बैंक मित्र कैसे बने? मित्र के कार्य तथा बैंक मित्र भर्ती की जानकारी

बैंक मित्र एक सरकारी नौकरी होती है जिसमें बैंक के अंतर्गत सभी प्रकार के कार्यों को करने में मदद करना एक बैंक मित्र का कार्य होता है.

आपने कई बार इस शब्द को जरूर सुना होगा लेकिन क्या आप सच में जानते हैं की बैंक मित्र क्या है और इसकी भर्ती कैसे होती है?

आज की जनरेशन में हर एक विद्यार्थी का सपना सरकारी नौकरी हासिल करना होता है.

बैंक का मित्र भी एक सरकारी नौकरी होती है इसलिए लगभग विद्यार्थी  की सपना बैंक मित्र बनना होता है. हम इस आर्टिकल के माध्यम से बैंक मित्र से संबंधित सभी जानकारियां बताने जा रहे हैं.

बैंक मित्र क्या है? 

बैंक मित्र एक सरकारी नौकरी है इसलिए इस नौकरी को लगभग हर एक स्टूडेंट पाना चाहते हैं. सरकारी नौकरी आज की जनरेशन में बहुत ही महत्वपूर्ण नौकरी मानी जाती है क्योंकि सरकारी नौकरी का महत्व और पद बहुत ही ऊंचा होता है जिसमें पैसा तथा रुतबा दोनों मिलता है.

इसलिए आजकल के सभी विद्यार्थी सरकारी नौकरी को पाने के लिए अपने कठिन परिश्रम के दौरान अपनी पढ़ाई को कर रहे हैं.

बैंक मित्र एक ऐसी नौकरी है जिसमें सरकार के द्वारा बैंक के अन्य सुविधाओं को उपलब्ध कराने के लिए बैंक मित्र के पद पर उपस्थित व्यक्ति को यह कार्य दिया जाता है. 

बैंक मित्र को उन जगहों के लोगों के लिए बैंक की सुविधाएं देने की जिम्मेदारी दी जाती है जिस जगह में बैंक के एटीएम तथा शाखा इत्यादि का सुविधा उपलब्ध नहीं होता. 

इन जगहों के लोगों को इनके पैसे पहुंचाना तथा इन लोगों को प्रधानमंत्री जन धन योजना से संबंधित जानकारी देना बैंक मित्र का कार्य होता है. मित्र अपना कार्य बहुत ही इमानदारी और बहादुरी से करने में सक्षम होते हैं. 

बैंक मित्र की सहायता से लोगों को अपने पैसे निकालने और पैसे भेजने में कोई परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता. बैंक मित्र हर लोगों को बैंक से संबंधित किसी भी कार्य को करने के लिए मदद करते हैं.

बैंक मित्र कैसे बने? 

वह उम्मीदवार बैंक मित्र के लिए फॉर्म अप्लाई कर सकते हैं जो मान्यता प्राप्त विद्यालय से दसवीं पास किए हुए हैं. बैंक मित्र की पोस्ट को पाने के लिए उम्मीदवारों को 10 वीं पास होना अनिवार्य है. 

इसके साथ साथ हर एक उम्मीदवार जो बैंक मित्र की तैयारी कर रहे हैं उन्हें कंप्यूटर की बेसिक जानकारी होना अति आवश्यक है क्योंकि बैंक मित्र का कार्य लगभग कंप्यूटर से संबंधित होता है इसलिए जो भी विद्यार्थी बैंक मित्र बनना चाहते हैं उन्हें कंप्यूटर की जानकारी रहना बहुत ही आवश्यक है. 

बैंक मित्र बनने के लिए आवेदन करते समय उपयुक्त डाक्यूमेंट्स होना अनिवार्य है तभी आपका आवेदन सफलतापूर्वक हो सकता है.

बैंक मित्र बनने के लिए आवश्यक डॉक्युमेंट्स 

बैंक मित्र बनने के लिए जब आप आवेदन करते हैं उस समय आपके पास आवश्यक डाक्यूमेंट्स बहुत जरूरी है क्योंकि बिना डाक्यूमेंट्स के आप बैंक मित्र के लिए फॉर्म अप्लाई नहीं कर सकते हैं.

आवश्यक डाक्यूमेंट्स

दसवीं की मार्कशीट, आधार कार्ड पैन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, कंप्यूटर के द्वारा डाउनलोड किया हुआ एप्लीकेशन फॉर्म, इलेक्शन कार्ड, तथा रेजिडेंशियल प्रूफ में इलेक्ट्रॉनिक बिल मोबाइल बिल इत्यादि होना आवश्यक है. इसके साथ-साथ कमिशन अकाउंट डिटेल्स के लिए दो पासपोर्ट साइज फोटो की आवश्यकता होती है.

इस एग्जाम का फॉर्म अप्लाई करने के लिए आपके पास इन सभी डाक्यूमेंट्स का होना बहुत ही जरूरी है तभी आपका फॉर्म अप्लाई हो सकता है अन्यथा नहीं.

बैंक मित्र के कार्य 

जो उम्मीदवार बैंक मित्र की परीक्षा में उत्तीर्ण आते हैं उन्हें बैंक मित्र के पद पर नौकरी दी जाती है जिसका कार्य निम्नलिखित होता है:-

बैंक से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी लोगों को देने का काम बैंक मित्र का होता है.

एक बैंक मित्र का काम लोगों को सरकार के द्वारा चलाई गई जन धन योजना की सभी जानकारियां देने का होता है तथा इन सभी जानकारियों को देते हुए उन्हें जागृत करना भी होता है.

पैसे से संबंधित चाहे वह लोन हो या सेविंग प्रक्रिया हो इन सभी जानकारी को लोगों तक  वे पहुंचाते हैं ताकि लोगों को भी सेविंग से संबंधित जानकारी प्राप्त हो और वे अपने सेविंग की कार्य कर लाभ उठा सके.

लोगों के द्वारा दिए गए सभी डाक्यूमेंट्स की जांच करना एक बैंक मित्र का कार्य होता है.

जिस भी व्यक्ति को पैसे जमा करने होते हैं उनके पैसे सुरक्षा अनुसार जमा करवाने का कार्य भी एक बैंक मित्र का होता है.

किसी ग्राहक को पैसे निकालने होते हैं ,पैसे निकालने में उस व्यक्ति को फॉर्म भरने से लेकर पैसे लेने तक उनकी मदद करते हैं.

ग्राहकों का पेन कार्ड तथा आधार कार्ड को खाता से लिंक करने का काम भी एक बैंक मित्र का होता है.

टर्म डिपॉजिट तथा ग्राहकों की खाता खोलना भी एक बैंक मित्र का कार्य है.

ग्राहकों के लिए एटीएम जारी करने के साथ-साथ उन्हें बीमा सेवा प्रदान करना.

कई ग्राहकों को अपने खाता से संबंधित जानकारी जाननी होती है कि उनके खाते में कितने पैसे हैं या उनके खाता बंद हो गया है इन सभी जानकारियों को ग्राहकों तक पहुंचाना एक बैंक मित्र का कार्य होता है.

इस प्रकार एक बैंक मित्र का कार्य बैंक से संबंधित होता है जिसमें वे ग्राहकों के खातों से लेकर उनके सेविंग तथा अन्य बैंक से संबंधित कार्यों में उनकी मदद करते हैं. इसके साथ-साथ वे बैंक से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी ग्राहकों को देते हैं.

बैंक मित्र के लिए शैक्षणिक योग्यता 

  • जो उम्मीदवार बैंक मित्र की परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं उन्हें मान्यता प्राप्त विद्यालय से 10 वीं पास होना अनिवार्य है.
  • यदि आप भी बैंक मित्र बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपकी उम्र 21वर्ष होनी चाहिए.
  • इसके साथ उस उम्मीदवार के पास कंप्यूटर से संबंधित बेसिक जानकारी भी होना आवश्यक है.
  • एग्जाम का फॉर्म रिटायर हो चुके शिक्षक तथा सैनिक भी अप्लाई कर सकते हैं और चयन होने के पश्चात बैंक मित्र के रूप में बैंक में कार्य कर अपनी महत्वपूर्ण योगदान दे सकते हैं.
  • नौकरी को लेने के लिए उम्मीदवार किसी बैंक से संपर्क करके भी इस नौकरी को लेने में सक्षम हो सकते हैं.

बैंक मित्र बनने के लाभ 

बैंक मित्र बनने से बैंक द्वारा बहुत ही लाभ दी जाती है जो निम्नलिखित हैं:- 

  • बैंक मित्र के पद पर कार्य कर रहे व्यक्ति को प्रधानमंत्री जनधन योजना के जरिए खाता खोलने पर सर्विस टैक्स नहीं देनी पड़ती.
  • किसी भी बैंक के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग सुविधा प्रदान करने पर बैंक मित्र को सेवा  कर भी नहीं भरना पड़ता.
  • यदि कोई बैंक मित्र बैंक से लोन लेते हैं तो उनके लिए कुछ अलग सुविधाएं दी जाती.
  • सुविधा के जरिए यदि बैंक मित्र को किसी प्रकार का परिवहन जैसे बाइक या कार तथा इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज जैसे कंप्यूटर इत्यादि खरीदनी है तो इसके लिए उनको बैंक की तरफ से सवा लाख का लोन दिया जाता है.
  • इस लोन का लाभ वही व्यक्ति उठा सकते हैं जो बैंक मित्र के पद पर कार्य कर रहे हैं जिनकी उम्र 18 से 60 साल तक की हो. बैंक के द्वारा दी गई सवा लाख की लोन को चुकाने के लिए आपको बैंक की तरफ से 35 से 7 महीने का समय दिया जाता है.
  • बैंक मित्र के द्वारा लोगों की पैसों का लेनदेन करने में मदद की जाती है और उस दौरान इनको कमीशन भी मिलता है.

इस प्रकार यदि आप भी एक बैंक मित्र बनते हैं तो आपको इन सभी बैंक के द्वारा दी गई सुविधाओं का लाभ मिल सकता है.

बैंक मित्र के लिए फॉर्म कैसे अप्लाई करें? 

बैंक मित्र एक सरकारी नौकरी है जिसे हम ऑनलाइन और ऑफलाइन दो तरीके से भर सकते हैं.

बैंक मित्र के लिए ऑनलाइन फॉर्म अप्लाई करने के तरीके 

यदि आप भी बैंक मित्र बनना चाहते हैं और इसके लिए आपको भी ऑनलाइन फॉर्म अप्लाई करना है तो उसकी प्रक्रिया निम्नलिखित है :- 

  •  सर्वप्रथम आपको कस्टमर सर्विस प्वाइंट के ऑफिशियल वेबसाइट को ओपन करना होगा.
  • इस वेबसाइट के ओपन होते ही ऊपर देख रहे हैं ऑनलाइन रजिस्टर के ऑप्शन पर क्लिक करें.
  • इस प्रक्रिया के दौरान आपके सामने एप्लीकेशन फॉर्म प्रदर्शित की जाएगी जिसमें आपको आपकी सारी जानकारी वहां भरनी होगी जैसे आपका नाम, ईमेल एड्रेस ,पिताजी का नाम, आधार नंबर, पिन कोड, जन्मतिथि, राज्य तथा जिला, इन सभी जानकारियों को वहां भर दे.
  • फॉर्म में पूछे गए सभी जानकारियों को भरने के दौरान एक बार चेक कर ले कि कोई स्पेलिंग मिस्टेक ना हो.
  • इसके दौरान वहां दिख रहा है सबमिट बटन पर क्लिक करें.

इस प्रक्रिया के द्वारा आपका ऑनलाइन फॉर्म बैंक मित्र परीक्षा के लिए अप्लाई किया जाता है. यदि आप भी बैंक मित्र की परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं और आपको भी ऑनलाइन फॉर्म भरना है तो आप इस प्रक्रिया के दौरान भर सकते हैं.

बैंक मित्र के लिए ऑफलाइन फॉर्म कैसे भरें? 

यदि आपको बैंक मित्र बनना है तो इसके लिए आप जिस भी बैंक में बैंक मित्र बनना चाहते हैं उस बैंक के शाखा में जाकर उनके मैनेजर से इसके बारे में जानकारी ले सकते हैं. बैंक मैनेजर आपको बैंक मित्र से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियां बता देते है.

जब आपसे पूछा जाए कि आप किस इलाके में बैंक में बैंक मित्र का कार्य करना चाहते हैं तो आपको तो आपको ग्रामीण क्षेत्र के बैंक के नाम को बताना है क्योंकि ग्रामीण क्षेत्र में बैंकिंग की सुविधाएं उपलब्ध नहीं होती है इसलिए बैंक आपको बैंक मित्र की जॉब दे सकती है. 

बैंक उस क्षेत्र के लिए बैंक मित्र को एजेंट बनाते हैं जिस क्षेत्र में बैंक की सुविधाएं जैसे बैंक शाखा या बैंक एटीएम नहीं रहती ताकि वहां के लोगों को भी बैंक की सुविधा मिल सके इसलिए बैंक बैंक मित्र को अपना एजेंट बनाती है.

यदि आप ऑफलाइन फॉर्म बैंक मित्र के लिए भरे हैं तो बैंक आपके एप्लीकेशन फॉर्म को तभी पास करेगी जब आप जिस क्षेत्र में बैंक मित्र बनना चाहते हैं जिसका नाम आप उस फॉर्म में भरे हैं उस क्षेत्र में कोई बैंक मित्र दूसरा ना हो. यदि वहां कोई दूसरा बैंक मित्र बना है तो आपका एप्लीकेशन फॉर्म पास नहीं किया जाएगा.

बैंक मित्र की वेतन 

बैंक मित्र बैंक से संबंधित सारे कार्य को  बहुत ही इमानदारी पूर्वक और बहादुरी के साथ करते हैं. बैंक से संबंधित सभी प्रकार के कार्यों को कर अपना महत्वपूर्ण योगदान देते.

एक बैंक मित्र की वेतन लगभग ₹5000 होती है इसके साथ-साथ इन्हें लोगों के द्वारा बैंक में पैसा जमा करवाना तथा पैसे निकलवाने में कमीशन भी मिलती है.

निष्कर्ष

बैंक मित्र प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत लोगों को सभी प्रकार की जानकारी देते हैं यह एक सरकारी नौकरी है इसलिए लगभग विद्यार्थी इस नौकरी को पाना चाहते हैं. 

हमने इस आर्टिकल के माध्यम से “बैंक मित्र कैसे बने?” इसके अंतर्गत आने वाली सभी जानकारियों को विस्तार पूर्वक बताया हैं.

यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें.

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment

×