एयर होस्टेस कैसे बने? एयर होस्टेस के लिए जरुरी कोर्स तथा योग्यता

अगर आप एक युवती हैं और आपका सपना आसमान की ऊंचाइयों में उड़ना और नए नए देशों में घूमना है तो ये तभी पूरा होगा जब आप एक एयर होस्टेस बनेंगे और ये आप तभी कर सकते हैं जब आप जानेगे की एयर होस्टेस कैसे बने?

हर प्रकार के एयरप्लेन में एयर होस्ट की आवश्यकता होती है जिसके लिए हर साल इस पोस्ट के लिए वैकेंसी जारी की जाती है जिसमें इच्छुक उम्मीदवार एयर होस्ट के लिए फॉर्म अप्लाई करते हैं.

हर एक प्रकार के विमानों में इस पद की नौकरी दी जाती है जिसमें विमानों की यात्रियों के साथ साथ इससे संबंधित अन्य कार्यों को कर एयर होस्टेस महत्वपूर्ण तरीके से करती है.

एयर होस्टेस क्या है? 

एयर हॉस्टेस एक ऐसा पोस्ट है जिसकी आवश्यकता राष्ट्रीय विमानों के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय विमानों में भी होती है. बिना एयर होस्टेस के विमान को चलाना उतना ही मुश्किल है जितना बिना लेबर के घर बनाना.

इस पद पर कार्य कर रहे युवतियां अपने हर एक कार्य को बहुत ही सरलता और फुर्तीले तरीके से करती हैं.

आजकल के बहुत से ऐसे विद्यार्थी हैं जिनका सपना एयर होस्टेस बनने का होता है इस पद के लिए अधिकतर महिलाएं फॉर्म अप्लाई करती है.

लेकिन कई परसेंट युवक भी इस पद के लिए फॉर्म अप्लाई करते हैं जिन्हें स्टीवर्ड भी कहा जाता है. जिन लोगों का सपना देश विदेश घूमने का होता है वह इस नौकरी को कर अपनी सपना आसानी पूर्वक पूरा कर सकते हैं.

जैसा कि आपको पता है की इस नौकरी के जरिए अनेक विदेशों को देखने का अवसर मिलता है.

इसलिए कई ऐसे विद्यार्थी होते हैं जिन्हें देश विदेश घूमने की इच्छा रहती है और इस इच्छा को पूरा करने के लिए वे इस नौकरी को करना चाहते हैं जिसकी तैयारी के लिए वे दिन रात एक कर के पढ़ते हैं ताकि उनका सिलेक्शन इस पद में हो सके.

एयर हॉस्टेस के कार्य:- 

एक हेयर होस्टेस  का कार्य विमानों के अंतर्गत विभिन्न प्रकार के होते हैं जो निम्नलिखित हैं:- 

  • जब यात्री  विमान के अंदर प्रवेश करती है उस समय एयर होस्टेस के द्वारा उनका स्वागत किया जाता है और उन्हें उनकी सीट दिखाकर उन्हें बैठने बोला जाता है. 
  • यदि कोई यात्रियों को सीट नहीं मिल रही होती तो उन्हें उनकी सीट एक एयर होस्टेस के द्वारा बताया जाता है जिससे व्यक्ति अपने सीट में आसानी से बैठता है.
  • यात्रियों के आने से पहले तथा यात्रियों के जाने के बाद विमान में हर तरह की व्यवस्थाओं का देखभाल एक एयर होस्टेस का होता है जिसमें वे यात्रियों के लिए उपस्थित भोजन, आवश्यक मेडिसिन, बाथरूम इत्यादि चेक करती है और इन सभी व्यवस्थाओं को पूरा करती है ताकि कोई यात्री को परेशानी ना हो.
  • एक एयर होस्टस  का कार्य यात्रियों को विमानों से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियों को देना होता है.
  • यदि कोई इमरजेंसी आ जाए तो यात्रियों को विमानों से कैसे सुरक्षित निकाला जाए इनका भी तरीका एक एयर होस्ट के पास रहता है जिससे कोई यात्रियों को नुकसान नहीं पहुंचता.
  • विमान उड़ते वक्त यदि किसी व्यक्ति को हार्ट प्रॉब्लम या सांस जैसे कुछ प्रॉब्लम होती है तो उन सभी को ठीक करने की जिम्मेदारी भी एक  एयर होस्टस  की होती है.
  • समय-समय पर यात्रियों को खाना सर्व करना और पानी के बारे में पूछना भी इन्हीं का कार्य होता है इस प्रकार एक एयर होस्टस विमान में यात्रियों का बहुत ही अच्छी तरीके से देखभाल करती है.
  • उन्हें  हिंदी इंग्लिश तथा क्षेत्रीय भाषा की भी जानकारी होती है जिससे वे हर तरह के व्यक्ति से बात करके उनकी परेशानी हल कर सकती है. 
  • जो भी विद्यार्थी एयर हॉस्टेस  बनते हैं उनकी कम्युनिकेशन स्किल अच्छी होनी चाहिए और उनका वॉइस क्लियर होना चाहिए ताकि वह किसी अन्य व्यक्ति से अच्छी तरीके से बात कर सके.
  • एयर फोर्स के पास इतनी क्षमता होनी चाहिए कि वे किसी की सामानों को ऊपर तक रख सके. इसके साथ साथ इनके पास इतनी  ताकत होनी चाहिए कि वह किसी बुरे व्यक्ति के स्थिति हैंडल कर सके.

इस प्रकार एक एयर होस्टस  के कार्य विमान के अंतर्गत अधिक प्रकार के होते हैं जिसे यह महत्वपूर्ण तरीके से अपनी जिम्मेदारी को पूरा करती हैं.

एयर होस्टस  की योग्यता:- 

एयर होस्टस राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय दोनों प्रकार के विमानों में इस पद की नौकरी होती है. 

यदि कोई विद्यार्थी राष्ट्रीय विमानों के लिए एयर होस्टेस की तैयारी करते हैं तो इसके लिए उन्हें 12वीं पास होना अनिवार्य है वह विद्यार्थी 12वीं कक्षा की पढ़ाई आर्ट्स कॉमर्स या साइंस किसी भी विषय से पूरी कर सकते. 

वहीं दूसरी और अंतरराष्ट्रीय विमानों की बात करें तो इसमें एयर होस्टस करने के लिए आपको किसी भी ऑनर्स पेपर से स्नातक डिग्री प्राप्त करना अनिवार्य है तभी आप इस पोस्ट के लिए फॉर्म अप्लाई कर सकते हैं.

एयर होस्टेस  बनने के लिए महिलाओं की हाइट 157 सेंटीमीटर तथा पुरुष की हाइट 170 सेंटीमीटर होनी चाहिए. इन सभी के साथ साथ उनकी हाइट उनके वेट के हिसाब से होनी चाहिए क्योंकि इस पद के लिए फिट रहना बहुत ही जरूरी है.

इस पद की तैयारी कर रहे युवतियों की बीएमआई 18 से 20 तथा युवकों की बीएमआई 18 से 25 होनी चाहिए तभी वह इस नौकरी के लिए फॉर्म अप्लाई कर सकते हैं अन्यथा नहीं.

 एक एयर फोर्स के पास इतनी क्षमता होनी चाहिए कि वह लगभग 90 केजी के किसी सामान को एक स्थान से दूसरे स्थान तक रख सके.

जो विद्यार्थी एयर होस्टेस बनना चाहते हैं उन्हें स्विमिंग आनी चाहिए इसके साथ साथ उनके शरीर में किसी प्रकार की टैटू नहीं होनी चाहिए. 

यदि किसी उम्मीदवार के शरीर में किसी प्रकार की टैटू है तो उस जगह होनी चाहिए जहां कपड़े पहनने के बाद ना दिखे.

इन सभी के साथ साथ कैंडिडेट का खूबसूरत होना आवश्यक है क्योंकि विमान में अधिकतर खूबसूरत लोगों का चयन किया जाता है जिससे वे आकर्षक रूप से लोगों के साथ बातचीत कर सकें. 

यदि किसी के फेस में पिंपल्स है या किसी प्रकार के दाग  हो तो उस तरह के कैंडिडेट को इस पद के लिए चयन नहीं किया जाता है.

इन सभी योग्यताओं के साथ-साथ उम्मीदवार को इंग्लिश और हिंदी भाषाओं के साथ-साथ क्षेत्रीय भाषाओं की भी जानकारी होना आवश्यक है.

आयु सीमा 

एक एयर होस्टस बनने के लिए अभ्यर्थी की आयु 17 से 26 वर्ष होनी चाहिए. जिस विद्यार्थी की आयु 17 से 26 वर्ष के बीच में है वही उम्मीदवार इस नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं.

एयर होस्टस के कोर्स 

हमारे देश में ऐसे बहुत से इंस्टिट्यूट उपलब्ध है जो एयर होस्टस  की तैयारी बहुत ही अच्छी तरीके से कर आते हैं इसलिए इच्छुक उम्मीदवार फॉर्म अप्लाई करने के बाद कुछ महत्वपूर्ण इंस्टिट्यूट से अपनी पढ़ाई को पूरी करते हैं.

इस परीक्षा के लिए कोर्स तीन प्रकार का होता है डिप्लोमा, सर्टिफिकेट तथा डिग्री, इन सभी तीनों कोर्स में से किसी एक कोर्स को उम्मीदवार अपने अनुसार चयन करके पढ़ाई कर सकते हैं.

सर्टिफिकेट कोर्स

यदि आपकी भी सपना एयर होस्ट करना है और यदि आप सर्टिफिकेट कोर्स के अनुसार इसकी पढ़ाई करना चाहते हैं तो आपका एडमिशन सर्टिफिकेट कोर्स में तभी मिलेगी जब आप 12वीं पास होंगे. 

इस कोर्स की अवधि 8 महीने से 1 साल तक की होती है जिसमें 50000 से 100000 की फीस ली जाती है.

डिप्लोमा कोर्स

इस कोर्स में  भी नामांकन करवाने के लिए उम्मीदवारों को 12 वीं पास होना अनिवार्य है. इसके साथ साथ इस कोर्स की अवधि 8 महीने से 1 साल की होती है जिसकी फीस 50000 से डेढ़ लाख ली जाती है. 

जैसा कि आपको पता है की बहुत से कॉलेज इन सभी कोर्स को करवाते हैं जिस की फीस कम या ज्यादा भी हो सकती है इसलिए विद्यार्थी अपने कोर्स के हिसाब से कॉलेज में एडमिशन लेते हैं.

डिग्री कोर्स 

डिग्री कोर्स उन दोनों कोर्सों की अपेक्षा ज्यादा महंगा कोर्स माना जाता है क्योंकि इसकी फीस एक लाख से तीन लाख तक की होती है इसके साथ साथ इस कोर्स को पूरा करने में 3 साल का समय लगता है.

इस प्रकार कैंडिडेट अपने अनुसार कोर्स की चयन करके इन तीनों में से किसी एक कोर्स की तैयारी करके एयर होस्टस  की परीक्षा दे सकते हैं.

फॉर्म अप्लाई कैसे करें? 

इस परीक्षा के लिए फॉर्म उम्मीदवार अपने फोन से भी कर सकते हैं. हालांकि इस पोस्ट के लिए अनेकों लिस्ट होती है जैसे एयर इंडिया, वितरा इत्यादि.

यदि आप भी एक एयर होस्टेस बनना चाहते हैं  और इस वैकेंसी में फॉर्म अप्लाई करना चाहते हैं तो इसके लिए आप अपने फोन के ब्राउज़र में जाकर एयर इंडिया या वितरा सर्च कर सकते हो .

  • यदि आप अपने फोन के ब्राउजर में एयर इंडिया डॉट इन सर्च करते हैं तो आपको वहां पर एक न्यू पेज दिखाई देगी जिसके नीचे एक कैरियर ऑप्शन आएगा उसमें आपको क्लिक करना है.
  • इसके बाद फिर से एक न्यू पेज खुलेगी जिसमें रिक्वायरमेंट नोटिफिकेशन पर आपको क्लिक करनी है.
  • जब आप रिक्वायरमेंट नोटिफिकेशन के ऑप्शन पर क्लिक करते हैं तो फिर से एक नया पेज ओपन होता है जिसके नीचे आपको सारी वैकेंसी की जानकारी लिखी हुई रहती है आप अपने इच्छा अनुसार किसी भी वैकेंसी के लिए फॉर्म अप्लाई कर सकते हैं.

इसकी तैयारी के लिए कुछ महत्वपूर्ण संस्थाएं या कॉलेज:-

  • एयर हॉस्टेस एकेडमी, पुणे.
  • राजीव गांधी मेमोरियल कॉलेज ऑफ़ एयरोनॉटिक्स, जयपुर.
  • एयर हॉस्टेस अकैडमी ,दिल्ली.
  • यूनिवर्सल अकैडमी कॉलेज, चेन्नई.

चयन प्रक्रिया:- 

एयर होस्टस  की चयन प्रक्रिया तीन चरणों में ली जाती है जिसमें तरह-तरह की जांच की जाती है अगर विद्यार्थी इन सभी जांच में सफल होते हैं तभी उनका चयन इस पोस्ट के लिए हो पाता है.

इसकी चयन प्रक्रिया के लिए योग्य उम्मीदवार को 3 से 4 महीने पहले एक मेल सेंड किया जाता है जिसमें लिखा हुआ रहता है कि आप इंटरव्यू के लिए आ सकते हैं.

पहले दिन:- 

पहले दिन उम्मीदवारों से चार प्रकार की वेरिफिकेशन अधिकारियों द्वारा की जाती है जिसमें डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन की जाती है इस वेरिफिकेशन में दसवीं की मौत से बारहवीं तथा ग्रेजुएशन की मार्कशीट को वेरीफाई किया जाता है.

इन सभी के साथ साथ कास्ट सर्टिफिकेट बर्थ सर्टिफिकेट एवं पासपोर्ट साइज फोटो  को डॉक्यूमेंट के साथ लिखना होता है.

पहले दिन के दूसरे राउंड में इंग्लिश और हिंदी रीडिंग टेस्ट की जाती है जिसमें विद्यार्थियों को हिंदी और इंग्लिश की रीडिंग करनी होती है.

इस भरी फिकेशन प्रक्रिया की तीसरी राउंड में आपकी पर्सनालिटी चेक की जाएगी कि आपके फेस में कोई पिंपल तो नहीं है और इसके साथ साथ आपके दातों की भी जांच की जाएगी.

चौथा वेरिफिकेशन में पर्सनैलिटी चेक की जाती है उस दौरान आपको अपने बारे में बताना होता है इसके साथ-साथ आपसे कुछ अन्य प्रकार की एक्टिविटी भी कराई जाएगी.

यदि आप इन सभी राउंड में पास होते हैं तो आपको दूसरे दिन की सिलेक्शन प्रक्रिया में बुलाया जाएगा। एल.

दूसरे दिन:- 

चयन प्रक्रिया के दूसरे दिन में उम्मीदवारों के द्वारा रिटन टेस्ट ली जाती है जिसमें अधिकारियों के द्वारा उम्मीदवारों से मेंटल एबिलिटी, जनरल एटीट्यूड, रिजनिंग तथा सर्विस एटीट्यूड से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं.

यदि अभ्यर्थी के द्वारा इन सभी प्रश्नों का सही सही उत्तर दिया जाता है तब उन्हें तीसरे दिन की चयन प्रक्रिया के लिए बुलाए जाते हैं.

तीसरे दिन:- 

जो उम्मीदवार पहले तथा दूसरे दिन के टेस्ट को पास कर लेते हैं उन्हें तीसरे दिन के लिए बुलाया जाता है जिसमें उनकी मेडिकल टेस्ट की जाती है.

इस चयन प्रक्रिया में आपका मेडिकल टेस्ट उसी समय हो सकता है या फिर कुछ लिस्ट बनाकर दी जाती है जिसका टेस्ट आपको अन्य जगह में करवानी होती है.

उम्मीदवारों के द्वारा मेडिकल टेस्ट में लगभग 13 से 14 टेस्ट करवानी होती है.

जो उम्मीदवार इन सभी चरणों को पास कर लेते हैं उन्हें ट्रेनिंग के लिए भेज दिया जाता है और ट्रेनिंग के समय आप से 30 से ₹50000 ली जाती है तभी आपकी ट्रेनिंग की प्रक्रिया वह अच्छे ढंग से करवाते हैं.

जब आपकी ट्रेनिंग खत्म होती है तब आप से लिए गए पैसे वापस कर दिए जाते हैं. ट्रेनिंग के पश्चात  आपको एयर होस्टस की पद नियुक्त की जाती है.

एयर होस्टएस  की सैलरी 

एक एयर होस्टेस सैलरी 30000 से 50000 तक की होती है जिसमें उनको उनके कार्य के हिसाब से मंथली सैलरी प्रदान किया जाता है.

किन सेक्टर में नौकरियां मिल सकती है?

एयर होस्ट के लिए नौकरियां विमानों के विभिन्न सेक्टर में मिल सकती है जो निम्नलिखित हैं:-

  • चार्टर्ड एयरलाइंस.
  • सैन्य एयरलाइंस.
  • एयरपोर्ट.
  • कारपोरेट एयरलाइंस.

निष्कर्ष

युवतियों के मन में एयर होस्टेस बनकर आसमन छूने के सपने को पूरा करने के लिए वो काफी मेहनत करते हैं. 

आज के हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से आप जाने की एयर होस्ट कैसे बने?

इसके साथ-साथ इसकी योग्यता, सैलरी तथा कार्य क्या होती है?

आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करें.

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment

×