Affiliate Marketing क्या है और इससे पैसे कैसे कमाए?

आज भी कई ऐसे लोग हैं जिन्हें यह नहीं मालूम कि एफिलिएट मार्केटिंग क्या है (What is Affiliate Marketing in Hindi). वैसे तो आज के समय में इंटरनेट में पैसे कमाने के कई तरीके उपलब्ध हैं. हमने अपने ब्लॉग में एप्प्स से पैसे कैसे कमाते हैं इसके बारे में भी एक आर्टिकल लिख चुका है जिसे आप पढ़ सकते हैं. लेकिन एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कैसे कमाए इसकी जानकारी हर किसी को आज के समय में नहीं है इसीलिए इस पोस्ट में हम आपको इसकी पूरी जानकारी देंगे. इसके अलावा हम आपको यह भी बताएंगे कि आप अपनी एफिलिएट मार्केटिंग कैसे स्टार्ट करें.

आज के युवा इंटरनेट का काफी ज्यादा इस्तेमाल करते हैं और इंटरनेट में ही अधिकतर समय बिताते हैं. इसी बीच में वो कई वेबसाइट और यूट्यूब वीडियोस वगैरह भी देखते हैं तो उन्हें वहां से जानकारी मिल जाती है कि इंटरनेट से कई तरीकों से पैसे कमाए जा सकते हैं. लोगों की पहली पसंद तो  एक युटयुबर और ब्लॉगर बनने का होता है. इन प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करके ही लोग कई तरह से ऑनलाइन इनकम कमा लेते हैं. जब कोई ब्लॉग या फिर यूट्यूब चैनल पॉपुलर हो जाता है तो उस पर अच्छी खासी ट्रैफिक आने लगती है और इस ट्रैफिक का इस्तेमाल करके लोग कई तरीके से पैसे कमा सकते हैं. इन्हीं तरीकों में से एक तरीका एफिलिएट मार्केटिंग भी  है जिसमें एफिलिएट नेटवर्क का इस्तेमाल करके कई ब्लॉगर यूट्यूबर पैसे कमाते हैं.

अगर आपने किसी बड़े ब्लॉगर का नाम सुना होगा तो यह भी जाना होगा कि वह इतनी बड़ी कमाई कैसे करते हैं सिर्फ एक ऐड नेटवर्क का इस्तेमाल करके कोई इतना पैसा नहीं कमा सकता है इसमें सबसे अहम भूमिका होती है एफिलिएट मार्केटिंग की और इसमें कोई लिमिटेशंस नहीं होता है आप जितना अधिक स्मार्ट वर्क करेंगे आप उतना अधिक इसमें पैसे कमा सकते हैं इसमें कोई भी सीमा नहीं है. और सबसे खास बात यह है कि आप जितना अधिक सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन में पारंगत होंगे आप उतनी अधिक ट्रैफिक अपनी वेबसाइट पर ला सकेंगे और जितना स्मार्ट वर्क करेंगे आप इसका इस्तेमाल करके उतने ही अच्छे तरीके से पैसे कमा सकेंगे. अगर आपके पास पहले से ही एक ब्लॉग है जिसमें अच्छी खासी ट्रैफिक आती है तो एफिलिएट मार्केटिंग आपके लिए बहुत ही काम की चीज है इसके अलावा अगर आपके पास युटुब चैनल भी है तो भी आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं. आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे कि आखिर ये एफिलिएट मार्केटिंग क्या होता है इन हिंदी (What is Affiliate Marketing in Hindi) और इसे कैसे स्टार्ट करें.

एफिलिएट मार्केटिंग क्या है – What is Affiliate Marketing in Hindi

Affiliate Marketing kya hai hindi

एफिलिएट मार्केटिंग ऑनलाइन मार्केटिंग का एक ऐसा तरीका है जिसके माध्यम से कंपनियां या फिर ई-कॉमर्स वेबसाइट जैसे अमेज़न, फ्लिपकार्ट, स्नैपडील इत्यादि अपने प्रोडक्ट को किसी अन्य ब्लॉग या फिर यूट्यूब चैनल में आने वाले दर्शकों को बेचती हैं.

इसके लिए ब्लॉगर और यूट्यूबर को ऐसी ही किसी भी एफिलिएट नेटवर्क में जुड़ना होता है. इसके बाद उन्हें वहां से प्रोडक्ट का लिंक मिलता हैं जिसे वह अपनी वेबसाइट ब्लॉग या फिर यूट्यूब चैनल में लगाते हैं. अब जो भी विजिटर उस ब्लॉग या फिर यूट्यूब चैनल में आते हैं और अगर उन्हें वहां पर दिए गए प्रोडक्ट अच्छा लगते हैं तो फिर वह उस लिंक को क्लिक करके उस वेबसाइट में पहुंचते हैं और उस सामान को खरीदते हैं. अब सामान को खरीदने पर कंपनी को जितना मुनाफा होता है वह उस मुनाफे में कुछ पर्सेंट कमीशन ब्लॉग या फिर यूट्यूब मालिक को देता है जहां से कि वह कस्टमर लिंक पर क्लिक करके आता है और फिर उस प्रोडक्ट को खरीदता है.

आज के समय में कई ऐसे ब्लॉगर हैं जो सिर्फ एक एफिलिएट नेटवर्क को पकड़ कर ही लाखों रुपए कमा रहे हैं. इनमें से एक नाम काफी फेमस है जिनका नाम है अंकुर अग्रवाल वह सबसे ज्यादा अमेज़न एफिलिएट पर फोकस करते हैं और उसी के जरिए वह महीने में 15 लाख के आसपास कमाते हैं. इसी तरह से अगर आप चाहे तो फ्लिपकार्ट एफिलिएट नेटवर्क को भी ज्वाइन करके उससे भी पैसे कमा सकते हैं. यहां हम सिर्फ आपको एक ही उदाहरण दे रहे हैं जबकि ऐसे कई ब्लॉगर हैं जो इससे भी अधिक पैसे कमाते हैं.

चलिए इसे अब एक उदाहरण द्वारा समझते हैं मान लीजिए मेरी एक वेबसाइट है जिस पर मैं ब्लॉगिंग के बारे में लिखता हूं. अब मैंने यहां पर एक आर्टिकल लिखा जिस पर मैंने बताया कि कौन सी होस्टिंग सबसे अच्छी है और इस पर मैंने करीब 4-5 वेब होस्टिंग कंपनियों के बारे में लिखा है. हर कंपनी की होस्टिंग की खासियत के बारे में बताने के बाद मैंने उसके एफिलिएट लिंक को भी ऐड कर दिया है इस तरह जो भी मेरा विजिटर उस लिंक के जरिए जाकर उस होस्टिंग को परचेज करेगा तो उसके लिए मुझे कुछ कमीशन मिलेगा. तो यह होता है एफिलिएट मार्केटिंग में कैसे हम अपने विजिटर को कस्टमर में बदलकर और फिर उनको किसी चीज को खरीदने में मदद करते हैं और जिससे कि उस कंपनी के द्वारा हमें कमीशन के तौर पर कुछ पैसे मिलते हैं.

एफिलिएट मार्केटिंग कैसे काम करता है

आज के समय में कई ऐसी कंपनियां हैं जो अपने प्रोडक्ट को और अधिक भेजने के लिए एफिलिएट प्रोग्राम चलाती हैं. यहां अगर हम बात करें तो सबसे बड़े एफिलिएट नेटवर्क में अमेज़न फ्लिपकार्ट इत्यादि आते हैं.यह ई-कॉमर्स के सबसे बड़ी वेबसाइटें हैं जिसका सबसे ज्यादा इस्तेमाल लोगों द्वारा शॉपिंग करने के लिए किया जाता है. ये वेबसाइट अलग से अपना एफिलिएट प्रोग्राम चलाती हैं. इस में कोई भी जाकर आसानी से ज्वाइन कर सकता है. लेकिन ये उनके लिए बेतरीन हैं जिनका ब्लॉग या यूट्यूब चैनल है और उसमे बहुत अच्छी ट्रैफिक भी आती है.

अब यहाँ पर ज्वाइन कर लेने के बाद जिस भी प्रोडक्ट को बेचना चाहते हैं उसका एफिलिएट लिंक, इमेज, बैनर के कोड जेनेरेट करना होगा. अब इस लिंक या कोड को ब्लॉग के पोस्ट, साइडबार या फिर  में एम्बेड कर दें. अब जो भी विजिटर को लगेगा की आपके द्वारा दिए गए प्रोडक्ट का उसे काम है तो वो क्लिक कर के उसके साइट में जाकर वहां से उसे खरीद लेगा. इसी तरह से किसी टूल या फिर किसी सेवा को भी हम ठीक इसी तरह से प्रमोट कर सकते हैं.

अब यहाँ बात ये उठती है की इसमें ज्यादा से ज्यादा विजिटर को कस्टमर में कैसे बदल सकते हैं? इसके लिए ब्लागर एक खास नीच पर वेबसाइट बनाते हैं और फिर उसी टॉपिक पर सभी आर्टिकल्स को लिखते हैं. मान लीजिए मैंने एक ब्लॉग बनाया है,

जिसका नीच है “कपड़ा”

अब मैं इस पर सभी आर्टिकल सिर्फ कपड़ों के बारे में ही लिखूंगा तो जो भी लोग गूगल पर आकर कपड़े के बारे में सर्च करेंगे तो इस तरीके से वही ऑडियंस मेरे पास आएगी जो कपड़े के बारे में जानकारी सर्च कर रही है.अब मैं यहां पर क्या करूंगा कि अमेज़न वेबसाइट में जाकर वहां से कपड़ों के एफिलिएट लिंक बनाकर अपने वेबसाइट में ऐड कर दूंगा . क्योंकि यह टारगेट ऑडियंस होती हैं यानी कि उन्हें इस प्रोडक्ट को खरीदना होता है इसीलिए वह ऐसी वेबसाइट पर आते हैं तो इसमें सबसे ज्यादा संभावना होती है कि वह हमारे प्रोडक्ट को खरीदेंगे इस तरह से सारे लोग तो नहीं फिर भी कुछ लोग वहां से हम हमारे वेबसाइट से आकर प्रोडक्ट को खरीदते हैं और हमारे लिए कमीशन बन जाता है.

एफिलिएट मार्केटिंग कैसे स्टार्ट करे और इससे पैसे कैसे कमाएं?

अब आपके मन में भी एफिलिएट मार्केटिंग करने का इंटरेस्ट पैदा हो गया होगा लेकिन इसकी शुरुआत करें तो करे कैसे?  तो हम आपको आगे बस इसी का तरीका बताने जा रहे हैं.

  • अपनी खुद की वेबसाइट या ब्लॉग बनाएं
  • एक नीच का चुनाव करें
  • उसने से रिलेटेड जितने भी प्रोडक्ट है उन पर रिसर्च करें और उनकी रिव्यू दे अब अमेज़न एफिलिएट प्रोग्राम रजिस्टर करें और अपना अकाउंट बनाएं.
  • और दूसरे एपलेट प्रोग्राम को भी सर्च करें जरा से कि आप प्रोडक्ट पर रितु करना चाहते हैं.
  • अपने कंटेंट को ट्यूटोरियल, रिव्यू वाले पोस्ट, के तरीके से बनाएं इसके अलावा ऐसे पेज भी बनाए जहां पर कि आप अपने एफिलिएट लिंक का उपयोग कर सकते हैं.
  • अपने पेज को ऑप्टिमाइज करें और अपने द्वारा लिखे गए आर्टिकल को गूगल की रैंकिंग में ट्रैक करें.
  • अब प्रोसेस को नए नए प्रोडक्ट के लिए दोहराते रहे.

एफिलिएट मार्केटिंग के लिए महत्वपूर्ण टिप्स

जैसे कि हम अभी तक जान चुके हैं कि एफिलिएट मार्केटिंग पैसे कमाने का एक बहुत ही बेहतरीन स्रोत है. इसमें कंपटीशन बहुत अधिक है लेकिन यह भी सच है कि इसमें पैसे कमाना बहुत आसान है. इसमें सफल होने के लिए आपको यह सीखने की जरूरत है की प्रोडक्ट को प्रमोट करते वक्त क्या काम करता है और क्या नहीं काम करता. हम लोग एफिलिएट मार्केटिंग में पैसे कैसे कमा सकते हैं उसके लिए चलिए जानते हैं कुछ महत्वपूर्ण टिप्स.

सब्र करें

एफिलिएट मार्केटिंग बहुत तरीके से की जा सकती है लेकिन सबसे जरूरी बात है कि आपको इसके लिए सब्र करना है. सबसे पहले तो आपको अपनी वेबसाइट के लिए बेहतरीन कंटेंट तैयार करना है उसके बाद उससे फर्स्ट पेज पर रैंक कराना है. आपको इस काम के लिए काफी वक्त लग सकता है. यह एक 2 या 3 दिन में नहीं हो सकता इसके लिए आपको महीनों लग सकते हैं. आप अपने विजिटर के लिए जब बहुत अच्छा कंटेंट तैयार करके उनके लिए उपलब्ध कराते हैं तो आपके कंटेंट के माध्यम से वह आपके ब्लॉग से भी जुड़ते हैं और आप पर भरोसा करते हैं. ब्लॉगिंग में यूजर इंगेजमेंट काफी महत्वपूर्ण होता है जब गूगल देखता है कि आपके ब्लॉग पर आने वाले विजिटर आपके ब्लॉक में काफी समय तक रहते हैं तो फिर वह आपके ब्लॉग को भी वैल्यू देकर अच्छी रैंकिंग देता है. इसलिए मैंने पहले ही बताया कि आपको इसके लिए थोड़ा सब्र करना पड़ेगा और काफी मेहनत करनी पड़ेगी.

अच्छे प्रोडक्ट का चुनाव करें

इतना बुराजब लोग एफिलिएट प्रोग्राम के लिए रजिस्टर करते हैं तो यह गलती बहुत लोग कर बैठते हैं कि जो मर्जी आए वह प्रोडक्ट को चुन लेते हैं और अपने ब्लॉग पर लगा देते हैं लेकिन यहां पर सब से ध्यान रखने वाली बात यह है कि आपको सिर्फ ऐसे ही प्रोडक्ट को अपने ब्लॉग के माध्यम से प्रमोट करना है जो अट्रैक्टिव हो ट्रेंडिंग हो या फिर किसी खास नीच पर हो. अगर आपका ब्लॉग सिर्फ एक नीच पर बना हुआ है तो आपको सिर्फ उस नीच के आधार पर ही प्रोडक्ट को प्रमोट करना चाहिए क्योंकि इससे आपके कन्वर्जन रेट काफी अच्छी होगी. जब आप सिर्फ एक नीच पर काम करते हैं तो आपको उस नीच के टारगेटेड ऑडियंस तक पहुंचने में काफी आसानी होती है. और इससे आपकी कमाई भी बहुत अच्छी होती है.

विभिन्न ट्रैफिक सोर्सेस का इस्तेमाल करें

अक्सर लोग यही मार खा जाते हैं. वह अपना एफिलिएट ब्लॉक तो बना लेते हैं लेकिन उसके लिए सिर्फ गूगल पर ही निर्भर रहते हैं जिसकी वजह से उन्हें ट्रैफिक मन में काफी समय लग जाता है किसी नई वेबसाइट के लिए अच्छी ऑर्गेनिक ट्राफिक लाने के लिए कम से कम तो 1 साल का समय लगता है और इतने समय में लोग हार मान लेते हैं और समझ लेते हैं कि अब इसमें कुछ नहीं हो सकता. सफल और असफल लोगों के बीच में सिर्फ यही पर फर्क पैदा होता है. दूसरी ट्रैफिक सोर्सेस के जरिए ट्रैफिक लाने से एक फायदा यह होता है कि जब आप विज्ञापन देते हैं तो यह विज्ञापन उन्हीं लोगों तक पहुंचता है जिन्हें इन प्रोडक्ट की आवश्यकता होती है और इसमें से कुछ आपके कन्वर्जन भी हो जाते हैं जिससे आपको मुनाफा भी हो जाता है. इसके लिए आप गूगल एडवर्ड, फेसबुक विज्ञापन नेटवर्क का इस्तेमाल कर सकते हैं.

टारगेटेड ट्रैफिक को आकर्षित करें

अगर मैं कहूं कि एफिलिएट मार्केटिंग में जो सबसे मेन पॉइंट होता है वह होता है टारगेटेड ऑडियंस को अपने ब्लॉक की तरफ खींचना. अगर आप अपने टारगेटेड ऑडियंस तक पहुंच पाते हैं और उनको अपने ब्लॉक तक ला पाते हैं फिर आपको इसमें सफल होने से कोई नहीं रोक सकता. अब जिस भी प्रोडक्ट को अपने ब्लॉग के माध्यम से प्रमोट कर रहे हैं अगर उसी प्रोडक्ट को ढूंढने वाले लोग आपके ब्लॉग से आकर्षित होकर आपके ब्लॉक में आते हैं तो इससे आपके प्रोडक्ट को खरीदने वालों की संख्या में काफी अच्छी होती है.

यह तो हम जानते हैं कि इसमें कंपटीशन बहुत ज्यादा है. आपके अलावा कई और लोग भी हैं जो टारगेटेड ऑडियंस को आकर्षित करने के लिए बहुत मेहनत से कंटेंट तैयार करते हैं और उनके सामने रखते हैं तो आपको उनसे भी बेहतरीन कंटेंट तैयार करना होगा तभी आप अपने ऑडियंस को अपने ब्लॉग पर ला सकते हैं.

अपने हर काम को टेस्ट करें और परफॉर्मेंस देखें

हर ब्लॉग दूसरे ब्लॉग से बिल्कुल अलग होता है. इसलिए किए जाने वाले हर काम को टेस्ट करें और देखें कि आपने जो काम किया वह कैसा परफॉर्म कर रहा है. आपके द्वारा लिया गया जो एक्शन बहुत अच्छा परफॉर्म कर रहा है उसे पूरे ब्लॉग में इस्तेमाल करें. और जिस एक्शन के द्वारा आपको परफॉर्मेंस में कुछ सुधार नहीं दिखता उसे फिर रहने दे. तो अब आप समझ ही गए होंगे कि मेरे कहने का मतलब यह है कि आपको हर चीज टेस्ट करना पड़ेगा और खुद ही देखना होगा कि कौन सा डिसीजन आपके ब्लॉग के लिए सही है और कौन सा नहीं.

पब्लिक डिमांड वाले प्रोडक्ट पर रिसर्च करें

दोस्तों आज जमाना है ट्रेंडिंग का. जो चीजें ट्रेंडिंग में होती हैं उस पर एक बहुत बड़ी भीड़ उमड़ कर आती है. अगर आप किसी ट्रेंडिंग वाले उत्पाद को गूगल के पहले पेज में पहुंचाने में सफल हो जाते हैं तो फिर आप इतना भारी इनकम ले सकते हैं जितना आपने खुद भी कभी कल्पना नहीं किया होगा. आपको बाजार के अनुसार उन प्रोडक्ट पर ध्यान देना पड़ेगा और रिसर्च करके वैसे प्रोडक्ट को निकालना होगा जो लोगों की पहली पसंद है और ऐसे प्रोडक्ट को ही आपको अपने ब्लॉग पर प्रमोट करना है.

नए तरीके और तकनीक का इस्तेमाल करें

हर दिन गूगल में लोग सर्च करते हैं कि एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कैसे कमाए और सभी इससे जुड़कर अच्छे पैसे कमाना चाहते हैं आज डिजिटल मार्केटिंग काफी ट्रेंड में है और नए-नए लोग जुड़ते जा रहे हैं और लोगों की तादाद बढ़ती जा रही है लेकिन सफल वही होगा जो नए तरीके और टेक्निक का इस्तेमाल करेगा और समय के साथ बदलाव लाता रहेगा जिससे कि वह कंपटीशन में आगे रह सके. अगर आप नए समय में भी पुराने टेक्निक का इस्तेमाल करते हैं तो फिर आपको सफलता नहीं मिलेगी. इसीलिए आपको हर नई टेक्निक को सीखे और उसका इस्तेमाल अपने ब्लॉग में करें जो अभी के समय में चलता है.

संक्षेप में

आज के इस पोस्ट में आप ने जाना कि आप एफिलिएट मार्केटिंग क्या है (What is Affiliate Marketing in Hindi). इसके साथ ही आपने जाना की एफिलिएट मार्केटिंग कैसे स्टार्ट करें. आजकल के बारे में सुनकर काफी ज्यादा हो जाते हैं और बहुत जल्दी पैसे कमाने के लिए शुरू भी कर देते हैं लेकिन कुछ समय बाद जब देखते हैं कि कुछ नहीं हो रहा है कुछ नहीं मिल रहा है तो फिर इसे छोड़ देते हैं. लेकिन यकीन मानिए अगर आप जानना चाहते हैं कि अमेज़न एफिलिएट इत्यादि से पैसे कैसे कमाए तो affiliate marketing for beginners in hindi में दिए गए सारे टिप्स को जरूर फॉलो करें और अपने ब्लॉग के लिए इसे इंप्लीमेंट करें. आपको इसके नतीजे काफी अच्छे मिलेंगे भले ही इसके लिए थोड़ा समय लगे.

एफिलिएट मार्केटिंग क्या होता है यह अब आप अच्छे से समझ गए होंगे. कंपटीशन के इस दौर में अगर आप स्मार्ट तरीके से काम करते हैं और सब्र के साथ आगे बढ़ते रहते हैं तो आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता इसलिए मेरी सलाह है कि अगर आप इस क्षेत्र में आगे बढ़ना चाहते हैं तो सब्र के साथ काम करें और इसे बीच में ना छोड़े. आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं कि यह पोस्ट आपको कैसा लगा? अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों रिश्तेदारों के साथ फेसबुक, टि्वटर, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप में अधिक से अधिक शेयर करें.

9 COMMENTS

  1. Sir ye btaye affiliate link ko hm wtsapp group me bhi share kar skte h kya jiske dwara agar purchasing hogi toh hme paise milege ki nhi ya keval aurganik traffic like you tube ,website in ke throw jo jate h unhe hi income hoti h plzzz reply

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here