह पर हैं. क्यों की आज की पोस्ट में मैं इन सभी सवालों का जवाब आपको दूंगा.

इस करेंसी को कैसे कमाये इससे जुडी जानकारी भी मैं आपको यहाँ पर दूंगा. इसके अलावा जानेंगे की इसे कैसे खरीदते और बेचते हैं.

बिटकॉइन क्या है – What is Bitcoin in Hindi?

Bitcoin kya hai

शेयर मार्किट के बारे में आपको पता ही होगा. इससे पूरी अर्थव्यवस्था चलती है चाहे वो कोई भी देश हो, जहाँ पर लोग पैसे लगाकर पैसे कमाते हैं. जैसे जैसे ज़माना डिजिटल होता जा रहा है, लोगों ने ऑनलाइन काम करना भी शुरू कर दिया है.

आजकल इंटरनेट से पैसे कमाने के बहुत से तरीके भी हैं जिनमे से एक है बिटकॉइन में इन्वेस्टमेंट करना. हो सकता है आपने इस करेंसी का नाम सुना होगा और अगर नहीं भी सुना है तो यहाँ मैं आपके साथ इस से जुडी हर जानकारी शेयर करुँगा. 

हम जो करेंसी इस्तेमाल करते हैं जैसे रुपया, डॉलर, येन ये सारी करेंसी फिजिकल रूप में भी होते हैं. ये डिजिटल करेंसी इन रेगुलर करेंसी के जस्ट उल्टा होता है.

इस को हम अपने घर या वॉलेट में स्टोर कर के नहीं रख सकते. इसे स्टोर करने के लिए ऑनलाइन डिजिटल वॉलेट होते हैं.

ये एक decentralized currency होता है जिसका मतलब है की इसका कोई मालिक नहीं है. न तो इसे कोई गवर्नमेंट या फिर कोई अथॉरिटी कण्ट्रोल करती है. इसका कोई एडमिनिस्ट्रेटर नहीं होता.

ये ओपन सोर्स होता है इसे कोई भी इस्तेमाल कर सकता है. इस करेंसी को आप अपने देश की करेंसी में कन्वर्ट कर सकते हैं.

इस करेंसी का अविष्कार Satoshi Nakamoto ने 2009 में किया था. ये काफी कम समय में पूरी दुनिया में अपनी पकड़ मजबूत कर चुका है. इसकी पॉपुलैरिटी दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है.

दुनिया के हर हिस्से में कंपनियां जैसे Dell, expedia Paypal और Microsoft भी इस करेंसी को एक्सेप्ट करते हैं.

बिटकॉइन कैसे काम करता है – How does Bitcoin work in Hindi?

इस करेंसी का इस्तेमाल कर के हम ऑनलाइन किसी भी तरह की सेवा के लिए ऑनलाइन पेमेंट कर सकते हैं.

जैसा की मैंने पहले ही बताया है की ये अब दुनिया के हर हिस्से में बड़ी-बड़ी कंपनियों के द्वारा भी इस्तेमाल किया जाता है. तो अब समझते हैं की ये आखिर काम कैसे करता है.

बिटकोईन peer to peer नेटवर्क पर आधारित होता है, और इसी आधार पर ये काम करता है. इसका मतलब है की इस डिजिटल करेंसी को डायरेक्टली एक यूजर दूसरे यूजर को भेज सकता है.

बिच में किसी भी माध्यम की जरुरत नहीं पडती. अगर अभी भी आप नहीं समझे तो इसके लिए मैं आपको एक आसन सा उदाहरण देता हूँ.

आप अक्सर मोबाइल रिचार्ज और ऑनलाइन ट्रांसक्शन करते हिन्ज. तो इसमें या तो किसी बैंक अकाउंट का उपयोग करते होंगे या फिर मोबाइल पेमेंट गेटवे प्रयोग करते होंगे.

लेकिन करेंसी को आप सीधे सीधे बिना किसी के mediater का प्रयोग किये अपने दोस्त को भेज सकते हैं.

ये पूरी दुनिया में ग्लोबल पेमेंट के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है.

ये दिन प्रतिदिन लोगो के बिच पॉपुलर होता जा रहा है. ऑनलाइन किसी भी सेवा को खरीदने के लिए अब हर जगह इसकी पेमेंट ऑप्शन भी इनेबल किया जा चुका है.

यानि की जब आप ऑनलाइन पेमेंट करने जाते हैं तो पेमेंट ऑप्शन में क्रेडिट कार्ड,डेबिट कार्ड, वॉलेट, paytm देखते ही होंगे ठीक उसी तरह कई जगह BTC का भी ऑप्शन होता है.

ये open source होता है फिर इसका ट्रांसक्शन हिस्ट्री कैसे पता चलता है?

इसके लिए ये “Blockchain technology” का इस्तेमाल करता है. ब्लॉकचैन हर डाटा एक्सचेंज का रिकॉर्ड स्टोर कर के रखता है.

हर रिकॉर्ड को “ledger” के रूप में स्टोर किया जाता है और हर ट्रांसक्शन को ledger के अंदर ब्लॉक्स के रूप में स्टोर करता है.

बिटकॉइन वॉलेट क्या है – What is Bitcoin wallet in Hindi?

BTC के बारे में तो आप जान चुके हैं की ये एक डिजिटल करेंसी है. जिसे सिर्फ हम ऑनलाइन ही स्टोर कर के रख सकते हैं.  इसे स्टोर करने के लिए जिस ऑनलाइन लोकेशन का इस्तेमाल करते हैं उसे Bitcoin Wallet कहते हैं.

ये वॉलेट एक तरह का सॉफ्टवेयर प्रोग्राम होता है. किसी भी इंसान के वॉलेट में स्टोर किये गए हर बिटकॉइन एड्रेस का एक प्राइवेट Key (सीक्रेट नंबर) होता है.

इस वॉलेट का इस्तेमाल करने के लिए एक अकाउंट बनाना पड़ता है. अकाउंट बनाने पर एक unique id दी जाती है जो वॉलेट के एड्रेस को define करती है.

जहाँ पर हम इसे सेंड और रिसीव कर सकते हैं. अब इस वॉलेट का इस्तेमाल कर के आप BTC के रूप में पेमेंट कर के गुड्स और सेवाएं ख़रीद सकते हैं.

इसके साथ ही आप इस  को बेच कर अपने पैसे को अपने बैंक अकाउंट में भी ट्रांसफर कर सकते हैं. वॉलेट मुख्य रूप से 4 तरह के होते हैं डेस्कटॉप, मोबाइल, वेब और हार्डवेयर.

Satoshi क्या है – What is Satoshi in Hindi?

इस करेंसी के सबसे छोटे भाग को Satoshi बोलते हैं. इसका नाम Satoshi Nakamoto के नाम पर रखी गई है क्यों उन्होंने इस करेंसी का आविष्कार किया था.10 करोड़ satoshi = 1 BTC होता है.

बिटकॉइन को ही हम शार्ट फॉर्म में BTC बोलते हैं. इस तरह आप समझ गए होंगे की 1BTC में कितने Satoshi होते हैं. साथ ही ये भी समझ चुके हैं की satoshi इस करेंसी का ही सबसे छोटी यूनिट होती है.

बिटकॉइन कैसे कमाए?

इसे कमाने के तो बहुत से तरीके हैं लेकिन आप अपनी सहूलियत के हिसाब से जो पसंद आये उसे इस्तेमाल कर सकते हैं. मैं यहाँ आपको 4 methods बता रहा हूँ जिससे आप इस करेंसी को कमा सकते हैं.

Payment के रूप में स्वीकार करके

मेरे point of view से बिटकॉइन कमाने का बेस्ट और सबसे आसन तरीका ये है की इसे पेमेंट के रूप में एक्सेप्ट करे.

अगर आप किसी को कुछ बेच रहे हैं या सेवा देते हैं और उसके पास BTC है तो उसे बोले की वो आपको BTC ही Pay करे.

इस तरह आपके वॉलेट में BTC स्टोर होता रहेगा और उसकी वैल्यू भी बढ़ती रहेगी. साथ ही आप भी उसको पेमेंट करने में इस्तेमाल कर सकते हैं या फिर बेच कर के पैसे कमा सकते हैं.

वेबसाइट के ऑनलाइन टास्क कम्पलीट करके

ऑनलाइन बहुत सारी ऐसी वेबसाइट हैं जो task complete करने पर आपको फ्री BTC Pay करती हैं. अक्सर इस तरह के वेबसाइट आपको बस visit करने के लिए छोटी amount में BTC देते हैं.

Mining से बिटकॉइन Earn कर सकते हैं

Bitcoin mining एक ऐसा प्रोसेस है जिसमे नए bitocoin generate किये जाते हैं. Mining के लिए High Performance Computers का इस्तेमाल करते हैं.

ये बिटकॉइन transaction को ब्लॉकचैन में add करता है. ब्लॉकचैन यानि की पब्लिक ledger जहाँ पर सारे बिटकॉइन transaction स्टोर किये जाते हैं. 

इसके साथ ही ये नए ब्लॉक्स को भी सर्च करता है. ब्लाक एक ऐसा फाइल होता है जिसमे सबसे नए transaction record होते हैं. जब आपका कंप्यूटर कोई नया ब्लॉक discover कर लेता है तो आपको कुछ BTC दिए जाते हैं.

अभी देखा जाये तो 1 block में  25 BTC होते हैं.

BTC ख़रीदे और बेचे

अगर मैं कहुँ की BTC से पैसे कमाने का सबसे आसान तरीका ये है की आप खुद पैसे लगा के इसे खरीदें. उसके बाद इसे कुछ वक़्त के लिए छोड़ दें.

इसका Value मार्किट में बढ़ता रहता है. जब आपको profitable लगे तो उस price में बेच दें. ये बिलकुल ज़मीन की खरीद बिक्री जैसा ही तरीका है.

आप चाहे तो इस को small amount unit यानि satoshi में ख़रीदें. 1 BTC में 10 करोड़ satoshi होते हैं.

क्यों की अभी इस की price काफी ज्यादा हो चुकी है इसीलिए बेहतर है की आप satoshi ही ख़रीद कर उसके price बढ़ने का इंतज़ार करे.

BTC की current value

वैसे इस करेंसी की वैल्यू तो फिक्स नहीं होती है. लेकिन अभी की करंट वैल्यू 516864.89 Rs. है.  इसे आप गूगल में जाकर निचे बताये गए तरीके से current value जान सकते हैं

Note: Current price जानने के लिए Google में टाइप करे 1 BTC=inr

बिटकॉइन कैसे खरीदे?

बिटकॉइन खरीदना बेचना कोई मुश्किल काम नहीं है. अगर आपने कभी कोई ऑनलाइन ट्रांसक्शन या फिर ऑनलाइन पेमेंट किया है तो आप बड़े ही आसानी से इसे ख़रीद सकते हैं.

इंडिया में इस करेंसी को ख़रीदने और बेचने के लिए वेबसाइट और मोबाइल एप्प का इस्तेमाल कर सकते हैं.

इंडिया में इस करेंसी को ख़रीदने और बेचने के लिए 2 बहुत ही पॉपुलर कंपनियां हैं.

  1. Zebpay.com
  2. Unocoin.com

इन दोनों कम्पनीज से BTC आसानी से ख़रीद और बेच सकते हैं. यहाँ मैं आपको बताऊँगा की इसे कैसे खरीदे? इसके लिए आपको अकाउंट बनाना होगा और फिर स्टेप्स को follow कर के आप इसे ख़रीद सकते हैं.

नया अकाउंट बनायें – Create new account

आप ऊपर बताये गए दोनों में से किसी एक में जाकर एक नया अकाउंट बना लें. ये रजिस्ट्रेशन प्रोसेस भी रेगुलर रजिस्ट्रेशन प्रोसेस जैसा ही है. अपने मोबाइल नंबर को एंटर कर के अकाउंट signup कर ले.

अपने डाक्यूमेंट्स अपलोड करे – Upload document for KYC

इसके बाद KYC के लिए आपको अपने डाक्यूमेंट्स को अपलोड करना होगा. इसके लिए आपको सेलेक्ट करना है की आप कौन सा डॉक्यूमेंट KYC के लिए अपलोड करना चाहते हैं.

आधार कार्ड, पैन कार्ड या कोई और डॉक्यूमेंट अपलोड करने के बाद आप सबमिट करे.आपको एक वेरिफिकेशन मेल मिलेगा की आपका अकाउंट एक्टिव हो चुका है.

बैंक डिटेल डालें – Add bank details

Account एक्टिव हो जाने के बाद पेमेंट करने के लिए आप अपना बैंक अकाउंट डिटेल्स ऐड कर सकते हैं. जिससे की कभी आप इसे ख़रीद सकते हैं. इसके लिए आपको अपने बैंक से पैसा इस अकाउंट में डिपाजिट करना होगा उसके बाद ही BTC को ख़रीद सकेंगे.

बिटकॉइन की खरीद बिक्री करें – Buy and sell 

जैसे आप अपने पैसे बैंक अकाउंट से इस नए अकाउंट में डिपाजिट करेंगे तो आप कभी भी BTC ख़रीद सकते हैं. पैसे लोड करने के बाद आप इसे BTC में कन्वर्ट कर सकते हैं. और फिर Buy Bitcoin से इसे ख़रीद सकते हैं.

बिटकॉइन कैसे और कहाँ बेचे?

अगर आप अपना इसे बेचना चाहते हैं जो की आपने पहले ख़रीदा है तो इसके लिए आपको कहीं और जाने की जरुरत नहीं है.

आपने जिस वेबसाइट से इसे ख़रीदा है वहीँ से आप इसे बड़ी ही आसानी से बेच सकते हैं. वहां आपको Sell Bitcoin का ऑप्शन मिलेगा जिससे आप उसे बेच सकते हैं. .

बेचने के बाद withdraw कर के आप उसे अपने बैंक अकाउंट में डिपाजिट कर सकते हैं. आपके पैसे 2-3 दिनों के अंदर आपके अकाउंट में सेंड हो जायेगा

तो इस तरह से आप अपने ख़रीदे गए BTC को आसानी से कभी भी बेच सकते हैं.

बिटकॉइन उपयोग करने के फायदे

  • Credit और Debit card की तुलना में transaction fee बहुत कम होती है.
  • इसका प्रयोग आप वर्ल्डवाइड कहीं भी और कभी भी कर सकते है.
  • ये एक long-term इन्वेस्टमेंट होता है.
  • इस पर किसी गवर्नमेंट का ऑथोरिटी नहीं है इसीलिए बहुत सारे लोग इसका एडवांटेज भी उठा लेते है.
  • ये trackable करेंसी नहीं है.

बिटकॉइन उपयोग करने के नुक्सान

  • जब आप ट्रांसक्शन करते हैं तो ये एक irreversible प्रोसेस है जो की कोई भी रिवर्स नहीं कर सकता.
  • इस करेंसी पर किसी सरकार का कण्ट्रोल नहीं है. इसका price घटता बढ़ता रहता है इसिलिये एक तरह से ये risky भी है.
  • बुरे लोग चाहते है किसी तरह वो किसी BTC अकाउंट को एक्सेस कर ले ऐसे में सारी करेंसी चोरी होने का भी खतरा होता है. एक बार चोरी हो गया तो फिर इसकी responsibility लेने वाला कोई नहीं होता है.

बिटकॉइन का भविष्य

अगर भारत की बात करे तो यहाँ आज भी लोग शेयर मार्किट बहुत काम जानते हैं. तो बिटकॉइन की ख़बरें समाचार और इंटरनेट के माध्यम से कुछ फैली हैं.

हाल ही में आये बिटकॉइन की कीमतों में भरी उछाल की वजह से लोगों को इसके बारे में काफी कुछ जानने को मिला है. भारत सरकार नहीं चाहती की यहाँ पर क्रिप्टोकोर्रेंसी का चलन बढे.

बिटकॉइन एवं अन्य करेंसी की वजह से कई ऐसे काम किये जाते हैं जो सरकार नहीं चाहती और यही वजह हैं की भारत में जो लोग बिटकॉइन पर ट्रेडिंग कर रहे हैं उनकी संख्या करीब दो करोड़ के आसपास आंकी जाती है.

संक्षेप में

बिटकॉइन में इन्वेस्ट करना पैसे कमाने का एक ऐसा तरीका है जो भारत में अभी अधिक लोकप्रिय नहीं है लेकिन भविष्य में इसकी जानकारी सभी को होती जाएगी तो सभी लोग इस में पैसे कमाने के लिए रूचि लेने लगेंगे.

इस पोस्ट में आपने ये भी जाना की बिटकॉइन कैसे कमाये और इसमें इन्वेस्ट कैसे करे. इसके फ़ायदे और क्या नुक़सान हो सकते हैं इसकी जानकारी भी आपको हो चुकी है.

मुझे उम्मीद है की आपको ये पोस्ट अच्छी लगी होगी और अब आप समझ गए होंगे की बिटकॉइन क्या है (What is Bitcoin in Hindi).

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो अपने फ्रेंड्स के साथ जरूर शेयर करे.

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

6 thoughts on “बिटकॉइन क्या है और ये किस देश की करेंसी है?”

  1. Bitcoin kaise kare hain sir. Mujhe bhi Bitcoin ke bare me jankari mili to Khushi hui. Main bhi Bitcoin kharidna chahta hu.

    Reply
    • Bitcoin aap bhi kama sakte hain. Maine ji process batayi hai use follow kijie. Un sabhi tariko se aap easily bitcoin me invest kar ke kama sakte hain. Bitcoin ki bhi jnowlebadhti jayegi.

      Reply
  2. Bitcoin kamane ke bare me aapne bahut ache se samjhaya hai. Aaj ye bhi jana ki bitcoin kaise aur kahan se kharid sakte hain

    Reply
    • Ji aap post me diye gae details ko follow kar ke bitcoin kharid bhi sakte hain aur bech bhi sakte hain

      Reply

Leave a Comment